जल जीवन मिशन स्कीम | Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

जल जीवन मिशन स्कीम की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गयी है यह योजना भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों के लिए शुरू की गयी है जिसके माध्यम से उन्हें पानी की सुविधा घर-घर में उपलब्ध कराई जाएगी।

जल जीवन मिशन स्कीम - Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme
Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme

15 अगस्त 2019 को मोदी सरकार के द्वारा सभी नागरिकों तक पानी की व्यवस्था उपलब्ध करवाने के लिए JJM मिशन का शुभारंभ किया गया। योजना के कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार के द्वारा 3,50 लाख करोड़ रूपए का बजट निर्धारित किया गया है। jal jeevan mission scheme के माध्यम से सभी नागरिकों तक पीने के लिए स्वच्छ जल की सुविधाएँ उपलब्ध की जाएगी।

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से जल जीवन मिशन (jjm scheme) के बारे में पूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। अतः स्कीम से जुड़े सभी लाभ प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस लेख को पूरा पढ़े।

Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme

जल जीवन मिशन स्कीम- को शुरू करने का मुख्य लक्ष्य यह है की ग्रामीण क्षेत्र में निवास करने वाले 50 प्रतिशत से अधिक ऐसे परिवार है जिन्हें पानी की समस्याओं से जूझना पड़ता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पानी प्राप्त करने के लिए उन्हें दूर क्षेत्रों में कई मीलों पैदल जाना पड़ता है जिससे उन्हें कई परेशानियों से गुजरना पड़ता है। इन सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार ने jal jeevan mission के तहत सभी नागरिकों तक घर-घर में पानी की सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।

DDWS के पास उपलब्ध जानकारी के अनुसार 31 मार्च 2019 के बाद से अभी तक 18.33% ग्रामीण परिवारों को पानी का कनेक्शन दिया गया है जो कुल मिलाकर 17.87 करोड़ ग्रामीण परिवारों में से 3.27 करोड़ परिवारों को पानी की कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध कराई गयी है।

PM Kisan 17th Installment 2024: पीएम किसान योजना की 17वी क़िस्त जारी, यहाँ से किस्त चेक करें

PM Kisan 17th Installment 2024: पीएम किसान योजना की 17वी क़िस्त जारी, यहाँ से किस्त चेक करें

2024 तक सभी ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले सभी परिवारों तक पानी की सभी की व्यवस्था को पाइप के माध्यम से घर घर तक पहुंचाया जायेगा। इसी के साथ कई राज्यों के द्वारा प्रदेश स्तर पर भी जल जीवन मिशन को आगे बढाये जाने का कार्य किया जा रहा है। जैसे कि उत्तराखण्ड सरकार के द्वारा मात्र 1 रूपये में पानी का कनेक्शन लगाया जा रहा है।

जल जीवन मिशन स्कीम

स्कीम जल जीवन मिशन स्कीम
योजना की शुरुआतपीएम नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
विभागपेयजल और स्‍वच्‍छता विभाग 
DEPARTMENT OF DRINKING WATER AND SANITATION
जल शक्ति मंत्रालय MINISTRY OF JAL SHAKTI
लाभार्थीदेश के सभी ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक
बजट3,50 लाख करोड़ रूपए
उद्देश्यशहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों
को पानी की सुविधाएं उपलब्ध करवाना
सत्र2023
लाभघर घर तक पानी की सुविधा उपलब्ध
आधिकारिक वेबसाइटejalshakti.gov.in
jaljeevanmission.gov.in
जल-जीवन-मिशन-स्कीम

वित्तीय वर्ष के अनुसार ग्रामीण जल जीवन बजट

वर्ष 2019 से लेकर 2024 तक केंद्र और राज्य सरकार की भागीदारी के साथ अलग-अलग रूप में बजट को निर्धारित किया गया इस मिशन के कार्यान्वयन को सफल बनाने के लिए 5 वर्ष की अवधि के रूप बजट को निम्न रूप से नीचे सूची में प्रदर्शित किया गया है।

क्र संख्या वित्तीय वर्ष योजना में केंद्र सरकार की सहभागिताराज्य सरकार की सहभागिताकुल बजट की राशि
12019-2020 करोड़ 798 लाख रूपए15 करोड़ 202 लाख36 करोड़ रूपए
22020-2134 करोड़ 753 लाख25 करोड़ 247 लाख60 करोड़ रूपए
32021-2258,करोड़ 011 लाख रूपए41,करोड़ 989 लाख100 करोड़ रूपए
42022-2348,करोड़ 708 लाख रूपए35,करोड़ 292 लाख84,हजार करोड़ रूपए
52023-2446,करोड़ 382 लाख रूपए33,करोड़ 618 लाख80,000
6टोटल राशि2,08,6521,51,3483,60,000

Jal Jeevan Mission योजना उद्देश्य

जल जीवन मिशन योजना का मुख्य उद्देश्य है ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले उन सभी परिवारों को घर में पानी की सुविधा उपलब्ध करवाना जिन्हें पानी जैसी समस्याओं से गुजरना पड़ता है। इस मिशन के अंतर्गत सभी परिवारों को पाइप के माध्यम से ताजा एवं स्वच्छ जल की सुविधा प्राप्त होगी ,देश के प्रत्येक परिवार को jal jeevan mission के माध्यम से नल के पानी से जोड़ने का यह एक सफल प्रयास है।

ग्रामीणों तक पानी पहुंचाने के लिए स्वच्छ भारत अभियान के तहत कार्य किया जायेगा। केंद्र सरकार के इस jal jeevan mission के तहत ग्रामीण सेंटर में रहने वाले नागरिकों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे जिससे उनकी आर्थिक स्तर को एक नया स्वरूप प्राप्त होगा।

ग्रामीण जल जीवन मिशन की विशेषताएं

  • जल जीवन मिशन का मुख्य लक्ष्य है सभी ग्रामीण घरों तक घरेलू कार्यशील नल कनेक्शन की व्यवस्था उपलब्ध करवाना।
  • घरेलू नल कनेक्शन उपलब्ध करवाने के साथ-साथ स्थानीय जल संस्थानों के प्रबंधन को बढ़ावा दिया जायेगा।
  • प्रत्येक ग्रामीण घर में कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन सुनिश्चित करेगा
  • योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में आगनबाड़ी केंद्र ,स्कूल ,ग्राम पंचायत भवन ,स्वास्थ्य केंद्रों तक भी पानी के कनेक्शन उपलब्ध किये जायेंगे।
  • स्थानीय स्तर पर पानी की एकीकृत मांग और आपूर्ति पक्ष प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करेगा
  • इस मिशन के माध्यम से प्रत्येक ग्रामीण परिवार को नल जल कनेक्शन उपलब्ध करवाने के लिए पाइपलाइन जल आपूर्ति अवसंरचना का विकास करना है।
  • ग्रामीण परिवार की आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए आवश्यक क्षेत्रों में बल्क वाटर ट्रांसफर शोधन सयंत्र और वितरण नेटवर्क को स्थापित किया जायेगा।
  • राज्य के जिला क्षेत्र में जल एवं स्वछता मिशन के तहत SWSM (State Water and Sanitation Mission) के द्वारा कार्य जायेगा।

जल जीवन मिशन के लाभ

  • ग्रामीण जल जीवन मिशन के अंतर्गत घरों में पानी की व्यवस्था उपलब्ध होने से महिलाएं एवं किशोरी बालिकाओं को सबसे अधिक लाभ प्राप्त होगा उन्हें पानी लाने के लिए मीलों पैदल नहीं जाना पड़ेगा।
  • महिलाओं के जीवन को आसान बनाने में JJM Mission महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।
  • घर में पानी की सुविधा उपलब्ध होने पर महिलाएं अपने काम को समय से कर पायेगी।
  • जल से संबंधित सभी समस्याओं से jal jeevan mission के अनुसार ग्रामीण परिवारों को मुक्ति मिलेगी।
  • ग्रामीण क्षेत्र के परिवार इस मिशन के माध्यम से स्वच्छ एवं ताजा जल को नल के रूप में प्राप्त कर पाएंगे।
  • आने वाली पीढ़ी को जल की व्यवस्था उपलब्ध करवाने के लिए बच्चों को मिशन के तहत जल संरक्षण के बारे में भी जागरूक किया जायेगा ,जिससे वह भविष्य के लिए जल को संरक्षण कर सकते है।
  • इस मिशन के तहत गाँवों में पेयजल के स्रोत के साधन में वृद्धि होगी।
  • 19 करोड़ 17 लाख ,20 हजार 832 ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन की सुविधा से लाभांवित किया गया है।
फंड आवंटन पात्रता एवं मानदंड
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

जेजेएम के तहत वित्तीय कार्यान्वयन और वित्त पोषण पैटर्न: जेजेएम की कुल अनुमानित लागत 3.60 लाख करोड़ रूपए है जिसके लिए केंद्र सरकार के द्वारा पहाड़ी क्षेत्र के राज्यों के लिए अलग-अलग रूप में केंद्र और राज्य के बीच फंड शेयरिंग को निर्धारित किया गया है।

  • उत्तराखंड राज्य के लिए इस मिशन के अंतर्गत फंड शयेरिंग पैर्टन का 90 प्रतिशत भाग केंद्र सरकार का एवं 10 प्रतिशत भाग राज्य सरकार के द्वारा देय होगा।
  • हिमांचल प्रदेश और उत्तर पूर्वी राज्यों के लिए 100 प्रतिशत का फंड शेयरिंग केंद्र सरकार द्वारा देय होगा।
  • और अन्य बाकी इलाकों के लिए 50 प्रतिशत केंद्र सरकार के द्वारा और बाकि का 50 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा देय होगा।
  • राज्य के बीच फंड के संवैधानिक आवंटन को लेफ्ट-आउट की संख्या को शामिल करके संशोधित किया गया है। 20% वेटेज और 10% वेटेज के साथ अतिरिक्त मानदंड के रूप में घरेलू कनेक्शन ग्रामीण को प्रदान किया जायेगा।
  • पानी की गुणवत्ता से प्रभावित जनसंख्या वाले क्षेत्रों में अधिक निधि (Fund) की अनुमति प्राप्त की जाएगी। 
  • राज्य jal jeevan mission के तहत निधियों का उपयोग गुणवत्ता प्रभावित क्षेत्रों में अग्रवर्ती के लिए किया जायेगा।

Jal Jeevan Mission के लाभार्थी राज्यों का विवरण

जल जीवन मिशन प्रत्येक ग्रामवासी के लिये एक महत्वपूर्ण और आवश्यक योजना है। इसीलिये सभी राज्य इस योजना का अधिक से अधिक लाभ राज्य के नागरिकों को देना चाहते हैं। इसी क्रम में लाभ लेने वाले राज्यों की प्रतिशत वार सूची नीचे दी जा रही है।

राज्य का नाम जल जीवन मिशन योजना के लाभ का प्रतिशत
तेलंगाना 69.56 %
बिहार54.38 %
गोवा24.3 %
मिजोरम23.19 %
हरियाणा21.12 %
मणिपुर20.78 %
हिमाचल प्रदेश19.99 %
महाराष्ट्र15.4 %
उत्तराखंड14.97 %
जम्मू-कश्मीर14.94 %
राजस्थान3.69 %
असम3.39 %
झारखंड3.36 %
लद्दाख2.25 %
केरल1.78 %
पश्चिम बंगाल1.44 %
कर्नाटक1.40 %
जल जीवन मिशन योजना PDFयहाँ से डाउनलोड करें

Jal Jeevan Mission से सम्बन्धित प्रश्न-FAQ

जल जीवन मिशन की शुरुआत कब और कैसे की गयी ?

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा जल जीवन मिशन की शुरुआत की गयी यह मिशन मोदी जी के द्वारा 15 अगस्त के शुभ अवसर पर 2019 में शुरू किया गया।

jal jeevan mission (rural) scheme के माध्यम से क्या राज्य वार नल घरेलू कनेक्शन के लिए ग्रामीण परिवारों को चयनित किया गया है ?

हाँ प्रत्येक राज्य के हिसाब से jal jeevan mission (rural) scheme के माध्यम से सभी ग्रामीण लाभार्थी परिवारों का चयन किया गया है चयन के माध्यम से वह नल घरेलू कनेक्शन को प्राप्त कर सकते है।

ग्रामीण जल जीवन मिशन का कार्यान्वयन किसके द्वारा किया जायेगा ?

पानी समिति , ग्राम जल स्वच्छता समिति एवं ग्राम पंचायत (Gp) की उप-समिति के द्वारा ग्रामीण जल जीवन मिशन का कार्यान्वयन सफल किया जायेगा।

ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को jal jeevan mission का क्या लाभ प्राप्त हुआ है ?

मोदी सरकार की जल जीवन स्कीम के माध्यम से सबसे अधिक लाभ ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को प्राप्त हुआ है पहले उन्हें पीने के लिए स्वच्छ जल की प्राप्ति के लिए दूर दराज के क्षेत्रों में मीलों पैदल का सफर करना पड़ता था लेकिन इस मिशन के तहत अब उन्हें घरेलू नल की सुविधा उपलब्ध करवाकर वह साफ एवं ताजे पानी को समय पे प्राप्त कर सकते है।

क्या केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना से शहरी क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को लाभान्वित किया जायेगा ?

हाँ ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में रहने वाले सभी परिवारों को जल जीवन योजना के माध्यम से लाभान्वित किया जायेगा।

ग्रामीण क्षेत्र के कितने परिवारों को जेजेएम के तहत नल कनेक्शन की सुविधा प्राप्त हुई है ?

19 करोड़ से भी अधिक परिवारों को जेजेएम के माध्यम से घरेलु नल कनेक्शन की सुविधा प्राप्त हुई है।

PM PVTG Mission: पीएम जनमन योजना क्या है, किसे मिलेगा लाभ, पात्रता देखें

PM PVTG Mission: पीएम जनमन योजना क्या है, किसे मिलेगा लाभ, पात्रता देखें

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें