इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना 2021 IGP Training & Skill Scheme Online Registration

Share on:

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना- जैसे की आप सब जानते ही है सरकार द्वारा राज्य के लोगो को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार नई -नई योजनाओं की शुरुआत करती है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अन्तर्गत्त 75000 लड़कियों और महिलाओं को लाभ मिलेगा। महिलाओं और लड़कियों को निशुल्क कम्प्यूटर की ट्रेनिंग दी जाएगी और साथ ही रोजगार के साधन भी उपलब्ध कराये जायेंगे। मुख्यमंत्री जी ने योजना की घोषणा करते समय कहा की इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना में हिंसा महिलाओं और दुष्कर्म पीड़िताओं और विधवाओं को को भी इस योजना में प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही कुल सीटों में से 18% सीटें अनुसूचित जाति और 14% अनुसूचित जनजाति की महिलाओं के लिए आरक्षित रहती हैं।

RSCIT-Course-for-Female-2020

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना 2021

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत 1000 करोड़ रूपये आवंटित किये गए है। इस योजना के जरिये महिलाये सम्मानपूर्वक जीवन जीने में मदद करेगी। राज्य में कांग्रेस सरकार के 1 वर्ष गांठ पुरे होने पर योजना को लॉन्च किया गया। 18 दिसम्बर 2019 महिला शक्ति योजना की शुरुआत की गयी। इस योजना में महिलाओं के प्रति जागरूकता होगी। और साथ ही लड़कियां सशक्त और आत्मनिर्भर बनेगी। इस योजना के लाभार्थी वे होंगे जो आर्थिक रूप से कमजोर है, और साथ ही कम्प्यूटर कोर्स करने के बाद लडकियां और महिलाएं अपने लिए रोजगार भी देख सकती है। आज हम इस योजना से जुडी सारी जानकारी आपसे साझा करेंगे जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

IGP Training & Skill Scheme 2021 Highlights

उम्मीदवार ध्यान दें यहाँ हम आपको इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना जुडी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहें है जिनके विषय में आप नीचे दी गयी सारणी में उपलब्ध जानकारी को पढ़कर जान सकते है। ये सारणी निम्न प्रकार है

योजना का नाम इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण
व कौशल संवर्धन योजना
राज्यराजस्थान
लांच की तारीख18 दिसम्बर 2019
किसके द्वारा लांच की गयीमुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
कुल बजट1000 करोड़
लाभार्थीराज्य की गरीब महिलाएं
आवेदन मोड़ऑनलाइन
आवेदन लिंकयहां क्लिक करें
आधिकारिक वेबसाइटhttps://myrkcl.com

सीएम इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के उद्देश्य –

जैसे की आप सब जानते ही है की हमारे देश में कई ऐसे महिलायें और लड़कियां है जो पढ़ना चाहती है लेकिन उनकी घर की स्थिति इतनी अच्छी नहीं होती की वे कम्प्यूटर कोर्स कर सके। और जैसे की आपको पता ही है आधुनिकीकरण के समय में हमे कम्प्यूटर का ज्ञान होना अति आवश्यक है अगर हम कहीं भी नौकरी के लिए जाते है तो हमसे सबसे पहले कम्प्यूटर के बारे में ही पूछा जाता है इसलिए कम्प्यूटर आना चाहिए। ऐसे में यदि राज्य की लड़कियां या महिलाएं कही नौकरी पाने के लिए जाती है तो उनके पास कम्प्यूटर का कोई ज्ञान नहीं होता जिस वजह से वे नौकरी भी नहीं कर पाते।

इसी समस्या को देखते हुए राजस्थान सरकार ने इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना को लांच किया जिसमे उन सब लड़कियों महिलाओं को फ्री में कम्प्यूटर कोर्स कराया जायेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर है और कम्प्यूटर कोर्स करके किसी जगह नौकरी कर सके अपनी और अपने परिवार की आर्थिक स्थिति में भी सुधार कर सकती है। इससे देश में हो रहे लड़का और लड़की में होने वाले भेद-भाव को भी कम किया जा सकता है और साथ ही महिलाओं पर हो रहे अत्याचार पर भी रोकथाम हो सकती है।

मुख्यमंत्री इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना कोर्स लिस्ट –

मुख्यमंत्री इंदिरा गाँधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत जो भी कोर्स पढ़ाये जायेंगे उनके बारे में हम आपको नीचे बता रहे है।

  • आरएसएसीटी कोर्स – इस कोर्स के माध्यम से लड़कियो को बेसिक कम्प्यूटर सिखाया जायेगा बेसिक कम्प्यूटर जिसमे कम्प्यूटर को ऑन -ऑफ़ करना और जैसे छोटे-छोटे कार्य कम्प्यूटर के द्वारा कैसे किये जाते है। माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल कैसे इस्तेमाल करते है। जिसमे लड़कियों का दसवीं पास होना जरुरी है। इस कम्प्यूटर कोर्स की अवधि 3 महीने रखी गयी है।
  • वित्तीय लेखांकन प्रशिक्षण – इस कोर्स में राजस्थान की 5 हजार लड़कियों को वित्तीय लेखांकन प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। जिसमे कम्प्यूटर संबंधित वित्तीय गणना के बारे में बताया जायेगा। इस कोर्स को करने के बाद लडकियां लेन -देन संबंधी कार्य ऑनलाइन कर सकते है और इस कोर्स को करके अच्छी नौकरी पा सकते है। लेकिन इसके लिए लड़कियों का 12 वीं पास होना जरुरी है।

निशुल्क कम्प्यूटर ट्रेनिंग योजना का लाभ –

नीचे दी गयी जानकारी के माध्यम से हम आपको योजना के लाभों के विषय में बताने जा रहें है। इसके लाभ निम्न प्रकार है –

  • IGP प्रशिक्षण योजना के अंतर्गत राज्य की सभी महिलाओं को लाभ मिलेगा।
  • राजस्थान की जो महिलाएं और बालिकाएं अपनी घर की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कम्प्यूटर कोर्स नहीं कर पाती है वे आसानी से अब इस योजना का लाभ लेकर आप फ्री में कम्प्यूटर कोर्स कर सकते है।
  • जो भी खर्चा आएगा वो राजस्थान सरकार द्वारा दिया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ सिर्फ राजस्थान की लड़कियां और महिलाएं ले सकती है। इसके लिए पुरुष पात्र नहीं होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य की महिलाएं आत्मनिर्भर और सशक्त बनेगी। और कम्प्यूटर कोर्स पूरा होने के बाद लड़कियों को सर्टिफिकेट भी दिया जायेगा।
  • जो भी विधवा महिलाएं है या दुष्कर्मी पीड़िताएं होंगी उन्हें इस योजना से समर्थन प्राप्त होगा और साथ ही उन्हें कोर्स के लिए प्रथम प्राथमिकता दी जाएगी। और साथ ही इन महिलाओं के पुनर्वास के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाये जायेंगे।
  • और उम्मीदवार महिला की आयु 16 से 40 वर्ष तक अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत ऐसी बालिकाओं को रखा गया है जिन्हे शिक्षा का अधिकार प्राप्त नहीं होता, उन्हें शिक्षा के प्रति जागरूक करना है।
  • IGP प्रशिक्षण योजना में आवेदन करने के लिए आपको कहीं बाहर यानि कार्यालयों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है।
  • योजना में आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं जिससे आपके समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

आवश्यक दस्तावेज

सीएम इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों को कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता भी होती है उन सभी दस्तावेजों की सूची लेख में नीचे दी जा रही है।

  1. Free RSCIT Course 2021 के लिए आवेदन करने के लिए आपको आयु प्रमाणपत्र के लिए दसवीं का सर्टिफिकेट लगाना होगा।
  2. न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता के लिए 12th के सर्टिफिकेट या इससे उच्च्चतम योग्यता के प्रमाणपत्र।
  3. विधवा महिला को पति की मृत्यु का दस्तावेज लगाना होगा।
  4. हिंसा से पीड़ित महिला को पुलिस रिपोर्ट की कॉपी लगानी होगी।
  5. अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से सम्बंधित महिलाओं को जाति प्रमाण पत्र लगाना होगा।
  6. आधार कार्ड
  7. पैन कार्ड
  8. निवास प्रमाण पत्र
  9. मोबाइल नंबर
  10. तलाक प्रमाण पत्र
  11. बैंक अकाउंट का विवरण

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन ऐसे करे ?

राजस्थान के जो भी इच्छुक उम्मीदवार इस योजना का लाभ लेना चाहते है आज हम उनको बताएंगे की वे किस प्रकार इस योजना में कैसे ऑनलाइन आवेदन कैसे करे हम आपको आवेदन की पूरी प्रक्रिया बता रहे है आप हमारे दिए हुए स्टेप्स फॉलो कर सकते है –

  • सबसे पहले आवेदनकर्ता महिला एवं बाल विकास की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए। जिसका यूआरएल आप नीचे दिए गए चित्र में देख सकते है।
RAJSTHAN-INDRA-GANDHI-YOJNA
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक होम पेज खुल जायेगा।
RAJSTHAN-INDRA-GANDHI-YOJNA-ONLINE
  • आपको होम पेज पर दिए गए निर्धारित स्थान पर अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा उसके बाद आपको नीचे कैप्चा कोड दिया होगा आपको कैप्चा कोड दर्ज करना होगा उसके बाद सेंड ओटीपी पर क्लिक कर दे।
  • उसके बाद आपके द्वारा रजिस्टर नंबर पर 6 अंको का ओटीपी आजायेगा आपको ओटीपी दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको अपने जिले का चयन करना होगा, तहसील का चयन करे।
  • फिर आपको अपनी प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध ज्ञान आईटी का चयन करना होगा। द्वितीय प्राथमिकता में भी आपको आईटी का चयन करना होगा।
  • उसके बाद 10th के सर्टिफिकेट में जैसा आपका नाम, आपके पिता का नाम और माता का नाम दर्ज है वैसे ही आपको नाम दर्ज करना होगा। उसके बाद सर्टिफिकेट में दर्ज आपको जन्मतिथि भी निर्धारित करनी होगी।
  • इसके बाद आपको मेट्रियल स्टेटस पर क्लिक करना होगा यदि आप विधवा, तलाक सुधा या आपके पति ने आपको छोड़ दिया है तो आपको उसी के दस्तावेज भी लगाने होंगे। उसके बाद आपको आगे की जानकारी भी ऐसे ही दर्ज करनी होगी उसके बाद आपका आवेदन पूर्ण हो जायेगा।

लाभार्थियों का चयन होने की प्रक्रिया

विभाग के पास निर्धारित लक्ष्यों से अधिक आवेदन पहुंचने पर निम्न वरीयता से लाभार्थियों का चयन किया जाता है। इस प्रकिया में हम आपको बताएंगे की योजना में प्राथमिकता किन-किन महिलाओं को दी जाती है यदि आप भी इस जानकारी को जानना चाहते हैं तो इसे ध्यान से पढ़े।

  1. सर्वप्रथम विधवा या तलाक सुधा महिलाओँ को इस योजना में प्राथमिकता दी जाती है।
  2. इसके बाद हिंसा से पीड़ित महिलाओं का योजना के तहत चयन किया जायेगा।
  3. योजना में इसके बाद 10 वीं पास महिलाओं का चयन किया जायेगा।
  4. इसके बाद स्नातक उत्तीर्ण आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का चयन।
  5. ऐसे लाभार्थी जिन्होंने राजकीय विद्यालय से 10 वीं पास किया है और अब स्नातक है।
  6. ऐसे लाभार्थी जिनकी आयु 25 वर्ष या इससे अधिक हैऔर राजकीय विद्यालय से 10 वीं पास किया है।
  7. सभी स्नातक महिलाएं आदि।
  8. निर्धारित सीटों में से 18% सीटों पर अनुसूचित जाति एवं 14% सीटों पर अनुसूचित जन जाति वाले वर्ग महिलाओं का चयन किया जायेगा।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना से संबंधित प्रश्न और उनके उत्तर

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना किस राज्य ने लांच की है ?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना राजस्थान सरकार द्वारा लांच की है इस योजना की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा शुरू की गयी है।

इस योजना के लिए कौन-कौन पात्र होंगे ?

इस योजना के लिए पात्र आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की लड़किया, महिलाये, दुष्कर्म पीड़िताएं, और विधवाएं इस योजना के पात्र होंगे।

मुख्यमंत्री इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना में आवेदन के लिए कौन सा मोड़ किया गया है ?

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा ऑनलाइन मोड़ मे आवेदन रखा गया है। और सरकार द्वारा इसके लिए ऑफिसियल वेबसाइट जारी की है।

इस योजना के अंतर्गत कितनी लड़कियों महिलाओं को योजना का लाभ मिलेगा ?

इस योजना के अंतर्गत राज्य की 75000 लड़कियों को लाभ प्राप्त होगा।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण योजना को लांच करने का उद्देश्य क्या है ?

राज्य में बहुत सारी लड़कियां ऐसे होती है जो कम्प्यूटर कोर्स करना चाहती है लेकिन उनकी घर की परिस्थिति ऐसी होती है की वे कोर्स नहीं कर पाती ,इसी समस्या को देखते हुए सरकार ने इन लड़कियों को निशुल्क कम्प्यूटर ट्रेनिंग देने की घोषणा की।

योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों को कौन-कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों को मोबाइल नंबर, आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, तलाक प्रमाण पत्र, बैंक अकाउंट का विवरण, पैन कार्ड आदि दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण योजना के लिए कौन सी आधिकारिक वेबसाइट लांच की है ?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण योजना के लिए https://myrkcl.com आधिकारिक वेबसाइट लांच की है।

इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण योजना में हमने आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया आपसे साझा की है आप आर्टिकल को दोहरा कर स्टेप्स को फॉलो कर सकते है।

IGP प्रशिक्षण योजना के अंतर्गत कितने समय तक का प्रशिक्षण दिया जाता है ?

IGP प्रशिक्षण योजना राजस्थान के अंतर्गत 3 माह तक की ट्रेनिंग दी जाती है।

हेल्पलाइन नंबर

तो जैसे की आज हमने आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से बताया की आप कैसे Free RSCIT Course For Female 2021 योजना का लाभ ले सकते है यदि आपको इस योजना से जुडी कोई भी समस्या है या कोई भी जानकारी चाहिए तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में मेसेज कर सकते है।

Leave a Comment