दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना में ऐसे करें रजिस्ट्रेशन : Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana Apply

Share on:

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना DDU-GKY भारत सरकार द्वारा ग्रामीण युवाओं के उत्थान हेतु लायी गयी है। देश में बढ़ती बेरोजगारी और ग्रामीण विकास को ध्यान में रखते हुए अब सरकार ने इस योजना के तहत सभी ग्रामीण युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान करने के लिए इस मुहिम की शुरुआत की है। दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना (DDU-GKY) के अंतर्गत अब ग्रामीण आजीविका को बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है। साथ ही ये प्रयास भी है की नियमित रोजगार मिलने से ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ती गरीबी को कम किया जा सकेगा।

दीनदयाल-उपाध्याय-ग्रामीण-कौशल्य-योजना

सरकार ने युवाओं में बढ़ती बेरोजगारी के चलते उनके लिए DDU-GKY योजना को शुरू किया है। इस योजना के अंतर्गत सभी युवाओं को चिन्हित करके उन्हें अपने कौशल का विकास करने के लिए प्रशिक्षण देने का प्रावधान किया है। ऐसे सभी ग्रामीण बेरोजगार युवाओं के लिए किया जाएगा। इस से न केवल उनका विकास होगा बल्कि गाँव और देश का भी आर्थिक ढांचा भी सुधरेगा।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना

पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर 2014 को लांच किया था।इस योजना का सञ्चालन कौशल विकास और उधमिता एवं आजीविका विभाग (Skill Development and Entrepreneurship and Livelihood Department द्वारा किया जा रहा है। इसके अंतरगत युवाओं में उनके कौशल का विकास करके उन्हें रोजगार प्रदान किया जाएगा। उन्हें सरकार द्वारा तय की गयी न्यूनतम मजदूरी के बराबर या उस से अधिक मजदूरी प्रदान करना है। इसके साथ ही उनकी गरीबी व बेरोजगारी को ख़तम करना है। ये योजना “मेक इन इंडिया ” के तहत शुरू किया गया है। जिसमे युवाओं की योग्यता को विकसित करने का लक्ष्य है। युवाओं की योग्यता को निखारने व बढ़ाने के लिए उन्हें सरकार द्वारा DDU-GKY के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्हें प्रशिक्षण केंद्र में उनकी रूचि अनुसार ट्रेनिंग दी जाएगी ताकि वो अपना बेहतरीन दे सकें। इसी प्रशिक्षण के आधार पर उन्हें आगे नौकरी भी प्रदान की जाएगी। दीन दयाल उपाध्याय योजना Apply करने के बाद आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Pandit Dindayal Yojana

योजना का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना
मंत्रालय ग्रामीण विकास मंत्रालय , भारत सरकार
शुभारंभ किया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
लाभार्थी भारत के ग्रामीण बेरोजगार युवा
योजना का उद्देश्य ग्रामीण बेरोजगार युवाओं को कौशल
विकास प्रशिक्षण देकर रोजगार प्रदान करना
योजना लांच हुई25 दिसंबर 2014
योजना का स्टेटस जारी है
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना का उद्देश्य

Pandit Dindayal Upadhyay Yojana का उद्देश्य ग्रामीण बेरोजगार युवाओं को रोजगार देना है ताकि वो अपनी जीविका चला सकें। भारत सरकार ने इस बात का ध्यान रखा है कि इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके। इसके लिए सभी ग्रामीण इलाके के बेरोजगार व कम पढ़े लिखे युवाओं को चिन्हित किया जाएगा। उसके बाद उन्हें उनकी रूचि के अनुसार उनके कौशल विकास कार्यक्रम के तहत उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा साथ ही उन्हें रोजगार के अवसर भी प्रदान किये जाएंगे।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

  • अभी तक Pandit Dindayal Upadhyay Yojana के अंतर्गत पूरे देश में लगभग 11,05,161 युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।
  • जिनमे से कुल 6,42,357 युवाओं को रोज़गार मिल चुका है।
  • DDU-GKY के तहत प्रशिक्षण का कार्यक्रम 18 दिसंबर 2020 को शुरू किया जा चुका है। इसका बैच तक्षशिला , धौला में शुरू किया गया है।
  • इस योजना में 200 से ज्यादा कार्यों की ट्रेनिंग दी जाएगी।
  • इस योजना  Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana के अंतर्गत मिलने वाली ट्रेनिंग से सम्बंधित सभी किताबें , कंप्यूटर , यूनिफार्म आदि जरुरी सामग्री मुफ्त में ही प्रदान की जाएंगी।
  • ट्रेनिंग के दौरान युवाओं के रहने खाने आदि की व्यवस्था भी सरकार द्वारा ही की जाएगी।
  • यहाँ रोजगार परक प्रशिक्षण दिया जाएगा जिस से रोजगार प्राप्त करने में आसानी होगी। यही नहीं प्रशिक्षण के बाद रोजगार के अवसर भी प्रदान किये जाएंगे।
  • प्रशिक्षण के साथ साथ आपको अंग्रेजी भाषा बोलना तथा कंप्यूटर , टेबलेट चलाना आदि भी सिखाया जाएगा।
  • ये प्रशिक्षण शिविर देश में अलग अलग जगह शुरू किये जाएंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित हो सकें।
  • जम्मू कश्मीर के लिए इस DDU-GKY को “हिमायत ” नाम से शुरू किया गया है।
  • इसी तरह कुछ जिलों के लिए इसे “रौशनी ” नाम से भी चलाया जा रहा है।

Pandit Dindayal Upadhyay Yojana से होने वाले लाभ

पंडित दीनदयाल योजना  Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana के तहत दिए जाने वाले कौशल विकास प्रशिक्षण से होने वाले लाभ हम नीचे विस्तार से बताने जा रहे हैं।जानने के लिए आप हमारे आर्टिकल को आगे पढ़ें।

  • दीन दयाल योजना के अंतर्गत ग्रामीण बेरोजगार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। ये प्रशिक्षण उनकी रूचि के हिसाब से दिया जाएगा ताकि वो अपने कौशल को और निखार सकें।
  • इस योजना में भाग लेने के लिए सभी जरूरतमंद युवाओं को रोजगार सम्बन्धी जानकारी दी जाएगी।
  • प्रशिक्षण के साथ ही उन्हें रोजगार के अवसर भी प्रदान किये जाएंगे।
  • रोजगार मिलने से युवाओं में बेरोजगारी के चलते उभरने वाली आपराधिक प्रवृत्ति में भी कमी आएगी।
  • प्रशिक्षण मिलने से युवाओं का विकास होगा और वो अपनी जीविका चलाने में सक्षम बनेंगे।
  • इस योजना  Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana के अंतर्गत दिए जाने वाले प्रशिक्षण रोजगार देने वाले होंगे।
  • प्रशिक्षण के पूरे होने के बाद प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा और वो देश में सभी जगह मान्य होगा।
  • दीन दयाल योजना से ग्रामीण क्षेत्रो का न केवल विकास होगा बल्कि गरीबी भी नियंत्रण में आएगी।
  • प्रशिक्षण के साथ ही सभी को विभिन्न उद्योगों से सम्बंधित जरुरी जानकारी भी दी जाएगी।
  • ये भी प्रयास रहेगा की अगर कोई व्यक्ति स्वयं भी कोई उद्योग लगाना चाहे तो उसे भी सक्षम बनाया जाएगा।
  • इस योजना के तहत 200 से ज्यादा कार्यों को सम्मिलित किया गया है। इसमें युवा अपनी रूचि अनुसार प्रशिक्षण ले सकते हैं।
  • DDU-GKY के अंतर्गत उन सभी युवाओं को भी प्रशिक्षण का मौका मिलेगा जो कम पढ़े-लिखे हैं। जिसके चलते वो भी आसानी से रोजगार पा सकते हैं।

प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना की ये हैं पात्रता

DDU-GKY ( पंडित दीनदयाल उपाध्याय रोजगार योजना) में भाग लेने हेतु आवेदन करने से पहले आपका पात्रता शर्तें जानना जरुरी है। कृपया इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने से पूर्व इस से जुडी पात्रता शर्तों को ध्यान से पढ़ लें।

  • अगर आपकी उम्र 15 से 35 वर्ष है तो आप आवेदन कर सकते हैं।
  • अगर आप बेरोजगार हैं तो आप भी अप्लाई कर सकते हैं।
योजना में आवश्यक दस्तावेज यहाँ जानें

इस योजना में भाग लेने के लिए कुछ जरुरी दस्तावेज़ की आवश्यकता पढ़ सकती है। यदि आप भी इसमें भाग लेना चाहते हैं तो इनके बारे में हम आपको नीचे बता रहे हैं।

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • 3 पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना में पंजीकरण की प्रक्रिया यहाँ जानें

अगर आप भी दीन दयाल उपाध्याय योजना 2021 में भाग लेना चाहते हैं तो उसके लिए आपको सबसे पहले आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना होगा। आवेदन कैसे करना है , इसकी प्रक्रिया हम आगे स्टेप बाय स्टेप बताने जा रहे हैं।

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के आधिकारिक वेबसाइट ddugky.gov.in पर जाना होगा।
    दीन-दयाल-उपाध्याय-योजना
  • अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
  • यहाँ आप “कैंडिडेट ” वाले ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
    ddu-grameen-vikas-yojana
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। यहाँ आप देख सकते हैं की योजना से सम्बंधित कुछ आंकड़े आदि की जानकारी भी दी गयी है।
  • आपको इसी पेज पर दाहिने तरफ नीचे “अप्लाई नाउ” का ऑप्शन दिखेगा। आपको उसपर क्लिक करना है। deen-dayal-yojana-registration
  • अब आपके सामने एक डायलाग बॉक्स खुलेगा जिसे आपको “yes” पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुलेगा जहाँ आपको पंजीकरण से सम्बंधित विकल्प दिखेंगे।
  • यहाँ आपको “candidate registration” पर क्लिक करना है।
    grameen-kaushalya-vikas-yojna-registration
  • अगले पेज से आपके पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
  • आपको “रजिस्ट्रेशन टाइप ” का चुनाव करने के लिए “न्यू रजिस्ट्रेशन ” पर टिक करके “नेक्स्ट ” पर क्लिक करना है। deen-dayal-yojana-registration
  • अब अगले चरण में आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी दिए गए फॉर्म में भरनी होगी। यहाँ आपके नाम , अभिभावक के नाम , पता , जिला आदि पूछा गया है।
    दीन-दयाल-ग्रामीण-कौशल्य-योजना
  • फॉर्म में पूछी गयी सारी जानकारी भरकर आप “save and proceed” के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • अगले पेज पर आपसे आपका वर्तमान पता और आपका स्थायी पता पूछा जाएगा। आप ये जानकारी भरकर आगे बढ़ जाएँ।ग्रामीण-कौशल-विकास-योजना
  • यहाँ आपसे जुडी अन्य जानकारियां पूछी जाएंगी जैसे की घर की सलाना आय , आपकी केटेगरी आदि। साथ ही आपको अपने अन्य सरकारी योजना के लाभार्थी होने के बारे में भी जानकारी देनी होगी।इसके अतिरिक्त आप किस तरह के रोजगार में रूचि रखते हैं आदि भी भर दें।
    ग्रामीण-कौशल्य-विकास-योजना-फॉर्म
  • फॉर्म को भरने के बाद आप आगे बढ़ने के लिए “save & proceed” पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपको अगले पेज में भी रोजगार सम्बन्धी जानकारी भरनी होगी। यहाँ आपको अपनी रूचि अनुसार चुनाव करना होगा।
    deen-dayal-grameen-kaushaly-yojana-registration
  • इसके बाद आप यहाँ भी “सेव एंड प्रोसीड ” पर क्लिक कर दें।
  • अंत में आपको अब अपना फॉर्म सबमिट कर देना है।
  • अब आपकी पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना 2021 में पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

DDU-GKY में आवेदन ऐसे करें

DDU-GKY ( दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना भर्ती ) में पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी करने के बाद अब आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। आगे हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया भी समझाने वाले हैं। अगर आप भी आवेदन करना चाहते हैं तो यहाँ बताये गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • अब आपको आवेदन करने के लिए एक आवेदन पत्र भरना होगा।
  • आप हमारे बताये लिंक पर क्लिक करके आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए http://ddugky.gov.in/ पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
    दीनदयाल-उपाध्याय-योजना-एप्लीकेशन-फॉर्म
  • यहाँ आपको अपना नाम, पता, राज्य , जिला, ईमेल आईडी मोबाइल नंबर आदि जानकारियों के साथ साथ आपको कैप्चा कोड भरना और पासपोर्ट साइज फोटो भी अपलोड करनी होगी।
  • ये सभी जानकारी सही सही भरने के बाद आपको नीचे दिए गए “सबमिट” पर क्लिक करना है।

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना से सम्बंधित प्रश्न

दीन दयाल उपाध्याय योजना क्या है ?

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमज़ोर ग्रामीण युवाओं के विकास तथा उनके रोजगार हेतु इस योजना की शुरुआत की है। DDU-GKY के माध्यम से युवाओं की प्रतिभा और रुचियों की पहचान करके उनके कौशल विकास के लिए प्रशिक्षण प्रदान करेगी। इस से उनके लिए रोजगार के अवसर भी प्रदान करेगी।

पंडित दीन दयाल उपाध्याय योजना में अप्लाई करने के लिए कौन कौन से दस्तावेज़ों की आवश्यकता है ?

इस योजना के लाभार्थ हेतु आपको निम्नलिखित दस्तावेज़ों की आवश्यकता पड सकती है।
आधार कार्ड
वोटर आईडी कार्ड
आयु प्रमाण पत्र
आय प्रमाण पत्र
स्थायी निवास प्रमाण पत्र
3 पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

दीन दयाल उपाध्याय योजना में कौन कौन अप्लाई कर सकता है ?

इस योजना में अप्लाई करने के लिए आपको इसकी पात्रता शर्तों को पूरा करना पडेगा।
इस के लिए आपकी उम्र 15 से 35 वर्ष होनी चाहिए।
अगर आप बेरोजगार हैं तो आप भी अप्लाई कर सकते हैं।इसके अलावा किसी प्रकार की कोई अन्य पात्रता शर्तें नहीं है

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य विकास योजना में कैसे पंजीकरण करें ?

इस योजना में पंजीकरण हेतु आप हमारे आर्टिकल में पंजीकरण करने की पूरी प्रक्रिया पढ़ सकतें हैं।

ग्रामीण कौशल्य विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट ?

इस योजना से सम्बंधित सभी जानकारी पाने व इसके अंतर्गत पंजीकरण कराने हेतु आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। यहाँ हम इसकी आधिकारिक वेबसाइट का लिंक दे रहे हैं। कृपया http://ddugky.gov.in पर क्लिक करें।

इस योजना की शुरुआत कब लांच हुई थी ?

25 दिसंबर 2014 को ये योजना लांच हुई थी।

दीन दयाल उपाध्याय योजना का सञ्चालन किसके द्वारा किया जा रहा है ?

कौशल विकास और उधमिता एवं आजीविका विभाग (Skill Development and Entrepreneurship and Livelihood Department) द्वारा इस योजना का सञ्चालन किया जा रहा है।

इस लेख के माध्यम से हमने आप को दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के बारे में जानकरी दी है। उम्मीद करते हैं आपको ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। यदि आप इस से संबंधित कुछ और जानना चाहें या कुछ पूछना चाहें तो आप हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से बता सकते हैं। हम आप के सभी प्रश्नों के उत्तर अवश्य देंगे।

Leave a Comment