भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? Who will be India’s next President? Check Winning candidates list, Result Date

Share on:

Presidential Election 2022-भारत के महत्वपूर्ण चुनावों में से एक चुनाव का वक्त करीब आ रहा है। केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा राष्ट्रपति चुनाव 2022 के लिए केलेंडर जारी किया गया है। 18 जुलाई को 16वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए वोट डाले जायेंगे। आप सभी जानते ही हैं राष्ट्रपति के चुनाव में राजनीति के साथ-साथ अंकगणित का भी खूब इस्तेमाल होता है। वोट सिर्फ वोट नहीं होता इसका अपना मूल्य होता है साथ ही साथ वरीयता का भी राष्ट्रपति के चुनाव में अहम स्थान होता है। यहां आप जानेंगें की भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? (Bhart Ka Agla Rastrpati Kaun Hoga)

भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? Who will be India’s next President
भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? Who will be India’s next President

आपको यह भी पता होना चाहिए की हमारे देश में राष्ट्रपति का चुनाव कैसे होता है और वर्तमान समय में राष्ट्रपति चुनाव की गणित कैसी है ?18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव का नतीजा 21 जुलाई को आ जायेगा और देश को अपना 16वा राष्ट्रपति मिल जायेगा।

new-animated-gifअपडेट:- भारतीय जनता पार्टी ने NDA की तरफ से द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है। वहीं विपक्ष की तरफ से यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बनाया है।

भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा?
भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? –(Bhart Ka Agla Rastrpati Kaun Hoga)

(Bhart Ka Agla Rastrpati Kaun Hoga)

राष्ट्रपति चुनाव 2022 तिथि एवं आंकड़े
आधिकारिक अधिसूचना जारी15 जून
चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि29 जून 2022
नामांकन जाँच की तिथि30 जून 2022
नामांकन वापस लिए जा सकेंगे2 जुलाई 2022 तक
चुनाव की तिथि18 जुलाई 2022
मतों की गिनती की जाएगी21 जुलाई 2022
राष्ट्रपति चुनाव नंबरकुल वोट- 1086431
बहुमत की जरूरत -543216
एनडीए -5.26
एनडीए को कुल जरुरत -17000
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जी का कार्यकाल25 जुलाई 2017 से 25 जुलाई 2022 तक

राष्ट्रपति कब चुना जाता है ?

  • भारत लोकतान्त्रिक देश है। जहाँ सभी चुनावों के लिए अलग-अलग प्रक्रिया होती है।
  • संविधान का अनुच्छेद 62 यह कहता है कि किसी राष्ट्रपति के कार्यकाल की समाप्ति से पहले नए राष्ट्रपति के चुनाव की प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाना चाहिए।
  • आपको बता दें की राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल आगामी 24 जुलाई 2022 को पूरा हो जायेगा।
  • ऐसे में नए राष्ट्रपति के चुनाव को इस तिथि से पहले सम्पन्न किया जायेगा।
  • आपको बता दें कि 1977 में जब संजीव रेड्डी 25 जुलाई को राष्ट्रपति बनाए गए थे तभी से यह परम्परा रही है कि हर 5 साल में नए राष्ट्रपति 25 जुलाई को अपने पद को ग्रहण करते हैं।
  • मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार द्वारा किये गए प्रेस कॉन्फ्रेंस में राष्ट्रपति चुनाव से जुडी तारीखों का उल्लेख किया गया।
  • राष्ट्रपति चुनाव की आधिकारिक अधिसूचना 15 जून 2022 को निकली गयी थी जिसमे 15 जून से 29 जून 2022 तक नामांकन किया जा सकेगा।
  • राष्ट्रपति जो की देश की कार्यपालिका का अध्यक्ष और देश का प्रथम नागरिक होता है। राष्ट्रपति को जनता द्वारा सीधा नहीं चुना जाता है।

राष्ट्रपति चुनाव में कौन वोट डाल सकते हैं ?

  • जन प्रतिनिधि द्वारा राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट किया जाता है। किन्तु सभी जनप्रतिनिधि राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट नहीं डालते।
  • वह जन प्रतिनिधि जो इसके लिए तय किये गए इलेक्टोरल कॉलेज के सदस्य होते हैं वही राष्ट्रपति चुनाव मे अपना वोट दे सकते हैं जैसे सांसद और विधायक।
  • किसी भी संसद या विद्यानसभा के मनोनीत सदस्य राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट नहीं करते क्यूंकि यह जनता द्वारा प्रत्यक्ष रूप से नहीं चुने जाते हैं इन्हें सरकार की सिफारिस पर संसद के सदस्य बनाये जाते हैं।
  • साथ ही साथ विधानपरिषद MLC के मेम्बर भी राष्ट्रपति चुनाव में वोट नहीं डाल सकते।
  • राज्यसभा के सांसद केंद्र में राज्यों का प्रतिनिधि होते हैं जो की राष्ट्रपति चुनाव में अपना वोट डाल सकते हैं किन्तु इसके लिये यह जरुरी है कि राज्यसभा के यह प्रतिनिधि विधानसभाओं द्वारा चुने हुए होने चाहिए। मनोनीत सदस्य राष्ट्रपति चुनाव में अपना वोट नहीं दे सकते।

यह भी देखें :- वर्तमान में भारत में कौन क्या है

चुनाव के लिए वोट की कीमत

अलग-अलग राज्यों में जनसँख्या घनत्व अलग-अलग है। उदहारण के लिए उत्तर प्रदेश में एक विधानसभा क्षेत्र में लगभग 3 से 4 लाख से अधिक वोटर होते हैं वही गोवा जैसे राज्य में एक विधानसभा क्षेत्र में लगभग 22 से 25 हजार वोटर होते हैं इसलिए इलेक्टोरल कॉलेज में सांसदों और अलग अलग राज्य के विधायकों के वोट की कीमत भी अलग अलग होती है। वर्तमान समय में राज्य की जनसंख्या जिसके लिए 1971 की जनगणना को आधार बनाया गया है जो की साल 2026 तक रहेगा। 1971 की जनगणना को विधायकों और सांसदों की वोट की कीमत के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

ऐसे तय किया जाता है वोटों का मूल्य

  • प्रत्येक राज्य की 1971 की जनगणना को वोट की कीमत तय करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है।
  • जैसे अगर हम यहाँ यूपी राज्य की बात करें तो इस राज्य की 1971 में जनसँख्या 8,38,48,905 थी और उत्तर प्रदेश विधानसभा की बात करें तो यहाँ अभी विधायकों की कुल संख्या 403 है।
  • वोटों का मूल्य निकलने के लिए इस जनसँख्या का और विधायकों की कुल संख्या का उपयोग किया जाता है।
  • राज्य की 1971 की जनसँख्या का आधार लेकर इस जनसँख्या को वर्तमान में उस राज्य के कुल विधायकों की संख्या से भाग दिया जाता है
  • और आने वाली संख्या को 1000 से भाग देने पर जो संख्या प्राप्त होगी वह उस राज्य के एक विधायक की वोट की कीमत होगी
  • उदहारण के लिए आप नीचे दिए सूत्र से किसी भी राज्य के विधायकों के वोट की कीमत का पता लगा सकते हैं ;जैसे

जनसँख्या / कुल विधायक संख्या /1000 =??
उदहारण के लिए -1971 यूपी राज्य की जनसँख्या आधार
8,38,48,905/403 =2,08,064
2,08,064/1000 =208 (एक विधायक के वोट की कीमत)

  • ऊपर दिए फॉर्मूले के हिसाब से यूपी राज्य से कुल मिलकर 208 (एक विधायक के वोट की कीमत) का गुणा कुल विधायक संख्या 403 से करने पर उत्तर-प्रदेश राज्य की तरफ से कुल 83,824 वोट डाले जायेंगे।
  • इसी तरह पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम के एक विधायक के वोट का मूल्य 7 है।
  • सभी राज्यों के विधायकों के वोट की कुल कीमत को उच्च सदन और निम्न सदन के कुल चुने गए सांसदों की संख्या से भाग दिया जाता है।
  • अब जो संख्या आती है वह एक संसद के वोट का मूल्य होता है और भाग देने पर शेष के रूप में 0.5 से अधिक बचता है तो इस स्थिति में वोट के मूल्य में एक का इजाफा होता है।

भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा? (candidates list)

  • राष्ट्रपति चुनाव एक अनुपातिक प्रतिनिधित्व पर आधारित होता है।
  • वर्तमान में जम्मू-कश्मीर में विधानसभा का अस्तित्व नहीं है जहाँ अभी विधानसभा चुनाव नहीं हुए हैं।
  • अब तक भारत के 15 राष्ट्रपति रह चुके हैं और अब 16 वें राष्ट्रपति के लिए चुनाव 18 जुलाई को किये जाने हैं।
  • वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त होगा।
  • 25 जुलाई को देश के 16 वें राष्ट्रपति अपना पद ग्रहण करेंगे।

राष्ट्रपति पद की दौड़ में कौन कौन शामिल हैं जानें

वैसे तो राष्ट्रपति के पद की इस दौड़ में कई नाम है इस दौड़ में कश्मीर के पूर्व सीएम फारुख अब्दुल्ला, एचडी देवगौड़ा, गुलामनबी आजाद का नाम भी है। राष्ट्रपति पद के प्रत्यासियों को लेकर 4 नामों पर सबसे अधिक चर्चा हो रही है ये 4 प्रत्यासी यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद्र गेहलोत और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू शामिल हैं।

इनके अलावा नीचे लिखे व्यक्तियों ने अभी तक राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन कर लिया है।

  1. डॉ के पद्मराजन (Dr. K. Padmarajan) रामनगर, सीलम, तमिलनाडु
  2. जीवन कुमार मित्तल (Jeevan Kumar Mittal) मोतीनगर, दिल्ली
  3. मोहम्मद ए हामिद पटेल (Mohammad A. Hamid Patel) अंधेरी, मुंबई, महाराष्ट्र
  4. सायरा बानो मोहम्मद पटेल (Sairo Bano Mohammad Patel) अंधेरी, मुंबई, महाराष्ट्र
  5. टी रमेश (T. Ramesh) सेल्लाप्पमपट्टी, नमक्कल, तमिलनाडु
  6. श्याम नंदन प्रसाद (Shyam Nandan Prasad) मोकामा, बिहार
  7. प्रो डॉ दयाशंकर अग्रवाल (Prof. Dr. Daya Shankar Agrawal) जीटीबी नगर, दिल्ली
  8. ओम प्रकाश खरबंदा (Om Prakash Kharbanda) नवीन शाहदरा, दिल्ली
  9. लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) सारण, बिहार (ध्यान दें ये आरजेडी प्रमुख नहीं हैं)
  10. ए मणिथन (A. Manithan) अग्रहारम, तिरुपत्तुर, तमिलनाडु
  11. डॉ मंदति तिरुपति रेड्डी (Dr. Mandati Thirupathi Reddy) मरकापुरर, आंध्र प्रदेश

18 जुलाई को होगा राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव

चुनाव आयोग ने 16 वें राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना कैलेंडर जारी किया है जिसके अनुसार 18 जुलाई को नए रास्ट्रपति के लिए वोट किये जायेंगे। असुर इस वोट का नतीजा 21 जुलाई 2022 को आ जायेगा जिसके बाद देश को अपना नया राष्ट्रपति मिल जायेगा।

भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा?

दोस्तों अब जानते हैं की भारत का अगला राष्ट्रपति कौन हो सकता है। भाजपा एवं सहयोगी दलों ने द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है। वहीं विपक्ष की तरफ से यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बनाया गया है, राष्ट्रपति चुनाव में सीधी टक्कर इन्हीं दो के बीच है , किन्तु यहां पर भाजपा के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति चुनाव जीतने की संभावना काफी ज्यादा है।

तो आप यह अनुमान आसानी से लगा सकते हैं की भारत का अगला राष्ट्रपति कौन होगा?

Who will be India’s next President? FAQs

प्रेजिडेंट इलेक्शन कब होंगे ?

18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव होंगे।

राष्ट्रपति पद के लिए किनका नाम चर्चा में है?

आनंदीबेन पटेल ,केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, कर्णाटक के राज्यपाल थावर चंद्र गेहलोत और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के नाम पर चर्चा हो रही है।

वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल कब तक है ?

24 जुलाई तक रामनाथ कोविंद जी का कार्यकाल समाप्त हो जायेगा।

राष्ट्रपति पद के उमीदवार के लिए क्या पात्रता होनी चाहिए ?

उमीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए और उसकी आयु 35 साल से ऊपर होनी चाहिए। लोकसभा का मेम्बर होना चाहिए।

भारत के President की सेलरी कितनी होती है ?

1.50 लाख प्रतिमाह साथ ही अन्य सुविधाएँ और भत्ते भी दिए जाते हैं।

क्या किसी राष्ट्रपति को उसके पद से हटाया जा सकता है ?

महाभियोग लगाए जाने पर राष्ट्रपति को अपने पद से इस्तीफा देना होता है।

राष्ट्रपति के पद का प्रावधान किस आर्टिकल (अनुच्छेद )में दिया गया है ?

आर्टिकल 52

भारत के पहले प्रेजिडेंट (राष्ट्रपति)कौन थे ?

डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद

उन राष्ट्रपति का नाम बताईये जिन्होंने दो बार राष्ट्रपति का पद संभाला था ?

डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद

भारत की पहली महिला राष्ट्रपति का क्या नाम है?

प्रतिभा पाटिल

भारत के पहले मुस्लिम राष्ट्रपति का क्या नाम है ?

डॉक्टर जाकिर हुसैन

भाजपा ने राष्ट्रपति उम्मीदवार किसे बनाया है।

बीजेपी ने द्रौपदी मुर्मू को अगला राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया है।

(Bhart Ka Agla Rastrpati Kaun Hoga)

Bhart Ka agla Rastrpati Srimati Daupadi Murmu Hongi.

Leave a Comment