संबंधवाचक सर्वनाम – Sambandh Vachak Sarvanam

ऐसे सर्वनाम शब्द जो किसी वस्तु या व्यक्ति के संबंध का बोध कराती है, उन्हें Sambandh Vachak Sarvanam कहते है। कई बार वाक्यों को एक-दूसरे से जोड़ने के लिए इस सर्वनाम का प्रयोग करते है। ऐसा करने से उस वाक्य का सम्पूर्ण भाव, अर्थ स्पष्ट होता है। तो आइये जानते है संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते ... Read more

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

ऐसे सर्वनाम शब्द जो किसी वस्तु या व्यक्ति के संबंध का बोध कराती है, उन्हें Sambandh Vachak Sarvanam कहते है। कई बार वाक्यों को एक-दूसरे से जोड़ने के लिए इस सर्वनाम का प्रयोग करते है। ऐसा करने से उस वाक्य का सम्पूर्ण भाव, अर्थ स्पष्ट होता है। तो आइये जानते है संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते है? उदाहरण सहित समझे। आर्टिकल से जुडी विभिन्न जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे लेख को विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़े।

Sambandh Vachak Sarvanam | संबंधवाचक सर्वनाम
संबंधवाचक सर्वनाम

संबंधवाचक सर्वनाम परिभाषा

ऐसे सर्वनाम शब्द जिनका प्रयोग दो शब्दों को आपस में जोड़ने के लिए प्रयुक्त किया जाता है अर्थात दो सर्वनाम शब्दों के मध्य भाव, अर्थ एवं संबंध प्रकट करने के लिए संबंधवाचक सर्वनाम का उपयोग किया जाता हैं। जैसे: जो- सो, जैसे -वैसे, जिसकी-उसकी, जितना-उतना आदि।

हिंदी व्याकरण में सर्वनाम को समझने के लिए उसे कई भागों में विभक्त किया गया है, उनमें से एक पुरुषवाचक सर्वनाम भी है क्या आप जानते हो पुरुषवाचक सर्वनाम किसे कहते है? और ये कितने प्रकार के होते है।

अयोगवाह किसे कहते हैं - Ayogwah Kise Kahate Hain

अयोगवाह किसे कहते हैं - Ayogwah Kise Kahate Hain

Sambandh Vachak Sarvanam के मुख्य उदाहरण

  • जैसी करनी वैसी भरनी।

दिए गए उदाहरण में जैसी – वैसी शब्दों का प्रयोग करके करनी और भरनी में संबंध का बोध हो रहा है।

  • यह वही लड़का है जो बीमार था।

ऊपर दिए गए उदाहरण में यह और जो का प्रयोग करके लड़के और बीमारी के बीच में सम्बन्ध को दर्शाया गया। इसलिए यह सम्बन्धवाचक सर्वनाम है।

  • जैसे कर्म करोगे वैसा फल पाओगें।

इस वाक्य में जैसा और वैसा शब्द का प्रयोग करके कर्म और फल के बीच संबंध देख रहा है। अतः ये संबंधवाचक सर्वनाम है।

  • जितना काम उतना दाम मिलेगा।

इस वाक्य में जितना -उतना शब्द पुरे वाक्य में से काम – दाम के मध्य संबंध को दर्शा रहे है। जिस वजह से जितना – उतना शब्द संबंधवाचक सर्वनाम के अंतर्गत आएंगे।

Sambandh Vachak Sarvanam के अन्य उदाहरण

  • यह वही लड़की है जिसकी कुछ समय पहले शादी हुई थी।
  • यह वही मोबाइल है जो मुझे चाहिए था।
  • जो बच्चे हमेशा स्कूल आते है वो कभी फेल नहीं होते हैं।
  • जितना खाना चाहिए उतना ही बनाना चाहिए।

Sambandh Vachak Sarvanam से सम्बंधित सवालों के जवाब

संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते है ?

ऐसे सर्वनाम शब्द जिनका प्रयोग वाक्य में कहीं दो शब्दों को जोड़ने के लिए किया जाता है, अर्थात उन शब्दों का प्रयोग होने से किसी वस्तु या व्यक्ति के मध्य संबंध का भाव प्रकट हो, तो उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं।

संबंधवाचक सर्वनाम के अंतर्गत वाक्यों के मध्य संबंध दर्शाने के लिए किन शब्दों का प्रयोग किया जाता है ?

संबंधवाचक सर्वनाम के अंतर्गत वाक्यों के मध्य संबंध दर्शाने के लिए जैसा – वैसा, यह – जो, जितना -उतनी, जो – वो, जिसका -उसका आदि।

Sambandh Vachak Sarvanam के उदाहरण बताइएं ?

यह वहीं गिफ्ट है जो मुझे मेरी माँ ने दिया थे, जिसकी लाठी उसकी भैंस, वह कौन हैं जो उदास बैठा है, जो कर्म करेगा सो फल पायेगा

प्रत्यय की परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Pratyay in Hindi Grammar

प्रत्यय – परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Pratyay in Hindi Grammar

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें