List of Government Banks in India | 12 Public Sector Banks

Photo of author

Reported by Rohit Kumar

Published on

दोस्तों नमस्कार, आज के आर्टिकल में बात करने जा रहे हैं देश के बैंकों के बारे में। भारत की अर्थव्ययवस्था को सुगम और सुचारु रूप से चलाने के लिए देश के बैंकों बहुत बड़ा योगदान है। आप सब तो यह जानते ही हैं की देश के वित्तीय लेन देन से लेकर ग्राहकों को अलग-अलग लोन सुविधा देना बैंकों के ही अधिकार क्षेत्र में आता है। यहाँ हम आर्टिकल List of Government Banks in India में आपको देश के सरकारी और प्राइवेट बैंकों की सम्पूर्ण जानकारी देंगें।

आपको बताते चलें की जब 19 जुलाई 1969 में पहले चरण में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंद्रिरा गांधी के द्वारा बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया। तब उस समय देश के अंदर बैंकों की संख्या 14 थी और यह सभी बैंक 50 करोड़ की जमापूँजी वाले निजी बैंक थे। इसके बाद दूसरे चरण में 15 अप्रैल 1980 को तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी के द्वारा छः और निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया। उस समय 200 करोड़ की पूँजीवाले और छः बैंकों के राष्ट्रीयकरण होने से राष्ट्रीयकृत बैंकों की संख्या 20 हो गई थी। लेकिन बाद में बैंकों का आपस में विलय करने के साथ ही अब फिलहाल वर्तमान समय में देश के 12 राष्ट्रीय सरकारी बैंक देश की जनता को अपनी बैंकिंग सेवाएँ दे रहे हैं।

यह भी देखें :- e-RUPI Digital Payment: Check Benefits

Amarnath Yatra Registration Form: श्री अमरनाथ यात्रा रजिस्ट्रेशन

Amarnath Yatra Registration 2024: अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, जानें पूरा प्रोसेस

List of Government Banks in India | 12 Public Sector Banks
List of Government Banks in India | 12 Public Sector Banks

पहले चरण में राष्ट्रीयकृत किए गए बैंकों की सूची

बैंकों के राष्ट्रीयकरण के पहले चरण में 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया जिनकी सूची इस प्रकार से है-

क्रम संख्याबैंक का नाम स्थापनामुख्यालय वर्तमान में बैंक के प्रमुख व्यक्ति
1बैंक ऑफ इंडिया7 सितंबर 1906मुंबई, भारतश्री अतुल कुमार दास
(Non-Exe Chairman)
(MD & CEO)
2यूनियन बैंक ऑफ इंडिया11 नवंबर 1919मुंबई, भारतश्री राजगीरी राय
(MD & CEO)
3बैंक ऑफ बड़ौदा20 जुलाई 1908अल्कापुरी बड़ोदरा गुजरातश्री संजीव चड्ढा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक
4बैंक ऑफ महाराष्ट्र16 सितंबर 1935Bank of Maharashtra,
Lokmangal
Shivajinagar
Pune India
श्री ए.एस. भट्टाचार्य (चेयरमैन)
5सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया21 दिसम्बर 1911मुंबई, भारतश्री पल्लव महापात्र
प्रबन्ध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी
6केनरा बैंक1 जुलाई 1906बैंगलूरू, भारतश्री ए. सी. महाजन, अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक
श्री डी.एल. रावल, कार्यकारी निदेशक
श्री जी. एस. वेदी, कार्यकारी निदेशक
7सिंडीकेट बैंक1925मणिपाल, (कर्नाटक)अध्यक्ष – श्री अजय विपिन नानावटी
प्रबंध निदेशक – श्री मृत्युन्जय महापात्र
8यूनाइटेड कमर्शियल बैंक6 जनवरी, 1943कोलकाता, भारत————-
9पंजाब नेशनल बैंक19 मई 1894नई दिल्ली, भारतश्री के. सी. चक्रवर्ती
10इंडियन बैंक15 अगस्त 1907चेन्नई, भारतश्री शांति लाल जैन
(MD & CEO)
11इंडियन ओवरसीज बैंक10 फरवरी 1937चेन्नई, भारतश्री पार्थ प्रतिम सेनगुप्ता जे.
(MD & CEO)
12इलाहाबाद बैंक24 अप्रैल 1865कोलकाता, भारतश्री एस. एस. मलिकार्जुन राव
(MD & CEO)
13यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया1950कोलकाता, भारतश्री अशोक कुमार प्रधान
(MD & CEO)
14देना बैंक26 मई 1938मुंबई, भारत——–

दुसरे चरण में राष्ट्रीयकृत किए गए बैंकों की सूची

बैंकों के राष्ट्रीयकरण के दूसरे चरण राजीव गांधी के समय छः बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया जिनकी सूची इस प्रकार से है-

क्रम संख्या बैंक का नाम स्थापना मुख्यालय वर्तमान में बैंक के प्रमुख व्यक्ति
1आंध्र बैंक28 नवंबर 1923हैदराबाद , भारतश्री J. Packirisamy
(MD & CEO)
2कॉर्पोरेशन बैंक12 मार्च 1906कर्नाटक , भारतश्री पी. वी. भारती
(MD & CEO)
3न्यू बैंक ऑफ इंडिया1936मुंबई , भारत ———
4ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स19 फरवरी 1943गुरुग्राम , भारतश्री मुकेश कुमार जैन
(MD & CEO)
5पंजाब एंड सिंध बैंक1908नई दिल्ली , भारतश्री देवेन्दर पाल सिंह (मुख्य प्रबंध निदेशक)
श्री प्रवीण कुमार आनंद, कार्यपालक निदेशक
6विजया बैंक23 अक्टूबर 1931बैंगलूरू, भारत———–

बैंकों के राष्ट्रीयकरण के कुछ मूल उद्देश्य

देश में आर्थिक और सामाजिक संतुलन बिठाने के लिए भारत सरकार को देश के बैंकों का राष्ट्रीयकरण करना पड़ा जिससे की देश के हर एक नागरिक तक बैंक सुविधा का लाभ पहुँच सके। बैंकों के राष्ट्रीयकरण ने देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया और देश के विकास को आगे बढ़ाया। बैंकों के राष्ट्रीयकरण के पीछे सरकारों की क्या सोच रही होगी उसको हमने यहाँ बिन्दुवार से समझाने की कोशिश की है।

  • बैंकिंग सुविधाओं और सेवाओं का विस्तार : राष्ट्रीयकरण से पहले बैंकिंग सुविधा सिर्फ कुछ व्यापारियों और पूंजीपतियों तक ही सीमित थी परंतु बैंकों के राष्ट्रीयकरण ने बैंक की सेवाओं को समाज के वंचित और असहाय वर्ग के हर एक नागरिक तक पहुंचाया।
  • देश का आर्थिक विकास : यह तो हमने देश के पिछले 70 वर्षों के इतिहास में देखा है किस तरह से बैंकों ने देश के प्रगतिशील विकास और खुशहाली में महत्व पूर्ण भूमिका निभाई है।
  • देश में बेरोजगारी की समस्या को कम किया : आजादी के बाद से ही भारत में बेरोजगारी एक बहुत बड़ी समस्या रही लेकिन बैंकों के द्वारा लोगों को की जाने वाली आर्थिक मदद से देश में लाखों लोगों को रोजगार मिला।
  • ग्रामीण क्षेत्रों की स्थिति में सुधार तथा कृषि एवं लघु उद्योगों को बढ़ावा : देश के सरकारी बैंकों ने मध्यम एवं लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकारी योजनाओं के तहत लोगों को कम प्रतिशत दर लोन दिए जिससे की देश की मेक इन इंडिया जैसी मुहिम को काफी बल मिला है। देश में बैंकों के द्वारा किसानों को दिए जाने वाले ऋण से भी किसान और ग्रामीण क्षेत्रों की स्थिति में बहुत सुधार हुआ है।

List of Govt. Banks in India

यहाँ हम आपको सरकारी हिस्सेदारी के साथ भारत के वर्तमान में कार्यरत 12 बैंकों की सूची का पूरा ब्यौरा दे रहे हैं जो इस प्रकार से है –

क्रम संख्या बैंक का नाम सरकारी हिस्सेदारी
1स्टेट बैंक ऑफ इंडिया55%
2बैंक ऑफ बड़ौदा64%
3केनरा बैंक69.33%
4पंजाब नेशनल बैंक73.1%
5इंडियन बैंक78.86%
6यूनियन बैंक ऑफ इंडिया83.5%
7बैंक ऑफ इंडिया81.41%
8सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया93.08%
9बैंक ऑफ महाराष्ट्र93.33%
10यूको बैंक95.39%
11इंडियन ओवेरसीज बैंक96.4%
12पंजाब एंड सिंध बैंक98.07%
  • पब्लिक सेक्टर बैंक के द्वारा कुल जमा धनराशि का 91% पर नियंत्रण भारत सरकार का होता है।
  • पब्लिक सेक्टर बैंक में एसबीआई सबसे बड़ा बैंक समूह है जो पब्लिक सेक्टर बैंक के द्वारा कुल जमा धनराशि के 29% पर अपना नियंत्रण रखता है।

Indian List ऑफ Private Sector Units (Banks)

वर्तमान समय में 21 निजी क्षेत्र के बैंक देश में कार्यरत हैं और देश में अपने ग्राहकों को अपनी बैंकिंग सेवाएँ दे रहे हैं इन बैंकों की सूची इस प्रकार है –

क्रम संख्या बैंक का नाम स्थापना मुख्यालय वर्तमान में बैंक के प्रमुख व्यक्ति
1एक्सिस बैंक3 दिसंबर 1993मुंबई, भारतश्री अमिताभ चौधरी
(MD & CEO)
श्री राकेश मखीजा
(चेयरपर्सन)
2बंधन बैंक23 अगस्त 2015कोलकाता, भारतश्री अनूप कुमार सिन्हा
(चेयर मैन)
श्री चंद्र शेखर घोष
(MD & CEO)
3सीएसबी बैंक26 नवंबर 1920त्रिशूर (केरल), भारतश्री राजेन्द्र चिन्न वीरपन
(MD & CEO)
4सिटी यूनियन बैंक31 अक्टूबर 1904कुंभकोणम (तमिलनाडु), भारतश्री आर मोहन
(Chairman)
श्री डॉ. एन. कमकोडी
(MD & CEO)
5डीसीबी बैंक31 May 1995मुंबई, भारतश्री मुरली एम. नटराजन
(MD & CEO)
6धनलक्ष्मी बैंक14 नवम्बर 1927त्रिशूर (केरल), भारतश्री जे. के. शिवन
(MD & CEO)
7फेडरल बैंक23 अप्रैल 1931अल्वा (केरल), भारतश्री श्याम श्रीनिवास
(MD & CEO)
8HDFC बैंकअगस्त 1994मुंबई , भारतश्री अतानू चक्रवर्ती
(चेयरमैन)
श्री शशीधर जगदीश
(MD & CEO)
9ICICI बैंक1994वड़ोदरा (गुजरात), भारतश्री गिरीश चंद्र चतुर्वेदी
(Chairperson)
श्री संदीप बक्शी
(MD & CEO)
10IDBI बैंक1 जुलाई 1964मुंबई , भारतश्री एम आर कुमार
(चेयरमैन)
श्री राकेश शर्मा
(MD & CEO)
11IDFC फर्स्ट बैंकअक्टूबर 2015मुंबई, भारतश्री राजीव लाल
(Non-Exe. Chairman)
श्री वी. वैद्यनाथ
(MD & CEO)
12इंडसइंड बैंकअप्रैल 1994पुणे, भारतश्री सुमन्त कथपालिया
(MD & CEO)
13जम्मू और कश्मीर बैंक1 अक्टूबर 1938श्रीनगर (जम्मू और कश्मीर), भारतश्री बलदेव प्रकाश
(MD & CEO)
14कर्नाटक बैंक18 फरवरी 1924मंगलुरु (कर्नाटक), भारतश्री पी. प्रदीप कुमार
(Part-Time Non-Executive Chairman)
श्री महबलेस्वरा एम. एस.
(MD & CEO)
15करूर वैश्य बैंक1916करूर (तमिलनाडु), भारतश्री एन एस श्रीनाथ
(चेयरमैन)
श्री रमेश बाबू
(MD & CEO)
16कोटक महिंद्रा बैंकफरवरी 2003मुंबई, भारतश्री उदय कोटक
(चेयरमैन, एमडी एंड सीईओ)
17नैनीताल बैंक1922नैनीताल, उत्तराखंडश्री दिनेश पंत
(चेयरमैन एंड सीईओ)
18RBL बैंकअगस्त 1943मुंबई, भारतश्री राजीव आहूजा
(Interim MD & CEO)
19साउथ इंडियन बैंक29 जनवरी 1929त्रिशूर (केरल),भारतश्री सलीम गंगादर्शन (चेयरमैन)
श्री मुरली रामा कृष्णा
(MD & CEO)
20तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक11 मई 1921थूथुकुडी (तमिलनाडु), भारतश्री के. वी. रामा मूर्ति
(MD & CEO)
21यस बैंक2004मुंबई, भारतश्री सुनील मेहता (चेयरमैन)
श्री प्रशांत कुमार (MD & CEO)

आशा करते हैं की आपको हमारा बैंक से रिलेटेड यह आर्टिकल पसंद आया होगा। आर्टिकल या अन्य किसी डाउट के लिए आप कमेन्ट बॉक्स में हमसे प्रश्न पूछ सकते हैं। धन्यवाद

ई-जनगणना 2024 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, E- Census एप्लीकेशन फॉर्म, Janganana List

ई-जनगणना 2024 | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, E- Census एप्लीकेशन फॉर्म, Janganana List

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें