Polyhouse Yojana: उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना रजिस्ट्रेशन

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

जैसा की आप सभी को पता है की पर्वतीय क्षेत्रों में पलायन एक गंभीर समस्या बनी हुई है जो कि आने वाले कल में नुकसानदायक हो सकती है। इसी समस्या को देखते हुए सरकार द्वारा पॉलीहाउस योजना को शुरू किया गया है जिसके तहत पॉलीहाउस लगा कर किसान अपना रोजगार कर सकते हैं। इस योजना किसान ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना (Polyhouse Yojana Apply) के बारे में बताएंगे।

Polyhouse Yojana: उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना रजिस्ट्रेशन
Polyhouse Yojana: उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना रजिस्ट्रेशन

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना

उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा किसानों के लिए पॉलीहाउस योजना को शुरू किया गया है जिसके तहत पहाड़ों में पॉलीहाउस लगाएं जाएंगे। इस योजना को उद्यान विभाग की सहायता से शुरू किया जा रहा है। इस योजना के तहत राज्य के करीबन एक लाख किसानों को रोजगार प्रदान किया जाएगा, इसके साथ ही राज्य के पर्वतीय जिलों में खेती एवं बागवानी के माध्यम से इस स्कीम के तहत कृषकों को रोजगार प्राप्त करने का मौका मिलेगा।

योजना के तहत लगने वाले पॉलीहाउस के अंदर आप कोई भी प्रकार की सब्जी उगा सकते हैं जिसके तहत आप बेहतर उपज का फायदा ले सकते हैं। बेमौसम सब्जियां उगाने से आप इन सब्जियों का बाजार में बेच सकते हैं और अच्छा मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं। सरकार द्वारा इस योजना के तहत पॉलीहाउस निर्माण के लिए 70 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान की जाएगी जिसमें से किसानों को अपना 30 प्रतिशत खर्चा ही करना होगा।

यह भी देखें – Uttarakhand Employment Registration Renewal Online

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

Uttarakhand Polyhouse Yojana Apply Highlights

योजना का नामउत्तराखंड पॉलीहाउस योजना
वर्ष2024
शुरू की गईमुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी द्वारा
सम्बंधित विभागउद्यान विभाग
लाभार्थीराज्य के सभी किसान
राज्यउत्तराखंड
उद्देश्यकिसानों को रोजगार के अवसर प्राप्त हो
लाभकिसानों को पॉलीहाउस निर्माण के लिए 70% सब्सिडी देना
रजिस्ट्रेशन प्रक्रियाऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttp://shm.uk.gov.in

उद्देश्य

राज्य में किसानों को रोजगार प्रदान करने के उद्देश्य से उत्तराखंड सरकार द्वारा ग्रीन हाउस योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा लक्ष्य निर्धारित किया गया है कि इस योजना में अधिक से अधिक किसान शामिल हो और लाभ प्राप्त करके अपनी आय में वृद्धि करें। इसके साथ ही पॉलीहाउस में बेमौसमी सब्जियां एवं फूलों की खेती करके पॉलीहाउस को बढ़ावा दिया जाएगा जिससे अन्य लोगों को भी सुविधा मिले।

Uttarakhand Polyhouse Yojana benefit (लाभ)

  • योजना के तहत राज्य के 1 लाख किसानों को योजना में शामिल किया जाएगा जिससे उन्हें रोजगार के अवसर प्रदान हो सके।
  • किसानों को पॉलीहाउस बनाने के लिए 70% अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  • योजना का लाभ प्राप्त कर किसान अपनी आय में बढ़ोतरी कर पाएंगे।
  • राज्य में सब्जियों के उत्पादन में बढ़ोतरी होगी।
  • कलस्टर आधारिक 100 वर्गमीटर आकार के 17,684 पॉलीहाउस के निर्माण हेतु सरकार द्वारा 304 रूपए खर्च किए जाएंगे।
  • किसानों के आर्थिक स्तर में सुधार आएगा जिससे उनका जीवन भी सुधरेगा।
  • इस स्कीम के शुरू होने से पर्वतीय क्षेत्रों में होने वाले पलायन में कमी आएगी।
  • फूलों के उत्पादन में 25 प्रतिशत एवं सब्जियों के उत्पादन में 15 प्रतिशत तक बढ़ोतरी होगी।

यह भी देखें – उत्तराखंड मुख्यमंत्री सोलर स्वरोजगार योजना

Uttarakhand Polyhouse Yojana की विशेषताएं

  • उत्तम उपज की फसलें
  • कम फल अवधि
  • जल संरक्षण
  • पैदावार में 5 से 10% में वृद्धि होगी
  • बेहतर वित्तीय रिटर्न
  • फसलों को कीटों एवं बीमारी से सुरक्षा
  • बेहतर जल निकासी

पॉलीहाउस के प्रकार

पर्यावरण नियंत्रण पर आधारित पॉलीहाउस कई प्रकार के होते हैं जिनकी जानकारी हम नीचे विस्तार से बताने जा रहें हैं।

  1. स्वाभाविक रूप से हवादार पॉलीहाउस – इस तरह के पॉलीहाउस में किसी भी प्रकार की Environmental control system की जरुरत नहीं होती है। इसे सबसे आसान पॉलीहाउस का प्रकार कहते हैं। तापमान एवं आद्रता को नियंत्रित करने के लिए पौधों को पर्याप्त वेंटिलेशन में रखते हैं। फसलों को उगाने के लिए हवादार पॉलीहाउस होते हैं इनमें उच्च तापमान की जरुरत नहीं होती है।
  2. कम लागत वाले पॉलीहाउस – इस पॉलीहाउस में कम लागत की सामग्री जैसे – बांस, लकड़ी के खम्बे एवं स्थाई होते हैं ये पॉलीहाउस पॉलीथिन शीट से बने होते हैं। इसमें आप कई प्रकार की सब्जियां एवं फसल उगा सकते हैं।
  3. मल्टी स्पेन पॉलीहाउस – इस प्रकार के पॉलीहाउस का स्ट्रक्चर से मिलकर बने होते हैं, जो की आकर में बड़े होते हैं। इसमें जितने भी सेक्शन होते हैं उनमें अपने अपने वेंटीलेशन सिस्टम लगे हुए होते हैं। इस पॉलीहाउस में टमाटर एवं खीरे की खेती को बड़े पैमाने पर किया जाता है और अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।
  4. शेड नेट पॉलीहाउस – इस तरह के पॉलीहाउस चारों ओर से शेड नेट से ढके हुए होते हैं। ये सूर्य के अधिक प्रकाश को कम करके आंशिक छाया प्राप्त करने वाली फसलों तक पहुंचाते हैं। आर्किड एवं फर्न आदि फसलों की खेती करने के लिए इन Polyhouse को आदर्श माना जाता है।
  5. फैन एंड पैड Polyhouse – ये Polyhouse पंखे एवं पेट कॉलिंग सिस्टम से मुक्त कहे जाते हैं। इनके अंदर निश्चित तापमान एवं आद्रता बनी हुई होती है। इनमें किसान विभिन्न प्रकार की सब्जियों व फूलों की खेती कर सकते। हैं

योजना में आवेदन हेतु पात्रता

  • योजना में आवेदन के लिए उम्मीदवार का उत्तराखंड राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक के पास सिंचाई के साधन होने जरुरी है।
  • इस योजना का लाभ राज्य के किसान ही प्राप्त कर सकते हैं।
  • किसान उम्मीदवार के पास अपनी जमीन होनी आवश्यक है।
आवश्यक दस्तावेज

योजना में रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपके पास नीचे बताए गए निम्न दस्तावेजों का होना जरुरी है जिसकी सहायता से आप योजना में आवेदन कर सकते हैं।

  • आय प्रमाण पत्र
  • भूमि सम्बंधित दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता विवरण

पॉलीहाउस में उगाई जाने वाली सब्जियां

जैसे कि हमने आपको बताया की पॉलीहाउस के अंदर बेमौसम सब्जी को भी उगाया जा सकता है हम सालभर पॉलीहाउस के अंदर कुछ न कुछ सब्जी की खेती कर सकते हैं क्योंकि इसके अंदर का टेम्परेचर बाहर वातावरण के टेम्परेचर से अलग होता है। पॉलीहाउस के अंदर उगाई जाने वाली सब्जियों की सूची कुछ इस प्रकार से है।

यह भी देखेंउत्तराखंड बोर्ड डेट शीट 2024

Board Exam 2024: उत्तराखंड 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा की डेटशीट जारी, इस दिन से शुरू होगी बोर्ड परीक्षा

  • टमाटर
  • कद्दू
  • गाजर
  • खीरा
  • मटर
  • मूली
  • काली मिर्च
  • बैगन
  • खरबूजा
  • माइक्रो ग्रीन्स
  • तरबूज
  • फूल गोभी
  • फलियां
  • जड़ी बूटियां (तुलसी, थाइम)
  • ब्रोकली
  • तुरई
  • स्ट्रॉबेरीज
  • हरी सब्जियां
  • सलाद पत्ता
  • स्कोश

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना आवेदन प्रक्रिया क्या है?

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा। योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया निम्न है-

  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को सर्वप्रथम अपने ब्लॉक कार्यालय अथवा जिला उद्यान कार्यालय में जाना है।
  • वहां पहुंचकर आपने योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना है।
  • अब इस फॉर्म को आपको ध्यान से पढ़ना है इसमें जो भी जानकारी पूछी गई है उसे आपको फॉर्म में दर्ज कर लेना है।
  • अब फॉर्म में मांगे गए सभी जरुरी डाक्यूमेंट्स को आपको फॉर्म के साथ अटैच करना है।
  • फॉर्म में सभी दस्तावेज एवं जानकारी दर्ज करने के बाद अब आपको इस फॉर्म को ले जाकर कार्यालय में जमा कर देना है।
  • इस तरह से आप उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना में आसानी से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

Polyhouse Yojana Apply से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना को किसने शुरू किया है?

इस योजना को उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा राज्य के किसानों के लिए शुरू किया है ताकि वे पॉलीहाउस बनाने के पश्चात अपनी आय में वृद्धि कर सके।

उत्तराखंड सरकार द्वारा पॉलीहाउस निर्माण के लिए कितनी सब्सिडी दी जाएगी?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

उत्तराखंड सरकार द्वारा पॉलीहाउस निर्माण के लिए 70 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी।

पॉलीहाउस के क्या लाभ है?

पॉलीहाउस लगाने के कई लाभ है हम इसके अंदर कई प्रकार की सब्जियां बो सकते हैं साथ ही इसके अंदर बेमौसम सब्जियों को भी उगाया जा सकता है। सबसे बड़ा लाभ तो यह है कि इसके अंदर सब्जियां सुरक्षित रहती है उन्हें पाले से बचाया जा सकता है।

Uttarakhand Polyhouse Yojana के लाभार्थी कौन हैं?

राज्य के प्रत्येक किसान इस योजना के लाभार्थी है अर्थात वे इस योजना में आवेदन करने हेतु पात्र हैं।

Uttarakhand Polyhouse Yojana की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

Uttarakhand Polyhouse Yojana की ऑफिसियल वेबसाइट ये shm.uk.gov.in है।

Polyhouse को और किस नाम से जाना जाता है?

Polyhouse को ग्रीन हाउस के नाम से भी जाना जाता है।

यह भी देखेंRojgar Prayag Portal Uttarakhand: उत्तराखंड रोजगार प्रयाग पोर्टल

Rojgar Prayag Portal Uttarakhand: उत्तराखंड रोजगार प्रयाग पोर्टल: बेरोजगार युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें