मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना यूपी | Mahila Samarthya Yojana UP

Share on:

सभी राज्य सरकार द्वारा महिलाओ के विकास और आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रति समय कुछ न कुछ किया जाता रहता है इसी प्रकार उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष में महिलाओं के लिए एक नई योजना का प्रारम्भ करने की घोषणा की गयी है जिसका नाम मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना है। यूपी वितमंत्री ने सत्रीय बजट को पेश करते हुए महिलाओं के उत्थान के लिए 200 करोड़ रूपये का बजट पेश किया है जिसका लाभ राज्य की सभी महिलाओं को होगा तथा इसके साथ ही मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना का प्रारम्भ भी किया गया है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना के बारे में तथा Mahila Samarthya Yojana UP से आपको क्या-क्या लाभ होने वाले हैं बताएंगे यदि आप इन सभी जानकारी को जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े।

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना यूपी - Mukh‍yamantri Mahila Saamarth‍ya Yojana
मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना यूपी – Mukh‍yamantri Mahila Saamarth‍ya Yojana

महिला सामर्थ्य योजना क्या है ?

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना, यू पी सरकार द्वारा प्रारंभ की गयी एक योजना है जिसके तहत राज्य की महिलाओं द्वारा किये जाने वाले कार्यो जैसे लघु और कुटीर उद्योगों में उनकी सहायता की जाएगी तथा उनके द्वारा बनाये जाने वाले सामान को बचने के लिए उन्हें मंडी यानि मार्केट उपलब्ध कराई जानी है। इस योजना के लिए सरकार द्वारा 200 करोड़ रूपये की बजट राशि की घोषणा की गयी है तथा साथ ही इस योजना के तहत राज्य में महिला शक्ति केन्द्रों की स्थापना की जाएगी जिसके लिए सरकार द्वारा 32 करोड़ की राशि बजट रखी है।

Mahila Samarthya Yojana Highlight

योजना मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना
राज्य उत्तर प्रदेश
वर्ष 2022
उद्देश्य राज्य की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना
लॉन्च तिथि 22 Feb 2021
बजट200 करोड़ रूपये
प्रारम्भ मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना का उद्देश्य

जैसा की आप सभी जानते हैं कि सरकार द्वारा किसी भी योजना को प्रारम्भ करने के पीछे कुछ न कुछ उद्देश्य होता है उसी प्रकार यूपी सरकार का मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना को प्रारम्भ करने के पीछे का उद्देश्य निम्न है।

  1. मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना को प्रारम्भ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य की महिलाओं का उत्थान एवं विकास करना है।
  2. इस योजना का उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है जिससे उन्हें अन्य व्यक्ति पर निर्भर न रहना पड़े।
  3. इसका उद्देश्य उद्यमी महिलाओं को जो अपना लघु या कुटीर उद्योग करते हैं उनकी सहायता करना है जिससे उनके उद्योग में वृद्धि हो और राज्य के सभी नागरिकों को इसका लाभ हो सके।
  4. महिला सामर्थ्य योजना का उद्देश्य राज्य की महिलाओं को रोजगार करने के लिए और आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित करना है जिससे महिला के सामर्थ्य में उन्नति हो सके।
मुख्‍यमंत्री-महिला-सामर्थ्‍य-योजना-यूपी
Mukh‍yamantri Mahila Saamarth‍ya Yojana

योजना के लाभ (Benifit Of Scheme)

इस प्रक्रिया में हम आपको मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना से होने वाले लाभ के बारे में बताएंगे यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी है तो आपको इस योजना से होने वाले लाभ के बारे में पता होना आवश्यक है तथा लाभ जानने के लिए आपको इस प्रक्रिया को पूरा पढ़ना होगा। योजना से होने वाले लाभ निम्न है –

  • इस योजना का मुख्य लाभ राज्य की सभी महिलाओं को होगा।
  • इससे लघु और कुटीर उद्योगों में वृद्धि होगी।
  • इससे राज्य की सभी महिलाओं को रोजगार के अवसर प्रदान होंगे।
  • रोजगार होने से महिलाओ की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी।
  • महिला सामर्थ्य योजना के अंतर्गत महिलाओं को उद्योग चलाने की प्रशिक्षण मिलेगी जिससे उन्हें उद्योग करने में मदद मिलेगी।
  • प्रशिक्षण के तहत कॉमन जागरूकता, वर्कशॉप और ट्रेनिंग प्रोग्राम, कॉउंसलिंग प्रोग्राम, सेमिनार आदि कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य में महिला शक्ति केंद्रों की स्थापना की जाएगी।
  • इस योजना से सभी नागरिकों को स्वरोजगार करने के लिए प्रेरणा मिलेगी।
मुख्‍यमंत्री-महिला-सामर्थ्‍य-योजना-यूपी
Mukh‍yamantri Mahila Saamarth‍ya Yojana
महिला शक्ति केंद्र के लाभ

राज्य के सभी विकासखण्डो में महिला शक्ति केन्द्रों की स्थापना की जाएगी जिसकी गतिविधियों के आधार पर योजना को संचालित किया जायेगा। इसके तहत प्रशिक्षण केंद्र, सामान्य उत्पादन और प्रसंस्करण केंद्र, विकास केंद्र, पैकेजिंग, बार कोडिंग, लेबलिंग आदि कार्यों के आधार पर स्थापित किया जायेगा। राज्य में 90 लाख से अधिक गृह या लघु उद्योग हैं जिनमे महिलाएं बहुत से उद्योगों को चलती है इससे उनकी सहायता होगी। प्रथम चरण में महिला शक्ति केंद्र की स्थापना 200 विकासखंडो में की जाएगी तथा जिला स्तर पर समितियों का गठन किया जायेगा।

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना में आवेदन कैसे करें ?

यदि आप मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना यूपी में आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ और समय इंतजार करना होगा क्योकि वित्तीय वर्ष में ही इस योजना की घोषणा होने से अभी तक आवेदन करने की किसी भी प्रकार की प्रक्रिया को प्रारम्भ नहीं किया गया है किन्तु आने वाले कुछ समय में ही योजना को ऑनलाइन पोर्टल पर जारी कर दिया जायेगा और आवेदन करने की प्रकिया, पात्रता या अन्य जानकारी उपलब्ध करा दी जाएगी जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना से सम्बंधित जानकारी और आवेदन करने की प्रक्रिया को प्रारम्भ किया जाता है वैसे ही हम आपको आर्टिकल अपडेट कर जानकारी उपलब्ध करा देंगे अतः इस आर्टिकल के साथ जुड़े रहिये।

महिला सामर्थ्‍य योजना से सम्बंधित प्रश्न

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना क्या है ?

यू पी सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने किये आरभ की गयी एक योजना है जिसका प्रारम्भ योगी सरकार द्वारा किया गया है। इसके तहत राज्य की महिलाओं को उद्योग करने में मदद की जाएगी और उनके द्वारा बनाये गए या उत्पादित सामग्री को बाजार उपलब्ध कराये जाएंगे।

महिला सामर्थ्य का उद्देश्य क्या है ?

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है जिससे उन्हें अन्य व्यक्तियों पर निर्भर न रहना पड़े।

योजना के लिए पात्रता क्या है ?

राज्य सरकार द्वारा अभी तक महिला सामर्थ्य योजना के लिए कोई भी पात्रता मानदंड नहीं दिए गए है।

मुख्यमंत्री महिला सामर्थ्य योजना की ऑफिसियल वेब साइट क्या है ?

महिला सामर्थ्य योजना की ऑफिसियल वेब साइट को अभी तक लॉन्च नहीं किया गया है।

मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना का बजट राशि क्या है ?

यू पी वित्तमंत्री सुरेश कुमार खन्ना द्वारा महिला सामर्थ्य योजना के लिए 200 करोड़ रूपये की बजट राशि को रखा गया है।

मुख्यमंत्री सामर्थ्य योजना को कब लॉन्च किया गया ?

वित्तीय वर्ष 22 February 2021 को मुख्‍यमंत्री महिला सामर्थ्‍य योजना के नाम की घोषणा की गयी।

योजना के मुख्य लाभ क्या है ?

योजना के प्रारम्भ होने से रोजगार के अवसरों में वृद्धि होगी और राज्य की महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी।

Leave a Comment