Shramik Bharan Poshan Yojana UP – (पंजीकरण) श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश : मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

Share on:

श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश – इस योजना की शुरुआत माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने की है। इस योजना का उद्देश्य गरीब मजदूर श्रमिकों को भरण पोषण के लिए महीने के 1000 रूपये दिए जायेंगे। इस योजना के अंतर्गत 15 लाख मजदूरों को लाभ दिया जायेगा। कोरोना वायरस के चलते मजदूर भत्ता योजना की शुरुआत की गयी है। और साथ ही जो रिक्शा चलाते है, रेहड़ी वाले, फेरी वाले आदि को इस योजना का लाभ दिया जायेगा। क्योंकि कोरोना वायरस के चलते गरीब मजदूरों के पास आय के साधन समाप्त हो चुके है और इसी समस्या को देखते हुए यूपी सरकार ने मजदूरों को आर्थिक सुविधा देने का एलान किया और Shramik Bharan Poshan Yojana UP की शुरुआत की है। आप हम आपको मजदूर भत्ता से जुडी और भी जानकारी साझा करेंगे।

श्रमिक_भरण_पोषण_योजना_उत्तर -प्रदेश

श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री जी ने अपने घोषणा पत्र में कहा की उत्तर प्रदेश के श्रम विभाग में पहले से ही 15 लाख तक दिहाड़ी मजदुरी करने वाले व्यक्ति पंजीकृत है। इन मजदूरों को सरकार हर माह 1000 रूपये उनके खाते में ट्रांसफर करेगी। हर एक परिवार को 1000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस योजना में आवेदन करने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड़ में आवेदन कर सकते है। इस योजना को लांच 21 मार्च 2020 को की गयी थी। वर्तमान में (अगस्त 2021 ) अभी तक इस योजना में लगभग 230 करोड़ की धनराशि खर्च की जा चुकी है। आज हम अपने लेख के माध्यम से बताएंगे की किस प्रकार आप घर बैठे मजदुर भत्ता योजना ऑनलाइन फॉर्म के माध्यम से आवेदन कर सकते है। जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

Shramik Bharan Poshan Yojana

योजना का नामयूपी मजदूर भत्ता योजना
किसके द्वारा शुरू की गयीसीएम योगी आदित्यनाथ के द्वारा
लांच की तारीख21 मार्च 2020
उद्देश्यसभी मजदूरों को आर्थिक सुविधा प्रदान कराना
आवेदन मोड़ऑनलाइन /ऑफलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://uplabour.gov.in

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ यूपी के 35 लाख मजदूरों को मिलेगा।
  • उत्तर प्रदेश मजदुर भत्ता योजना का लाभ सिर्फ यूपी के ही लोगो को ही मिलेगा।
  • यूपी मजदूर भत्ता योजना के तहत गरीब दिहाड़ी मजदुर, श्रमिक, रिक्शा चालक, रेहड़ी वाले, फेरी वाले, निर्माण कार्य करने वालो को यूपी सरकार हर माह 1000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।
  • योगी जी ने घोषणा की श्रमिक भरण पोषण योजना यूपी के अंतर्गत बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेंहू और 15 किलो चावल देने की घोषणा की है। ये राशन लाभार्थी पीडीएस केंद्र से ले सकते है।
  • यूपी सरकार इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी के बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर कर दिए जायेंगे। इसके लिए आपके पास बैंक खाता होना अनिवार्य है और साथ ही खाता आधार नंबर से भी लिंक होना चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश मजदुर भत्ता योजना के अंतर्गत उन मजदूरों को लिया जायेगा जो श्रम विभाग, नगर विभाग और ग्राम सभाओं में पंजीकृत होंगे।
  • उत्तर प्रदेश राज्य में उपस्थित सभी मजदूरों को उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
यूपी मजदुर भत्ता योजना के लिए पात्रता –
  • आवेदनकर्ता का बैंक में खाता होना अनिवार्य है और आधार से लिंक होना भी जरुरी है।
  • इस योजना के पात्र वही होंगे जिनका नाम श्रम विभाग, नगर विकास या ग्राम पंचायत में जो पंजीकृत होंगे।
  • आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए। यदि आवेदनकर्ता किसी अन्य राज्य का है तो वो योजना के पात्र नहीं होंगे।
  • अगर उम्मीदवार के पास श्रम विभाग, नगर विकास या ग्राम सभाओं में पंजीकृत सर्टिफिकेट या दस्तावेज यदि आपके पास नहीं है तो आप इस योजना के पात्र नहीं होंगे।
श्रमिक_भरण_पोषण_योजना_उत्तर_प्रदेश

मुख्यमंत्री मजदुर भत्ता योजना का उद्देश्य

जैसे की आप सब जानते ही है की कोविड -19 के कारण पुरे देश में लॉक डाउन कर दिया है। जिस कारण जो लोग दिहाड़ी मजदूरी करते है उनको इसकी मार झेलनी पड़ी। और सारे छोटे -बड़े उद्योग धंधे बंद हो गए है। और गरीब श्रमिकों के पास आय के कोई भी साधन नहीं बचे थे और वे अपनी रोज की आवश्यकताओं को पूरा करने में असमर्थ हो जाते थे। हालांकि आप सब इस समय देश की समस्या को देख ही रहे होंगे की किस प्रकार देश की स्थिति हो रखी है। ऐसी स्थिति को देखते हुए यूपी सरकार ने मजदुर भत्ता योजना की शुरुआत की है। जिससे की मजदूरों को हर महीने 1000 रूपये की आर्थिक सहायता देने का प्रावधान किया गया है।और साथ ही यूपी सरकार गरीब परिवारों को फ्री में राशन भी मुहैया कराएगी। इससे गरीब मजदूरों को काफी सहायता प्राप्त होगी जिससे की वे अपना भरण-पोषण कर सके।

यूपी भरण पोषण योजना में हस्तांतरित धनराशि –

प्रेस कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने मजदुर भत्ता योजना के बारे में जानकारी बताई की अभी तक कितने लोगो को इस योजना का लाभ प्राप्त हो चुका है। जिन लोगो का परिवार दैनिक कार्य से चलता है यानी जिनको अपना गुजारा करने के लिए रोज मजदूरी करनी पड़ती है जैसे जैसे रिक्शा चालक, मोची, फेरी वाले, श्रमिक निर्माण कार्य करने वाले मजदूरों को अभी तक मजदुर भरण-पोषण योजना के अंतर्गत अभी तक 8,17,55,000 रूपये की धन राशि को हस्तांतरित कर दिया गया है। जिन्हे अभी तक 11 लाख से अधिक लोगो के अकाउंट में 1000 रूपये ट्रांसफर कर दिए गए है। और साथ ही जितने भी मनरेगा श्रम विभाग, अंत्योदय योजना के अंतर्गत 1.65 करोड़ व्यक्ति आते है यूपी सरकार उन लोगो को फ्री में राशन देगी। इसी कर्म में जो श्रम विभाग में पंजीकृत 20.37 लाख लोगो के खाते में भी 1000 रूपये दिए जायेंगे।

मजदुर भत्ता योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करे ?

इस योजना के अंतर्गत जो भी उम्मीदवार ऑफलाइन आवेदन करना चाहते है वे कर सकते है इसके लिए आप अपने नजदीकी नगर निगम के कार्यालय में जाकर आवेदन कर सकते है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के लोगो को जिनका नाम श्रम विभाग में व् जिनका नाम मनरेगा कार्ड धारक में नहीं है वे नगर निगम, नगर पालिका, नगर निकाय द्वारा उक्त प्रपत्र जारी किया गया है। जिसमे उन व्यक्तियों के बारे में आवेदन पत्र भरे जायेंगे।

  • पटरी दुकानदार, रेहड़ी वाले, रिक्शा चालक, तांगा चालक, टेम्पो, दिहाड़ी मजदूरी करने वाले दैनिक कार्य करने वाले को मजदुर भत्ता श्रेणी में रखा गया है। सरकार ने नोडल एजंसी के लिए इसके लिए हर जिले में अधिकारी और नगर निगम को निरिक्षण के लिए रखा गया है।
  • जिलाधिकारी गरीब लोगो की सूची के लिए ऑनलाइन फीड करने के लिए तहसील स्तर पर इसके लिए अधिकारी को नामित किया जायेगा।
  • नगर निगम स्तर पर जिला स्तर पर दैनिक जीवन में कार्य करने वाले उम्मीदवारों के नामांकन प्रपत्र भरे जायेंगे।

उत्तर प्रदेश भरण पोषण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

जो इच्छुक उम्मीदवार योजना का लाभ लेने के लिए इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है उन्हें हम लेख के माध्यम से बताएंगे की किस प्रकार वे आवेदन कर सकते है हम आपको नीचे आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया बता रहे है आप हमारे दिए हुए स्टेप्स फॉलो कर सकते है –

  • सबसे पहले उम्मीदवार लेबर डिपार्टमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। UP-BHRN-POSHN-YOJNA
  • इसके बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा आपको पेज पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन एन्ड रिन्यूअल का लिंक दिखाई देगा आपको उस लिंक पर क्लिक करना होगा। UP-BHRN-POSHN-SCHEME
  • आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुल जायेगा आपको लॉगिन के नीचे रजिस्टर नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा। UP-BHRN-POSHN-SCHEME-ONLINE
  • रजिस्टर नाउ के विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप अगले पेज पर पहुंच जायेंगे। इसमें सदस्य पंजीकरण के अंतर्गत अनुभाग के अंतर्गत नया पंजीकरण टैब पर क्लिक करना होगा। यूपी-मजदूर-भत्ता-योजना
  • फिर आप निवेश मित्र पोर्टल पर चले जायेंगे। उसके बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा उसके बाद आपको एंटरप्रेन्योर लॉगिन पर जाकर रजिस्टर हियर पर क्लिक करना होगा। यूपी-मजदूर-भत्ता-योजना
  • रजिस्टर हियर पर क्लिक करते ही आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुल जायेगा।उत्तरप्रदेश-मजदूर-भत्ता-योजना

आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में दर्ज सारी जानकारी भरनी होगी। जैसे मोबाइल नंबर, नाम, ई -मेल आईडी और वेरिफिकेशन कोड दर्ज करना होगा। सभी जानकारी भरने के बाद आप रजिस्टर पर क्लिक कर दे। इस तरह आपका मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन आवेदन पूरा हो जायेगा।

उत्तर प्रदेश मजदुर भत्ता से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके जवाब

यूपी लेबर भत्ता से जुडी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

यूपी लेबर भत्ता से जुडी आधिकारिक वेबसाइट- http://uplabour.gov.in है।

यूपी मजदुर भत्ता योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को कितने रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी ?

यूपी मजदुर भत्ता योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को हर महीने 1000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

इस योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक सहायता कैसे लाभार्थियों तक पहुंचाई जाएगी ?

इस योजना के तहत लाभार्थियों के खाते में हर महीने आर्थिक सहायता पहुंचाई जाएगी इसलिए आपका बैंक में खाता होना अनिवार्य है और साथ ही खाता आधार से लिंक होना भी जरुरी है।

उत्तर प्रदेश भरण-पोषण योजना में किन-किन उम्मीदवारों को लाभ प्राप्त होगा ?

उतर प्रदेश भरण पोषण योजना में दैनिक रूप से जो लोग श्रम करते है उन्हें सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाएगी जैसे श्रमिक, रिक्शा चालक, मोची, निर्माण कार्य करने वाले आदि लोगो को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।

UP सरकार ने मजदुर भत्ता योजना की शुरुआत क्यों की ?

कोविड -19 संक्रमण के कारण देश में बहुत से लोग बेरोजगारी के शिकार हो गए जिनमे से सबसे ज्यादा दैनिक रूप से कार्य करने वाले जो अपनी जीविका चलाते थे उनको ज्यादा नुकसान हुआ है इसलिए यूपी सरकार ने इन लोगो को आर्थिक सहायता देने के लिए मजदुर भत्ता योजना की शुरुआत की है।

मजदुर भत्ता योजना का लाभ कौन -कौन ले सकता है ?

मजदुर भत्ता योजना का लाभ जिन उम्मीदवार का नाम श्रम विभाग, ग्राम सभा, नगर विकास में होगा वे पहले से ही पंजीकृत होंगे उन्हें लाभ मिलेगा।

इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार किस मोड़ में आवेदन कर सकते है ?

इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार ऑफलाइन और ऑनलाइन मोड़ में आवेदन कर सकते है।

ऑफलाइन मोड़ में आवेदन करने के लिए क्या करे ?

यदि आप ऑफलाइन मोड़ में आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए आपको अपने नजदीकी नगर निगम के कार्यालय में जाना होगा। आप वहां से आवेदन फॉर्म लेकर आवेदन कर सकते है।

मजदुर भत्ता योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

मजदुर भत्ता योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया हमने आपसे अपने लेख में दे रखी है आप दिए हुए स्टेप्स फॉलो करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

यूपी लेबर डिपार्टमेंट से जुड़ा हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

यदि आपको इस योजना से जुडी कोई भी जानकारी चाहिए या आपको कोई भी समस्या है तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते है।
हेल्पलाइन नंबर – 0522 – 2238902

मजदूर भत्ता योजना का आवेदन हेतु कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ?

मूल निवास,आधार कार्ड , पासपोर्ट साइज फोटो , आय प्रमाण पत्र , पहचान पत्र/राशन कार्ड , मोबाइल नंबर, आदि आवश्यक दस्तवेजों की जरुरत पद सकती है।

तो जैसे की आज हमने आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से बताया की किस प्रकार आप यूपी मजदुर भत्ता योजना का लाभ उठा सकते है और साथ ही कैसे योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते है। यदि आपको इस योजना से जुडी कोई भी जानकारी चाहिए या कोई भी समस्या है तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में मेसेज कर सकते है।

Leave a Comment