e-RUPI Digital Payment: Check Benefits, Working & Download e Rupi App

e-RUPI Digital Payment: भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) ने वित्तीय सेवा विभाग (DFS), राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA), स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) एवं साझेदार बैंकों के साथ मिलकर e-RUPI Digital Payment सिस्टम को लांच किया है जिसकी सहायता से नागरिक आसान ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत वित्तीय लेनदेन कर सकते हैं। e-RUPI एक तरह डिजिटल भुगतान प्लेटफार्म है जिसमें आपको किसी भी तरह के Physical Interface की जरूरत नहीं पड़ती है।

e-RUPI Digital Payment voucher System
क्या है e-RUPI Digital Payment जानें

e-RUPI देश के नागरिकों को cashless और contactless पेमेंट की सुविधा प्रदान करता है। दोस्तों आज के आर्टिकल में हम आपको e-RUPI डिजिटल पेमेंट के Working, लाभ, मोबाइल App आदि सबके बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान करने वाले हैं। e-RUPI Digital Payment के बारे में देश के हर एक नागरिक को जरूर जानना चाहिए। यदि आप भी इस ई-रूपी डिजिटल पेमेंट वाउचर सिस्टम के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारा यह आर्टिकल ध्यान से अंत तक जरूर पढ़ें।

Overview of e-RUPI Digital Payment:

आर्टिकल का विषय e-RUPI Digital Payment Voucher
e-RUPI Digital Payment voucher किसके द्वारा लांच किया माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
e-RUPI Digital Payment voucher कब लांच किया गया 2 अगस्त 2021
लाभार्थी भारत देश के नागरिक
उद्देश्य देश के नागरिकों को कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस डिजिटल भुगतान की सुविधा प्रदान करना।
e-RUPI Digital Payment voucher की official वेबसाइट www.npci.org.in

NPCI के द्वारा उपभोक्ताओं को प्रदान की जाने वाली सेवाएं:

  1. NETC नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक ट्रोल संग्रह)
  2. BHIM आधार
  3. AEPS आधार इनेबल्ड पैमेंट सिस्टम (आधार सक्षम भुगतान प्रणाली)
  4. NFS नेशनल फाइनेंसियल स्विच (राष्ट्रीय वित्तीय स्विच)
  5. CTS (चेक ट्रंकेशन सिस्टम)
  6. UPI यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस (एकीकृत भुगतान इंटरफ़ेस)
  7. रुपये एंड पैमेंट (RUPAY)
  8. BHIM भारत इंटरफ़ेस फॉर मनी
  9. NACH नेशनल ऑटोमेटेड क्लीयरिंग हाउस (राष्ट्रीय स्वचालित समशोधन गृह)
  10. इमीडियेट पेमेंट सर्विस (तत्काल भुगतान सेवा)

e-RUPI Digital Payment सिस्टम क्या है ?

दोस्तों जैसा की हम आपको पहले ही बता चुके हैं की e-RUPI Digital Payment एक ऑनलाइन गिफ्ट्स वाउचर सिस्टम है जिसे आप QR कोड स्कैन के द्वारा रिडीम कर सकते हैं। आप इसे ऐसे समझ सकते हैं की जैसे हमें शॉपिंग करते समय गिफ्ट वाउचर दिए जाते हैं ठीक उसी तरह यह भी एक Digital Redeem वाउचर सिस्टम है।

आपको बताते चलें की देश के 20 अधिक बैंकों के साथ e-RUPI ने बिजनेस साझेदारी की है। अर्थशास्त्र के जानकार और विशेषज्ञ मानते हैं की भारत में e-RUPI के व्यापक उपयोग होने की उम्मींद है। प्राइवेट कंपनियां अपने कर्मचारियों को लाभ देने के लिए e-RUPI Digital Payment का इस्तेमाल कर सकेंगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इसी के साथ भारत में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग करने वाले अपने बिजनेस टू बिजनेस लेन देन के लिए e-RUPI का उपयोग कर सकते हैं। NPCI ने भारत सरकार के e-RUPI प्रोग्राम के तहत देश के 1,600 से ज्यादा अस्पतालों के साथ करार किया है।

e-RUPI Digital Payment के विशेषताएं:

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) के द्वारा विकसित किये गए e-RUPI Digital Payment Voucher की विशेषताएं निम्नलिखित से इस प्रकार हैं –

e-RUPI-salient features
  • e-RUPI उपभोक्ताओं के लिए किस तरह से फायदेमंद साबित होगा: आपको बताते चलें की e-RUPI उपभोक्ता या लाभार्थी को वित्तीय लेन देन हेतु बैंक में खाता होना जरूरी नहीं। e-RUPI दूसरे डिजिटल पेमेंट सिस्टम से अलग है इसमें ग्राहक को एक ख़ास तरह का feature देखने को मिलता है जिससे उपभोक्ता 2 फेज प्रोसेस एनश्योर के तहत संपर्क रहित भुगतान कर सकते हैं।
  • e-RUPI के उपयोग हेतु किसी भी प्रकार के स्मार्टफोन और इंटरनेट की आवश्यकता नहीं: दोस्तों e-RUPI पेमेंट सिस्टम का उपयोग उन स्थानों पर भी किया जा सकेगा जहाँ इंटरनेट की पहुँच नहीं है या इंटरनेट स्पीड बहुत ही धीमी है। देश का आम नागरिक अपने साधारण से दिखने वाले बेसिक फ़ोन से e-RUPI पेमेंट सिस्टम का उपयोग कर सकता है।
  • भारत सरकार चाहती हैं पेमेंट कम्पनियाँ e-RUPI में करें निवेश : भारत सरकार चाहती है की डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर सिस्टम को मजबूत और अधिक पारदर्शी बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा निवेश हो। क्योंकि यह वाउचर सिस्टम पूरी तरह से वर्चुअल है तो इसको फिजिकली जारी करने की कोई आवश्यकता नहीं जिससे इसमें लगने वाली लागत कम होगी।ई-रुपी प्रीपेड वाउचर के उपयोग से सर्विस प्रोवाइडर (Provider) को भुगतान की रियल टाइम पेमेंट की जानकारी मिलती रहेगी। भारत के हर एक नागरिक तक ई-रुपी प्रीपेड वाउचर का लाभ पहुंचाने के लिए प्राइवेट डिजिटल पेमेंट कंपनियों का निवेश करना जरूरी है।

यह भी पढ़ें: Moratorium क्या है, जानिए बैंक मोरेटोरियम पीरियड के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

ई-रूपी डिजिटल पेमेंट के क्या हैं लाभ (Benefits):

जब भी देश के किसी भी नागरिक के द्वारा ई-रूपी डिजिटल पेमेंट वाउचर सिस्टम का उपयोग किया जाता है तो उसे निम्नलिखित प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं –

e-rupi-digital-payment
  • डिजिटल पेमेंट प्लेटफार्म होने के कारण उपभोक्ता त्वरित भुगतान और कैश withdrawal कर सकता है जिससे ग्राहक के समय की बचत होती है।
  • ई-आरयूपीआई सिस्टम का सबसे अच्छी बात और विशेष लाभ यह है की इसमें आपको किसी भी तरह के इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता नहीं होती। आप साधारण से बेसिक फ़ोन के माध्यम से पेमेंट कर सकते हैं।

e-RUPI कैसे काम (Work) करता है ?

  • सबसे पहले आप यह जान लें e-RUPI एक तरह से QR code और SMS सिस्टम के तहत कार्य करने वाली प्रणाली है। जिसके तहत आप ई-गिफ्ट्स वाउचर कार्ड प्राप्त करते हैं।
  • उपभोक्ता अपनी जरूरत के अनुसार e-RUPI वाउचर को रिडीम करा सकता है। आपको बताते चलें की ई-वाउचर व्यक्ति विशेष के अनुसार विशिष्ट हो सकते हैं।
  • आप e-RUPI वाउचर का उपयोग अधिकतर स्वास्थ से संबंधित भुगतान के लिए कर सकते हैं।
  • यहाँ हम आपकी जानकारी के लिए बता दें की कॉर्पोरेट और कर्मचारियों के लिए सरकार अलग – अलग ई-रूपी वाउचर जारी करती है।
    • आप इसे एक उदाहरण से समझ सकते हैं – मान लें यदि कोई कर्मचारी किसी अस्पताल में अपनी खास बीमारी के इलाज का खर्च उठाना चाहता है तो कर्मचारी e-RUPI के साझेदारी बैंक के माध्यम से निर्धारित राशि के वाउचर प्राप्त कर सकता है। यह वाउचर कर्मचारी को SMS के माध्यम से प्राप्त होंगें जिसके बाद कर्मचारी SMS में प्राप्त वाउचर के QR कोड को स्कैन कर अस्पताल में ली जा रही सेवाओं के लिए भुगतान कर सकता है।

e-RUPI Product Statistics:

Sr. No. Use Case Name Voucher Created Volume Voucher Redeemed Volume
1 National Health Authority: AB-PMJAY 25,057 3,164
2 Madhya Pradesh Government: Agriculture Equipment Distribution 70 45
3 Madhya Pradesh Government: Cycle Distribution 26 6
Total 25,153 3,215
e-RUPI के साथ साझेदार बैंक (Banks):

दोस्तों आपको बताते चलें की e-RUPI ने Digital Payment Program के तहत देश के 20 से भी ज्यादा बैंकों के साथ साझेदारी की है हमने यहाँ टेबल के माध्यम से उन सभी बैंकों के बारे में आपको बताया है –

S. Noबैंकों के नाम
1AU Small Finance Bank
2Axis Bank
3Bank of Baroda
4Bank of India
5Bank of Maharashtra
6Canara Bank
7Central Bank of India
8Federal Bank
9HDFC Bank
10ICICI Bank
11Indusind Bank
12Indian Bank
13Indian Overseas Bank
14Karnataka Bank
15Karur vysya Bank
16Kotak Bank
17Paytm Payment Banks
18Punjab National Bank
19State Bank of India
20UCO Bank
21Union Bank of India

e-RUPI मोबाइल एप्प को कैसे डाउनलोड करें ?

यदि आप अपने स्मार्टफोन में e-RUPI Digital Payment का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप अपने स्मार्ट फ़ोन में e-RUPI मोबाइल एप्प को डाउनलोड कर सकते हैं। यहां हमने मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने की सम्पूर्ण प्रक्रिया step बाय step बताई है जो निम्नलिखित इस प्रकार से है –

  • Step 1: आपको सबसे पहले Google play Store App ओपन करनी है। e-RUPI Mobile App को डाउनलोड करने के लिए आपको सबसे पहले फ़ोन में गूगल प्ले स्टोर App ओपन करनी होगी।
  • Step 2: App ओपन होने के बाद सर्च करें e-RUPI जब आप गूगल प्ले स्टोर App को ओपन कर लेंगे उसके बाद सर्च बॉक्स में जाकर e-RUPI को टाइप करें। टाइप करने के बाद दिख रहे सर्च के आइकॉन पर क्लिक करें।
  • Step 3: अब install के बटन पर टैप करें। आइकॉन पर क्लिक करने के बाद आप e-RUPI मोबाइल App के डाउनलोड पेज पर पहुँच जाएंगे। अब यहाँ पेज पर दिख रहे Install के बटन पर क्लिक करें।
  • Step 4: इसके बाद e-RUPI मोबाइल App आपके फ़ोन में डाउनलोड हो जायेगी। उपरोक्त स्टेप को करने के बाद e-RUPI App आपके फ़ोन में सफलता पूर्वक डाउनलोड एवं इंस्टॉल हो जायेगी। इस तरह से आप गूगल प्ले स्टोर से e-RUPI App डाउनलोड कर पाएंगे।

e-RUPI Digital Payment से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर (FAQs):

NPCI क्या है ?

भारत में बैंकिंग और ऑनलाइन माध्यम से होने वाले वित्तीय लेन देन का जोखा रखने वाली संस्था है NPCI जो ग्राहकों को विभिन्न माध्यमों से ऑनलाइन डिजिटल भुगतान की सुविधा प्रदान करती है।

e-RUPI का उपयोग कैसे कर सकते हैं ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

e-RUPI का उपयोग आप डिजिटल वाउचर के रूप में कर सकते हैं जिसे भुगतान के समय redeem किया जा सकता है।

e-RUPI की पेमेंट की लिमिट कितनी है ?

केंद्र सरकार के वित्त मंत्रालय के नियमों के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने ई-रुपी के भुगतान की अधिकतम वर्तमान सीमा 10,000 रूपये से बढ़ाकर अब एक लाख रूपये कर दी गई है।

Digital Cryptocurrency और e-RUPI में क्या अंतर है ?

दोस्तों कोई भी डिजिटल Cryptocurrency सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है अर्थात यह करेंसी लीगल टेंडर नहीं है। Cryptocurrency पूरी तरह से Decentralized करेंसी है जिस पर सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। जिस कारण क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू में उछाल और गिरावट दोनों बहुत जल्दी-जल्दी देखें जाते हैं। इसी क्रम में यदि हम e-RUPI की बात करें तो यह एक मुद्रा ना होकर के डिजिटल पेमेंट वाउचर सिस्टम है जिस पर पूरा नियंत्रण भारत की केंद्र सरकार का है।

यह भी जानें:

Photo of author

Leave a Comment