ऋतुराज गायकवाड़ की जीवनी | Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi

ऋतुराज दशरथ गायकवाड़ (जन्म 31 जनवरी 1997) एक भारतीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं जो टी20 और लिस्ट A formats में महाराष्ट्र क्रिकेट टीम की कप्तानी करते हैं और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपर किंग्स के वर्तमान कप्तान हैं।

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

ऋतुराज गायकवाड़ की जीवनी | Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi
ऋतुराज गायकवाड़ की जीवनी | Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi

Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi: भारत में कई प्रतिभाशाली एवं प्रसिद्ध क्रिकेटर है जो अपने दिलचस्प खेल के लिए जाने जाते हैं उनमे से ही एक ऋतुराज गायकवाड़ है, जो अपने रिस्क फ्री खेल अंदाज के लिए जाने जाते हैं। अपनी मेहनत और लगन के दम पर आज इन्होंने यह मुकाम हासिल किया है। क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में लोग इन्हें बहुत पसंद करते हैं साथ ही इनकी सोशल मीडिया पर फैन फॉलोविंग भी बहुत अधिक है। तो चलिए जानते हैं ऋतुराज गायकवाड़ के जीवन परिचय के बारे में…….

यह भी पढ़ें- क्रिकेटर सौरव गांगुली का जीवन परिचय | Sourav Ganguly

Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi

ऋतुराज गायकवाड़ एक प्रतिभाशाली भारतीय बल्लेबाज खिलाडी हैं जो दाएं हाथ के क्रिकेटर के रूप में खेलते हैं। ये भारतीय क्रिकेटर के महारथी खिलाड़ी रोहित शर्मा की तरह बल्लेबाजी करते हैं। आपको बता दें वर्ष 2018-19 सय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में इन्होंने अपनी घरेलु टीम से सबसे अधिक रन बनाए थे।

पूरा नामऋतुराज दशरथ गायकवाड़
उपनामऋतु
जन्म31 जनवरी 1997
जन्म स्थानपुणे, महाराष्ट्र
पेशाभारतीय क्रिकेटर
एड्रेसबैंगलोर
धर्महिन्दू
राशिधनु
जातिमराठा
राष्ट्रीयताभारतीय
उम्र27 वर्ष (2024 के अनुसार)
शौकटेनिस खेलना अथवा यात्रा करना
भाषाअंग्रेजी, कन्नड़, मराठी तथा मलयालम
शैक्षिक योग्यतास्नातक
स्कूलसेंट जोसेफ हाई स्कूल, पुणे, महाराष्ट्र एवं लक्ष्मीबाई नगुण्डे इंग्लिश मीडियम स्कूल, पुणे, महाराष्ट्र
विश्वविद्यालयमराठवाड़ा मित्र मंडल कॉलेज, पुणे, महाराष्ट्र
वैवाहिक स्थितिअविवाहित
खानामांसाहारी

ऋतुराज गायकवाड़ का परिवार

ऋतुराज का जन्म 31 जनवरी 1997 में महाराष्ट्र राज्य के पुणे में हुआ था। इनके पिता का नाम दशरथ गायकवाड़ है जो एक रक्षा अनुसंधान विकास अधिकारी हैं तथा माता का नाम सविता गायकवाड़ है जो कि एक शिक्षिका है। ये बचपन से ही जॉइंट फैमिली में रहें हैं तथा ये अपने चचेरे भाई बहनों के साथ खेलते थे। इनके परिवार वाले पढ़ाई को अधिक महत्व देते थे लेकिन ऋतुराज की रूचि पढ़ाई से अधिक खेल में थी। परिवार में माता-पिता के अतिरिक्त इनकी पत्नी है जिसका नाम उत्कर्ष पवार है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
पिता का नामदशरथ गायकवाड़ (DRDO)
माता का नामसविता गायकवाड़
बहन का नामपता नहीं
गर्लफ्रेंडपता नहीं
दोस्तपता नहीं

शारीरिक संरचना

ऊंचाई5 फीट 9 इंच
वजन65 किलो
शरीर प्रकारपुष्ट
चेस्ट38 इंच
बालों का रंगकाला
आँखों का रंगकाला
रंगगेंहूवा
कमर32 इंच
शरीर प्रकारपुष्ट

ऋतुराज गायकवाड़ की पसंद एवं नापसंद

पसंदीदा क्रिकेटरसचिन तेंदुलकर, क्रिस गेल, डेविड वॉर्नर तथा शेन वॉर्न
पसंदीदा क्रिकेट स्टेडियमएडिलेड ओवल, ऑस्ट्रेलिया
पसंदीदा फिल्म3 इडियट्स
पसंदीदा खानासाउथ इंडियन फूड
पसंदीदा अभिनेताअक्षय कुमार और रणवीर सिंह
पसंदीदा अभिनेत्रीदीपिका पादुकोन एवं माधुरी दीक्षित
पसंदीदा शॉटकवर ड्राइव, फ्लिक शॉट

Ruturaj Gaikwad Cricket Career

अपने अंडर 19 के दौर में गायकवाड़ में लोगों का ध्यान अपनी तरफ किया और बेहतरीन प्रदर्शन के साथ क्रिकेट खेल खेला। 2014-15 कूच बिहार ट्रॉफी में ऋतुराज इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए। उन्होंने 6 मैचों में तीन शतक तथा एक अर्धशतक के साथ 826 रन बनाए थे। इसके बाद अगले टूर्नामेंट में तीसरा शतक भी जड़ दिया। बेहतरीन प्रदर्शन के साथ खेलने पर इन्हें 2016 के अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत की अंडर-19 टीम के लिए इन्हें चयनित किया गया।

लेकिन विश्वकप में इनका इतना अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा, लेकिन इस निराशा से इन्होंने बिलकुल भी हार नहीं मानी तथा एक बार फिर से अपने आप की घरेलु क्रिकेट में साबित किया। कूच बिहार ट्रॉफी में 7 मैच खेलकर 4 शतक तथा 3 अर्धशतक के साथ टूर्नामेंट में करीबन 875 रनों का लक्ष्य रखा।

Ruturaj Gaikwad घरेलु क्रिकेट करियर

  • महाराष्ट्र की रणजी टीम के लिए वर्ष 2016-17 में ऋतुराज ने 19 साल की आयु में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपना पदार्पण किया था। मैच में एक दौरान इन्हें चोट भी लग गई थी जिससे इनका रणजी करियर बहुत ही छोटा था। चोट इतनी बड़ी थी की इनकी सर्जरी हुई और इस कारणवश इन्हें रणजी सीजन छोड़ना पड़ा।
  • सर्जरी के बाद इन्होंने 8 हफ़्तों तक रेस्ट किया इसके बाद फिर से ये विजय हजारे ट्रॉफी मैदान में दिखाई दिए। यहाँ पर गायकवाड़ ने केवल एक ही मैच खेला था। नेक्स्ट सीजन में इन्हें अपनी टीम का सलामी बल्लेबाज घोषित किया गया। उसके बाद इन्होंने हिमाचल प्रदेश की टीम के विरुद्ध 110 गेंद में 132 रन बनाए, अपने लिस्ट-A क्रिकेट का पहला शतक जड़ा।
  • वर्ष 2018-19घरेलु सत्र इनके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण था। क्योंकि इस दौरान रणजी तथा विजय हजारे ट्रॉफी दोनों में उनके प्रदर्शन ने इस युवा खिलाड़ी के लिए इण्डिया-A टीम में खेलने का अवसर मिला। ऋतुराज ने रणजी ट्रॉफी के 11 मैचों को खेलकर 456 रन तथा विजय हजारे ट्रॉफी में 365 रन जड़े।
  • Gaikwad ने लायंस के विरुद्ध साल 2019 में बोर्ड प्रेसिडेंटस XI के लिए खेला जिसमे शतक जड़ दिया।
  • ऋतुराज ने अपने पहले ही मैच में 136 गेंदों को खेलकर करीबन 187 रन तथा दूसरे मैच में जबरदस्त 125 रन बनाए।
  • श्रीलंका के खिलाफ मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद, भारत-A के वेस्ट इंडीज की शुरुआत में, Ruturaj का नाम नहीं लिया गया, लेकिन किस्मत ने साथ ना छोड़ा पृथ्वी शॉट को चोट लगने के कारण उनकी जगह पर इन्होंने मैच खेलना शुरू किया।

ऋतुराज गायकवाड़ की बल्लेबाजी एवं फील्डिंग एवरेज

MatInnsNoRunsHSAveBfSR100504s6sct
घरेलु क्रिकेट21361134912938.54265350.84461611514
लिस्ट- A543322499187*49.00255098.006162635815
T-20s2828384382*33.72623135.3106812813

Ruturaj Gaikwad आईपीएल करियर

वर्ष 2018-19 का घरेलु सत्र ऋतुराज गायकवाड़ के लिए बहुत ही बेहतरीन रहा था। उन्होंने रणजी ट्रॉफी एवं विजय हजारे ट्रॉफी में बहुत ही शानदार प्रदर्शन दिखाया था, इसके पश्चात इन्हें आईपीएल 2019 के लिए चेन्नई सुपर किंग्स द्वारा 20 लाख रूपए के बेस प्राइस में खरीदा गया। हालाँकि, इन्हें सम्पूर्ण टूर्नामेंट में कोई भी मैच खेलने के लिए अवसर नहीं मिल पाया।

लेकिन करीबन दो माह तक इन्होने एमएस धोनी, सुरेश रैना, शेन वॉटसन एवं फाफ डु प्लेसिस जैसे महान खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया। यह अनुभव उनके लिए बहुत प्रेणादायक सीखने वाला था। चूँकि खेलने का मौका नहीं मिला लेकिन इन्होंने हार न मानी। ऋतुराज ने दिन-रात कड़ी मेहनत की और दूसरे सीजन में और भी अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार हो गए।

रिकॉर्ड एवं उपलब्धियां

  • वर्ष 2014-15 में ऋतुराज ने अपने अंडर-19 करियर के दौरान कूचबिहार ट्रॉफी में 6 मैचों में टोटल 826 रन बनाए थे।
  • वर्ष 2017 में महाराष्ट्र की तरफ से विजय हजारे ट्रॉफी में अपने लिस्ट ए के डेब्यू पर हिमाचल प्रदेश के विरुद्ध मैच खेलकर लगभग 110 गेंदों में 132 रन बनाए थे।
  • वर्ष 2016-17 विजय हजारे ट्रॉफी के टूर्नामेंट में ऋतुराज ने सबसे अधिक रन बनाए थे। इन्होंने इन मैचों में कुल 444 रन बनाए थे जिसमें इन्होंने 3 अर्धशतक एवं 1 शतक लगाया था।
  • 2019 में गायकवाड़ ने मांडके ट्रॉफी में चार मैचों में चार शतक बनाए थे।
  • ऋतुराज ने श्रीलंका ए के खिलाफ वर्ष 2019 में 187 रनों का स्कोर बनाया।
  • 2019-20 के दौरान ये सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में दूसरे सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए थे। उस समय इन्होंने 11 मैचों में 419 रन बनाए थे।
  • इंडियन प्रीमियर लीग 2021 में 635 रन बनाकर सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। इसलिए इन्हें फाइनल के अंत में ऑरेंज कैप एवं इमर्जिंग प्लेयर ऑफ़ द ईयर अवार्ड से सम्मानित किया गया था।
  • विजय हजारे ट्रॉफी में ऋतुराज ने 2021-22 में चार शतक लगाए थे तथा एक विजय हजारे ट्रॉफी टूर्नामेंट में विराट कोहली के सर्वाधिक शतक रिकॉर्ड की बराबरी की।
  • वर्ष 2022 में कारनामा विजय हजारे ट्रॉफी क्वॉर्टरफाइनल में महाराष्ट्र की ओर से उत्तर प्रदेश के विरुद्ध मैच खेलकर एक ओवर में 7 छक्कों के साथ 43 रन बनाने वाले विश्व के इकलौते खिलाड़ी बने।

ऋतुराज गायकवाड़ की नेटवर्थ

इनकी कुल सम्पति के जानकारी के बारे में बताए तो, वर्ष 2023 की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय क्रिकेटर ऋतुराज गायकवाड़ की कुल सम्पति करीबन 36 करोड़ रूपए थी। यह वेतन इन्हें आईपीएल, बीसीसीआई तथा विज्ञापन के लिए दिया जाता है। घरेलू फीस के साथ भारत में T20 मैच के लिए 3 लाख रूपए एवं वनडे मैच के लिए 6 लाख रुपए फीस के रूप में कमाते हैं।

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें