छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना: ऑनलाइन आवेदन (CG Godhan Nyay) लाभ व पात्रता

Share on:

गोधन न्याय योजना को छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा जारी किया गया है, Godhan Nyay Yojana के तहत राज्य में पशुपालक का कार्य करने वाले लोगो को लाभ प्रदान किया जायेगा। यह योजना मुख्य रूप से गाय पालने वाले लोगो के लिए शुरू की गयी है। पशुपालक किसानों की आय के स्तर को ऊँचा करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा किसानों से गोबर की खरीद की जाएगी। CG Godhan Nyay Yojana को पशुओं की देखभाल और किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए जारी की गयी है। राज्य में किसानों को प्रतिकिलो गोबर की खरीद पर 2 रुपये का लाभ प्राप्त होगा। राज्य सरकार ने सड़कों और शहरों को आवारा पशुओं से बचाने और पर्यावरण की रक्षा के लिए छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना शुरू किया है

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना - CG Godhan Nyay
छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना – CG Godhan Nyay

CG Godhan Nyay Yojana Online Apply

CG Godhan Nyay Yojana-: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा गौपालको के लिए एक अति महत्वपूर्ण योजना को जारी की गयी है। इस योजना के तहत राज्य में रोजगार के साधन में वृद्धि होगी अधिक से अधिक किसान गाय पालने के लिए प्रेरित होंगे। जिससे उन्हें कई सारे लाभ प्राप्त होंगे। गाय पालने से राज्य में दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में वृद्धि होगी। गोबर से अधिक से अधिक कम्पोस्ट खाद को अर्जित किया जायेगा जिससे किसानों को अच्छी फसल की प्राप्ति होगी। किसानों के हित में छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना रोजगार के रूप में उभर कर आयी है। राज्य में सहकारी समितियों के द्वारा गोबर वर्मी कम्पोस्ट खाद को विक्रय किया जायेगा। सभी किसानों को इस योजना का लाभ लेने के लिए योजना में आवेदन करना होगा। आवेदन करने के पश्चात ही पशुपालक किसान योजना का पूर्ण लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2021

योजना का नामChhattisgarh Godhan Nyay Yojana
योजना जारी की गयीछत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा
लाभार्थीराज्य के गौपालक किसान
आवेदन की प्रक्रिया
उद्देश्यकिसानों के आय के स्तर में वृद्धि करना
लाभरोजगार और आय के अतिरिक्त साधन
श्रेणीछत्तीसगढ़ सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.cgstate.gov.in
गोधन-न्याय-योजना

गोधन न्याय योजना के लिए चयनित पंचायत

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा CG गोधन न्याय योजना के लिए राज्य में विभिन्न ग्राम पंचायतों का चयन किया गया। जिसका समस्त विवरण नीचे दिया गया है।

जनपद पंचायत दुर्ग के ग्राम पंचायतपंचायत पाटन के ग्राम पंचायत जनपद पंचायत धमधा के ग्राम पंचायत
मचांदुर, ढाबा, आलबरस, अण्डा, चंदखुरी, रिसामा, पुरई, निकुम, ननकठ्ठी, बोड़ेगांव।ढौर, बोरवाय, किकिरमेटा, धौराभाठा, तेलीगुण्डरा, पाहंदा (अ), मर्रा आमालोरी गुढीयारी, कापसीडूमर मुरमुंदा, अहेरी, सेमरिया (गि), पेण्ड्री (कु) चीचा, पोटिया (से) बरहापुर, भाठा कोकड़ी, बिरोदा

CG Godhan Nyay Yojana New update

छत्तीसगढ़ राज्य में सरकार के द्वारा उन सभी पशुपालकों की गोबर की खरीद को शुरू कर लिया गया है जो CG Godhan Nyay Yojana में पंजीकृत हो चुके है। 65 हजार 694 पशुपालकों के द्वारा योजना में रजिस्ट्रेशन किया गया है। जिसमे से 46 हजार 764 पशुपालकों से 82 हजार 711 क्विंटल गोबर की खरीद की गयी है। राज्य सरकार के द्वारा पशुपालक किसानों से ख़रीदे गए गोबर की राशि को लाभार्थी किसान को सहकारी बैंक के माध्यम से सीधे डीबीटी के माध्यम से किसान के बैंक खाते में ट्रांसफर किया जायेगा। राज्य के किसानों के द्वारा अभी तक CG Godhan Nyay Yojana के माध्यम से 1 करोड़ 65 लाख रूपए का गोबर विक्रय किया गया है।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का उद्देश्य

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का मुख्य उद्देश्य है पशुओं और किसान दोनों को लाभ पहुंचना। जैसे की आप सभी लोगो को पता है की आज के समय में बहुत से लोग गाय की देखभाल तब तक करते है जब तक वह दूध देती है। मनुष्य की पूर्ति पूर्ण हो जाने के बाद वह पशुओं को जंगल या इधर उधर छोड़ देते है,इंसान अपने फायदे के लिए पशुओं की हत्या भी कर लेता है। सरकार के द्वारा इन्हीं सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए पशुओं और किसानों दोनों के हित के लिए Chhattisgarh Godhan Nyay Yojana को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसान भी अपनी आय के स्तर में वृद्धि कर पाएंगे। जिससे वह अपने परिवार और अपना भरण-पोषण को सरलता से उपलब्ध कर पाएंगे। छत्तीसगढ़ राज्य के ग्रामीण इलाकों में इस योजना के तहत रोजगार के साधनो में वृद्धि होगी।

राज्य में गाय को एक नया जीवन प्रदान करने एक लिए यह योजना शुरू की गयी है इस योजना के अंतर्गत सभी गौ पालक अपने पशुओं का विशेष ध्यान रखेंगे एवं पशुओं के गोबर से एक बेहतर आमदनी को प्राप्त कर पाएंगे, पशुपालकों के जनजीवन के स्तर में भी इस योजना के अंतर्गत सुधार किया जायेगा। एवं कृषि व्यवसाय के क्षेत्र में भी कम्पोस्ट खाद के तहत एक अच्छी पैदावार की जा सकती है।

Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana के लाभ

  • CG Godhan Nyay Yojana के माध्यम से पशुओं पर हो रहें अत्याचार में कमी आएगी उन्हें योजना के तहत पूर्ण रूप से चारे की व्यस्था उपलब्ध कराई जाएगी।
  • सभी किसानों की आमदनी में योजना के तहत वृद्धि की जाएगी जिससे उनकी आर्थिक स्तिथि में सुधार हो पायेगा।
  • छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के माध्यम से पशुपालन के क्षेत्र में वृद्धि होगी। और गौमाता को सम्मान मिलेगा।
  • गाय के गोबर से वर्मी कम्पोस्ट खाद बनायीं जाएगी जिससे खेतों को अच्छी उर्वरक मिलेगी और किसानों को एक अच्छी फसल की प्राप्ति होगी।
  • जिससे राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • यह योजना राज्य के नागरिकों के लिए स्वरोजगार शुरू करने के लिए एक विशेष पहल है।
  • छत्तीसगढ़ राज्य देश का वह पहला राज्य है जिसके अंतर्गत किसानों को लाभ पहुंचाने एवं पशुओं की देखभाल करने के लिए गोबर खरीदने वाली योजना को शुरू किया गया है।
  • राज्य के लोगो द्वारा धीरे-धीरे पशुपालन के व्यवसाय में जागरूकता बढ़ेगी।
  • CG Godhan Nyay के माध्यम से प्रदेश स्वच्छ एवं साफ़ रखा जायेगा।
  • दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में CG Godhan Nyay Yojana के माध्यम से वृद्धि होगी।
  • राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के क्षेत्र में विकास होगा जिससे लोगो को रोजगार की तलाश में कहीं अन्य शहरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ के मुख्य तथ्य

  • गोधन न्याय योजना में 2240 गोशालाओं को शामिल किया जायेगा जिसमें कुछ समय के बाद 28 सौ गठनो का निर्माण किया जायेगा। जिसमे गोबर का विक्रय किया जायेगा।
  • CG Godhan Nyay Yojana में गांव के साथ शहरी क्षेत्रों को भी शामिल किया जायेगा।
  • छत्तीसगढ़ राज्य में 20 हजार से भी अधिक गांव और शहरों को सम्मिलित किया जायेगा।
  • 21 जुलाई 2020 को CG Godhan Nyay Yojana से गोबर खरीदने की शुरुआत की गयी।
  • गांवों में पशुधन के संरक्षण और संवर्धन के लिए गोवर्धन का निर्माण किया गया है।
  • गौपालकों से छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत 2 रूपए प्रति किलो की दर से गोबर ख़रीदा जायेगा।
  • गौवंशों को ग्रामीणों के लिए आजीविका केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है।
  • राज्य सरकार द्वारा खाद बनाने के लिए खाद खरीदने के लिए गोबर का उपयोग किया जाएगा।
गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ पात्रता मानदंड
  • छत्तीसगढ़ राज्य के स्थायी निवासी जो पशुपालन का कार्य करते है वह CG Godhan Nyay Yojana के लिए पात्र होंगे।
  • योजना में आवेदन के अंतर्गत पशुपालको को पशुओं की संख्या दर्ज करवानी आवश्यक है।
  • राज्य में जो बड़े जमींदार और व्यापारी है और वह धनवान है तो उन्हें गोधन न्याय योजना का कोई लाभ नहीं दिया जायेगा।
  • आधार कार्ड के माध्यम से पशुपालक किसान Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana का लाभ लेने के लिए पात्र होगा।
CG गोधन न्याय योजना आवश्यक दस्तावेज
  • आवेदक पशुपालक का आधार कार्ड
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • पशुपालक किसान का बैंक खाता विवरण
  • वोटर आईडी कार्ड
  • परिवार की वार्षिक आय का प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर ,पासपोर्ट साइज फोटो

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन 

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा अभी हाल ही में इस योजना को शुरू किया गया है जिसके लिए सरकार के तहत छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना को ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करने के लिए Chhattisgarh Godhan Nyay Yojana Application Form जारी नहीं किया गया है। बहुत जल्द सरकार के द्वारा पशुपालक किसानों के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को शुरू किया जायेगा। जैसे ही सरकार के द्वारा ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नोटिफिकेशन या पोर्टल जारी किया जायेगा आपको हमारी इस वेबसाइट के माध्यम से सूचित किया जायेगा। CG Godhan Nyay Yojana Online Registration से संबंधी प्रक्रिया को पूर्ण करने के लिए आप हमारी वेबसाइट को समय-समय-पर चेक करते रहें।

गोधन न्याय योजना से सम्बंधित प्रश्न और उनके उत्तर

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के माध्यम से राज्य में पशुपालक किसानों और पशुओं को क्या लाभ प्राप्त होगा ?

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के माध्यम से राज्य में गौ पालन को बढ़ावा देने के साथ-साथ उनकी रक्षा करना है और उनके माध्यम से पशुपालकों को आर्थिक रूप से लाभान्वित करना है।

पशुपालक किसानों के गोबर को Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana के माध्यम से किलो के हिसाब से कितना दाम दिया जायेगा ?

Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana के माध्यम से पशुपालक किसानों को गोबर का दाम 2 रूपए प्रतिकिलो के हिसाब से दिया जायेगा।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के लोगो को क्या लाभ प्राप्त होगा ?

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे जिससे अर्थव्यस्था को और मजबूत किया जायेगा।

Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana में राज्य के कितने गांव और शहरों को शामिल किया जायेगा ?

20 हजार से भी अधिक गांव और शहरी क्षेत्रों को Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana में शामिल किया जायेगा।

क्या गोधन न्याय योजना के अंतर्गत पशुओं की देखभाल की जाएगी ?

हाँ इस योजना के अंतर्गत राज्य में आवारा पशुओं के लिए यह योजना राज्य सरकार के द्वारा जारी की गयी जिसमे उनके गोबर के दाम को सरकार के द्वारा नागरिकों को प्रदान किया जायेगा।

Leave a Comment