Post Office Franchise: पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी कैसे लें? आवेदन प्रक्रिया जानिए

पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी भारत सरकार द्वारा संचालित एक योजना है जो आपको डाकघर सर्विस देने का अवसर प्रदान करती है। यह योजना उन लोगों के लिए अच्छी है जो कम निवेश में अपना खुद का छोटा व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं।

Photo of author

Reported by Rohit Kumar

Published on

Post Office Franchise: पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी कैसे लें? आवेदन प्रक्रिया जानिए
Post Office Franchise

भारतीय डाक विभाग द्वारा समय-समय पर पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी के लिए अधिसूचना (Notification for Post Office Franchise) जारी करती है। जो भी व्यक्ति पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइजी को खरीदने के लिए इच्छुक है, वो इंडिया पोस्ट (India Post Official website) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म को डाउनलोड कर सकता है। इसके साथ आप को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की भी जरूरत पड़ेगी। जिसकी जानकारी आप को आगे लेख में मिल जाएगी। तो चलिए जानते हैं कि पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी कैसे लें? आवेदन हेतु महत्वपूर्ण दस्तावेज कौन से हैं ? साथ ही जानें पूरी आवेदन प्रक्रिया।

जानें पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी / Post Office Franchise

ये एक प्रकार की फ्रैंचाइजी है जो डाक विभाग द्वारा आउटलेट्स खोलने के लिए दी जाती है। आप इसे एक प्रकार की स्कीम की तरह भी देख सकते हैं जहाँ इन्वेस्ट करना आप के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकता है। डाक विभाग की फ्रैंचाइजी देश का कोई भी नागरिक ले सकते है। चाहे वो किसी भी राज्य के शहरी या ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहा हो।

डाक विभाग की ये पहल इस उद्देश्य के साथ शुरू की गयी है कि देश के हर सुगम और दुर्गम क्षेत्रों में पोस्ट ऑफिस आउटलेट्स खोले जा सके और इसके माध्यम से सभी सुविधाएं नागरिकों को बिना मुश्किल के पहुंचा सकें। इस फ्रैंचाइजी को लेने के लिए आवेदक को 5000 रूपए का इन्वेस्टमेंट करना होगा। जो कि सिक्योरिटी मनी के तौर पर भी जमा किया जाता है।

कैसे मिलती पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी?

इसके लिए आवेदक को सबसे पहले इंडिया पोस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन पत्र डाउनलोड करना होगा। या फिर सम्बंधित विभाग कार्यालय से भी आप इसे प्राप्त कर सकते हैं। फ्रैंचाइजी हेतु आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद उसमें पूछी गयी सभी जानकारी भरें। इसके बाद आप सभी संबंधित आवश्यक दस्तावेज भी संलग्न करें और इसे पोस्टल डिविजनल ऑफिस में जमा कर दें। इसके बाद आप द्वारा जमा किये गए आवेदन पर ASP/SDI की रिपोर्ट के आधार पर संबंधित डिविजनल अधिकारी विचार करेंगे और योग्यता के अनुसार 14 दिनों के भीतर ही फ्रैंचाइजी के लिए चयन करेंगे।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

चयनित होने के बाद आप को पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी मिल जाती है। इस के बाद आप अपनी सेवा देना शुरू कर सकते हैं। आप को प्रत्येक सर्विस देने पर कमिशन प्राप्त होता है, जिस से आप की अच्छी खासी कमाई हो जाती है।

ये भी पढ़ें : पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम

फ्रेंचाइजी के प्रकार (Types of Franchises)

इंडियन पोस्ट ऑफिस द्वारा प्रत्येक शहरों व क्षेत्रों में डाक सेवाओं को प्रदान करने के लिए मुख्य रूप से दो प्रकार की फ्रैंचाइजी दी जाती है। ये हैं फ्रेंचाइजी के प्रकार

  • फ्रेंचाइजी काउंटर सर्विस से संबंधित (Outlet Franchise)
  • पोस्टल एजेंसी से संबंधित (Postal Agents Franchise)

इन दोनों ही प्रकार की फ्रैंचाइजी को प्राप्त करने के लिए डाक विभाग द्वारा कुछ नियम व शर्तें निर्धारित की हैं। ये सभी नियम व पात्रता शर्तें दोनों ही प्रकार की फ्रैंचाइजी के लिए अलग हैं।

फ्रैंचाइजी लेने के लिए इन्वेस्टमेंट (Post Office Franchise Cost)

Post Office Franchise लेने के लिए आप को निर्धारित न्यूनतम 5 हजार रूपए का सिक्योरिटी डिपाजिट कराना होता है। ये सिक्योरिटी डिपाजिट आप तब जमा कराएंगे जब आप का चयन सभी नियम व पात्रता शर्तों पर खरे उतरने के बाद कर लिया जाता है। संभव है की आप एक से दो लाख रूपए का भी खर्च कर सकते हैं। हालाँकि पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी के नियमों के अनुसार न्यूनतम 5000 रूपए की ही सिक्योरिटी डिपाजिट का प्रावधान किया गया है।

E Shram Card Balance Check Online Kaise Kare, State Wise Direct Link

E Shram Card Balance Check Online Kaise Kare, State Wise Direct Link

फ्रेंचाइजी आउटलेट द्वारा कौन कौन सी सुविधा दी जा सकती है ?

यदि आप पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेते हैं तो आप इस के बाद निम्नलिखित सेवा प्रदाता बन सकते हैं –

  • आप टिकटों और स्टेशनरी की बिक्री कर सकते हैं।
  • साथ ही स्पीड पोस्ट लेख, पंजीकृत लेख और मनी आर्डर की बुकिंग आदि कर सकते हैं।
  • आप Postal Life Insurance (PLI) यानी डाक जीवन बीमा के लिए एक एजेंट के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं। इसमें प्रीमियम के संग्रह सहित संबंधित बिक्री के बाद सेवा प्रदान करने का कार्य भी आप के जिम्मे होगा।
  • इसके अतिरिक्त विभिन्न खुदरा सेवा जैसे कि – बिल, कर, जुर्माने का संग्रह, व विभाग की भुगतान सेवाओं को उपलब्ध करा सकते है।
  • साथ ही आप ई-गवर्नेंस और नागरिक केंद्रित सेवाओं के प्रावधान को सुगम बना सकते हैं।
  • भविष्य में यदि कभी डाक विभाग द्वारा अपने आउटलेट्स के जरिये किसी नयी सुविधा या सेवा की शुरुआत की जाती है तो आप उस सेवा को भी प्रदान कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी के अंतर्गत मिलने वाला कमीशन

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

डाक विभाग द्वारा प्राप्त फ्रैंचाइजी के जरिये आप सबंधित सेवाओं पर मिलने वाले कमीशन को लेख में आगे दी जा रही टेबल के माध्यम से देख सकते हैं –

क्रम संख्यासेवाएं/रिटेल सेवाएंविभाग द्वारा दिया जाने वाला कमीशन
1रजिस्ट्री (रजिस्टर्ड आर्टिकल) की बुकिंग3 रुपए प्रति बुकिंग
2100 रुपये से लेकर 200 रुपये के मूल्य के मनी ऑर्डर की बुकिंग, 200 रुपये से अधिक मूल्य के मनी ऑर्डर की बुकिंग
* कृपया ध्यान दें कोई भी फ्रैंचाइजी एजेंट 100 से कम का कोई भी आर्डर बुक नहीं करेंगे।
3.50 रुपए, 5 रुपए
3स्पीड पोस्ट की बुकिंग पर ,5 रुपए प्रति बुकिंग
4मासिक 1000 से ज्यादा रजिस्ट्री या स्पीड पोस्ट की बुकिंग करने पर20 % अतिरिक्त कमीशन
5डाकस्टेशनरी  / डाक टिकटों / मनी ऑर्डर के आवेदन पत्र की बिक्री पर मिलने वाली कमीशनबिक्री राशि का 5%
6रिटेल सेवाएं40 %

कौन-कौन से दस्तावेज चाहिए Post Office Franchise लेने के लिए

Post Office Franchise लेने के लिए आप को आवेदन करना होगा। फॉर्म के साथ-साथ आप को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत भी होगी। यहाँ हम इन सभी दस्तावेजों की जानकारी दे रहे हैं। पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी के लिए आवेदन करते समय आप इन दस्तावेजों को भी तैयार कर लें –

  • आयु प्रमाण पत्र – आधार कार्ड / जन्म प्रमाण पत्र / 10 वीं की मार्कशीट (यदि 10वीं पास हों तो)
  • शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पते का प्रमाण व संबंधित दस्तावेज
  • पीपीओ की प्रति (यदि डाक विभाग से पेंशनर हैं तो )

इस संबंध में अधिक जानकारी हेतु आप लेख में दिए गए आवेदन पत्र के पीडीएफ लिंक पर क्लिक करें।

कौन-कौन आवेदन कर सकता है डाक विभाग फ्रैंचाइजी के लिए (पात्रता)

  • कोई भी भारतीय नागरिक इसके लिए आवेदन कर सकता है।
  • कोई भी गली, नुक्कड़ की दुकानवाले जैसे – पान वाले, चायवाले, किरानावाला, स्टेशनरी की दुकानें, छोटे दुकानदार आदि आवेदन हेतु पात्र माने जाएंगे।
  • डाक विभाग में कार्यरत व्यक्ति के परिवार वाले इस पोस्ट के लिए पात्र नहीं माने जाएंगे।
  • कम से कम 18 वर्ष की उम्र होनी चाहिये।
  • व्यक्ति कम से कम 8वीं पास हो।

ये भी पढ़ें : UP Gramin Dak Sevak Bharti

 यहाँ जानिये पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी कैसे लें ?
पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने के लिए आवेदन कैसे करें, देखें

यदि आप भी पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइजी लेने का मन बना रहे हैं तो आप को इसके लिए इंडिया पोस्ट की आधिकारिक वेबसाइट (India Post Official Website) पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म को डाउनलोड करना होगा। आप की सुविधा के लिए हम यहाँ पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी के लिए आवेदन करने का फॉर्म लेख में उपलब्ध करा रहे हैं। आप नीचे दिए गए लिंक से आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी लेने हेतु आप को यहाँ दिए गए आधिकारिक लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • आप चाहें तो अपने पोस्टल डिविजनल ऑफिस से फ्रेंचाइजी आउटलेट एग्रीमेंट फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं। या फिर नीचे दिए लिंक के माध्यम से फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं।
  • पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने हेतु आवेदन पत्र का डायरेक्ट लिंक
  • दिए गए लिंक पर क्लिक करते ही आप के स्क्रीन पर एक पीडीएफ खुल जाएगी।
  • इस पीडीएफ में आप को पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने से संबंधित सभी जानकारी प्रदान की गयी है।
  • साथ ही इसके अंत में पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने हेतु आवेदन फॉर्म (आवेदन सह फ्रैंचाइज़ी आउटलेट समझौता फॉर्म) भी दिया गया है।
  • आप को ‘आवेदन सह फ्रैंचाइज़ी आउटलेट समझौता फॉर्म’ को डाउनलोड कर लेना है।
  • इस फॉर्म को डाउनलोड करके इसमें मांगी गयी सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक दर्ज करें।
  • जैसे कि – आवेदक का नाम, पता, राष्ट्रीयता, जन्मतिथि, जिस स्थान पर फ्रैंचाइजी का कार्य करना है, वहां की लोकेशन, नजदीकी पोस्ट ऑफिस से आप के लोकेशन की दूरी आदि अन्य जानकारियां दर्ज कर दें।
  • इस के बाद आप को सभी आवश्यक दस्तावेज भी आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने होंगे।
  • अंत में सभी दस्तावेजों और आवेदन पत्र में दर्ज जानकारियों को चेक करने के बाद आप इसे पोस्टल डिविजनल ऑफिस के डाक विभाग के सुपरिन्टेन्डेन्ट के पास जमा करवा दें।

आप जिस क्षेत्र में अपना फ्रैंचाइजी खोलना चाहते हैं वहां के सबंधित विभाग के कार्यालय में आवेदन जमा कराने के बाद कुछ योग्यता और पात्रता मानदंड के आधार पर विभाग द्वारा आवेदन स्वीकार किया जाएगा। यदि आप का आवेदन स्वीकार हो जाता है तो आप को एक हफ्ते के अंदर फ्रैंचाइजी सौंप दी जाएगी और आपको इसके लिए एक एआईडी भी उपलब्ध कराई जाएगी । चयन संबन्धी विस्तृत जानकारी आगे लेख में दी जा रही है।

किस तरह से होगा चयन? (Selection Process)

जैसे कि हमने बताया कि पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने के लिए सभी इच्छुक उम्मीदवार इसमें आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने से लेकर फ्रैंचाइजी बीच भी लगभग दो हफ़्तों का समय होता है। इन दो हफ़्तों के अंतराल में निम्नलिखित बातें होती हैं, इन सब के बाद ही आप को Post Office Franchise मिलती है। आइये जानते हैं –

  • पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम अंतरगत आवेदक जिस भी क्षेत्र में फ्रैंचाइजी लेना चाहता है, वहां के सबंधित डिविजनल हेड को एएसपी / एसडीआई द्वारा एक रिपोर्ट सौंपी जाती है जिसके आधार पर डिविजनल हेड उस व्यक्ति का चयन करेंगे जो इसके लिए योग्यता रखता होगा।
  • डाक विभाग की आधिकारिक नोटिफिकेशन के अनुसार ये बताया गया है कि एएसपी / एसडीआई ये रिपोर्ट आवेदक द्वारा दर्ज की गयी जानकारी के आधार पर तैयार करेंगे। इसके बाद ही डिविजनल हेड को ये रिपोर्ट भेजेंगे।
  • एएसपी / एसडीआई को डिविजनल हेड को ये रिपोर्ट आवेदक द्वारा फ्रैंचाइजी लेने हेतु आवेदन करने के 14 दिन के अंदर ही सौंपनी होगी।
  • आधिकारिक अधिसूचना के मुताबिक़ डिविजनल हेड द्वारा चयनित व्यक्ति को ‘मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट’ पर अपने हस्ताक्षर करने होंगे। इस के साथ ही दो अन्य व्यक्तियों को भी इस पर हस्ताक्षर करने होंगे।
  • जैसे ही इस ‘मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट’ पर हस्ताक्षर करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, आवेदक को फ्रैंचाइजी प्राप्त हो जाएगी।
  • इस स्कीम में आवेदन करने पर उन लोगों को वरीयता दी जाएगी जो डाक पेन्शन-भोगी होंगे। साथ ही वो आवेदक जिन्हे कंप्यूटर का अच्छा खासा ज्ञान होगा और संबंधित कंप्यूटर सुविधाएं प्रदान करने में सक्षम होंगे, वो भी वरीयता के पात्र होंगे।
  • किसी भी आवेदक को जिसका चयन फ्रैंचाइजी के लिए किया गया है, उसे फ्रैंचाइजी की शुरुआत में पोस्ट ऑफिस से संबंधित कार्यों को करने और समझने के लिए प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाता है।

डाक विभाग द्वारा फ्रैंचाइजी हेतु दिया जाने वाला प्रशिक्षण

जैसे की अभी हमने बात की कि किसी भी व्यक्ति के पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी के लिए चयनित होने पर उन्हें इसकी शुरुआत में ही प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इस प्रशिक्षण के पश्चात इसे पास करने के बाद ही आवेदक फ्रैंचाइजी को शुरू कर पाएगा। इस प्रकार की ट्रैनिंग (प्रशिक्षण) का आयोजन डाक विभाग द्वारा समय समय पर किया जाता रहा है। इन प्रशिक्षणों के आयोजन होने पर सभी इसमें भाग लेते हैं और यदि ये प्रशिक्षण किसी अन्य राज्य में आयोजित होता है तो डाक विभाग द्वारा आने जाने या किसी भी प्रकार का खर्च वहन नहीं किया जाएगा।

ये प्रशिक्षण लेना सभी चयनित व्यक्तियों के लिए आवश्यक है। साथ ही ये भी आवश्यक है की वो अपना बेहतर प्रदर्शन करें। ऐसा इसलिए क्यूंकि यदि वो इस ट्रेनिंग के दौरान अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो उनके साथ किया गया अनुबंध (Agreement ) खतम कर दिया जाएगा और उनसे फ्रैंचाइजी छीन जाएगी। क्षेत्र के सब-डिवीजनल इंस्पेक्टर द्वारा फ्रैंचाइजी से जुड़ा सभी प्रकार का प्रशिक्षण दिया जाएगा। आप की जानकारी के लिए बता दें कि प्रशिक्षण चयनित व्यक्ति को दिया जाएगा जिसे फ्रैंचाइजी दी गयी है या फिर उस व्यक्ति को दी जा सकती है जो इस फ्रैंचाइजी को सम्हालेगा।

फ्रैंचाइजी के लिए दी जाने वाले ट्रेनिंग में सभी प्रशिक्षुओं को विभिन्न प्रकार की जानकारी दी जाएगी। जैसे कि कैसे पोस्ट ऑफिस से जुड़े कार्य किये जाते हैं ? विभीन उत्पाद, सेवाएं, बुनियादी प्रक्रिया और परिसर की देखरेख करने आदि से सम्बन्धी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी। फ्रेंचाइजी से जुड़ी ट्रेनिंग से संबंधित जानकारी जैसे कि ट्रेनिंग कब और कहाँ दी जाएगी साथ ही कितने देर की होगी आदि का निर्णय डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट द्वारा किया जाना है।

Post Office Franchise के अंतर्गत मिलने वाला लाइसेंस कितने समय के लिए दिया जाता है ?

आप की जानकारी के लिए बता दें की पोस्ट ऑफिस द्वारा चलाई गयी इस स्कीम में पोस्टल एजेंट बंनने पर चयनित व्यक्ति को सबसे पहले एक वर्ष के लिए लाइसेंस प्रदान किया जाता है। इसके बाद व्यक्ति के प्रदर्शन के आधार पर उसके लाइसेंस की अवधि को बढ़ाया जाता है। पोस्ट ऑफिस के नियमों के अनुसार एक वर्ष के बाद लाइसेंस की अवधी कको 3 वर्ष के लिए ही बढाया जा सकता है। इसी प्रकार यदि आप का कार्य आगे भी अच्छा रहा तो ये अवधि फिर से तीन वर्षों के लिए बढ़ाई जा सकती है। इसकलिये ये आवश्यक है कि आप का कार्य सही तरीके से किया जा रहा हो। तभी आप के कार्य के अनुसार ही इसकी अवधी को आगे बढ़ाया जा सकता है।

जैसे की अभी आप ने जाना की आप के कार्य के आधार पर ही ये निर्भर करेगा कि आप का लाइसेंस कितने समय के लिए बढ़ाया जा सकता है। यदि व्यक्ति का कार्य संतोषजनक नहीं होगा तो आप पोस्ट ऑफिस विभाग द्वारा सम्बंधित पोस्टल एजेंट के लाइसेंस को कभी भी रद्द किया जा सकता है।

पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी से संबंधित प्रश्न उत्तर

पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी कैसे ले सकते हैं?
यदि आप भी पोस्ट ऑफिस की फ्रेन्चाइजी लेना चाहते हैं तो आप को इसके लिए इंडिया पोस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आप पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी लेने के लिए अप्लाई करने हेतु आवेदन पत्र डाउनलोड करें और सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ इसे संबंधित पोस्टल डिविजनल ऑफिस के डाक विभाग के सुपरिन्टेन्डेन्ट के पास जमा करवा दें।

Post Office Franchise कौन-कौन ले सकता है?
पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए आप का भारतीय नागरिक होना आवश्यक है। फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए। इस के अतिरिक्त आवेदक व्यक्ति को कम से कम किसी मान्यता प्राप्त विद्यालय से 8 वीं पास होना चाहिए।साथ ही आपके पास 200 स्क्वायर फीट का ऑफिस एरिया होना चाहिए। 

डाक विभाग द्वारा कितने प्रकार की पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी दी जाती है ?
मुख्य रूप से पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने के दो प्रकार होते हैं – आउटलेट फ्रैंचाइज़ी एवं दूसरी पोस्टल एजेंट फ्रैंचाइज़ी

Post Office Franchise लेने के लिए कितना निवेश करना होता है ?
आप को Post Office Franchise लेने के लिए 5000 रूपए का निवेश करना होगा।

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइजी लेने के लिए कौन से दस्तावेज चाहिये ?
जन्म तिथि का प्रमाण, पैन कार्ड, घर के पते आदि से जुड़े हुए डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होगी। अधिक जानकारी हेतु लेख को पूरा पढ़ें। 

आज इस लेख में आप ने Post Office Franchise के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उम्मीद है आप को ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। ऐसे ही अन्य महत्वपूर्ण लेखों को पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट Hindi NVSHQ से जुड़ सकते हैं।

अटल पेंशन योजना में ऐसे करें आवेदन |

अटल पेंशन योजना में ऐसे करें आवेदन | Atal Pension Yojana, APY Chart

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें