बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं अधिप्राप्ति में ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें – Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के द्वारा की गयी है। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana का उद्देश्य किसानो को प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुक्सान की भरपाई के लिए सरकार किसानों को मुआवजा देगी। बिहार राज्य फसल सहायता योजना का सबसे बड़ा फायदा किसानों को ये होगा की ... Read more

Photo of author

Reported by Rohit Kumar

Published on

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के द्वारा की गयी है। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana का उद्देश्य किसानो को प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुक्सान की भरपाई के लिए सरकार किसानों को मुआवजा देगी। बिहार राज्य फसल सहायता योजना का सबसे बड़ा फायदा किसानों को ये होगा की उन्हें सरकार या बैंक को किसी भी तरह का प्रीमियम नहीं देना होगा। इसका पूरा भुगतान सरकार की तरफ से किया जायेगा। प्राकृतिक आपदा जैसे, बाढ़ अधिक बारिश, तूफ़ान के कारण होने वाली फसलों के 20 प्रतिशत तक के नुकसान के लिए सरकार द्वारा प्रति हेक्टेयर पर 7500 रूपये दिए जायेंगे और 20 प्रतिशत से अधिक फसलों के क्षति होने पर प्रति हेक्टेयर पर 20 हजार रूपये दिए जायेंगे।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं अधिप्राप्ति में ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें
Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

यह भी पढ़े ;- बिहार मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना आवेदन, एप्लीकेशन स्टेटस

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

बिहार राज्य में सबसे अधिक धान और तिलहन की खेती होती है। इसलिए किसानों को योजना में आवेदन करने के लिए खरीब और रबी की फसल के समय ही आवेदन करना होगा। बिहार राज्य सरकार द्वारा आवेदन के लिए ऑनलाइन वेबसाइट लांच की गयी है। इस योजना की सारी जिम्मेदारी सहकारिता विभाग को दे रखी है। लाभ उठाने के लिए पात्र किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसानो को आवेदन की अंतिम तिथि से पहले आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं अधिप्राप्ति में ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें - Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

यदि आप दी हुए समय के बाद आवेदन करते है तो आपका आवेदन निरस्त कर दिया जायेगा। आज हम आपको अपने लेख में योजना से जुडी सारी जानकारी देंगे और बताएंगे की कैसे आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। यदि आप भी बिहार राज्य फसल योजना के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपके लिए ये जानकारी बहुत महत्वपूर्ण होने वाली है जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana highlights

योजना का नाम बिहार राज्य फसल सहायता योजना
विभागबिहार कृषि सहकारिता विभाग
लाभार्थीबिहार राज्य के किसान
उद्देश्यफसलों का हुए नुकसान की भरपाई के
लिए सहायता राशि देना
खरीब की फसल के लिए
आवेदन करने की अंतिम तिथि
आवेदन मोड़ऑनलाइन
सहायता राशि7500 से 20 हजार तक
ऑफिसियल वेबसाइट pacsonline.bih.nic.in

बिहार फसल सहायता योजना दस्तावेज (पात्रता ) यहाँ जाने

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र – 400 केबी से कम पीडीएफ के रूप में
  • मूल निवास प्रमाण पत्र – 400 केबी से कम पीडीएफ के प्रारूप में
  • बैंक पासबुक का प्रथम पृष्ठ – 400 केबी से कम पीडीएफ के प्रारूप में
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो – 50 kb से कम
  • जमीन के कागजात
  • आवेदनकर्ता बिहार का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार का बैंक में अकाउंट होना आवश्यक है। और अकाउंट आधार से लिंक होना चाहिए।
  • फसल सहायता योजना के लिए वही आवेदन कर सकता है जिनकी प्राकृतिक आपदा के कारण फसले नष्ट हो जाती है। यदि किसी ने जानबूझ कर फसलों को नुक्सान पहुंचाया है तो वे आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
योजना का लाभ हेतु निम्न कागज की स्वप्रमाणित प्रति
  • रेयत कृषि के लिए
  • भू स्वामित्व प्रमाण पत्र 1 एमबी से कम
  • स्व-घोषणा प्रमाण पत्र 400 केबी से कम होना चाहिए।
  • गैर रैयत कृषक के लिए
  •  स्व-घोषणा प्रमाण पत्र जो 400 केबी से कम होना चाहिए।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के लाभ-

  • बिहार के किसानो की प्राकृतिक आपदाओं के कारण जिनकी फसलों को नुकसान पहुंचा है सरकार की तरफ से उन्हें प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा दिया जायेगा।
  • सरकार की तरफ से जो भी मुआवजा दिया जायेगा वो लाभार्थी किसानो के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर किये जायेंगे।
  • बिहार के किसान ही बिहार राज्य फसल सहायता योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • वास्तविक उपज के हिसाब से 20 प्रतिशत तक फसल नष्ट होने से किसानों को प्रति हेक्टेयर पर 7500 की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • 20 प्रतिशत से अधिक फसलों के नुक्सान होने पर प्रति हेक्टेयर पर 10 हजार रूपये का मुआवजा दिया जायेगा।
  • यदि आप स्कीम का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको सरकार द्वारा दी गयी आर्थिक सहायता का प्रीमियम नहीं देना होगा।
  • फसलों के समस्त विवरण की जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए बिहार सरकार के द्वारा किसानों के लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना पोर्टल को लॉन्च किया गया जिसमें किसान नागरिक कृषि से जुड़ी सभी प्रकार की योजनाओं का लाभ पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन मोड में प्राप्त कर सकते है।
योजना का उद्देश्य

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का उद्देश्य उन किसानो को आत्मनिर्भर बनाना है जो किसान हर वर्ष प्राकृतिक आपदाओं की मार झेल रहे है और उनकी फसलों को नुक्सान पहुंच रहा है। और लाखों किसानो को कृषि के लिए प्रोत्साहित करना है ताकि वे इन्ही सब कारणों की वजह से कृषि कार्य को न छोड़े या आत्महत्या ना करे। और बिहार राज्य सरकार द्वारा उन सबको आर्थिक सहायता मिले जो प्राकृतिक आपदाओं की वजह से अपनी फसलों के नुक्सान को झेल रहे हों।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण जमीन रजिस्ट्री के नियम, फीस व ऑनलाइन चेक करें

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण जमीन रजिस्ट्री के नियम, फीस व ऑनलाइन चेक करें

  • फसल सहायता योजना और अधिप्राप्ति के लिए अभी तक वर्ष 2019 में बिहार के किसानो ने कुल 810070 आवेदन किये गए थे और वर्ष 2018 में खरीब की फसल के लिए 1150527 आवेदन किये गए थे।
  • गेंहू अधिप्राप्ति के लिए वर्ष 2020-21 के लिए 16778 किसानों ने आवेदन किये है।

बिहार राज्य फसल सहायता के लिए ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें pacsonline.bih.nic.in

जो इच्छुक उम्मीदवार योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है हम उनको आवेदन करने के कुछ स्टेप्स बता रहे है आप दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से आवेदन को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले उम्मीदवार बिहार सहकारिता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक होम पेज खुल जायेगा आपको कृषि विभाग में किसान निबंधन के लिए यहां क्लिक करे के लिंक पर क्लिक करना होगा। बिहार-राज्य-फसल-सहायता
  • आप नए वेबसाइट पर आ जायेंगे यहां पर आपको होम पेज पर पंजीकरण का सेक्शन दिखाई देगा उसमे आप को पंजीकरण करे पर क्लिक करना होगा। BIHAR-FASL-RAHAT-YOJANA
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर पंजीकरण के लिए एक विकल्प आएगा जहां पर आपको नया पंजीकरण दिखेगा आपको डेमोग्राफी + ओटीपी पर क्लिक करना होगा।BIHAR-RAJY-FASAL-SAHAYTA-YOJANA
  • इसके बाद आप अपना आधार नंबर और आधार कार्ड में जो नाम है उसे दर्ज करें। और AUTHENTICATION पर क्लिक कर दें। बिहार-राज्य-फसल-सहायता-योजना-ऑनलाइन-आवेदन
  • इस प्रकार आपका योजना मे आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

योजना में पात्र ग्राम पंचायत सूची देखने की प्रक्रिया ,यहाँ जानें

  • पात्र ग्राम पंचायत सूची देखने के लिए आप सबसे पहले सहकारिता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट pacsonline.bih.nic.in पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा। आपको इस पेज में लिस्ट ऑफ़ एलिजिबल ग्राम पंचायत के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जायेगा जिसमें आपको वर्ष, जिला, और ब्लॉक का चयन करना होगा।
  • इसके बाद व्यू के बटन को दबा दें।
  • और जो आपके क्षेत्र के पात्र ग्राम पंचायत की सूची होगी वो आपके स्क्रीन पर होगी।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana निरीक्षण एप्प खरीब ऐसे करें डाउनलोड

  • एप्प डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आप योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा आपको ऑफ़ एलिजिबल ग्राम पंचायत के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • फिर से आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुलेगा। आपको इस पेज में बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण खरीब के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर गूगल प्ले स्टोर खुल जायेगा। आपको इंस्टाल के बटन पर क्लिक कर दें।
  • और आप ये एप्प डाउनलोड कर दें।
बिहार फसल सहायता निरीक्षण एप्प रबी डाउनलोड करने की प्रक्रिया जानिये यहाँ
  • सबसे पहले आप योजना की आधिकारिक वेबसाइट pacsonline.bih.nic.in पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा आपको ऑफ़ एलिजिबल ग्राम पंचायत के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • फिर से आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुलेगा। आपको इस पेज में बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण रबी के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर गूगल प्ले स्टोर खुल जायेगा। आपको इंस्टाल के बटन पर क्लिक कर दें।
  • और आप ये एप्प डाउनलोड कर दें।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर-

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की आधिकारिक वेबसाइट- http://pacsonline.bih.nic.in/fsy/ है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का लाभ कौन उठा सकते है ?

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana का लाभ वही उठा सकते है जिनकी प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों को नुक्सान पहुंच रहा है।

पोर्टल में फसल सहायता योजना से संबंधित किस प्रकार के डेटा को एकत्रित किया गया है ?

किसानों के लिए फसल सहायता योजना से संबंधित सभी आवश्यक जानकारियों को पोर्टल में उपलब्ध किया गया है इसके साथ ही कितने किसानों के द्वारा खरीफ एवं रबी की फसलों लिए आवेदन किया गया उससे जुड़ी सभी जानकारियों को पोर्टल में उपलब्ध किया गया है।

यह योजना राज्य के किसानों को किस प्रकार लाभान्वित करेगी ?

किसानों को यह योजना आर्थिक मदद के रूप में लाभान्वित करेगी जिससे किसानों को प्राकृतिक रूप में होने वाली हानि के समस्या से बचाया जा सकता है उनको कृषि में होने वाले घाटे से मुक्ति दिलाकर किसानों को विशेष सुविधाएँ प्रदान की जाएगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत किसानो को कितने रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी ?

जिन किसानो के 20 प्रतिशत तक फसलों को हानि हुयी है उनको प्रति हेक्टेयर में 7500 रूपये दिए जायेंगे। और जिन किसानो के 20 प्रतिशत से अधिक फसलों को नुक्सान हुआ है उन्हें पर हेक्टेयर 10 हजार रूपये दिए जायेंगे।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana का उद्देश्य क्या है ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इस योजना का उद्देश्य किसानो को आपदाओं के कारण हुयी हानि के लिए आर्थिक सहायता देना और उन्हें भविष्य के लिए कृषि के लिए प्रोत्साहित करना।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना में आवेदन प्रक्रिया का मोड़ क्या है ?

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana में आवेदन प्रक्रिया का मोड़ ऑनलाइन है।

बिहार राज्य फसल सहायता स्कीम का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करें ?

हमने आपको अपने लेख के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी जानकारी दे रखी है आप दिए हुए स्टेप्स को फॉलो कर सकते है और अपना पंजीकरण पूरा कर सकते हैं।

तो जैसे की हमने अपने लेख के माध्यम से बताया की कैसे आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं अधिप्राप्ति के लिए आवेदन कर सकते है यदि आपको इस योजना से जुडी हमसे कोई जानकारी चाहिए या आपको पंजीकरण को लेकर कोई भी परेशानी होती है तो आप हमे अपने नीचे कमेंट बॉक्स के सेक्शन में जाकर मेसेज कर सकते हैं।

बिहार पॉलिटेक्निक कॉउंसलिंग -Bihar Polytechnic Counselling DCECE

बिहार पॉलिटेक्निक काउंसलिंग - Bihar Polytechnic Counselling DCECE

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें