छत्तीसगढ़ बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना आवेदन कैसे करें

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

छत्तीसगढ़ राज्य में कुश्ती परम्परा एवं अखाड़े के खेल को पुनर्जीवित करने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना को लॉन्च किया गया है। योजना के तहत पारम्परिक खेलों जैसे- कुश्ती को बढ़ावा प्रदान करने राज्य के युवाओं को कुश्ती प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए encouraged (प्रोत्साहित) किया जाएगा जिससे वे राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मंच पर ही खेल सके। इसलिए अब सरकार योजना के तहत अखाड़ों के संरक्षण एकम संवर्धन करने पर अधिक ध्यान दे रही है। स्कीम के तहत पारम्परिक खेलों को बढ़ावा दिया जाएगा जिसके लिए स्वच्छ पर्यावरण में कुश्ती अकादमी तैयार की जाएगी। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पहले आपको योजना में आवेदन करना जरूरी होगा।

छत्तीसगढ़ बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना 2023: आवेदन कैसे करें, लाभ
Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana

छत्तीसगढ़ बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल जी द्वारा नाग पंचमी के दिन Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana को शुरू किया गया है ताकि राज्य के अखाड़ा पहलवानों को प्रोत्साहन प्रदान किया जा सके। राज्य की राजधानी रायपुर में राज्य स्तर कुश्ती अकादमी को स्थापित किया जाएगा। योजना के माध्यम से अखाड़े के संरक्षण एवं संवर्धन को बढ़ावा भी दिया जाएगा जिसके तहत राज्य के युवा पहलवानों को अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा।

इसके साथ ही इन पहलवानों की प्रतिभा को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर तक भी ले जाएगा। इसी पुरानी परम्परा को जाग्रत करके राज्य के अन्य नागरिक भी पारम्परिक खेल कुश्ती को देख सकेंगे एवं अखाड़ा कुश्ती पारम्परिक संस्कृति को बढ़ावा भी मिलेगा। राज्य में जितने भी मान्यता प्राप्त अखाड़े हैं वहां हर साल पांच लाख रुपए की वित्तीय राशि प्रदान की जाएगी। इस वित्तीय राशि की सहायता से राज्य में पहलवानों को ट्रेनिंग, अखाड़ों के रख-रखाव एवं कुश्ती प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।

Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana Highlights

योजना का नामबजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना
राज्यछत्तीसगढ़
लॉन्च की गईमुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा
वर्ष2024
लाभार्थीअखाड़े के पहलवान (राज्य के)
उद्देश्यअखाड़े का संरक्षण एवं संवर्धन करना
रजिस्ट्रेशन मोडजल्द शुरू की जाएगी
रजिस्ट्रेशन प्रक्रियाजल्द शुरू की जाएगी

Also Read – छत्तीसगढ़ बेरोजगारी भत्ता के लिए आवेदन करें

योजना का उद्देश्य

राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने के कई उद्देश्य है जिसकी जानकारी हम नीचे निम्न प्रकार देने जा रहें हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • योजना के तहत राज्य में एक बार फिर से अखाड़ा खेल परम्परा को शुरू किया गया है।
  • स्कीम के तहत अखाड़ों को पुनर्जीवित किया जाएगा जिससे राज्य की जनता को कुश्ती के दांव पेंच फिर से देखने को मिलेंगे।
  • राज्य में कुश्ती अकादमी का निर्माण किया जाएगा।
  • प्रतिभाशाली पहलवानों को राष्ट्रीय एक अंतरष्ट्रीय स्तर में खेलने का मौका मिलेगा। जिसके तहत भारत का नाम रोशन होगा।
  • योजना का उद्देश्य है राज्य के अन्य नागरिकों को भी कुश्ती क्षेत्र में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करना है।
  • पारम्परिक खेल को बढ़ावा दिया जाएगा।

Also Read – छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना

योजना के शुरू होने से अगली नाग पंचमी में पहलवानों एवं दर्शकों की रहेगी धूम

राज्य के सीएम द्वारा योजना की घोषणा करते हुए कहा गया कि नाग पंचमी का त्यौहार अकसर कुश्ती के लिए ही जाना जाता है। किन्तु वर्तमान समय की बात करें तो कुछ ही स्थान बचे हैं जहाँ पर कुश्ती खेल आयोजित हो रहें हो। उन्होंने कहा की अगले वर्ष नाग पंचमी के पर्व पर बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना शुरू की जाएगी। अखाड़ों में पहलवान एवं दर्शकों को धूम मचने वाली है। राज्य के नागरिक अगली बार और धूम-धाम के साथ नाग पंचमी के त्यौहार को मनाएंगे।

छत्तीसगढ़ बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना को छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा आरम्भ किया गया है।
  • इस स्कीम को सम्पूर्ण राज्य में शुरू किया जाएगा।
  • इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य है राष्ट्रीय में अखाड़े के खेल के लिए अन्य नागरिकों को भी प्रोत्साहित करना है।
  • इस योजना के माध्यम से पहलवान अखाड़े में अपना प्रदर्शन दिखाएंगे।
  • अधिक से अधिक पहलवानों को लाभ लेने के लिए प्रेरित करना है।
  • पहलवानों को स्कीम के तहत आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना है।
  • योजना के माध्यम से खिलाड़ी अपना एक उज्ज्वल भविष्य बना सके।
  • जो भी खिलाड़ी अन्य खिलाड़ी पहलवान को अखाड़े में हरा देगा, उसे सरकार द्वारा पुरस्कार एवं आर्थिक मदद प्रदान जाएगी।
  • Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana के माध्यम से अखाड़े क्षेत्र में युवाओं की प्रतिभाओं को तैयार करने के लिए राज्य की राजधानी राजयपुर में राज्य स्तरीय कुस्ती अकादमी का निर्माण किया जाएगा।
  • राज्य के युवा खेल में प्रतिभाग करेंगे और अपना एवं अपने देश का नाम ऊँचा करेंगे।
  • अखाड़े में प्रतियोगिता नागपंचमी के दिन शुरू की जाएगी। जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में राज्य के नागरिक आएंगे।
  • पहलवानों की प्रतिभा को राष्ट्रीय स्तर से अंतराष्ट्रीय स्तर तक ले जाया जाएगा।
योजना में आवेदन हेतु पात्रता

नीचे बताई गई पात्रता होने पर ही आवेदक योजना में आवेदन करने हेतु पात्र समझा जाएगा।

  • बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक का छत्तीसगढ़ राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • राज्य के पहलवान ही योजना में आवेदन हेतु पात्र हैं।
आवश्यक डाक्यूमेंट्स

योजना में आवेदन करने के लिए आपके पास निम्न आवश्यक दस्तावेजों का होना आवश्यक है।

यह भी देखेंमुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना आवेदन प्रक्रिया - Mukhyamantri Noni Sashaktikaran Yojana

मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना आवेदन प्रक्रिया - Mukhyamantri Noni Sashaktikaran Yojana

  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र

Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana में आवेदन कैसे करें?

जैसा कि दोस्तों हमने आपको बताया कि बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गई है जो भी आवेदक इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं उनको अभी थोड़ा इन्तजार करना होगा। क्योंकि अभी इसकी आवेदन प्रक्रिया एवं आधिकारिक वेबसाइट को शुरू नहीं किया गया है। जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना की साइट को लॉन्च किया जाएगा हम आपको इस लेख के माध्यम से इस सूचना को सूचित कर देंगे।

छत्तीसगढ़ बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana क्या है?

राज्य में अखाड़े का संरक्षण एवं संवर्धन करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है।

Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana को किसके द्वारा लॉन्च की गई है?

इस योजना को छत्तीसगढ़ राज्य के सीएम भूपेश बघेल जी द्वारा लॉन्च किया गया है।

बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना किस राज्य में शुरू की गई है?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना छत्तीसगढ़ राज्य में शुरू की गई है।

Bajrangbali Akhada Protsahan Yojana के लाभार्थी कौन हैं?

छत्तीसगढ़ राज्य के सभी पहलवान इस योजना के लाभार्थी होंगे।

बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना को शुरू करने का उद्देश्य क्या है?

इस योजना के माध्यम से छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में एक कुश्ती अकादमी बनाई जाएगी जो की राज्य स्तरीय होगी।

बजरंगबली अखाड़ा प्रोत्साहन योजना को कब शुरू किया गया?

इस योजना को 21 अगस्त नाग पंचमी के दिन शुरू किया गया।

यह भी देखेंCG Yuva Swarojgar Yojana: छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

CG Yuva Swarojgar Yojana: छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें