Biography of Sanjay Singh in Hindi: आप सांसद संजय सिंह का जीवन परिचय

दोस्तों आप सभी जानते होंगे कि भारत की राजधानी दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार कार्य कर रही है और यह एक दो साल से ही नहीं बल्कि एक दशक से इस पार्टी का प्रभुत्व बना हुआ है। आपको बता कुछ समय पहले राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा आम आदमी पार्टी को प्रदान किया गया है। आम आदमी पार्टी में कई नेता काम करते है जो अपने काम प्रदर्शन के कारण देश में बहुत प्रसिद्ध है उनमें से ही एक Sanjay Singh है जो आम आदमी में राज्य सभा के सदस्य है और अपना कार्य भार संभाल रहे है। आज कल संजय चर्चाओं में आ रहे है और मीडिया की हेडलाइन बने हुए है। आज इस लेख में हम आपको Biography of Sanjay Singh in Hindi (आप सांसद संजय सिंह का जीवन परिचय) से जुड़ी जो भी जानकारी है उसे साझा करने वाले है, जानकारी प्राप्त करने के लिए आर्टिकल को अंत तक अवश्य ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Biography of Sanjay Singh in Hindi: आप सांसद संजय सिंह का जीवन परिचय
Biography of Sanjay Singh in Hindi

आप सांसद संजय सिंह का जीवन परिचय

आप सांसद संजय सिंह का जन्म उत्तर प्रदेश राज्य के सुल्तानपुर में 22 मार्च 1972 को हुआ था। इनके पिता का नाम दिनेश सिंह तथा माता का नाम राधिका सिंह है। यह एक राजनीतिज्ञ है। इन्होंने अनीता सिंह से 13 मई 1994 में शादी की तथा अनीता ने दो बच्चों को जन्म दिया। एक बेटा है जिसका नाम उत्कर्ष है तथा एक बेटी जिसका नाम वर्तिका है।

Biography of Sanjay Singh in Hindi

नाम संजय सिंह
जन्म 22 मार्च 1972
जन्म स्थान सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश
आयु 51 वर्ष
नागरिकता भारतीय
वजन 75 kg
जाति राजपूत
राशि मेष
धर्म हिन्दू
पिता दिनेश सिंह
माता राधिका सिंह
पत्नी अनीता सिंह
बेटा उत्कर्ष
बेटी वर्तिका
लम्बाई 5 फिट 8 इंच
बालों का रंग काला
आखों का रंग काला
स्कूल गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल
कॉलेज उड़ीसा स्कूल ऑफ़ माइनिंग इंजीनियरिंग
पेशा राजनीतिज्ञ

संजय सिंह कौन है?

Sanjay Singh वर्तमान में आम आदमी पार्टी के राज्यसभा के सदस्य, राष्ट्रीय प्रवक्ता तथा एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। जिस समय से इस पार्टी की स्थापना हुई थी यह पार्टी के सभी सदस्यों में से वरिष्ठ सदस्य है। इसके अतिरिक्त वर्ष 2018 में इन्हें दिल्ली राज्यसभा का सदस्य बनाया गया था।

शिक्षा

संजय की शिक्षा के बारे में बताए तो इन्होंने गवर्नमेंट विश्वविद्यालय से अपनी प्रारंभिक शिक्षा को पूरा किया था। उसके बाद इन्होंने उड़ीसा स्कूल ऑफ़ माइनिंग इंजीनियरिंग कॉलेज में admission लिया तथा वहां से माइनिंग इंजीनियरिंग से अपना डिप्लोमा हासिल किया।

पसंद एवं नापसंद

Sanjay Singh की पसंद एवं नापसंद से सम्बंधित जानकारी हमने नीचे टेबल में बताई हुई है।

पसंदीदा खेल क्रिकेट
खाना राजमा – चवल, बिरयानी
पसंदीदा-खिलाड़ी कपि देव
अभिनेता अमिताभ बच्चन
अभिनेत्री माधुरी दीक्षित
नापसंद तेलीय पदार्थ (ऑयली फ़ूड)
रंग सफ़ेद
जगह पेरिस, लन्दन

सामाजिक कार्य में करियर

  • संजय ने लखनऊ में आजाद समाज सेवा समिति की स्थापना 1994 में की गई थी।
  • बेरोजगार एवं गरीब लोगों के लिए रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रयास करना।
  • ये फेरीवालों से संबंधी आन्दोलनों में भी शामिल हुए है।
  • ये नेशनल हॉकर्स फेडरेशन के साथ भी जुड़े हुए है।

राजीनीतिक करियर

राजनीतिक करियर शुरू होने से पहले बात करें तो पहले ये सामाजिक कार्यकर्ता थे और सामाजिक कार्यों को करते थे। ये हर सामाजिक गतिविधियों में भाग लेते थे। अन्ना हजारे ने वर्ष 2011 में भ्रष्टाचार आंदोलन चलाया था और आंदोलन में कई बड़े नेता शामिल हुए अरविन्द केजरीवाल के साथ सिंह भी आंदोलन में शामिल हो गए।

जब अरविन्द केजरीवाल द्वारा 26 नवंबर 2012 को आम आदमी पार्टी का गठन किया गया था तो उस समय संजय भी वहां एक सदस्य के रूप में शामिल हुए थे। पार्टी की स्थापना के बाद ये भी पार्टी में कार्यकर्ता बन गए और कार्य संभालने लग गए और नीति-नियमों में भी जुड़ने लगे। धीरे-धीरे कर वे पार्टी के कोर सदस्य भी बन गए और नीति निर्धारण करने में अपना मुख्य कार्य करते थे।

संजय पार्टी के स्थापित होने के पश्चात से ही अपने कार्य पर ध्यान दिए हुए थे तथा उन्होंने वर्ष 2018 तक कोई भी एक चुनाव नहीं लड़ा था।

पार्टी के काम में ध्यान देने के अतिरिक्त Sanjay प्राकृतिक आपदाओं, बेरोजगारों, मजदूरों तथा किसानों की सहायता भी करते है।

विवाद

संजय पर सात लोगों के साथ सदन में माइक तोड़ने, फोड़ने तथा राज्यसभा के सभापति के साथ अपमानजनक व्यवहार किया जिसके पश्चात उनको राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया था। राज्यसभा में तीन बिल पास होने के पश्चात यह घटना हुई थी।

दिल्ली उत्पादन शुल्क नीति से सम्बंधित मनी लॉन्ड्रिंग जाँच में 4 अक्तूबर 2023 को इन्हें गिरफ्तार किया गया। वर्ष 2020 सिंह ने विधेयकों के असंवैधानिक पारित होने पर विरोध करते हुए किसानों के लिए काला कानून कहा, यह घटना कृषि विधेयकों के पारित करने पर की गई थी।

नौकरी छोड़ कर बने समाजवादी

हमने आपको बताया कि संजय सिंह ने ओडिशा से कोल माइनिंग डिग्री प्राप्त की थी। और उसके बाद इन्होंने धनबाद में नौकरी भी ज्वाइन कर ली थी परन्तु इनका मन वहां नहीं लगा और ये वहां से वापस लौट कर आ गए। अब सिंह नागरिकों के लिए समाज सेवा के कार्यों में लग गए। इन्होंने रक्त दान को लेकर आंदोलन भी चलाया ताकि इसमें सब भाग ले सके, सड़कों पर रेहड़ी लगाकर अपना रोजगार चलाने वाले नागरिकों के लिए भी आवाज उठाई।

अन्ना आंदोलन से मिली बड़ी पहचान

दिल्ली सूचना के अधिकार को लेकर एक बार बहुत बड़ा आंदोलन किया गया था और आंदोलन सुल्तानपुर में होने लगा। सिंह इस आंदोलन में RTI एक्टिविस्ट की तरह कार्य कर रहे थे और इस कार्य को देखने के लिए अरविन्द केजरीवाल भी सुल्तानपुर आ गए और सिंह से मिले। अन्ना हजारे ने जंतर मंतर पर वर्ष 2010 में धरना देना शुरू किया था और यह रामलीला मैदान तक फैला हुआ था। तो इसमें मंच को नियंत्रण करने की उत्तरदायित्व सिंह को ही दिया गया था।

कुल संपत्ति

जैसा कि हमने आपको बताया संजय सिंह एक राजनीतिज्ञ है और उनको इसी के आधार पर प्रत्येक माह सैलरी दी जाती है। उन्हें हर माह 5 लाख रुपए सैलरी मिलती है तथा वार्षिक आधार पर बताए इन्हें 60 लाख रुपए मिलते है। इनकी कुल सम्पति 4 करोड़ रुपए है।

आप सांसद संजय सिंह का जीवन परिचय से सम्बंधित सवाल/जवाब

आप सांसद संजय सिंह का जन्म कब और कहाँ हुआ था?

इनका जन्म 22 मार्च 1972 को उत्तर प्रदेश राज्य के सुल्तानपुर में हुआ था।

Sanjay Singh कौन है?

यह वर्तमान समय में राज्यसभा के सदस्य, भारतीय राजनीतिज्ञ तथा राष्ट्रीय प्रवक्ता है।

Sanjay Singh के पिता का क्या नाम है?

इनके पिता का नाम दिनेश सिंह है।

Sanjay Singh की उम्र क्या है?

इनकी 51 वर्ष की उम्र है।

Sanjay Singh की पत्नी का क्या नाम है?

इनकी पत्नी का नाम अनीता सिंह है।

जैसा कि हमने आपको इस लेख में Biography of Sanjay Singh in Hindi से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी को विस्तार से साझा कर दिया है। यदि आप लेख के बारे में और जानकारी या कोई सवाल पूछना चाहते है तो आप नीचे दिए हुए कमेंट सेक्शन में अपना सवाल लिख सकते है हमारी टीम द्वारा जल्द ही आपके सवाल का हल दिया जाएगा। इसी तरह से जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी साइट से ऐसे ही जुड़े रहे। उम्मीद करते है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो और संजय सिंह के जीवन से जुड़ी जानकारी जानने में सहायता मिली हो।

Photo of author

Leave a Comment