उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना में ऐसे करें पंजीकरण

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

दोस्तों आपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार राज्य की जनता के लिए कई प्रकार की योजनाओं का संचालन करती है जिसके तहत जनता को लाभ प्राप्त हो सके। जनता के हित के लिए हर क्षेत्र में कई प्रकार की योजनाएं लायी जाती है। इस बार भी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना में श्रमिक वर्ग के नागरिकों को शामिल किया जायेगा। सरकार द्वारा यह लक्ष्य रखा गया है की इस योजना में अधिक से अधिक श्रमिक वर्ग में नागरिक आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सके।

दोस्तों आपको भी पता है जो श्रमिक वर्ग के परिवार आते है वे अपनी बीमारी का इलाज करने में असमर्थ होते है जिसके कारण उनको बहुत समस्या का सामना करना पड़ता है और गंभीर बीमारी का इलाज न करवा पाने के कारण उनकी मृत्यु तक हो जाती है। इस समस्या से चिंतित होकर सरकार द्वारा गम्भीर बीमारी सहायता योजना की शुरुवात की गयी है जिसके अंतर्गत मुफ्त में श्रमिक वर्ग के नागरिकों का इलाज करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना पंजीकरण के विषय में आपके साथ पूरी जानकारी को साझा करेंगे।

गम्भीर बीमारी सहायता योजना क्या है?

इस योजना का प्रारम्भ उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा श्रमिक वर्ग के लोग जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होती उनके लिए किया गया है। यदि कोई श्रमिक व्यक्ति गंभीर बीमारी से ग्रसित हो जाता है और वह अपना इलाज कराने निजी अस्पताल जाता है तो उसके पूरे इलाज का खर्चा योजना के तहत सरकार ही उठाएगी। गम्भीर बीमारी सहायता योजना में श्रमिक वर्ग के परिवार को भी शामिल किया जायेगा श्रमिक की पत्नी, उसकी अविवाहित बेटी तथा श्रमिक का 21 वर्ष से काम वर्ष के बेटे को तथा स्वयं श्रमिक यदि इन परिवार के लोगों को या उसे खुद गंभीर बीमारी होती है तो इस योजना के तहत सरकार उनका इलाज स्वयं खुद मुफ्त में कराएगी।

योजना का नामगम्भीर बीमारी सहायता योजना
राज्यउत्तर प्रदेश
शुरुवात की गयीUP मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा
विभागश्रम विभाग (उत्तर प्रदेश)
वर्ष2024
उद्देश्यश्रमिक वर्ग के लोगों को गंभीर बीमारियों के इलाज हेतु आर्थिक मदद करना
लाभार्थीनिर्माण कार्य से जुड़े श्रमिक
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजना
ऑफिसियल वेबसाइटupbocw.in
उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना  ऐसे करें पंजीकरण | UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana
UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana

उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

दोस्तों यदि आप भी उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको सबसे पहले योजना में आवेदन करना होगा। योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे बताई हुई है आप इस प्रक्रिया के स्टेप्स को फॉलो कर सकते है-

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन तथा अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा। UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana apply
  • अब आपके सामने नया होमपेज खुलेगा योजना के अनुभाग पर आवेदन करें का एक ऑप्शन आएगा उस पर क्लिक करे। UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana apply form
  • आपके सामने नया होम पेज खुलकर आ जायेगा यहां पर आपसे कुछ जानकारी मांगे गयी है जैसे- योजना का चुनाव, मंडल का चुनाव, आधार कार्ड संख्या तथा मोबाइल नम्बर आदि आपको इन सब जानकारी को भरना है।
  • अब आपके सामने आवेदन पत्र का एक ऑप्शन आएगा उस पर आपको क्लिक करना है क्लिक करने के तुरंत बाद नया होम पेज खुलेगा वहां पर आवेदन फॉर्म खुलकर आ जायेगा।
  • अब इस आवेदन फॉर्म में आपकी कुछ डिटेल्स पूछी गयी है जैसे- आपका नाम, पता, जिला तथा आयु आदि को ध्यान से भरना है।
  • अब आपको योजना में मांगे गए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजो को ध्यान से अपलोड कर लेना है।
  • महत्वपूर्ण दस्तावेज अपलोड करने के बाद आपको नीचे Submit का ऑप्शन दिखेगा उस पर क्लिक कर दे।
  • इस तरह से आप इस प्रक्रिया को फॉलो करके उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

गम्भीर बीमारी सहायता योजना के उद्देश्य

दोस्तों आपने भी देखा होगा जो गरीब परिवार के लोग होते है यदि वे कोई गंभीर बीमारी के शिकार हो जाते है तो उनके पास उस इलाज को कराने के लिए पैसे नहीं होते है। उनको बहुत दुःख-दर्द का सामना करना पड़ता है जिस कारण बीमारी का दर्द सहन करते-करते उनकी मृत्यु भी हो जाती है परन्तु उत्तर प्रदेश सरकार ने इस विषय पर ध्यान देते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में गम्भीर बीमारी सहायता योजना का प्रारम्भ किया है।

उत्तर प्रदेश राज्य में सभी श्रमिक परिवार के लोग इस योजना के तहत अपना गंभीर बीमारी का इलाज कराकर स्वस्थ रहे और श्रमिक परिवार के लोगों की मृत्यु होने से बचाया जा तथा कोई भी श्रमिक बीमार न रहे इस योजना का यही मुख्य उद्देश्य है। सरकार का यह उद्देश्य है की इस योजना के लाभ से राज्य का कोई भी श्रमिक परिवार वंचित नहीं होना चाहिए सब को योजना का लाभ मिलना चाहिए।

गम्भीर बीमारी सहायता योजना में आने वाली बीमारी

योजना के तहत जिन भी गंभीर बिमारियों का इलाज सरकार द्वारा मुफ्त में कराया जायेगा वो बीमारियाँ नीचे निम्न प्रकार से बताई हुई है इन्ही ही बिमारियों का इलाज मुफ्त में योजना के अंतर्गत किया जायेगा।

  1. मस्तिष्क का ऑपरेशन
  2. एड्स बीमारी
  3. हृदय का ऑपरेशन
  4. रीढ़ की हड्डी का इलाज
  5. कैंसर का इलाज
  6. लीवर ट्रांसप्लांट
  7. किडनी ट्रांसप्लांट
  8. पैर की घुटनों की चेंज करना

उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना के लाभ

यदि आप उत्तर प्रदेश गम्भीर बीमारी सहायता योजना में आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते है तो सबसे पहले आपको योजना के लाभ क्या है उनकी जानकारी पता होनी चाहिए। योजना के लाभ नीचे निम्न प्रकार से बताये हुए है-

यह भी देखेंयूपी बोर्ड टाइम टेबल 2023 (UP Board Time Table 2023) : हाईस्कूल और इंटर परीक्षा डेट शीट

यूपी बोर्ड टाइम टेबल 2023 (UP Board Time Table 2023) : हाईस्कूल और इंटर परीक्षा डेट शीट

  • श्रमिक परिवार के लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए Gambhir Bimari Sahayata Yojana का प्रारम्भ UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया गया है।
  • योजना के तहत श्रमिकों का मुफ्त में इलाज भारत सरकार द्वारा राज्य में जिन भी हॉस्पिटलों की राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना की मान्यता प्राप्त होगी उन हॉस्पिटलों में इलाज कराया जायेगा तथा श्रमिक के परिवार को एक भी रुपए देने की जरूरत नहीं है।
  • श्रमिकों को गंभीर इलाज में लगने वाली खर्च राशि के भुगतान के टेंशन से अब राहत प्राप्त होगी।
  • श्रमिकों को गंभीर इलाज के लिए राशि को उधार लेने की जरुरत नहीं है।
  • यदि कोई श्रमिक अपने परिवार के सदस्यों का गंभीर इलाज राज्य के किसी भी सरकारी हॉस्पिटल या फिर राज्य के किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल में कराता है तो उस बीमारी के इलाज में लगने वाले खर्च को योजना के तहत सरकार द्वारा ही चुकाया जायेगा।
  • योजना के अंतर्गत जो भी खर्च बीमारी के इलाज के में लगेगा सरकार द्वारा उस खर्च के भुगतान में कोई भी अधिकतम सीमा को निर्धारित नहीं किया गया है।

UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana के लिए पात्रता

यदि आप इस योजना में रजिस्ट्रेशन कर लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको योजना में बताई गयी पात्रता की जानकारी पता होनी चाहिए। योजना की पात्रता निम्न प्रकार से है-

  • योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक का उत्तर प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है।
  • योजना में श्रमिक लोगों को ही शामिल किया गया है मतलब सरकार द्वारा उन्हीं के लिए राज्य में योजना का संचालन किया गया है।
  • भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में आवेदक श्रमिक है ये पंजीकृत होना चाहिए।
  • इस योजना में आर्थिक रूप से कमजोर श्रमिक के परिवार वाले ही आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • योजना में आवेदन करने वाला निर्माण कार्य करने वाला एक श्रमिक होना चाहिए।
  • योजना के तहत उन श्रमिकों को लाभ मिलेगा जो प्रधान मंत्री जन-आरोग्य योजना तथा मुख्यमंत्री जन-आरोग्य योजना में हित लाभ के पात्र नहीं हुए।
  • योजना में जो गंभीर बीमारी बताई गयी यदि श्रमिक को या इसके परिवार के सदस्य को वही बीमारी होती है तो योजना के तहत उस ही बीमारी का इलाज किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत केवल श्रमिक को ही इस योजना का लाभ प्राप्त होगा बल्कि उसके परिवार के सदस्य उसकी पत्नी, उसकी अविवाहित बेटी तथा 21 वर्ष से कम आयु का पुत्र आदि इन सभी को भी योजना का लाभ प्राप्त होगा।

UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana के लिए दस्तावेज

दोस्तों यदि आप इस योजना में आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको आवेदन करना होगा जब आप आवेदन करोगे तो आपको योजना के तहत कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी जो आपके पास होने आवश्यक है। आपको नीचे बताये गए महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जानकारी को जानना जरूरी है।

  • पहचान प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी
  • निर्धारित प्रारूप एक पर दिया गया प्रमाण पत्र
  • निर्धारित प्रारूप दो पर दिया गया प्रमाण पत्र होना जरूरी है जो गंभीर बीमारी के इलाज में डॉक्टर या हॉस्पिटल द्वारा आवेदक को दिया जाता है।
  • डॉक्टर या अस्पताल द्वारा प्रमाणित हो रखी दवाइयों की मूल प्रति जो इलाज में इस्तेमाल हो रही हो।
  • आवेदन करने के लिए निर्धारित प्रमाण पत्र में 2 प्रतियों होनी चाहिए जिसमें आवेदन को प्रस्तुत करना जरूरी होगा।
  • यदि श्रमिक की अविवाहित बेटी और 21 वर्ष से कम आयु का बेटा किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और योजना के तहत इलाज कराना चाहते है तो इसके लिए श्रमिक को अविवाहित आश्रित होने का प्रमाण पत्र लाना होगा जिसको देख के ही बेटी का इलाज किया जायेगा।

UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

गम्भीर बीमारी सहायता योजना क्या है?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

गम्भीर बीमारी सहायता योजना की शुरुवात उत्तर प्रदेश में की गयी है। इस योजना में श्रमिक तथा उनके परिवार के ससस्यों को शामिल किया गया है।

गम्भीर बीमारी सहायता योजना की शुरुवात किसने की है?

Gambhir Bimari Sahayata Yojana की शुरुवात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा की गयी है।

UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana का क्या उद्देश्य है?

श्रमिक वर्ग के लोगो को गंभीर बिमारियों के इलाज हेतु आर्थिक मदद करना UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana का यही उद्देश्य है।

UP Gambhir Bimari Sahayata Yojana के दो लाभ बताईये?

1. योजना के अंतर्गत जो भी खर्च बीमारी के इलाज के में लगेगा सरकार द्वारा उस खर्च के भुगतान में कोई भी अधिकतम सीमा को निर्धारित नहीं किया गया है।
2. श्रमिकों को गंभीर इलाज में लगने वाली खर्च राशि के भुगतान के टेंशन से अब राहत प्राप्त होगी।

यह भी देखेंयूपी-टीजीटी-एडमिट-कार्ड

यूपी टीजीटी एडमिट कार्ड: UP TGT Admit Card Date

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें