डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल फॉर्म – डीजीपी कैसे बने

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

वैसे तो हर किसी की ख्वाहिश कुछ बड़ा करने की होती है किन्तु इसके लिए कड़ी मेहनत और लगन की जरुरत होती है। आप कुछ भी बन सकते हो बस शर्त यह है कि आपको उसके लिए अपना समय और मेहनत दोनों को सामान रूप से देना होगा। आपने UPSC का नाम तो सुना ही होगा इसके लिए हर साल परीक्षा आयोजित की जाती है और बड़ी संख्या में परीक्षा के लिए आवेदन किये जाते हैं। DGP जिसे हिंदी में पुलिस महानिदेशक कहा जाता है उसके लिए भी आपको UPSC की परीक्षा को देना होता है। DGP रैंक का व्यक्ति कई जिम्मेदारियों को अपने कंधे पर लेकर चलता है इसकी राह इतनी आसान नहीं होती तो चलिए जानते है आखिर क्या होता है डीजीपी का मतलब, डीजीपी का फुल फॉर्म? और कैसे बनते हैं DGP

यह भी देखें :- पुलिस की वर्दी और स्टार से उसकी रैंक कैसे पहचाने?

डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल
डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल

आज हम आपको अपने इस लेख में हम डीजीपी के बारे में बताएँगे और साथ ही आप जान सकेंगे की डीजीपी का क्या मतलब होता है? और इसका फुल फॉर्म क्या होता है? और एक DGP के रैंक को पाने के लिए आपको किन किन प्रोसेस से होकर गुजरना पड़ता है?

Director general of police (DGP) Kya Hota Hai

आर्टिकलविवरण
आर्टिकल का नामडीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल? फॉर्म डीजीपी कैसे बने
DGP का पूरा नाम DIRECTOR GENERAL OF POLICE
रैंक3 स्टार रैंक
वेतनप्रतिमाह 90 हजार से 1 लाख 50 हजार रुपए तक
DGP की पहचानइनकी वर्दी में कंधे की और एक पट्टे पर अशोक स्तम्भ और इसके नीचे दो तलवार क्रॉस में होती है जिसके नीचे आईपीएस लिखा होता है।
DGP के लिए योग्यताग्रैजुएशन इसके बाद आपको UPSC की परीक्षा देनी होती है
DGP पद हेतु परीक्षा के लिए आयु सीमाजनरल कैटेगरी के लिए -21 से 30 के बीच
OBC के लिए इसमें 3 साल की छूट दी जाती है
SC ,ST के लिए 5 वर्ष की छूट

DGP का मतलब क्या होता है ?

डीजीपी जिसे हम DIRECTOR GENERAL OF POLICE से जानते हैं इसे हिंदी में पुलिस महानिदेशक कहा जाता है। यह पुलिस विभाग का सबसे ऊँचा पद होता है। DGP में D का मतलब होता है डायरेक्टर, G का मतलब होता है- जनरल और P का मतलब होता है –पुलिस इस तरह से डीजीपी का पूरा नाम डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

डीजीपी का फुल फॉर्म, पूरा नाम क्या है ?

पुलिस महानिदेशक जिसे हम DGP के नाम से जानते हैं इसे अंग्रेजी में डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस कहते हैं।

D – DIRECTOR
GGENERAL
O Of
PPOLICE

Director General of Police (डीजीपी) कैसे बने?

किसी भी राज्य या केंद्र शासित राज्य में पुलिस विभाग DGP के अंतर्गत आते हैं। राज्य में कानून व्यवस्था को बनाये रखना का काम इन्ही का होता है, हर राज्य में एक DGP होता है जो उस राज्य की कानून व्यवस्था को देखता है साथ ही अपने नीचे कार्य कर रहे पुलिस अधिकारियों के किये जाने वाले काम की जानकारी लेना और उन्हें गाइड करना और दिशा-निर्देश देना है। हर राज्य में पुलिस की व्यवस्था से जुड़े काम को DGP देखता है। आप यह समझ सकते हैं की एक डीजीपी अपने राज्य के पुलिस का हेड होता है।

यदि आप भी डीजीपी बनना चाहते हैं तो आपको इसके लिए अपना ग्रैजुएशन करके आईपीएस की परीक्षा देगी होती है। आईपीएस के परीक्षा को पास कर लेने के बाद जॉब आपका प्रमोशन किया जाता है तो आप DGP बनते हैं। हर साल UPSC सिविल सेवा परीक्षा को आयोजित करती है आपको इस परीक्षा में आवेदन करना है यदि आप इसके लिए एलिजिबल हैं तो आप यह परीक्षा दे सकते हैं। आप जब इस परीक्षा में अच्छी रैंक प्राप्त कर लेते हैं तो आप इसमें DGP के पद को प्रमोशन हो जाने पर आसानी से प्राप्त कर सकेंगे।

यह भी देखेंNew Education Policy PDF (NEP) नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2023 - नई शिक्षा नीति | National Education Policy - NEP 5+3+3+4 Structure PDF

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2020 - नई शिक्षा नीति | National Education Policy - NEP 5+3+3+4 Structure PDF

पुलिस वेरिफिकेशन चरित्र प्रमाण पत्र यूपी

ऐसे होता है पुलिस महानिदेशक’ के लिए प्रमोशन –

यह एक प्रमोशन पद है जिसमे डाइरेक्ट भर्ती नहीं होती बल्कि इसके लिए आपको UPSC की परीक्षा देनी होती है जैसे ही आप यूपीएससी की परीक्षा क्लियर करते हैं आपका सिलेक्शन DSP के लिए होता है इसके बाद आपको ASP का पद इसके बाद प्रमोशन होने पर SP, SP के बाद (वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक) SSP इसके बाद (पुलिस महानिरीक्षक) DIG और फिर IGP (पुलिस महानिरीक्षक) का पद इसके बाद (अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक) ADGP पद और अंत में प्रमोशन होने पर (पुलिस महानिदेशक) DGP बनते हैं।

डीजीपी का फुल फॉर्म से सम्बंधित कुछ प्रश्नोत्तर

DGP बनने के लिए क्या करना होगा ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

आपको इसके लिए UPSC की परीक्षा देनी होगी।

UPSC की परीक्षा देने के लिए कितनी आयु होनी चाहिए ?

सामान्य वर्ग के कैंडिडेट की आयु 21 से 32 साल ओबीसी के लिए 21 से 35 एससी /एसटी के लिए 21 से 37 के बीच होनी चाहिए।

पुलिस महानिदेशक (डीजीपी )के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ?

आपको किसी भी विषय से अपनी ग्रैजुएशन पूरी करनी होगी इसके बाद आपको UPSC का पेपर देना होगा। और आपको अपनी ऐज लिमिट का भी इसमें ध्यान रखना है।

क्या डीजीपी पद के लिए सीधी भर्ती की जाती है ?

नहीं DGP का पद प्रमोशन के बाद मिलता है। आपको इसके लिए आपको UPSC परीक्षा क्लियर करनी होती है।

यह भी देखेंहम 5 सितंबर को शिक्षक दिवस क्यों मनाते हैं?

हम 5 सितंबर को शिक्षक दिवस क्यों मनाते हैं? जानिए इसके पीछे के कारण।

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें