पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश – Madhya Pradesh Kusum Yojana Application Form

Photo of author

Reported by Pankaj Bhatt

Published on

पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश के किसानों की आय को दुगना करने के लिए योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना का उद्देश्य किसानो को ऊर्जा संयंत्रों को स्थापित करके अतिरिक्त आय प्राप्त कराना है। 22 जुलाई 2019 को योजना की घोषणा की गयी थी।

कुसुम योजना को चलाने के लिए मध्य प्रदेश ऊर्जा निगम लिमिटेड एजेंसी को काम सौंपा गया है। सरकार द्वारा इसके लिए कुछ दिशा-निर्देश तैयार किये गए हैं जिसके अनुसार ही आप आवेदन कर सकते हैं। यदि आप सभी पात्रताओं को सुनिश्चित करते हैं तो आप योजना का लाभ ले पाएंगे।

पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश - Madhya Pradesh Kusum Yojana Application Form
पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश

पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश के अंतर्गत 500 किलोवाट के 2 मेगावाट बिजली बनाने तक के लिए सौर यंत्र लगाए जाएंगे। किसान सौर यंत्र के माध्यम से बिजली उत्पादित करेंगे तो वे अतिरिक्त बची हुयी बिजली को सरकार और गैर सरकारी बिजली उत्पादित कंपनियों को बेच सकते हैं। जिससे की उनके पास हर महीने आय के साधन उपलब्ध होंगे।

पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश 2023

पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत मध्य प्रदेश के जो किसान आवेदन करना चाहते हैं वे इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने के लिए आपको पहले 5000 रूपये का शुल्क देना होगा। योजना का तीन भागों में विभाजित किया गया है जिसमें सरकार द्वारा किसानो की सहायता की जाएगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

Madhya Pradesh Kusum Yojana का कुल 60 प्रतिशत की सब्सिडी सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी इसके साथ ही 30 % आपको लोन के रूप में दिया जायेगा। योजना के लिए कुल 10 प्रतिशत उम्मीदवार को स्वयं ही देना होगा।

PM KUSUM YOJANA देश के सभी राज्यों में लागू की जा रही है। आज हम अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको आवेदन की पूरी जानकारी देंगे। Kusum Yojana Application Form कैसे भरना है यह भी नीचे बताया जा रहा है। योजना से जुडी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना 2023: एमपी नया सवेरा कार्ड, Sambal Yojana

मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना 2023: एमपी नया सवेरा कार्ड, Sambal Yojana

Kusum Yojana Apply Online 2023 Highlights

योजना का नाम पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश
विभागमध्य प्रदेश ऊर्जा निगम लिमिटेड
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन की अंतिम तिथिअभी फिलहाल कुछ समय के लिए नवीन आवेदन स्वीकार नहीं किये जा रहे हैं
उद्देश्यकिसानों को अतिरिक्त आय प्रदान करना
आवेदन मोड़ऑनलाइन
पंजीकरण शुल्कमात्र 5000 रूपये
आधिकारिक वेबसाइट मध्यप्रदेश उर्जा विकास निगम

एमपी प्रधानमंत्री कुसुम योजना की विशेषताएं

  • सोलर पम्प का प्रयोग सिंचाई के लिए किया जाएगा। इसको आप किसी को बेच नहीं सकते या इसमें किसी अन्य का हस्तांतरण नहीं किया जायेगा।
  • यदि किसान के पास सिंचाई के लिए पहले से ही कोई स्थायी स्रोत है तो सोलर पम्प का उपयोग अपनी आवश्यकता के अनुसार ही करना होगा।
  • योग्यता पात्रता के अनुसार विभाग द्वारा सहमति प्रदान करने के बाद ही आप आप सोलर यंत्र लगा सकते हैं।
  • आपको आवेदन के समय ही राशि का भुगतान करना होगा।
  • जब आपको सौर यंत्रो की आवश्यकता होगी तभी आप इनका उपयोग करेंगे। और इन यंत्र की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसान की होगी। इसमें सरकार द्वारा कोई भी जिममेदारी नहीं ली जाएगी।
  • सोलर पम्प को लगाने के बाद यदि यंत्रो में किसी भी प्रकार की समस्या आती है उसमें सरकार या विभाग की कोई जिम्मेदारी नहीं बनेगी।
  • यदि एक बार ऊर्जा यंत्र लगा दिए जायेंगे तो उन्हें एक जगह से दूसरी जगह हस्तांतरित नहीं कर सकते।
  • सोलर प्लेट लगाने के लिए धूप वाला स्थान उपलब्ध कराने की सारी जिम्मेदारी आवेदक किसान की होगी।
  • सोलर प्लेट लगाने के बाद यदि उम्मीदवार किसान अपना मोबाइल नंबर बदलता है तो उन्हें इसकी जानकारी मध्य प्रदेश के ऊर्जा विभाग में देना आवश्यक होगा और अपना नया मोबाइल नंबर कार्यालय में दर्ज कराना होगा।
  • पैनल के साफ़-सफाई की जिम्मेदारी उम्मीदवार की ही होगी।
  • योजना में राशि प्राप्त होने के बाद 120 दिन बाद किसानों के खेत में सोलर प्लांट लगाए जाएंगे।

कुसुम योजना के कॉम्पोनेंट्स

  • सौर पंप वितरण- योजना के पहले चरण में केंद्र सरकार द्वारा ऊर्जा विभागों के साथ मिलकर ऊर्जा यंत्रों का सफल वितरण करेगी।
  • सौर ऊर्जा के कारखानो का निर्माण– दूसरे चरण में सौर ऊर्जा के कारखानों का निर्माण करेगी। विभाग द्वारा ऐसे यंत्रो को बनाया जायेगा जो किसानो के लिए पर्याप्त मात्रा में बिजली उत्पाद करने की क्षमता रखते हो।
  • ट्यूबबेल– विभाग द्वारा ऐसे ट्यूबबेल बनाये जायेंगे जो की कुछ मात्रा में बिजली उत्पादित कर सके।
  • वर्तमान पंपों का आधुनिकीकरण– जो पुराने पंप होंगे उन्हें नए सौर पम्पो में परिवर्तित की जाएगी। और वर्तमान पम्पो का आधुनिकीकरण किया जायेगा।

कुसुम योजना के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट से जुडी जानकारी
  • आय प्रमाण पत्र
  • जिस खेत में सोलर पैनल लगाए जायेंगे उस खेत के कागजात
  • पासपोर्ट साइज फोटो
एमपी कुसुम योजना के लाभ
  • इस योजना का लाभ लगभग देश के 20 लाख किसानो को मिलेगा। योजना को केंद्र सरकार द्वारा चलाया जायेगा।
  • मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा 5 वर्षों के अंतर्गत 2 लाख सोलर पैनल लगाए जाएंगे।
  • अब किसान हर महीने ऊर्जा नवीनीकरण के माध्यम से हर महीने बिजली उत्पादित करके सरकारी और गैर सरकारी कंपनियों को प्रति यूनिट के हिसाब से बेचा जायेगा।
  • अब किसान सोलर पैनल के माध्यम से सिंचाई कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें अब किसी भी बिजली या डीजल की आवश्यकता नहीं होगी।
  • सिंचाई के लिए डीजल का प्रयोग ना होने से किसानो के डीजल की खपत के पैसे बचेंगे। जिससे की वे अपने लिए अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति कर सके।
  • कुसुम योजना राज्य के उन लोगो के लिए काफी फायदेमंद होगी जो सूखाग्रस्त इलाके से हैं और जिनके क्षेत्र में बिजली की उपलब्धता नहीं है। इस योजना से आपको पानी और बिजली सुविधा आसानी से प्राप्त हो सकेंगे।
  • योजना के अंतर्गत किसानो को सिर्फ 10 प्रतिशत लागत अपनी तरफ से देना होगा बाकी की 60 प्रतिशत सरकार देगी और 30 प्रतिशत लोन के रूप में आप भुगतान करेंगे।
  • ऊर्जा यंत्र को आप बंजर भूमि में भी लगा सकते हैं लेकिन यदि आपके पास बंजर भूमि नहीं है तो आप इसे कहीं भी लगा सकते हैं और पैनल के नीचे छोटी फसलों का उत्पादन कर सकते हैं।
  • 500 किलोवाट से 2 मेगावाट तक की क्षमता के विकेंद्रीकृत (Decentralized) सौर ऊर्जा संयंत्रों (SPP) को विकसित करने की व्यवस्था कुसुम योजना के तहत बनाई गई है

MP प्रधान मंत्री कुसुम योजना से संबंधित आंकड़े एवं डाटा

क्रम संख्या योजना से संबंधित डाटा
1कुल आवेदन लक्ष्य25,000
2कुल प्राप्त आवेदन13,588
3कुल स्वीकृत आवेदन14,589

मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लिए आवेदन कैसे करें ?

मध्य प्रदेश के उम्मीदवार कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं यहां पर हम आपको कुछ स्टेप्स बता रहे हैं आप दिए हुए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले उम्मीदवार मुख्यमंत्री सोलर पंप की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा आपको इसमें नवीन आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करें दें।
  • आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुलेगा इसमें आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और आपके फोन में एक ओटीपी आएगा। आपको ओटीपी दर्ज करना होगा। madhy-pradesh-kusum-yojana
  • फिर आपको स्क्रीन पर सामान्य जानकारी का एक फॉर्म मिलेगा जिसमें आपको आवेदक का नाम, जिले का नाम, पिता का नाम, तहसील, गांव, लोकसभा, विधानसभा, पिनकोड, मोबाइल नंबर, लिंग आदि जानकारी भरनी होगी और सुरक्षित करें के बटन पर क्लिक कर दें।
    pm-kusum-yojna-mp
  • फिर आपको आधार e-KYC, बैंक अकाउंट, जाति स्वघोषणा, जमीन से संबंधित, खसरे की जानकारी और सोलर पंप की जानकारी दर्ज कर दें। आपको एक-एक विवरण करके सभी जानकारी भरनी होगी।
  • आप अंत में आवेदन को सुरक्षित करें के लिंक पर क्लिक कर दे। आपको रजिस्ट्रेशन नंबर आपके मोबाइल नंबर पर मेसेज के माध्यम से सूचित कर दी जाएगी अब आप पेमेंट प्रोसेस के लिए आगे बढ़ें।
  • आपको Pay Now के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपको ऑनलाइन पेमेंट करना होगा और सभी जानकारी भरनी होगी। आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।

योजना अंतर्गत जिलावार विद्युत सबस्टेशनो की सूची कैसे चेक करें ?

  • विद्युत् सबस्टेशनो की सूची चेक करने के लिए लाभार्थी किसान नागरिक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा।
  • वेबसाइट में जाने के पश्चात होम पेज में पीएम-कुसुम योजना “अ” EOI के विकल्प में क्लिक करें।
  • अब नए पेज में किसान व्यक्ति अपने तहसील एवं जिले का चयन करके विद्युत् सबस्टेशनो की सूची देख सकते है।
  • साथ ही लिस्ट डाउनलोड करने के लिए Download List के ऑप्शन में क्लिक करें।
  • इस प्रकार किसान नागरिक जिलावार विद्युत् सबस्टेशनो की सूची चेक कर सकते है।

click-here
यहाँ भी पढ़े-: किसान कल्याण योजना आवेदन मध्य प्रदेश
[फॉर्म] मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना

योजना के तहत सोलर पम्प प्रकार :-

क्रम संख्या सोलर पंपिंग सिस्टम के प्रकारहितग्राही किसान अंश (रु.)डिस्चार्ज (लीटर में प्रतिदिन)
1
1 एच.पी.डी.सी. सबमर्सिबल
47,213/-30 मी. के लिए 45600, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 45 मी.
22 एच.पी.डी.सी. सरफेस55,819/-10 मी. के लिए 198000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 12 मी.
32 एच.पी.डी.सी. सबमर्सिबल59,882/-30 मी. के लिए 68400, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 45 मी.
43 एच.पी.डी.सी. सबमर्सिबल76,312/-30 मी. के लिए 114000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 45 मी.
50 मी. के लिए 69000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 45000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
55 एच.पी.डी.सी. सबमर्सिबल1,04,577/-50 मी. के लिए 110400, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 72000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
100 मी. के लिए 50400, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 150 मी.
67.5 एच.पी.डी.सी.सबमर्सिबल1,52,365/-50 मी. के लिए 155250, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 101250, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
100 मी. के लिए 70875, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 150 मी.
77.5 एच.पी.ए.सी. सबमर्सिबल1,54,755/-50 मी. के लिए 141750, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 94500, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
100 मी. के लिए 60750, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 150 मी.
810 एच.पी. डी.सी. सबमर्सिबल2,44,543/-50 मी. के लिए 207000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 135000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
100 मी. के लिए 94500, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 150 मी.
910 एच.पी. ए.सी. सबमर्सिबल2,45,795/-50 मी. के लिए 189000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 70 मी.
70 मी. के लिए 126000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 100 मी.
100 मी. के लिए 81000, शट ऑफ़ डायनेमिक हेड 150 मी.

पीएम कुसुम योजना मध्यप्रदेश से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

कुसुम योजना मध्यप्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

कुसुम योजना मध्यप्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट- cmsolarpump.mp.gov.in है। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

सरकार द्वारा योजना में किसानो को कितनी सहायता दी जाएगी ?

इस योजना में सरकार द्वारा किसानों को 60 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी 30 प्रतिशत उम्मीदवार किसानो को लोन के रूप में देना होगा। और कुल लागत का 10 फीसदी किसान को आवेदन करते समय देना होगा।

पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत किसान यदि आवेदन के समय शुल्क जमा नहीं करते हैं तो क्या उन्हें योजना का लाभ दिया जायेगा ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

जी नहीं आपको योजना का लाभ लेने के लिए पहले शुल्क जमा करना जरुरी होगा। नहीं तो आपका आवेदन रद्द कर दिया जायेगा। आपको आवेदन ऑनलाइन मोड़ में ही करना होगा।

कुसुम योजना का लाभ कौन-कौन ले सकते हैं ?

योजना का लाभ देश के सभी किसान ले सकते हैं।

मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लिए आवेदन कैसे करें ?

हमने अपने लेख के माध्यम से आपको ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी जानकारी दी है आप दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करके अपना आवेदन कर सकते हैं।

क्या कुसुम योजना में ऑफलाइन मोड़ में आवेदन किया जा सकता है ?

जी हाँ आप ऑफलाइन मोड़ में आवेदन कर सकते हैं इसके लिए आपको अपने राज्य के या जिले के ऊर्जा विभाग में जाना होगा।

आवेदन शुल्क जमा करने पर विभाग द्वारा ऊर्जा यंत्र कब स्थापित किये जायेंगे ?

शुल्क जमा करने के 120 दिन बाद उम्मीदवार के खेतों में ऊर्जा यंत्र लगाए जायेंगे।

क्या योजना का लाभ सिर्फ किसान ले सकते हैं ?

जी हां कुसुम योजना का लाभ किसानो को ही प्राप्त हो सकता है।

कुसुम योजना ऊर्जा विभाग से जुड़ा हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

यदि आपको योजना से जुडी कोई भी जानकारी चाहिए या आपको कोई भी समस्या है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।
मध्यप्रदेश उर्जा विकास निगम लिमिटेड
उर्जा भवन ,लिंक रोड नं. – 2
शिवाजी नगर ,भोपाल (मध्यप्रदेश)
0755-2575670 , 2553595

तो जैसे की हमने आज अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको बताया की कैसे आप पीएम कुसुम योजना में आवेदन कर सकते हैं। यदि उम्मीदवार को योजना से जुडी कोई भी अन्य जानकारी चाहिए या आपको कोई भी समस्या है तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में जाकर मेसेज कर सकते हैं।

ऐसे ही अन्य लेखों को पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट Hindi NVSHQ से जुड़ सकते हैं।

किसान सुविधा पोर्टल क्या हैं ? और मिलने वाली सेवाएं | Kisan Suvidha Portal 2023

किसान सुविधा पोर्टल क्या हैं ? और मिलने वाली सेवाएं | Kisan Suvidha Portal 2023

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें