चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन- Marriage Certificate Registration Chandigarh

Share on:

चंडीगढ़ ऑनलाइन विवाह पंजीकरण – जैसे की आप सब जानते ही है की शादी के बाद अब विवाह प्रमाण पत्र बनाना उतना ही जरुरी है जितना की अन्य दस्तावेज हमारे लिए आवश्यक है। चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन शादी का विवाह प्रमाण आपकी शादी को क़ानूनी तौर पर मान्यता प्रदान करता है। और साथ ही क़ानूनी रूप से महिला आयोग की तरफ से ये विवाह प्रमाण पत्र महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा के लिए विवाह प्रमाण पत्र बनाये जाते है। ताकि महिलाओं के अधिकारों को कोई हानि न पहुंचा सके और साथ ही यदि कोई ऐसा करता है तो उसे सजा मिल सके।

चंडीगढ़-ऑनलाइन-विवाह-पंजीकरण

चंडीगढ़ ऑनलाइन विवाह पंजीकरण

सरकार ने अब सारे दस्तावेजों को बनाने का काम ऑनलाइन कर दिया है। अब आपको अपना विवाह प्रमाण पत्र के लिए कहीं भी इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। आप घर बैठे ही अपने विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकते है। शादी के १ महीने के बाद विवाह प्रमाण पत्र बनाना जरुरी होता है यदि आप विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन नहीं करते है तो इसके लिए आपको जुर्माना देना होगा। आज हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे की किस प्रकार आप चंडीगढ़ विवाह पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। और इससे जुडी और भी जानकारी आपसे साँझा करेंगे। आप आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

आर्टिकल चंडीगढ़ ऑनलाइन विवाह पंजीकरण
लाभसभी दस्तावेज आसानी से प्राप्त हो जाते है
उद्देश्यमहिलाओं को अधिकार
आवेदन मोड़ऑफलाइन / ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://chandigarhdistrict.nic.in

चंडीगढ़ मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • वर वधु का आधार कार्ड
  • शादी का कार्ड
  • दो गवाह उनके बारे में भी पूरी जानकारी
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पति पत्नी के शादी के समय की फोटो
  • वर वधु की पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पता
  • यदि वर वधु ने विदेश में शादी की है तो वहां के एम्बेसी के द्वारा नो ऑब्जेक्शन का प्रमाणित पत्र।
  • एफिडेविट प्रमाण पत्र
  • यदि कोई वर या वधु में से कोई तलाक शुधा है तो आपको तलाक के दस्तावेज भी देने होंगे।
  • यदि पहले आपकी शादी हो चुकी है महिला या पुरुष में अगर किसी की मृत्यु हो चुकी है तो आपको मृत्यु प्रमाण पत्र देना होगा।
  • पति या पत्नी में से यदि सिख धर्म या बौद्ध धर्म का नहीं है तो उन्हें अपने धर्म का प्रमाण पत्र देना अनिवार्य होगा।

पंजीकरण की अवधि

आपको बता दे आपको शादी के 30 दिन के अंतर्गत विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करना होगा और यदि कोई ब्यक्ति समय सीमा के अवधि के समय पंजीकरण नहीं करता है तो आपको 500 रूपये जुर्माना देना होगा। और प्रत्येक दिन के 2 रूपये विलम्बित शुल्क लगेगा। ये शुल्क आपसे विवाह पंजीयन अधिकारी द्वारा लिया जायेगा।

चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र के लाभ

  • विवाह प्रमाण पत्र अगर आपके पास है तो आप कोई भी दस्तावेज आसानी से बना सकते है।
  • विवाह प्रमाण पत्र से क़ानूनी रूप से आपकी शादी को मान्यता दी जाएगी।
  • विवाह प्रमाण पत्र की मदद से आप बैंक में जाकर आसानी से अपना ज्वाइंट अकाउंट खाता खोल सकते है।
  • यदि पति के मृत्यु हो जाती है तो सारे अधिकार पत्नी को प्राप्त हो जायेंगे।
  • यदि पति किसी अन्य देश का नागरिक है तो पत्नी को उसी देश की नागरिकता दिलाने के लिए ये एक साधन है।
  • यदि महिला शादी के बाद अपना उपनाम बदलना चाहती है तो वह विवाह प्रमाण पत्र की मदद से आसानी से दस्तावेजों में अपना उपनाम बदल सकती है।
  • यदि शादी के बाद आप अपना पासपोर्ट बनाना चाहते है तो आप अपना पासपोर्ट बना सकते है।
  • विवाह प्रमाण पत्र की मदद से ये पता चल जाता है की आपकी शादी बाल विवाह तो नहीं है यदि आपकी शादी क़ानूनी तौर पर कम उम्र में करा दी गयी हो तो इसके लिए सजा का प्रावधान किया गया है और साथ ही इसके लिए परिवार वालो को जुर्माना भी देना होगा।
  • बाल विवाह को रोकने में विवाह प्रमाण पत्र एक जरुरी दस्तावेज है।
  • यदि शादी के बाद पति या पत्नी को एक दूसरे के साथ रहने में कोई असुविधा है तो ऐसी स्थिति में महिला को मासिक भत्ता प्राप्त होने में विवाह प्रमाण पत्र मददगार है।

चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र का उद्देश्य

विवाह प्रमाण पत्र अब भारत में एक ऐसा दस्तावेज बन गया है जो हर एक विवाहित दम्पति को बनाना जरुरी होता है। विवाह प्रमाण पत्र बनाने का उद्देश्य महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, घरेलू हिंसा को रोकना है जिससे की महिलाओं को न्याय मिल सके। आज भी बहुत से स्थानों पर बाल विवाह करा दिया जाता है और अब ये भारत में काफी कम हो गया है। लेकिन यदि कोई बाल विवाह करता है और आप विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए जाते है तो उसमे आपको अपनी जन्मतिथि देनी होती है जिसमे कर्मचारी द्वारा आपकी जन्मतिथि और शादी के साल में आपकी आयु को ज्ञात किया जाता है।

यदि लड़के की उम्र 21 वर्ष से कम या लड़की की आयु 18 वर्ष से कम आयु में करा दी गयी हो तो विवाह पंजीयन के कर्मचारी द्वारा इसकी शिकायत अधिकारी को की जाएगी। और मामले में पूरी जाँच की जाएगी और इसके लिए सजा का प्रावधान किया जायेगा।

चंडीगढ़ उम्मीदवार विवाह प्रमाण पत्र के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करे ?

जो लोग ऑनलाइन आवेदन नहीं करना चाहते वे ऑफलाइन मोड़ में आवेदन कर सकते है। आप सबसे पहले नगर पालिका के कार्यालय में जा सकते है और विवाह पंजीकरण के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त कर ले उसके पश्चात आप आवेदन फॉर्म में दर्ज सारी जानकारी भर दे और फॉर्म को कार्यालय में जमा करने के लिए दे दे। और साथ ही अपने साथ आपको 2 गवाहों को ले जाएँ और महिला को भी कार्यालय में प्रस्तुत होना होगा। और मांगे गए दस्तावेज भी संलग्न कर दे। उसके कर्मचारी द्वारा आप लोगो के हश्ताक्षर लिए जायेंगे। और आपको इसके लिए आवेदन शुल्क देना होगा।

दस्तावेजों की पुष्टि होने के बाद आपका विवाह प्रमाण पत्र जारी कर दिया जायेगा। आप नगर पालिका के कार्यालय से ही अपना विवाह प्रमाण पत्र कर सकते है। और यदि बाद में पति पत्नी के बीच कोई भी असुविधाजनक बात होती है तो उसमे गवाहों को बुलाया जायेगा।

चंडीगढ़ उम्मीदवार मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

जो उम्मीदवार चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है वे बहुत ही आसानी से अपना विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकते है हम आपको आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया साँझा कर रहे है आप हमारे दिए हुए स्टेप्स फॉलो कर सकते है।

  • सबसे पहले आवेदनकर्ता चंडीगढ़ गॉवर्मेँट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएँ।
chandigarh-marrige-ragistration
  • उसके बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा आपको सिटीजन सर्विस पर क्लिक करना होगा।
चंडीगढ़ - विवाह -पंजीकरण
  • फिर से आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा आपको सिटीजन लॉगिन पर क्लिक करना होगा।
chandigarh-marrige-ragistration-online
  • सिटिज़न लॉगिन पर क्लिक करते ही आपके स्क्रीन पर नया पृष्ठ खुल जायेगा। आपको इस पृष्ठ में अपनी ई मेल आईडी पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
chandigarh-vivah-parman-patr
  • उसके बाद साइन अप पर क्लिक कर दे। आपके सामने एक फॉर्म आजायेगा।
chandigarh-vivah-panjikarn-form

इसमें आप रजिस्टर पर क्लिक कर दे इसके बाद आपके स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म आ जायेगा। आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गयी जानकारी दर्ज करनी होगी। उसके बाद आप सारे दस्तावेज अपलोड कर ले और सब्मिट के बटन पर क्लिक कर दे। आप ऑनलाइन ही आवेदन शुल्क भी जमा कर दे।
1 महीने के बाद आप अपने नजदीकी जिला अधिकारी कार्यालय में जाकर अपना विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त कर ले।

चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण ऑनलाइन से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर –

चंडीगढ़ विवाह पंजीकरण में आवेदन के लिए राज्य सरकार ने कौन सी आधिकारिक वेबसाइट जारी की है?

चंडीगढ़ सरकार ने विवाह पंजीकरण के लिए http://chandigarh.gov.in वेबसाइट जारी की है।

चंडीगढ़ विवाह पंजीकरण में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

हमने अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया साँझा की है आप दिए हुए स्टेप्स फॉलो कर सकते है।

चंडीगढ़ राज्य के उम्मीदवार कौन -कौन से मोड़ में आवेदन कर सकते है ?

आप ऑनलइन-ऑफलाइन दोनों मोड़ में आवेदन कर सकते है।

विवाह प्रमाण पत्र का उद्देश्य क्या है ?

विवाह प्रमाण पत्र बनाने से महिलाओं को एक सामाजिक सुरक्षा प्रदान होती है और बाल विवाह जैसे अपराधों को रोका जा सकता है।

क्या में किसी और जगह से विवाह प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता हूँ।

जिन हाँ अगर आप चंडीगढ़ से हैं तो आप कहीं से भी ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर सकते हैं।

चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए उम्मीदवारों को कौन-कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होती है ?

विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए उम्मीदवारों को पति पत्नी के शादी के समय की फोटो, , वर वधु का आधार कार्ड, दो गवाह उनके बारे में भी पूरी जानकारी, वर वधु की पासपोर्ट साइज फोटो, जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पता, एफिडेविट प्रमाण पत्र, शादी का कार्ड आदि दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

यदि उम्मीदवारों को मैरिज सर्टिफिकेट सम्बन्धित किसी प्रकार की अन्य जानकारियां प्राप्त करनी हैं तो उन्हें कहाँ आवेदन करना होगा ?

मैरिज सेर्टिफिकेट सम्बन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को हेल्पलाइन नंबर-  0172- 2700109 पर सम्पर्क करना होगा।

vivaah praman ptr बनाना क्यों आवश्यक है ?

आजकल विवाह प्रमाण पत्र बहुत आवश्यक है क्यूंकि अब बहुत से कार्यों के लिए विवाह प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। पासपोर्ट बनाना हो , जॉइंट खाता खुलवाना हो या अन्य ऐसे ही कोई भी काम हो आप को इस प्रमाण पत्र को देना होता है।

चंडीगढ़ विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कब तक कर सकते हैं ?

आपको शादी के 30 दिन के अंदर विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करना होगा। अगर कोई व्यक्ति इस समय सीमा के भीतर या समय पर पंजीकरण नहीं करता है तो उसे 500 रूपये जुर्माना देना होगा। और प्रत्येक दिन के 2 रूपये विलम्बित शुल्क उसे विवाह पंजीयन अधिकारी को देना होगा ।

जैसे की हमने आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको बता दिया है की किस प्रकार आप ऑनलाइन मैरिज रजिस्ट्रेशन कर सकते है। यदि आपको चंडीगढ़ मैरिज रजिस्ट्रेशन से जुडी कोई भी जानकारी या कोई भी समस्या है तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में मेसेज कर सकते है।

Leave a Comment