जल संरक्षण पर निबंध: Save Water Essay in Hindi

प्रकृति द्वारा जल हमारे जीवन में दिया हुआ एक अमूल्य उपहार है। इसलिए कहा जाता है कि ‘जल है तो जीवन है’ क्योंकि जल मनुष्य एवं पृथ्वी पर स्थित प्रत्येक प्राणी के लिए बहुत जरूरी है इसके बिना हमारा कोई भी काम हो पाना असंभव है। हमारे दिन की शुरुआत जल से ही होती है। ... Read more

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

प्रकृति द्वारा जल हमारे जीवन में दिया हुआ एक अमूल्य उपहार है। इसलिए कहा जाता है कि ‘जल है तो जीवन है’ क्योंकि जल मनुष्य एवं पृथ्वी पर स्थित प्रत्येक प्राणी के लिए बहुत जरूरी है इसके बिना हमारा कोई भी काम हो पाना असंभव है। हमारे दिन की शुरुआत जल से ही होती है। आपको बता दें पृथ्वी का 70% भाग जल से घिरा हुआ है जिसका केवल 1% जल ही हमारे लिए उपयोगी हो पता है जिस कारण हमें निश्चित मात्रा ही इसका उपयोग कर पाते हैं क्योंकि जल संरक्षण बहुत जरूरी है।

आज कल हर जगह जल की कमी महसूस की जा रही है और लोगों के लिए यह एक समस्या बन गई है जिसे बिना जल संरक्षण किए सुधारा नहीं जा सकता है। इस समस्या की बारे में बताने के लिए अकसर स्कूल में टीचर बच्चों को इस विषय पर निबंध लिखने के लिए देते हैं जिससे बच्चों को इस विषय की जानकारी प्राप्त करने में समस्या होती है लेकिन आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है हम आपको यह लेख उपलब्ध करा रहें है। यहाँ हमने जल संरक्षण पर निबंध (Save Water Essay in Hindi) से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी को बता दिया है अतः बच्चे इस आर्टिकल को पढ़ कर इस विषय पर निबंध की तैयारी कर सकते हैं।

जल संरक्षण (Save Water) क्या है?

पानी को सही तरीके से उपयोग करना एवं पेय जल का व्यर्थ में बहाव ना करना Save Water कहलाता है। क्योंकि जल के बिना पृथ्वी में किसी भी प्राणी का जीवन संभव नहीं है। जल संरक्षण के लिए कई विभिन्न तरीके हैं जिसकी सहायता से हम पानी को सुरक्षित रख सकते हैं। हम अपनी सुबह से लेकर रात तक पानी का उपयोग करते है जिसमें कई पानी तो हम बिना काम बिना वजह के ही व्यर्थ करते हैं। जिस वजह से पानी की कमी की समस्या बढ़ती ही जा रही है। कृषि एवं उद्योगों में भी यह बहुत काम आता है जिससे अनको कार्य सरलता से सुलझ जाते हैं इसलिए इसका संरक्षण करना हमारा परम कर्तव्य है। यदि हमें जल का संरक्षण करना है तो सबसे पहले हमें जल प्रदूषण को रोकना होगा क्योंकि जल प्रदूषण के कारण ही जल अधिक मात्रा में दूषित हो रहा है जो की पीने लायक बिलकुल भी नहीं रहता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को इस विषय पर गहन चिंता करनी चाहिए।

जल संरक्षण पर निबंध – Save Water Essay in Hindi
जल संरक्षण पर निबंध

Save Water के उपाय

Save Water का संरक्षण करना बहुत जरूरी है हम इसके कुछ उपाय नीचे बताने जा रहें है जो कि निम्नलिखित हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • रोज-रोज कपड़े धोने के बजाय आप दो तीन दिन में कपड़े धोएं ताकि अधिक पानी वेस्ट ना हो।
  • पेड़ों की अंधाधुंध कटाई ना करें।
  • सब के घर में पानी के मीटर लगने चाहिए ताकि लोग उपयोग से अधिक पानी इस्तेमाल करने से रुके।
  • बारिश के पानी को जमा करके रखें जिससे आप घर के अन्य कामों या खेतों में सिंचाई के उपयोग में ला सकते हैं।
  • कारखानों या फैक्टरियों से निकलने वाले जल को नदियों में ना मिलाएं जिससे कि जल प्रदूषित होने से बचे।
  • हमें नदियों या पानी के अन्य स्रोतों में कूड़ा नहीं फेंकना चाहिए।
  • जब आप नहाते हैं तो शॉवर के बजाय बाल्टी में पानी डालकर नहाएं।
  • प्रत्येक एक पेड़ लगाएं।
  • ब्रश करते हुए पानी के नल को बंद करें और जग का इस्तेमाल करें।
  • कहीं पर गिर रहें पानी के नल को बंद कर दें।
  • गंगा एवं यमुना जैसे बड़ी नदी की सफाई करनी चाहिए।

जल संरक्षण का महत्व

बिना जल संरक्षण के संसार का जीवन संभव नहीं है। हमारे जीवन में जल का एक -एक बूंद बहुत महत्व है। पृथ्वी में स्थित प्रत्येक प्राणी जल पर आधारित रहता है। हम अपने दिन की शुरुआत पानी से ही शुरू करते हैं। जैसा कि आप सभी को पता है कि हमारा देश भारत एक कृषि प्रधान देश है इसलिए यहां खेतों में सिंचाई करने के लिए जल की आवश्यकता होती है इसके अतिरिक्त बिजली उत्पादन भी जल से ही किया जाता है। अर्थात हमारे जीवन में होने वाले जल के अधिक से ज्यादा कार्य जल से ही किए जाते हैं।

जल संरक्षण अधिनियम

वर्ष 1974 में जल प्रदूषण रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए भारत सरकार द्वारा जल संरक्षण अधिनियम बनाया गया था। मनुष्य अपने स्वार्थ के लिए जल स्रोतों को खत्म कर रहा है एवं कई तरह की गन्दगी को जल में फेंककर जल प्रदूषण कर रहा है। इस अधिनियम का मुख्य उद्देश्य यह है कि निकायों को साफ किया जाए एवं जल प्रदूषित ना हो पाए इसके लिए कई उपाय बताए हुए हैं।

वर्षा के पानी का संग्रह

यदि आपको पानी की बचत करनी है तो आप वर्षा के पानी को भी संग्रह कर सकते है जिसका उपयोग हम सिंचाई या अन्य घरेलू काम में कर सकते हैं। जब बारिश होती है तो जल समुद्र, नालियों व अन्य जगह पर व्यर्थ बहता रहता है यदि इस पानी को हम जमा करना शुरू कर दें तो हम पानी के संकट को खत्म कर सकते हैं जिससे हमारे जीवन में खुशहाली आएगी। बारिश के पानी को हम तालाब, कुँओं व छोटे-छोटे गड्ढे बनाकर संग्रहित कर सकते हैं। इस उपाय से आप जल के संकट को कम कर सकते हैं।

भूभर्ग जल का संग्रह

भूगर्भ जल को हम कुँओं व हैंडपंप से निकालते हैं। लेकिन लोग उपयोग से अधिक पानी निकालकर व्यर्थ में बहाते हैं जिस कारण भूगर्भ जल में भी कमी आ गई है। इसके रक्षण के लिए हमें जलाशयों का निर्माण करना चाहिए। और भूमि प्रदूषण को रोकना है ताकि भूमि के अंदर का पानी दूषित ना हो सके।

जल संरक्षण पर 10 लाइन

  1. हम बारिश के पानी को इकट्ठा कर सकते हैं।
  2. पानी हमारे जीवन में मूल्य उपहार है। इसका इस्तेमाल ढंग से करें।
  3. पानी संरक्षण के लिए आप अपने घर पर कुआँ बना सकते हैं।
  4. आवश्यकता से अधिक पानी को बर्बाद ना करें।
  5. ब्रश करते हुए नल को खुला ना छोड़े।
  6. जब घर पर टंकी भर जाए तो उसी समय मोटर बंद कर दें।
  7. कहीं पर गिर रहें पानी को बंद करें।
  8. वृक्षारोपण करें जितना हो सकते उतने पेड़ लगाएं।
  9. कहीं पर हो रहें पानी के रिसाव को रोके।
  10. इस विषय पर लोगों में लोगों तक जागरूकता फैलाएं।

Also Read-

जल संरक्षण पर निबंध से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

हमारे जीवन में जल का क्या महत्व है?

हमारे जीवन में जल का बहुत महत्व है क्योंकि मनुष्य के जीवन में दैनिक कार्यों की शुरुआत जल से होती है जो कि बहुत आवश्यक है।

विश्व जल संरक्षण दिवस कब किस दिन मनाया जाता है?

प्रत्येक वर्ष विश्व जल संरक्षण दिवस 22 मार्च को मनाया जाता है।

जल कितने रूप होते हैं?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

जल के तीन रूप होते हैं – 1. ठोस (बर्फ), 2. तरल (पानी) एवं 3. गैस (जल वाष्प) आदि।

जल संरक्षण के तीन तरीके बताइए।

जल संरक्षण के तीन तरीके ये हैं- 1. अधिक से अधिक पेड़ लगाएं, वर्षा के जल को संरक्षित करें एवं कहीं पर हो रहे पानी के रिसाव को रोकें आदि। इस तरीकों से आप जल संरक्षण कर सकते हैं।

पृथ्वी का कितना भाग जल में है?

पृथ्वी का 70 प्रतिशत भाग में जल ही है जिसका 1 प्रतिशत भाग ही उपयोग में आता है।

वर्ष 2021 में विश्व जल दिवस विषय क्या था?

वर्ष 2021 में विश्व जल दिवस विषय ‘जल और स्वच्छता संकट को हल करने के लिए परिवर्तन में तेजी लाना’ था।

Save Water Essay in Hindi से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी को हमने इस लेख में आपको साझा कर दिया है। यदि आपको इस लेख से जुड़ी अन्य जानकारी या कोई प्रश्न पूछना है तो इसके लिए आप नीचे दिए हुए कमेंट सेक्शन में अपना प्रश्न पूछ सकते हैं हम कोशिश करेंगे कि आपके प्रश्रों का उत्तर जल्द दे पाएं। इसी तरह के अन्य लेख, शिक्षा से सम्बंधित एवं सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारी साइट hindi.nvshq.org को विजिट कर सकते हैं। उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो धन्यवाद।

Photo of author

Leave a Comment