आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर | आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की शिकायत कैसे करें?

यदि आप अपने क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा जा रही सेवाओं से संतुष्ट नहीं है तो आप अपने राज्य के आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर पर संबंधित कार्यकर्ता के बारे में शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

भारत सरकार ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली आर्थिक रूप से कमजोर एवं गरीब महिलाओं के उत्थान हेतु, गर्भवती महिलाओं और शिशुओं के लिए जरूरी पोषण, देखभाल, स्वास्थ्य शिक्षा हेतु 2 अक्तूबर सन 1975 को महात्मा गांधी जी की 106 जयंती पर आंगनवाड़ी योजना को शुरू किया। आपकी जानकारी के लिए बता दें की आंगनवाड़ी योजना भारत सरकार की समेकित बाल विकास योजना (Integrated child development scheme) के तहत आती है।

यहाँ आपको यह भी बता दें की वर्ष 2006 से पहले गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को अतिरिक्त पोषण एवं आवश्यक सुविधाओं का सारा खर्च राज्य सरकारों के द्वारा वहन किया जाता था और केंद्र सरकार के पास सिर्फ योजना से संबंधित प्रशासनिक खर्चो को उठाने की जिम्मेदारी थी। लेकिन वर्ष 2010 के बाद से आंगनवाड़ी योजना का 90 प्रतिशत खर्च केंद्र सरकार के द्वारा और 10 प्रतिशत राज्य सरकार के द्वारा वहन किया जाता है।

भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को आंगनबाड़ी योजना के कार्य संचालन की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। यदि आप अपने क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा जा रही सेवाओं से संतुष्ट नहीं है तो आप अपने राज्य के आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर पर संबंधित कार्यकर्ता के बारे में शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर, anganbadi-complaint-toll-free-number
आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर

आज के इस लेख में हम आपको विभिन्न राज्यों के आंगनवाड़ी टोल फ्री हेल्पलाइन सेवा के बारे में पूर्ण विस्तृत जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। यदि आप भी इस जानकारी को जानने के इच्छुक हैं तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान से जरूर पढ़ें।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

आप आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की किस तरह की शिकायतों को दर्ज करवा सकते हैं?

यदि आप आंगनवाड़ी हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क करके आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की शिकायत दर्ज करवाना चाहते हैं तो आप निम्नलिखित कारणों से संबंधित शिकायत दर्ज करवा सकते हैं –

  • यदि आपको समय से आंगनवाड़ी केंद्र पर पोषाहार ना मिलें तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संबंधित शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
  • आंगनवाड़ी योजना के लाभार्थियों को यदि सरकार द्वारा तय मात्रा से कम पोषक आहार मिलें तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संबंधित शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
  • यदि बच्चों और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण में होने वाली अनियमिताओं की शिकायत हेल्पलाइन पर दर्ज कर सकते हैं।
  • यदि आंगनवाड़ी केंद्रों पर शिशुओं और गर्भवती महिलाओं को सही इलाज ना मिलें तो आप इसकी शिकायत हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करवा सकते हैं।
  • यदि किसी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के व्यवहार से आपको समस्या है तो आप इसकी शिकायत हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करवा सकते हैं।

WhatsApp की सहायता से दर्ज करें आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की शिकायत:

दोस्तों मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने आंगनवाड़ी योजना के लाभार्थियों के अब WhatsApp नंबर सेवा शुरू कर दी है। योजना के लाभार्थी व्हाट्सप्प के इस नंबर से आंगनवाड़ी से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या को लेकर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन- Jeevan Pramaan Patra Online | पेंशनर्स ऑनलाइन जीवन प्रमाण पत्र कैसे बनायें

Jeevan Pramaan Patra Online 2024 : जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया जानिए

MP राज्य सरकार का उद्देश्य है की महिला बाल एवं विकास विभाग के द्वारा संचालित आंगनवाड़ी योजना का लाभ राज्य के प्रत्येक जरूरत मंद व्यक्ति के पास पहुँच सके। शिकायत दर्ज करवाने हेतु व्हाट्सप्प नंबर इस प्रकार से है –

मध्य प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा जारी आंगनवाड़ी केंद्र शिकायत नंबर : 8305272254

राज्य और उनसे संबंधित आंगनवाड़ी पोर्टल्स के लिंक्स:

क्रमांक राज्य (State)ऑफिसियल पोर्टल के लिंक्स (links)
1उत्तर प्रदेशbalvikasup.gov.in
2मध्य प्रदेशmpwcdmis.gov.in
3बिहारicdsonline.bih.nic.in
4दिल्लीwcddel.in
5महाराष्ट्रwomenchild.maharashtra.gov.in
6राजस्थानwcd.rajasthan.gov.in
7झारखण्डjharkhandsfc.in
8छत्तीसगढ़cgwcd.gov.in
9पश्चिम बंगालicdswb.in
10गुजरातicdswb.in

आंगनवाड़ी योजना का उद्देश्य:

भारत सरकार के द्वारा शुरू की गयी आंगनवाड़ी योजना के मुख्य उद्देश्य इस प्रकार से निम्नलिखित हैं –

  • देश के ग्रामीण क्षेत्रों में शिशुओं और महिलाओं में होने वाले रोग, मृत्यु दर और कुपोषण जैसी समस्या को कम करना।
  • नवजात शिशु से लेकर 6 वर्ष तक के आयु के बच्चों की पोषण एवं स्वास्थ स्थिति की देखभाल करना और सुधार करना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं और शिशुओं के स्वास्थ की जाँच, टीकाकरण (vaccination), पौष्टिक आहार की सुविधा उपलब्ध करवाना।
  • महिलाओं को उनके स्वास्थ से संबंधित उचित पोषण से संबंधित जानकारी प्रदान करना।
  • देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बाल विकास को बढ़ावा देना।

आंगनवाड़ी केंद्रों पर मिलने वाली सुविधाएं :

आपको बता दें भारत सरकार के द्वारा देश भर के प्राथमिक विद्यालय और जन स्वास्थ केंद्र या जिला अस्पताल को आंगनवाड़ी केंद्रों के रूप में स्थापित किया गया है ताकि योजना के लाभार्थियों को आंगनवाड़ी योजना के तहत मिलने वाली सुविधाओं के लिए बहुत अधिक दूर स्थानों पर ना जान पड़े। आगे हमने आंगनवाड़ी केंद्रों के तहत मिलने वाली सुविधाओं के बारे में आपको बताया है –

पूरक पोषाहार (complimentary food):

  • बच्चों एवं महिलाओं के पुरे पोषण आहार के लिए राशन वितरण (जैसे: गेहूं, चावल, चना, दालें आदि।)
  • छः महीने के बच्चे से लेकर छः साल तक बच्चों के लिए (1.25Kg ,1.25Kg, 2Kg) प्रतिमाह राशन उपलब्ध करवाना।
  • देश के गाँव के इलाकों में रहने वाली किशोरियां व गर्भवती/धात्री महिलाएं को (1.5Kg, 1.5Kg, 3Kg) प्रतिमाह राशन उपलब्ध करवाना।
  • छः महीने के बच्चे से लेकर छः साल तक के बच्चे जो कुपोषित हैं उन्हें (2Kg, 1.5Kg, 3Kg) प्रतिमाह राशन उपलब्ध करवाना।

प्रारंभिक बाल्यावस्था शिक्षा (preliminary childhood education):

  • समय-समय पर शिशुओं के अभिभावकों के साथ जरूरी बैठक और समस्या का निदान।
  • आंगनवाड़ी केंद्रों पर शाला पूर्व शिक्षा प्रोग्राम में प्रवेश और प्रोग्राम के तहत 3 से 6 साल के बच्चों के लिए निः शुल्क जरूरी प्राथमिक एवं स्वास्थ शिक्षा।

पोषण एवं स्वास्थ्य शिक्षा (nutrition and health education):

  • ग्रामीण क्षेत्रों की 15 से 45 वर्ष की महिलाओं को संतुलित पोषण आहार।
  • आशा आंगनवाड़ी के द्वारा सरकार के द्वारा चलाये जा रहे जागरूक कार्यक्रमों की सहायता से महिलाओं को उनके स्वास्थ के प्रति जागरूक करना।

महिलाओं एवं बच्चों का सम्पूर्ण टीकाकरण (vaccination):

  • नवजात बच्चे से लेकर 6 साल तक के बच्चे के लिए बीसीजी (BCG), ओपीवी (opv), डीपीटी (dpt) एवं टिटनेस (titnus) आदि से संबंधित टीके लगवाना।
  • गर्भवती महिलाओं को आयरन (iron) ,विटामिन आदि की गोलियां (tablet) उपलब्ध करवाना।

प्राथमिक स्वास्थ्य जांच (health test):

  • नवजात बच्चे से लेकर 6 साल तक के बच्चों के लिए जरूरी सभी प्राथमिक निः शुल्क स्वास्थ जांच।
  • ग्रामीण क्षेत्रों की किशोरी, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को सभी जरूरी प्राथमिक स्वास्थ जाँच की निः शुल्क उपलब्धता।

रेफरल सेवाएं (referral services):

  • यदि आंगनवाड़ी केंद्र में आया हुआ बच्चा किसी गंभीर बिमारी से ग्रसित और कुपोषित है तो उसे तुरंत जिला अस्पताल या हायर मेडिकल सेण्टर रेफर करना।
  • यदि आंगनवाड़ी में आयु हुई महिलाओं की स्वास्थ जांच में किसी गंभीर बीमारी के लक्षण दिखाई देते हैं तो महिला को बेहतर इलाज हेतु पीएचसी (PHC) या सीएचसी (CHC) केंद्र रेफर करना।

अपनी क्षेत्र की आंगनवाड़ी (Aaganwadi) कार्यकर्ता के बारे में कैसे जानें:

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

यदि आपको नहीं पता की आपके क्षेत्र की आशा वर्कर या आंगनवाड़ी कार्यकर्ता / सहायिका कौन है तो आप हमारे द्वारा यहां पर बताई जा रही प्रक्रिया को फॉलो करके अपने क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यह प्रक्रिया इस प्रकार से निम्नलिखित है –

  • Step 1: सबसे पहले आप भारत सरकार की महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट icds-wcd.nic.in को ओपन करें।
  • Step 2: वेबसाइट ओपन करने के बाद आपको वेबसाइट के होम पेज पर Know your AWC का लिंक देखने को मिलेगा। लिंक पर क्लिक करें। know your AWC aanganwadi portal
  • Step 3: लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने Awc List Project wise से संबंधित पेज ओपन हो जाएगा।
  • Step 4: अब इस पेज पर अपने राज्य, जिले, AWC प्रोजेक्ट आदि की जानकारी को भरें।
  • Step 5: जानकारी भरने के बाद आपको पेज पर दिख रहे सिक्योरिटी पिन को दर्ज करना है।
  • Step 6: सिक्योरिटी पिन दर्ज करने के बाद Search के बटन पर क्लिक करें।AWS project page AWC known online
  • Step 7: बटन पर क्लिक करते ही आपके क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की जानकारी आपके सामने आ जायेगी। इस तरह से आप अपने क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के बारे में पता कर सकते हैं

आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर हेल्पलाइन नंबर:

यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी हैं तो आप यहाँ पर हमारे द्वारा दी गई कांटेक्ट डिटेल्स से संपर्क कर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से संबंधित शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

AddressBal Vikas Seva Evam Pushtahar Vibhag
3rd Floor, Indira Bhawan, Ashok Marg,
Lucknow-226001
Secretary, IASश्री मति अनामिका सिंह
फ़ोन नंबर: 0522-2239328
Director, I.A.Sश्री मति सरनीत कौर ब्रोसा
फ़ोन नंबर : 0522-2287249
फैक्स नंबर: 0522-2287032
Additional Director, I.A.S.फ़ोन नंबर: 0522-2287086
Additional Director (Finance) / Appellate Authority (RTI)श्री दिलीप कुमार अग्रवाल
फ़ोन नंबर: 0522- 2287270
Dupty Director (P.C.S.)श्री गौरव शुक्ला
मोबाइल नंबर: 9170870092

मध्य प्रदेश आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हेल्पलाइन नंबर:

यदि आप मध्य प्रदेश राज्य के निवासी हैं और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से संबंधित शिकायत दर्ज करना चाहते हैं तो आप MP के महिला एवं बाल विकास विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हेल्पलाइन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आपको हमने यहां मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास विभाग की सम्पर्क डिटेल्स प्रदान की है आप देख सकते हैं –

Addressसंचालनालय महिला एवं बाल विकास विभाग, म.प्र.
विजयाराजे वात्सल्य भवन,
प्लॉट नं 28 ए, अरेरा हिल्स,
भोपाल, मध्य प्रदेश 462011
फ़ोन नंबरआयुक्त: 0755-2550910
M.I.S: 0755-2550911
फैक्स0755-2550912
ई-मेलmpwcdmis@gmail.com

बिहार आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हेल्पलाइन नंबर:

दोस्तों आप में से कोई बिहार राज्य का निवासी है तो वह बिहार राज्य के आंगनवाड़ी से संबंधित ऑफिसियल पोर्टल या फ़ोन नंबर से संपर्क करके अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है। शिकायत दर्ज करने हेतु फ़ोन नंबर डिटेल्स इस प्रकार से है –

विवेक राज+91-8544045029(M)
हिमांशु कुमार+91-9507739366(M)
सम्पर्क समय (सुबह 10:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक)

दिल्ली आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हेल्पलाइन नंबर:

यदि आप दिल्ली राज्य के निवासी हैं और अपने क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की हेल्पलाइन नंबर की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप यहाँ पर दी जा रही संपर्क डिटेल्स से कांटेक्ट करके अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। यह डिटेल्स इस प्रकार निम्नलिखित है –

National Toll Free Drug De-Addiction Helpline Number1800-11-0031
Financial Assistant Schemes(Widow Pension)011-23832588
Integrated Child Development Services (ICDS) :011-20832591
Poshan Branch011-20832592
Women Empowerment Cell :011-20832604
Child Protection Unit :011-20832593
Delhi Ladli Scheme 2008 :011-23832588
LADLI SBIL Toll Free Number:1800229090
Voluntary Action Cell (VAC):011-20832589

आंगनबाड़ी कंप्लेंट टोल फ्री नंबर से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर (FAQs):

भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?
भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट https://wcd.nic.in/ है।

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को प्रतिमाह कितनी सैलरी मिलती है ?
केंद्र सरकार की आंगनवाड़ी योजना के तहत आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को प्रतिमाह 15 से 20 हजार रुपये वेतन दिया जाता है। यह वेतन राज्य के अनुसार भिन्न-भिन्न भी हो सकता है।

झारखण्ड आंगनवाड़ी हेल्पलाइन नंबर क्या है ?
झारखंड आंगनवाड़ी का हेल्पलाइन नंबर 0651-2252267 / 2252261 है।

राजस्थान के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

राजस्थान के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का हेल्पलाइन नंबर 181 है।

Nrega Payment Check: नरेगा पेमेंट लिस्ट ऑनलाइन चेक कैसे करें

Nrega Payment Check: नरेगा पेमेंट लिस्ट ऑनलाइन चेक कैसे करें

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें