फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया – Famous Food Of South India in Hindi

आज देश आज देश के किसी भी हिस्से में आप चले जाइये। आप को किसी भी रेस्टोरेंट में जाने पर उनके मेनू में दक्षिण भारतीय खाने का विकल्प भी मिल जाएगा। खासकर इडली, डोसा, उत्तपम, बिरयानी आदि ऐसे अनेक पकवान हैं जो आज के समय में न सिर्फ दक्षिण भारत में खाये जाते हैं बल्कि ... Read more

Photo of author

Reported by Rohit Kumar

Published on

आज देश आज देश के किसी भी हिस्से में आप चले जाइये। आप को किसी भी रेस्टोरेंट में जाने पर उनके मेनू में दक्षिण भारतीय खाने का विकल्प भी मिल जाएगा। खासकर इडली, डोसा, उत्तपम, बिरयानी आदि ऐसे अनेक पकवान हैं जो आज के समय में न सिर्फ दक्षिण भारत में खाये जाते हैं बल्कि देश के अन्य हिस्सों खासकर उत्तर भारत में भी घर घर में पहचाने जाने लगे हैं। या यूँ कहें कि सिर्फ पहचाने ही नहीं जाते बल्कि लोग इन्हे बहुत ही चाव से खाते भी हैं। तो आज इस लेख में हम आप को ऐसे ही कुछ साउथ इंडिया में खाये जाने वाले फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया (Famous Food Of South India) के बारे में जानकारी देंगे।

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया –
Famous Food Of South India in Hindi

यह भी पढ़े :- Maggi Kis se Banti Hai | 2 मिनट में बनने वाली मैगी किस चीज से बनती है?

Famous Food Of South India / फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

आज इस लेख में हम आप को दक्षिण भारत की कुछ लोकप्रिय डिशेस के बारे में बताने जा रहे हैं। इसमें दोनों प्रकार के पकवान शामिल हैं, यानी शाकाहारी और मांसाहारी। दक्षिण भारत की ये लोकप्रिय व्यंजन बहुत ही लजीज होते हैं। इसके पीछे इन्हे बनाने के तरीके और इन्हे बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाली सामग्रियां हैं। जिससे इनका स्वाद देश के अन्य राज्यों की तुलना में काफी अलग होता है। आगे आप ऐसे ही व्यंजनों के बारे में पढ़ेंगे, जो न केवल खाने में लजीज हैं बल्कि आप ने इनमे से कुछ के नाम पहली बार सुने होंगे। और ये भी संभव है कि आप इन्हे दक्षिण भारत राज्यों में जाकर ही इनके असली स्वाद का मज़ा ले सकें। आइये अब शुरुआत करते हैं -सबसे पहले शुरुआत करेंगे उन प्रचलित व्यंजनों से जो दक्षिण भारत के साथ साथ आज उत्तर भारत व अन्य हिस्सों में भी जाने जाते हैं। इन्हे हम फेमस स्ट्रीट फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया (Famous Street Food of South India in Hindi) भी कह सकते हैं –

प्रचलित स्ट्रीट फ़ूड

1 – इडली सांभर (Idli Sambhar)

इडली सांभर एक ऐसा व्यंजन है जो सामन्य तौर पर नाश्ते के समय बनाए जाने के लिए जाना जाता है। ये एक पौष्टिक आहार है जो दक्षिण भारत के साथ साथ देश के अन्य हिस्सों में भी बहुत ही चाव से खाया जाता है। हालाँकि इसका असली मजा तो दक्षिण भारत में बनने वाली इडली और सांभर में ही मिल सकता है।

बता दें कि इडली को पिसे हुए चावल के आटे से बनाया जाता है। साथ ही इसके साथ परोसे जाने वाले साम्भर को अलग अलग सब्जियों को कुछ खास मसालों के साथ मिलाकर/ डालकर तैयार किया जाता है। इसके साथ ही नारियल चटनी भी इडली सांभर के साथ खायी जाती है । जिसका अपना अलग ही मजा होता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Idli Sambhar

इडली बनाने के लिए इसके स्पेशल सांचे आते हैं। जिसमे आप इडली तैयार कर सकते हैं। इन्हे फिर स्टीम / भाप में पकाया जाता है। आप को बताते चलें कि इडली बनाने के लिए चावल के आटे के अतिरिक्त आप सूजी (रवा) से भी बना सकते हैं।

2 – डोसा (Dosa)

दक्षिण भारत का सबसे लोकप्रिय व्यंजनों में से अगला है डोसा। आप ने भी डोसा कितनी ही बार खाया होगा। इसे हल्का और सुपाच्य भोजन के तौर पर खाया जा सकता है। जो आपके पेट को भरने के साथ साथ पौष्टिक और स्वादिष्ट भी होता है। ये जतना खाने में स्वादिष्ट होता है उतना ही पाचन में भी अच्छा होता है। ये एक एक पारंपरिक दक्षिणी भारतीय व्यंजन है। इसे भीगे हुए चावल और दाल के घोल से तैयार किया जाता है। इसे दक्षिण भारत में घी के साथ कुरकुरा होने तक पकाया जाता है जबकि उत्तर भारत में तेल का इस्तेमाल किया जाता है।

dosa

डोसा आप को सांभर और चटनी के साथ परोसा जाता है। आज के समय मे अनेक प्रकार के डोसा की वैरायटी मिल जाएगी। जैसे कि – मसाला डोसा, रवा मसाला डोसा, प्याज मसाला डोसा, पेपर मसाला डोसा, चीज़ डोसा आदि अनेक वैरायटी मौजूद है। इसे आप नाश्ते के अलावा भी लंच या डिनर के तौर पर भी खा सकते हैं।

3 – मेदु वड़ा (Medu Vada)

मेदु वड़ा दक्षिण भारत में नारियल चटनी और सांभर के साथ नाश्ते के तौर पर खाया जाने वाला प्रसिद्ध व्यंजन है। ये व्यंजन मुख्य रूप से उड़द की दाल से बनता है। इसे सुबह के नाश्ते के तौर पर बनाया जाता है। कन्नड़ में ‘मेदु वडा’ का अर्थ होता है ‘नरम’। ये वडा आमतौर पर अंदर से नरम होता है और बाहर खस्ता होता है।

medu vada

इसके लिए उड़द की दाल को कुछ घंटे भिगोकर इसे पीसते हैं और इसमें हरा धनिया, प्याज, हरी / काली मिर्च, करी पत्ता जीरा, नमक आदि अपने स्वादानुसार मिलाकर छोटे छोटे लोइयां बनाई जाती हैं। फिर इसे गोलाकार आकृति बनाकर बीच में जगह बनाई जाती है। इसके बाद इसे माध्यम आंच में कुरकुरा तलकर इसे निकालते हैं। और फिर नारियल चटनी और सांभर के साथ इसे सर्व करते हैं।

दक्षिण भारतीय शाकाहारी व्यंजन (Vegetarian Food of South India in Hindi)

अब इस सेक्शन में हम बात करेंगे वेजिटेरियन फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया की। यहाँ जानेंगे कि शाकाहारी व्यंजनों कौन कौन से ऐसे लोकप्रिय व्यंजन हैं जिनका असली स्वाद आप को दक्षिण भारत में ही मिल सकता है। और अगर कभी आप दक्षिण भारत की तरफ जाएँ तो इन्हे एक बार जरूर ट्राय करें। आइये अब शुरुआत करते हैं –

बीसी बेले भात : Bisi Bele Bhaat : फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

Bisi Bele Bhaat

बीसी बेले भात कर्नाटक में बनने वाला बहुत ही स्वादिष्ट पारम्परिक मसालेदार चावल का व्यंजन है। इसे बनाने के लिए नारियल के तेल में नारियल के साथ कश्मीरी मिर्च, चना दाल, उड़द दाल, दालचीनी, धनिया के बीज को अच्छे से भूना जाता है और एक पेस्ट तैयार किया जाता है। इसके साथ ही तेल में तुअर दाल चना व अन्य सब्जियां भूनी जाती हैं। फिर इसे पानी डालकर कुकर में पकाया जाता है। ये एक प्रकार की खिचड़ी का ही प्रकार है। इसे चटनी, सलाद, रायता पापड़ आलू या केले के चिप्स आदि के साथ परोसा जाता है। जिसे लोग बहुत शौक से खाते हैं। ये बेहद पौष्टिक और आसानी से बनने वाला व्यंजन है।

दही चावल (Curd Rice)

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

दही चावल एक ऐसी डिश है जो बहुत ही जल्दी और आसानी से बनती है, यही नहीं ये बहुत ही पौष्टिक होती है। जब भी आप को सुपाच्य और स्वादिष्ट खाने का मन करें ये एक बेहतर विकल्प साबित हो सकती है। दही चावल खाने में हल्का होने के साथ साथ पौष्टिक भी है। और साथ ही साथ ये व्यंजन आप के शरीर के लिए प्रोटीन, कैल्शियम और कार्बोहायड्रेट का भी अच्छा स्रोत साबित होता है। दिन भर के चटपटे खाने के बाद आप रात को सुपाच्य दही चावल ले सकते हैं।

Reliance industries history in hindi

रिलायंस इंडस्ट्रीज का इतिहास | Reliance industries history in hindi | सिर्फ 1000 रुपए से शुरू हुई थी Reliance

Curd Rice

इसे खाने के लिए दही चावल के साथ आप कुछ टॉपिंग का प्रयोग कर सकते है। जैसे कि – दही चावल में करी पत्ता, मूंगफली, अदरक और हरी मिर्च भी ऊपर से मिला सकते हैं। वहीँ इसे कुछ लोग जीरा, सरसों के बीज और उड़द की दाल के तड़के को भी टॉपिंग की तरह उपयोग करना पसंद करते हैं।

लेमन राइस (Lemon Rice)

यदि आप भी दक्षिण भारतीय व्यंजनों को पसंद करते हैं तो यकीन मानिये आपको लेमन राइस भी जरूर पसंद आएगा। यही नहीं इसे बनाना भी बहुत आसान है जिससे अगर आप चाहे तो घर पर भी बना सकते हैं। ये दोपहर में हल्का भोजन खाने के लिए एक बेहतर विकल्प है। आप इस व्यंजन को चावल, टमाटर, लाल मिर्च, प्याज, करी पत्ता और नीम्बू का रस मिलाकर बना सकते है। जैसे कि दक्षिण भारतीय भोजन को तीखे स्वाद के लिए भी जाना जाता है तो लेमन राइस भी इसका अच्छा उदाहरण हो सकता है।

lemon Rice

इसे नीम्बू के साथ हल्दी डालकर चटनी के साथ सर्व किया जाता है। यदि आप को अगर साउथ की इस फेमस डिश का असली स्वाद जानना है तो इसके लिए आप को एक बार दक्षिण भारत के राज्यों में जाना ही चाहिए।

उत्तपम (Uttapam) – फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

uttapam सांभर भी दक्षिण भारत के मशहूर व्यंजनों में से एक है। जी कि किण्वित चावल और दाल के मसालेदार और तीखे घोल से बनती है। बता दें कि इसका घोल बनाने के लिए दाल और चावल के खमीर उठे घोल के अलावा भी रवा सूजी के घोल का इस्तेमाल भी किया जा सकता हैं। उत्तपम बनाने के लिए तैयार किये गए घोल में ही अलग अलग स्वादानुसार सब्जियां भी मिला दी जाती है। इसे सांभर और चटनी के साथ खाया जाता है। उत्तपम के ऊपर से कटा हुआ प्याज, टमाटर और हरी मिर्च की टॉपिंग भी की जाती है।

uttapam recipe

ये बहुत ही सेहतमंद और सुपाच्य होता है। साथ ही इसमें प्रोटीन, कर्बोहायड्रेट, विटामिन समेत कई अन्य स्वास्थ्यकर तत्व होते हैं जो आप के लिए लाभकारी होते हैं। दक्षिण भारतीय राज्यों में उत्तपम की अनेक वैरायटी भी मिलती है। जैसे कि – टमाटर उत्तपम, पनीर उत्तपम आदि

पोंगल घी खिचड़ी (Pongal ghee khichdi)

Pongal ghee khichdi

दक्षिण भारत में मनाये जाने वाले पोंगल के त्यौहार के समय पोंगल घी खिचड़ी विशेष रूप से बनायी जाती है। पोंगल उत्सव के दौरान इसे बनाया जाता है और त्यौहार की ख़ुशी के चलते सभी को प्रसाद रूप परोसा जाता है। इसे देवताओं को भोग लगाने हेतु प्रसाद की तरह भी समझ सकते हैं।

पोंगल घी खिचड़ी एक सात्विक, पाराम्परिक और लोकप्रिय व्यंजन है, जो कि मुख्य रूप से तमिल नाडु से जुड़ा है। पोंगल को बनाने के लिए दाल और चावल की आवश्यकता होती है। इसमें काफी मात्रा में घी और जीरा होता है जिससे इसका स्वाद अद्वितीय हो जाता है।

पुट्टू और कडाला करी (Puttu and Kadala Curry)

Puttu and Kadala Curry

साउथ इंडियन राज्यों में नाश्ते की जितनी वैरायटी है उतनी ही इसके मुख्य भोजन की भी होती है। जैसे की पुट्टू और कडाला करी (Puttu and Kadala Curry). आप पुट्टू और कडाला करी को न सिर्फ एक नाश्ते के तौर पर खा सकते हैं बल्कि आप इसे एक मुख्य भोजन के रूप में भी बना सकते हैं।

ये केरला राज्य का पारम्परिक भोजन है। ये एक प्रकार का प्रसिद्द शाकाहारी व्यंजन है जिसे चावल और काले चने के साथ बनाया जाता है। बता दें कि पुट्टु एक उबला हुआ चावल का केक है जो कि नारियल के छिलके के साथ पकाया जाता है। इस चावल के केक को कडाला करी के साथ परोसा जाता है।

अक्की रोटी (Akki Rotti)

अक्की रोटी दक्षिण भारत में बहुत फेमस डिश है। खासकर कर्नाटक में ये रोटी काफी प्रचलित है। ये रोटी चावल से बनती है और इसलिए इसे अक्की रोटी यानी चावल की रोटी या राइस ब्रेड भी कहा जाता है। (कन्नड़ भाषा में चावल को अक्की कहते हैं।) ये फिटनेस फ्रीक और खाने के शौक़ीन लोगों के लिए सबसे बेहतरीन नाश्ता का विकल्प है। इसे नारियल की चटनी के साथ परोसा जाता है। अक्की रोटी बहुत ही पौष्टिक होती है। और इसकी खास बात ये भी है की इसे किसी सब्जी के साथ परोसने की खास जरुरत भी नहीं होती।

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

अक्की रोटी बनाते समय ही इसमें कद्दूकस की गयी सब्जियों को मिला दिया जाता है। साथ ही प्याज, करी पत्ता, गाजर, जीरा और तिल आदि भी मिलाये जाते हैं। और इस वजह से ये सामान्य रोटियों से कुछ मोटी होती है। ये बहुत ही हेअल्थी होती है और साथ ही सुपाच्य भी है।

Famous non-vegetarian food of south India in Hindi

आएये अब बात करते हैं दक्षिण भारत के दक्षिण भारत के प्रसिद्ध मांसाहारी भोजन की। जितना स्वादिष्ट और प्रचालित यहाँ का शाकाहारी भोजन होता है उतना ही ज़ायकेदार यहाँ का मांसाहारी भोजन भी माना जाता है। अब आगे इस लेख में आप दक्षिण भारत के कुछ जाने माने मांसाहारी भोजन के बारे में जानकारी हासिल करेंगे। आइये फिर शुरुआत करते हैं –

हैदराबादी बिरयानी (Hyderabadi Biryani) :फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

बात करें सबसे प्रचलित नॉन वेज खाने की तो हैदराबादी बिरयानी सबसे ज्यादा जानी मानी डिश है। हैदराबादी बिरयानी तेलंगाना राज्य की सबसे प्रसिद्द और पाराम्परिक व्यंजन के तौर पर सबसे ज्यादा प्रचलित है। इसमें ईरानी और मुगलई स्वादों का मिश्रन होता है जिसे डम बिरयानी के तौर पर भी जाना जाता है।

हैदराबाद बिरयानी को बनाने में बकरे का मांस और बासमती चावलों का उपयोग किया जाता है और इसे बनाने के लिए डम पुख्त विधि का इस्तेमाल होता है। जिससे इसके स्वाद में और बढ़ोतरी होती है। यदि आप भी नॉन वेज खाने का शौक रखते हैं तो आपको एक बार तेलंगाना की हैदराबादी बिरयानी जरूर खानी चाहिए।

फिश मूली (Fish Molee)

केरला राज्य में बनने वाली फिश मूली को साउथ इंडिया का सबसे लोकप्रिय व्यंजन भी मान सकते हैं। ये वहां के स्थानीय लोगों की पसंदीदा डिश है। साथ ही इसे बाहर से आने वाले पर्यटक भी काफी पसंद करते हैं। जैसे की आप नाम से ही समझ सकते हैं कि इसमें फिश का इस्तेमाल होता है। और जो भी फिश लवर या सी फ़ूड लवर इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं, उनके लिए ये केरला स्टाइल में बनी डिश एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है।

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

Fish Molee बनाने के लिए नारियल के दूध, सूखी मछली और अन्य पारंपरिक मसालों का उपयोग किया जाता है। इस व्यंजन को कुदम्पुली के नाम से भी जाना जाता है या यूँ कहें की ये इसी नाम से लोकप्रय है।

झींगा करी (Prawn Curry) – फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

अब बात करते हैं केरल की झींगा करी की। जी हाँ ये केरल की सिग्नेचर डिश है जो नॉन-वेज खाने के शौकीनों के लिए बहुत ही अलग एक्सपीरियंस हो सकता है। आप इसे एक बार खाएंगे तो इसके स्वाद को हमेशा के लिए याद रखेंगे। जैसी झींगा करी आप को केरल में मिलेगी वैसे शायद ही देश के किसी अन्य हिस्सों में मिलती हो। वैसे भी ये विदेशों में अधिक खाये जाने वाला व्यंजन है जिसे केरला में बनाये जाने से पर्यटकों को भी इसका स्वाद बहुत लुभाता है।

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

झींगा करी (Prawn Curry) को बनाने के लिए नमक हल्दी के साथ काली मिर्च का उपयोग होता है जिसे डीप फ्राई किया जाता है और फिर नारियल के दूध और गुड़ में भी पकाया जाता है। इसके बाद इसे सर्व करने के लिए करी पत्ते के साथ किया जाता है।

कोरी गस्सी – (Kori Gassi)

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

दक्षिण भारत में प्रसिद्ध नॉन वेजेटेरियन फ़ूड की बात करें तो इसमें एक नाम आता है कोरी गस्सी का। ये कर्णाटक की लोकप्रिय डिश है जो लगभग दक्षिण भारत के हर राज्य और शहर में खायी जाती है। ये एक चिकन बेस्ड डिश है। इसे बनाने के लिए चिकन के टुकड़ों को लहसुन जीरा मिर्च हल्दी काली मिर्च और अन्य आवश्यक पारम्परिक मसालों के साथ पकाया जाता है। ये काफी मसालेदार खुशबू से भरी होती है जिससे इसका नाम सुनते ही खाने वाले के लिए इसका स्वाद दोगुना हो जाता है।

चेपा पुलुसु (Chepa Pulusu)

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया

अब बारी आती है आंध्र प्रदेश के नॉन वेजेटेरियन आइटम की – जिसका नाम है चेपा पुलुसु। इसे आंध्र प्रदेश के तीखे व्यंजनों में से एक माना जाता है। मुख्य रूप से इसे दिन के भोजन के लिए बनाया जाता है। जिसे चावल के साथ कहना बहुत पसंद किया जाता है। ये मछली से बना एक व्यंजन है। इसे बनाने के लिए मछली को इमली के चटनी में डुबाया जाता है और इसके साथ पारंपरिक जड़ी-बूटियों, मसालों और अन्य सामान्य सामग्रियों का उपयोग किया जाता है।

फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया से संबंधित प्रश्न उत्तर

दक्षिण भारत का प्रमुख भोजन क्या है?

यूँ तो दक्षिण भारत के बहुत से प्रचलित भोजन और व्यंजन हैं लेकिन बात करें वहां की तो ऐसे में प्रसिद्ध शाकाहारी व्यंजन में से एक पुट्टु और कडाला करी केरल का पारम्परिक खाना है। पुट्टु एक उबला हुआ चावल का केक होता है, जिसे नारियल के छिलके के साथ पकाया जाता है और आम तौर पर कडाला करी के साथ परोसा जाता है।

दक्षिण भारत में कौन कौन सी सब्जियां होती है ?

South India के चारों राज्यों के व्यंजनों में मुख्य रूप में चावल, दाल और मसाले, सूखी लाल मिर्च और ताजा हरी मिर्च, नारियल और देशी फल एवं सब्जियाँ जैसे कि चिचिण्डा, इमली, केला, लहसुन, अदरक, आदि उपयोग में लाए जाते हैं।

साउथ और नॉर्थ इंडियन फूड में क्या अंतर है?

उत्तरी भारत दक्षिणी भारत में भोजन में अंतर् के मामले में बात करें तो दोनों ही में भोजन में पड़ने वाले मसालों का अंतर होता है। यूँ तो दोनों ही राज्यों में मसालों होता है लेकिन उत्तर भारत में दक्षिण भारतीय राज्यों के मुकाबले भोजन में कम से माध्यम मसालेदार होता है। जबकि दक्षिण भारतीय राज्यों में अधिक मसालेदार भोजन पसंद किया जाता है।

दक्षिण भारत के कुछ लोकप्रिय मीठे व्यंजन कौन से हैं ?

पायसम, डबल का मीठा, लौकी का हलवा और कुबानी का मीठा आदि दक्षिण भारत में बहुत प्रचलित हैं।

आज के इस लेख के जरिये हमने आप को फेमस फ़ूड ऑफ़ साउथ इंडिया के बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आप को इस लेख में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी। यदि आप ऐसे ही अन्य रोचक जानकारियों के बारे में पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट Hindi NVSHQ से जुड़ सकते हैं।

डिस्टेंस लर्निंग क्या है

डिस्टेंस लर्निंग क्या है ? डिस्टेंस लर्निंग से ग्रेजुएशन कैसे करें ? Distance Learning se Graduation Kaise Kare?

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें