MPTAAS स्कॉलरशिप (आदिम जाति कल्याण विभाग)

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा राज्य के आदिम जाति और अनुसूचित जाति के ऐसे छात्रों को छात्रवृति प्रदान की जाती है जो अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारणवश गुणात्मक शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते हैं। मध्य प्रदेश देश का ऐसा राज्य है, जहाँ हर पाँचवाँ व्यक्ति अनुसूचित जनजाति वर्ग से है। मध्‍यप्रदेश ट्राइबल अफेयर ... Read more

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा राज्य के आदिम जाति और अनुसूचित जाति के ऐसे छात्रों को छात्रवृति प्रदान की जाती है जो अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारणवश गुणात्मक शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते हैं। मध्य प्रदेश देश का ऐसा राज्य है, जहाँ हर पाँचवाँ व्यक्ति अनुसूचित जनजाति वर्ग से है। मध्‍यप्रदेश ट्राइबल अफेयर एंड शेड्यूल कास्ट वेलफेयर आटोमेशन सिस्‍टम (एम.पी.टी.ए.ए.एस) राज्य के छात्रों के लिए ऐसा विकल्प है जो मध्य प्रदेश राज्य के अनुसूचित जाति, जनजाति के छात्रों को शिक्षा का अधिकार प्रदान करता है। मध्य प्रदेश के इस विभाग द्वारा आदिम जाति वर्गों को स्कॉलरशिप (MPTAAS) प्रदान की जाती है जो इन सभी छात्रों को शिक्षा का लाभ उठाकर समाज में आगे बढ़ने का अवसर प्रदान करता है

MPTAAS (आदिम जाति कल्याण विभाग) – Eligibility, Application, Documents and More
MPTAAS (आदिम जाति कल्याण विभाग)
राज्य मध्य प्रदेश
विभाग आदिम जाति कल्याण विभाग
उद्देश्य जनजातियों के समग्र विकास हेतु योजनाऐं,
नीति निर्धारण एवं कार्यक्रमों का क्रियान्वयन
लाभार्थी मध्य प्रदेश के अनुसूचित जाति /जनजाति के छात्र
आवेदन प्रकिर्या ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट tribal.mp.gov.in/MPTAAS

यह भी देखें: नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल

मध्य प्रदेश ट्राइब अफेर्स एंड शेड्यूल कास्ट वेलफेयर का उद्देश्य

मध्य प्रदेश जन जातीय कार्य विभाग एमपी राज्य सरकार का एक प्रमुख विभाग है। इस विभाग के द्वारा अनुसूचित जाति /जनजाति वर्गों के विकास और उनके हितों की रक्षा का कार्य किया जा रहा है। इस कार्य के संचालन के लिए विभाग अपने स्तर पर जनजाति वर्ग के शैक्षणिक एवं आर्थिक व सामाजिक उन्नति के साथ उनके कल्याण के लिए कई योजनाओं को चला रहा है, साथ ही साथ विभाग द्वारा आदिवासी योजना कार्यक्रम तथा विशेष घटक योजना के नाते विभिन्न विकास विभागों के साथ समन्वय की भूमिका को निभाते हुए योजनाओं से सम्बंधित बजट का प्रावधान का कार्य भी कर रहा है। एम.पी.टी.ए.एस के मुख्य उद्देश्य निम्न प्रकार से हैं :-

  • पिछडी जनजाति समूह के विकास हेतु नीति निर्धारण एवं योजनाओं का क्रियान्वयन करना
  • विशेष रूप से पिछडी अनुसूचित जाति /जनजाति समूह का उत्थान करके उन्हें अन्य वर्गों के समरूप लाना है ।
  • जनजाति वर्गों के शैक्षणिक उत्थान के लिए शिक्षा विषयक योजनाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता से लागू करना |
  • जनजाति की परम्परागत संस्कृति को पाठ्यक्रमों में उचित जगह प्रदान करना। विशेष पिछड़ी जनजातियों के मानव विकास सूचकांक (ह्यूमन डेवलोपमेन्ट इंडेक्स) को अन्य जनजातियों के मानव विकास सूचकांक के समान लाना ।
  • विभिन्‍न योजनाओं के द्वारा रोजगार एवं स्‍वरोजगार योजनाओं के माध्‍यम से आर्थिक विकास के लिए विशेष साधन उपलब्ध कराना।
  • जनजातीय क्षेत्रों के मानव विकास सूचकांकों को गैर जन जातीय क्षेत्रों के मानव विकास सूचकांकों के समकक्ष लाना।
  • पिछडी जनजाति समूह के विकास हेतु नीति निर्धारण एवं योजनाओं का क्रियान्वयन करना।
  • जनजाति के विकास से सम्बंधित कार्यक्रम तथा जनजाति परियोजनाओं को सुचारु रूप से संचालित करना।
  • जनजातियों में गुणात्मक और तकनीकी (टेक्निकल) शिक्षा का विकास करना।
  • जनजातियों की सामाजिक सुरक्षा और उनके शोषण से बचाव का कार्य करना।
  • जनजाति के हितों को ध्यान में रखते हुए उनके हितों की रक्षा करना।

जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति विभाग द्वारा दी जाने वाली छत्रवृति का उद्देश्य

MPTAAS के द्वारा दी जाने वाली छात्रवृति का उद्देश्य उन पिछड़े और आरक्षित वर्गों के छात्रों को समान अवसर प्रदान करना है जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग के छात्र पुरस्कार विजेता के रूप में यदि चयनित होता है तो वह अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकते है। जो छात्र इस छात्रवृत्ति का लाभ उठाना की इच्छा रखते है उन छात्रों को कुछ निर्धारित मांगो का पालन करना होता है।

MPTAAS छात्रवृत्ति प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित योग्यता मापदंड का होना आवश्यक है :-

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • आवेदक छात्र को मध्य प्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • अनुसूचित जाति /जनजाति आरक्षित वर्ग के छात्र ही इस छात्रवृति के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदन कर्ता के अभिभावक में से कोई एक भी सरकारी विभाग में कार्यरत या नियुक्त नहीं होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाले अनुसूचित जाति /जनजाति के आवेदक छात्र के परिवार की आय 6 लाख प्रति वर्ष कम से कम होनी आवश्यक है।
  • मध्‍यप्रदेश ट्राइबल अफेयर एंड आटोमेशन सिस्‍टम (MPTAAS) MP Tribal छात्रवृत्ति विशेष तौर पर कक्षा 11वीं, 12वीं के छात्रों के साथ-साथ कॉलेज तथा पीएचडी करने वाले छात्रों को भी दी जाती है।
  • वह छात्र जो Medical Science या Engineering के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की इच्छा रखते है। वह भी इस छात्रवृति के लिए योग्य होंगे ।

MPTAAS के लिए आवश्यक दस्तावेज

मध्‍यप्रदेश ट्राइबल अफेयर आटोमेशन सिस्‍टम (एमपीटीएएएस) छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करते समय आपकी योग्यता को प्रमाणित करने के लिए आपको कुछ महत्वपूर्ण कागजात को जमा करना होगा।

  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड (छात्र और अभिभावक)
  • पिछली कक्षा उत्तीर्ण होने का प्रमाण पत्र/अंक सूची
  • टी.सी (ट्रांसफर सर्टिफिकेट)
  • आय प्रमाण पत्र (इनकम सर्टिफिकेट) आदि।

MPTAAS छात्रवृति ऑनलाइन पंजीकरण

आदिम जाति कल्याण विभाग छात्रवृति प्राप्त करने के लिए योग्यता मापदंड को पूर्ण करने के उपरान्त आवेदन फॉर्म को जमा करना पड़ता है। अनुसूचित जाति /जनजाति कल्याण विभाग छात्रवृति के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण रूप से ऑनलाइन है तथा इसके लिए आपको कोई आवेदन शुल्क भी जमा नहीं करना होगा। नीचे दिए गए स्टेप्स की सहायता से आप आवेदन फॉर्म को आसानी से भर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको MPTAAS की official वेबसाइट www.tribal.mp.gov.in पर जाकर लॉगिन करना होगा। जिसमें आपको अपना यूजर आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।mptaas
  • यदि आपका अकाउंट नहीं बना है तो नया अकाउंट बनाने के लिए आपको पंजीकरण करना होगा इसके लिए आपको नया हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण पर क्लिक करके अपना नया Account बनाना होगा। जैसे का नीचे फोटो में दिया गया है।
    mptaas panji
  • नया हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण में क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपनी जानकारी डालनी होगी। जैसे व्यक्तिगत विवरण (नाम, जन्म तिथि, पिता का नाम, लिंग, पता, मोबाइल नंबर, वैवाहिक स्थिति, ईमेल पता, जाति प्रमाणन जानकारी, जाति प्रमाण पत्र संख्या), जाति और समग्र (Caste and overall), आय घोषणा (Income declaration), मूल निवासी घोषणा (Indigenous declaration), प्रोफ़ाइल समीक्षा (Profile review) mptaas vayakti
  • पूरी डिटेल्स भरने के बाद आपके द्वारा भरी गयी जानकारियों को अवश्य जाँच लें।
  • यदि आपके द्वारा भरी गयी जानकारियां सही है तो आप अपना फॉर्म जमा कर सकते हैं।  
MPTAAS का पूरा नाम क्या है ?

MPTAAS का पूरा नाम मध्य प्रदेश ट्राइबल अफेयर्स ऑटोमेशन सिस्टम है।

MPTAAS का क्या उद्देश्य है ?

जनजातियों में तकनीकी एवं गुणात्मक शिक्षा का विकास करना तथा उन्हें सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना। उन पिछड़े और आरक्षित वर्गों के छात्रों को समान अवसर प्रदान करना है जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं।

MPTAAS शिक्षा पोर्टल किस प्रकार से उपयोगी है ?

छात्रवृत्ति के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको MPTAAS के शिक्षा पोर्टल पर जाना होगा। यह पोर्टल आपको छात्रवृत्ति योजना के बारे में जानकारी उपलब्ध कराता है तथा छात्रवृत्ति में हो रहे नये अपडेट के बारे में आपको सूचनाएं प्रदान करता है।

MPTAAS छात्रवृत्ति संचालन किस विभाग द्वारा किया जाता है?

MPTAAS छात्रवृत्ति का संचालन मध्य प्रदेश राज्य के ट्राइबल वेल्फेयर डिपार्टमेंट द्वारा संचालित की जाती है, यह छात्रवृत्ति शिक्षा में प्रोत्साहन देने के लिए दी जाती है। यह पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत आती है, जिसे अनुसूचित जाति /जनजाति वर्गों से संबंधित छात्रों को दिया जाता है।

छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कैसे करें ?

इसके लिए आपको MPTAAS (आदिम जाति कल्याण विभाग) की ऑफिसिअल वेबसाइट WWW.TRIBAL.MP.GOV.IN पर जाना होगा जहाँ आप अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

छात्रवृत्ति का लाभ किसे मिल सकेगा ?
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

SC/ST वर्ग के छात्रों को इसका लाभ मिल सकेगा। यह सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए नहीं है।

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें