दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है : ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण फॉर्म

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी है। 2014 में मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने पर ये घोषणा की गयी थी। इस योजना का उद्देश्य सभी ग्रामीण किसानो को खेतों में बिजली की सुविधा दी जाएगी। ताकि किसान अच्छे से खेती कर सकें। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का ... Read more

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी है। 2014 में मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने पर ये घोषणा की गयी थी। इस योजना का उद्देश्य सभी ग्रामीण किसानो को खेतों में बिजली की सुविधा दी जाएगी। ताकि किसान अच्छे से खेती कर सकें। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का लाभ देश के सभी राज्य के ग्रामीण किसानों को दिया जायेगा। ये योजना प्रमुख योजनाओं में से एक योजना है। लेकिन Deendayal Gram Jyoti Yojana का लाभ लेने से पहले किसानों को आवेदन करना होगा। आवेदन करने के बाद ही उम्मीदवार किसान योजना का लाभ ले सकते हैं।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है: ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण फॉर्म
दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है: ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण फॉर्म

प्रधानमंत्री जी ने ऐसी अन्य योजनाए भी बनायीं है। उनमे से एक का नाम प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना है। अगर आप भी इस योजना में आवेदन करना चाहते है और तो ऐसे करें आवेदन आज हम अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको बताएंगे की कैसे आप दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और इसके लिए आपको क्या-क्या दस्तावेज की आवश्यकता होगी। योजना से जुडी सभी जानकारी देंगे। उम्मीदवार जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

यह भी पढ़े :- प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना 2024 | PM Karam Yogi Mandhan Yojana

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना

डीडीयूजीजेवाई योजना को देश में जितने भी ग्रामीण इलाके हैं उनको बिजली की आपूर्ति हो सके इसलिए योजना को शुरू किया गया है। योजना के अंतर्गत फैसला लिया गया की सरकार द्वारा हजार दिनों के अंदर 18,452 गांवो में बिजली पहुंचाई जाएगी। इस योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले जिनके पास अभी बिजली नहीं पहुंची है उन्हें स्कीम का लाभ पहुंचाया जाएगा। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना को विद्युत मंत्रालय द्वारा सुनियोजित की जायेगी।

ताकि ग्रामीण इलाकों में 24 घंटे बिजली की सुविधा हो। इस योजना को राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के स्थान पर स्थापित किया गया हैं। और आरजीजीवीवाई में जितनी भी नए योजनाओं को बनाया गया था उन्हें डीडीयूजीजेवाई में शामिल कर दिया गया है। और राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के अंतर्गत जो राशि बचत में है उसे Deendayaal gramin jyoti yojana scheme में सम्मिलित किया जाएगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
UDISE Plus Portal 2023 Online Form, login, status

"UDISE Plus Portal 2023 Online Form at udiseplus.gov.in Login, Status

Deen Dayal Gram Jyoti Yojana 2024

योजना का नाम दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना
विभागविद्युत मंत्रालय
किसके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के किसान
योजना का उद्देश्यग्रामीण किसानों के परिवार और
खेतों तक बिजली की पहुंच
आवेदन मोड़
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है ?

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना मुख्यतः ग्रामीण इलाकों के उन क्षेत्रों के लिए आरम्भ की है जहां बिजली नहीं हैं लोगों को बिजली समस्या संबंधित समस्या है। ऐसा भारत के हर राज्य में बहुत से क्षेत्र ऐसे हैं जहां लोगों के पास विद्युत की समस्या है। मोदी जी के पीएम बनते ही उन्होंने प्रमुख पहलुओं में इसी समस्या का हल निकालने के लिए डीडीयूजीजेवाई को आरम्भ किया गया। जिसमें लक्ष्य रखा गया की 1000 दिनों में अट्ठारह हजार चार सौ बारह गांवों में बिजली पहुंचानी है।

इस योजना के लिए कुल 43,033 करोड़ का बजट बनाया गया है जिसमें अभी कुल 33,453 करोड़ रूपये का ही खर्चा आया है। योजना के अंतर्गत गांवों में घरों और खेतों में बिजली पहुंचाने का उद्देश्य रखा गया है जिसमें ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड को नोडल एजेंसी बनाया गया है। जिसके तहत गांव में ट्रांसफार्म, फीडर, बिजली मीटर, बिजली के पोल लगाए जायेंगे। Deendayal Gram Jyoti Yojana के अंतर्गत सभी प्राइवेट और राज्य के जो इलेक्ट्रॉनिक डिपार्टमेंट डिस्कॉम होंगे वे सभी डिस्कॉम योजना के योग्य होंगे।

डीडीयूजीजेवाई की विशेषताएं
  • इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री मोदी जी के द्वारा शुरू की गयी है।
  • योजना के अंतर्गत सभी ग्रामीण परिवारों को लिया गया है जिनके यहां बिजली उपलब्ध नहीं है।
  • राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना को प्रतिस्थापित करके दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना को शुरू किया गया। और जो नई योजनाएं आरजीजीवीवाई के लिए शुरू की गयी थी उन्हें डीडीयूजीजेवाई स्कीम में शामिल कर दिया गया है।
  • DDUGJY स्कीम के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों और विकास के क्षेत्रों में वृद्धि होगी।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के लिए कुल 43,033 करोड़ का बजट बनाया गया है।
  • ग्रामीण इलाकों और खेतों तक बिजली पहुंचाने के लिए ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड को नोडल एजेंसी बनाया गया है। जो दिए गए समय-समय पर दिशा-निर्देशों के अनुसार कार्य करेगा।

ग्राम ज्योति योजना के लाभ

  • योजना का लाभ उन सभी किसानों को दिया जायेगा जिनके यहां बिजली संबंधित समस्या है।
  • गांव में बिजली आने से लोग अपने लिए रोजगार के अवसर ढूंढ सकते हैं यानी अपना स्वयं का रोजगार शुरू कर सकते हैं।
  • जिन किसानो को खेती के लिए सिंचाई से जुडी कोई समस्या होती थी लेकिन अब इस योजना के शुरू होने से किसान अपने खेतों के लिए सिंचाई के साधन उपलब्ध करा सकते हैं। जिससे की कृषि उपज में वृद्धि की जायेगी।
  • ग्रामीण इलाकों में जहां स्कूल, पंचायतों, पुलिस स्टेशन, हॉस्पिटल में बिजली पहुंचाई जायेगी।
  • गांव में अस्पताल, बैंकिंग, शिक्षा के स्तर में बदलाव आएगा।
  • विद्युत से चलने वाले सभी उपकरण जैसे मोबाइल, टीवी, इंटरनेट की सुविधा लोगों के पास होंगे। और सामाजिक सुधार में बदलाव आएगा।
  • ग्रामीण इलाकों में सुविधा न होने के कारण वे दिन-प्रतिदिन पिछड़ते रहते हैं जिससे की उनमें विकास नहीं हो पाता है। ऐसे में अगर उन गांवों में बिजली जैसी कोई भी अन्य समस्या हो उन्हें सरकार द्वारा दूर किये जाएँ तो गांव भी विकास की वृद्धि में अपना योगदान दे सकते हैं।

ग्राम ज्योति योजना का उद्देश्य

जैसे की आप जानते हैं की हमारे देश में ऐसे बहुत से ग्रामीण क्षेत्र ऐसे हैं जहां लोगों के बिजली की सुविधा नहीं है जिस कारण वे सभी सुविधाओं से दूर रहते हैं और जो किसान होते हैं उनके पास खेती के सिंचाई लिए साधन नहीं होते हैं। जिस कारण उन्हें कृषि कार्य करने में समस्या होती है। ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा बजट तैयार किया गया है जिसमें सरकार सभी ग्रामीण इलाकों में बिजली पहुंचाएगी।

योजना के अंतर्गत वित्त पोषण तंत्र

इस योजना के अंतर्गत पूर्वोत्तर के राज्य जैसे हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू, कश्मीर, सिक्किम को विशेष राज्यों की केटेगिरी में दर्ज किया गया है। जिसमें विशेष राज्यों की श्रेणी में आने वाले और अन्य राज्यों के लिए 60 प्रतिशत और विशेष श्रेणी में आने वाले राज्यों के लिए 85 प्रतिशत अनुदान भाग तय किया गया है। यदि राज्य सरकारें अपने ग्रामीण इलाकों में अधिक अनुदान चाहती हैं या कोई भी नुक्सान होता है तो उसके लिए राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

नोटउम्मीदवार ध्यान दें आपको इस योजना में किसी भी मोड़ में आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि केंद्र सरकार द्वारा विद्युत मंत्रालय के साथ मिलकर इस योजना को चलाने के लिए ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड को नोडल एजेंसी नियुक्त किया है। जिनके माध्यम से उन सभी गांवों की सूची बनाई जायेगी जहां बिजली नहीं है और वहां तक इसी नोडल एजेंसी के द्वारा विद्युत पहुंचाई जायेगी।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना 2024 से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से जुडी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से जुडी आधिकारिक वेबसाइट- www.india.gov.in है। लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

योजना के अंतर्गत कितना बजट बनाया गया है ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इस योजना के अंतर्गत 43,033 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।

डीडीयूजीजेवाई में कितने गांवों तक बिजली पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है ?

डीडीयूजीजेवाई में 18,452 गांवो तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।

Deendayaal gramin jyoti yojana में आवेदन कौन से मोड़ में करेंगे ?

आपको इस योजना में आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है। इसके लिए नोडल एजेंसी बनाई गयी है जिसके माध्यम से सभी गांवो में बिजली पहुंचाई जायेगी।

तो जैसे की हमने अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म के बारे में पूरी जानकारी दी है। अगर आपको इस योजना से जुडी कोई भी अन्य जानकारी चाहिए तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में जाकर मेसेज कर सकते हैं।

पीएम मोदी फ्री लैपटॉप योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन :

पीएम मोदी फ्री लैपटॉप योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन : PM Modi Free Laptop

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें