हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन Ek Musht Niptaan Yojana

Share on:

Ek Musht Niptaan Yojana : हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गयी हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023 राज्य के विकास के लिए अहम भूमिका निभाएगी। इसका सीधा लाभ किसानों को मिलेगा। एक मुश्त निपटान योजना के अंतरगत किसानों द्वारा बैंक से लिए गए ऋण पर ब्याज माफ़ करने का निर्णय लिया गया है। जिससे किसान एकमुश्त रकम वापस करते हैं तो उन्हें किसी प्रकार का ब्याज नहीं देना होगा।

आज इस लेख में हम आप को हरियाणा एक मुश्त योजना 2023 के बारे में जानकारी देंगे। यही नहीं इस योजना से संबंधित अन्य सभी महत्वपूर्ण जानकारी भी आप को इस लेख में मिल जाएगी। जैसे कि – हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना क्या है, लाभ एवं पात्रता क्या है , योजना की आवेदन प्रक्रिया। Haryana Ek Musht Niptaan Yojana 2023 Apply Online, हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना पंजीकरण कैसे करें आदि।

Ek Musht Niptaan Yojana.

क्या है हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023

Haryana Ek Musht Niptaan Yojana 2023 की शुरुआत का श्रेय राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर को जाता है। इस योजना मुख्यमंत्री जी ने 5 अगस्त 2022 को शुरू करने की घोषणा की थी। इस योजना के माध्यम से सभी कर्जदार किसानों को ऋण की भरपाई एकमुश्त करने पर रकम पर बनने वाले ब्याज के भुगतान पर छूट देने का प्रावधान किया है। योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा कर्जदार किसानो, जिला कृषि, भूमि विकास बैंक के सदस्यों द्वारा लिए गए लोन का एकमुश्त भुगतान करने पर ब्याज में छूट दी जाएगी। कृपया ध्यान दें कि आवेदकों को बकाया ब्याज पर ही छूट प्रदान की जाएगी। और साथ ही ये एक सीमित अवधि के लिए चलाई गयी योजना है।

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023 के अंतरगत वो किसान जिनकी ऋण लेने के बाद मृत्यु हो चुकी है, उनके उत्तराधिकारियों को भी इसका लाभ मिलेगा। योजना के तहत ये प्रावधान किया गया है कि यदि किसी किसान की मृत्यु हो गयी है और उनके उत्तराधिकारी / नॉमिनी इस का भुगतान कर रहे हैं तो उन्हें योजना के अंतर्गत बकाया ब्याज पर छूट दी जाएगी। इसके लिए उन्हें भी एकमुश्त भुगतान करना होगा। इसके साथ ही सरकार सभी लाभार्थियों को अन्य खर्चे और जुरमाने को भी माफ़ करेगी। बता दें की लाभार्थियों को बकाया ब्याज पर 50% तक की छूट मिलेगी।

Highlights Of Haryana Ek Musht Niptaan Yojana

आर्टिकल का नाम हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना
घोषणा की गयी 5 अगस्त 2022
राज्य का नाम हरियाणा
शुरुआत की गयी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर जी द्वारा
उद्देश्य किसानों को ऋण का एकमुश्त भुगतान करने हेतु प्रोत्साहित करना
लाभार्थी हरियाणा के ऋणी किसान
वर्तमान वर्ष 2023
योजना की श्रेणी हरियाणा राज्य सरकार की योजना

जानिए Ek Musht Niptaan Yojana का उद्देश्य

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023 की शुरुआत मुख्य रूप से उन किसानों को ध्यान में रखकर बनाई गई है, इस योजना के माध्यम से उन सभी किसानों को एकमुश्त ऋण राशि का भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके लिए उन्हें बकाया ऋण राशि पर बनने वाले ब्याज पर 50 प्रतिशत या 100 प्रतिशत तक की छूट मिलेगी। जिससे वो निश्चिन्त होकर आगे के लिए भी अपनी कृषि को जारी रख सकेंगे। कार्य इसके अतिरिक्त बैंकों को भी अपनी बकाया ऋण राशि भी प्राप्त हो जाएगी। कुल मिलाकर इसका लाभ दोनों ही पक्षों को होगा।

एकमुश्त निपटान योजना लाभ और विशेषता

  • Ek Musht Samadhan Yojana 2023 विशेष रूप से हरियाणा के ऋणी किसानों के लिए की गयी है।
  • एकमुश्त निपटान योजना के तहत सभी पात्रता रखने वाले किसानों को बकाया ऋण एकमुश्त जमा करने पर ब्याज में छूट दी जाएगी
  • इसका लाभ राज्य के उन किसानों को मिलेगा जिन्हे जिला कृषि बैंक, जिला प्राथमिक सहकारी कृषि बैंक, भूमि विकास बैंक, ग्रामीण विकास बैंको से डिफॉल्टर घोषित किया गया है।
  • इस योजना (हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना) का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दिया जाएगा।
  • सरकार द्वारा योजना के माध्यम से किसानों को लोन की ऋण राशि एकमुश्त भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • Ek Musht Niptaan Yojana का लाभ सभी प्रकार के ऋण पर लागू किया गया है।
  • सभी ऋणी किसान जिन्हे 31 मार्च 2022 तक बैंकों द्वारा डिफाल्टर घोषित किया गया है उन्हें एकमुश्त निपटान योजना के तहत बाकी के ब्याज पर 50 % प्रतिशत ब्याज की छूट दी जाएगी।
  • यदि किसी किसान की मृत्यु होने के पश्चात उनके उत्तराधिकारी इस ऋण को चूका रहे हैं तो योजना के तहत उन्हें बाकी के लोन राशि के भुगतान पर 100 फ़ीसदी ब्याज में छूट दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ के चलते आसानी से लोन की एकमुश्त रकम वापस कर सकेंगे।
  • योजना में अन्य खर्चे व जुरमाना राशि भी माफ़ करने की बात कही जा रही है।
  • एकमुश्त निपटान योजना के तहत बैंकों को भी ऋण के रूप में दी गयी रकम वापस मिल जाएगी।
  • आधकारिक सूचना के अनुसार इस वक्त राज्य में बैंकों से क़र्ज़ लेने वाले 17863 किसानों की मौत हो चुकी है, जिन पर 445 करोड़ रुपए बाकी हैं। इस राशि पर 29.46 करोड़ रुपए जुर्माने ब्याज के तौर पर लगे हैं। इसके अलावा 241.45 करोड़ रुपए का ब्याज व 174.38 करोड़ रुपए मूलधन भी शामिल है।

पात्रता (Eligibility For Haryana Ek Musht Niptaan Yojana )

Haryana Ek Musht Niptaan Yojana Online Apply करने के लिए सभी किसानों को पहले योजना के अंतर्गत निर्धारित किये गए योग्यता / पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा। यहाँ जानिये एकमुश्त निपटान योजना में आवेदन करने के लिए आप को कौन सी पात्रता शर्तों को पूरा करना आवश्यक है। –

  1. हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना में लाभ सिर्फ उन किसानों को ही मिलेगा जो हरियाँ राज्य के मूल निवासी हैं।
  2. जो किसान राज्य के जिला प्राथमिक सहकारी कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंकों तथा जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंकों के ऋणदाता या उपभोक्ता होंगे उन्हें ही इस योजना का लाभ मिलेगा।
  3. इस योजना (Ek Must Niptaan Yojana) के तहत लाभ वही किसान प्राप्त कर सकेंगे जो 31 मार्च 2022 को बैंक द्वारा डिफॉल्टर घोषित किए गए है।
Ek Musht Niptaan Yojana के महत्वपूर्ण दस्तावेज

जो भी आवेदक किसान इस योजना में लाभ लेना चाहते हैं उन्हें आवेदन/पंजीकरण ( Ek Must Niptaan Yojana Registration) हेतु कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज की आवश्यकता पड़ेगी। इनकी सूची आप आगे पढ़ सकते हैं –

  • आय प्रमाण पत्र
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • आधार कार्ड
  • ऋण से संबंधित कागजात
  • मोबाइल नंबर 
  • पासपोर्ट साइज फोटो इत्यादि 
  • मृतक किसान का मृत्यु प्रमाण पत्र (अगर लागू है )

एकमुश्त निपटान योजना में आवेदन

हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गयी इस योजना (Ek Musht Niptaan Yojana) में आवेदन करने के इच्छुक हैं तो आप की जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए वर्तमान में कोई आधिकारिक वेबसाइट जारी नहीं की गई है। इसलिए जो भी इच्छुक किसान हैं उन्हें अपनी बैंक शाखा (जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंकों और जिला प्राथमिक सहकारी कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक) जिन्हे तहसील स्तर पर बनाया गया है, वहां संपर्क कर सकते हैं। इन बैंकों की तहसील स्तर पर लगभग 70 शाखाएं उपलब्ध है। इस योजना में आवेदन व पंजीकरण से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां आप को यहाँ मिल जाएगी।

Ek Musht Niptaan Yojana संबंधित प्रश्न उत्तर

एकमुश्त निपटान योजना क्या है ?

ये हरियाणा राज्य सरकार द्वारा चलायी गयी एक योजना है जिसका सीधा फायदा किसानों को प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत सभी ऋणी किसानों को बैंकों द्वारा ली गयी लोन राशि के एकमुश्त भुगतान किये जाने पर उस बकाया राशि के ब्याज पर छूट दिया जाने का प्रावधान था।

Ek Musht Niptaan Yojana को किसके लिए लाया गया है ?

इस योजना की शुरुआत राज्य के उन किसानों के लिए की गयी है जिन्हें सम्बंधित बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 को डिफाल्टर घोषित किया गया है।

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना में कितनी छूट मिलेगी ?

Ek Musht Niptaan Yojana में सभी ऋणी किसानों को 50 प्रतिशत तक की छूट मिलेगी। वहीँ जिन किसानों की मृत्यु हो चुकी है और उनके ऋण की राशि परिवार / उत्तराधिकारियों द्वारा चुकाई जा रही है , तो उन्हें इस योजना के तहत बकाया राशि पर 100 फ़ीसदी की छूट मिलेगी।

Ek Musht Niptaan Yojana में कौन कौन से बैंक के सदस्यों को लाभ िलेगा ?

इसका लाभ राज्य के उन किसानों को मिलेगा जिन्हे जिला कृषि बैंक, जिला प्राथमिक सहकारी कृषि बैंक, भूमि विकास बैंक, ग्रामीण विकास बैंको से 31 मार्च 2022 को डिफॉल्टर घोषित किया गया है।

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना के लिए कौन से महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरुरत पड़ सकती है ?

आय प्रमाण पत्र, स्थायी निवास प्रमाण पत्र, बैंक खाता विवरण, आधार कार्ड, ऋण से संबंधित कागजात,
मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटो, मृतक किसान का मृत्यु प्रमाण पत्र (अगर लागू है ) दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है।

आज इस लेख के माध्यम से आप को हरियाणा के Ek Musht Niptaan Yojana के बारे में जानकारी प्रदान की गयी है। उम्मीद है आप को ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। यदि आप ऐसे ही अन्य उपयोगी योजनाओं से संबंधित लेखों को पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट Hindi NVSHQ से जुड़ सकते हैं।

Photo of author

Leave a Comment

Join Telegram