Vaccine Status Check: आपने कोविशील्ड वैक्सीन लगाई अथवा कोवैक्सीन यहाँ से चेक करें

Vaccine Status Check: भारत में कोरोना महामारी से बचने के लिए प्रत्येक देश वाशियों पर वैक्सीन लगाई गई थी। जिससे हमारा शरीर इस बिमारी से आसानी से लड़ सके। लेकिन क्या आपको पता है आपने किस कंपनी की वैक्सीन लगाई है? अर्थात कोविशील्ड वैक्सीन लगाई अथवा कोवैक्सीन। आपको किस वैक्सीन का डोज लगा था यह ... Read more

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

Vaccine Status Check: आपने कोविशील्ड वैक्सीन लगाई अथवा कोवैक्सीन यहाँ से चेक करें
Vaccine Status Check: आपने कोविशील्ड वैक्सीन लगाई अथवा कोवैक्सीन यहाँ से चेक करें

Vaccine Status Check: भारत में कोरोना महामारी से बचने के लिए प्रत्येक देश वाशियों पर वैक्सीन लगाई गई थी। जिससे हमारा शरीर इस बिमारी से आसानी से लड़ सके। लेकिन क्या आपको पता है आपने किस कंपनी की वैक्सीन लगाई है? अर्थात कोविशील्ड वैक्सीन लगाई अथवा कोवैक्सीन। आपको किस वैक्सीन का डोज लगा था यह कई लोग भूल गए होंगे लेकिन आप यह सब जानकारी आसानी से चेक कर सकते हैं।

कोरोना में किस कंपनी की वैक्सीन लगाई थी, किस तारीख में लगाई थी अथवा किस स्थान पर लगाई थी यह सब जानकारी आप घर बैठे किसी भी समय चेक कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप वैक्सीनेशन सार्टिफिकेट भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आपको कहीं भी बाहर जाने की आवश्यकता नहीं है।

क्या है वैक्सीन का मामला?

हाल ही में सोशल मीडिया एवं न्यूज़ रिपोर्ट पर कुछ खबरें तेजी से वाइरल हो रहीं हैं। इनमें पता चला है कि वैक्सीन लगाने के 2 वर्ष पश्चात यह बातें सामने आ रही हैं कि इससे हमारे शरीर में साइड इफेक्ट हो सकते हैं। हालाँकि कई एक्सपर्ट में कह दिया है कि वैक्सीन से कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होंगे।

आपको जानकारी के लिए बता दें न्यूज़ रिपोर्ट में यह बताया गया है कि ब्रिटिश फार्मा कंपनी की एक्स्ट्राजेनेका ने एक मामले में कहा कि उसकी वैक्सीन के खतरनाक साइड इफेक्ट से हार्ट अटैक भी हो सकता है। आपको बता दें भारत में कोविशील्ड को अधिक मात्रा में इस नाम से लगवाया गया था। इस बात का दवा एक शिकायतकर्ता की जेमी स्टॉक के आरोप के बाद कबूला गया है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

शिकायत में बताया गया है कि इस कंपनी के कोविड वैक्सीन लगाने से खून का थक्का होने लगा था जिससे दिमाग में स्थाई चोट भी लग गई थी। परन्तु भारत के डॉक्टर विकास कुमार न्यूरोसर्जन रिम्स का कहना है कि जब यह वैक्सीन लगती हैं तो इसके लक्षण 6 माह के भीतर नज़र आ जाते हैं। लेकिन अब 2 वर्ष गुजर गए हैं और इसके साइड इफेक्ट के बहुत कम चांस हैं।

आपने क्या लगाई कोविशील्ड वैक्सीन या कोवैक्सीन, चेक करें यहाँ

आप Cowin Portal पर भी अपनी टीकाकरण स्थिति की जांच कर सकते हैं, जो भारत में COVID-19 टीकाकरण पंजीकरण के लिए आधिकारिक वेबसाइट है। Cowin Portal पर अपनी टीकाकरण स्थिति की जांच करने के लिए, इन चरणों का पालन करें:

  • Cowin Portal पर जाएं (https://cowin.gov.in/)।
  • “प्रमाणपत्र सत्यापित करें” विकल्प पर क्लिक करें।
  • अपना आधार नंबर या मोबाइल फोन नंबर दर्ज करें और “खोज” बटन पर क्लिक करें।
  • आपका टीकाकरण प्रमाणपत्र स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  • जिसमें आप देख सकते हैं कि आपको कितने डोज लगाए गए हैं, किस तारीख को लगें अथवा कौन सी लोकेशन थी।
  • यह सभी जानकारी देखने के बाद आपको यह सर्टिफिकेट डाउनलोड कर लेना है।
  • इस प्रकार आप आसानी से इस प्रोसेस को करके पता लगा सकते हैं कि आपने कोविशील्ड वैक्सीन लगाई है या कोवैक्सीन।
Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें