UP Bhagya Laxmi Yojana: यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा की गयी है योजना के अंतर्गत राज्य की उन सभी परिवारों के बेटियों को लाभ प्रदान किया जायेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों को UP Bhagya Laxmi Yojana में ... Read more

Photo of author

Reported by Pankaj Bhatt

Published on

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा की गयी है योजना के अंतर्गत राज्य की उन सभी परिवारों के बेटियों को लाभ प्रदान किया जायेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों को UP Bhagya Laxmi Yojana में आवेदन करना होगा।

UP Bhagya Laxmi Yojana: यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
UP Bhagya Laxmi Yojana: यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

पंजीकरण करने के बाद सभी राज्य के सभी लाभार्थी कन्याओं को इस स्कीम का लाभ दिया जायेगा। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से भाग्य लक्ष्मी योजना की जानकारी को साझा करने जा रहे है। अतः यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म से जुड़ी सभी प्रकार के विवरण प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना लाड़ली लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश

Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Scheme के माध्यम से राज्य में गरीब परिवार में जन्मी कन्या को आर्थिक सहायता के रूप में 50 हजार रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके साथ राज्य सरकार के द्वारा यह नीति भी जारी की गयी है की कन्याओं के साथ-साथ गर्भवती महिलाओं को भी बेटी के जन्म के लिए 51 सौ रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जिसके माध्यम से गर्भवती महिलाएं अपने और अपने बच्चे के लिए एक पोषणयुक्त आहार को उपलब्ध कर सकती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

कन्या भ्रूण हत्या जैसे घिनौने अपराधों में यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के अंतर्गत रोकथाम करने के लिए यह एक विशेष रूप से पहल शुरू की गयी है। इस स्कीम के माध्यम से राज्य में उन सभी लाभार्थी कन्याओं को उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर अलग-अलग रूप में निर्धारित की गयी वित्तीय धनराशि को प्रदान किया जायेगा। प्रधानमंत्री बालिका अनुदान योजना के लिए इस तरह से अप्लाई करें।

देश में बढ़ रहे भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को कम करने के लिए यह बेटियों को बेहतर भविष्य को बनाने के लिए एक महत्वपूर्ण योजना शुरू की गयी है। बेटियों के शिक्षा के स्तर को भी लाड़ली लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश के माध्यम से मजबूत बनाया जायेगा।

UP Bhagya Laxmi Yojana यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए उन सभी लाभार्थियों के द्वारा योजना में आवेदन किया जा सकता है जो गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन कर रहें है।

यूपी राशन कार्ड लिस्ट कैसे देखें | UP Ration Card List @fcs.up.gov.in

यूपी राशन कार्ड लिस्ट कैसे देखें | UP Ration Card List @fcs.up.gov.in

बेटी का जन्म होने के एक साल के अंदर सभी लाभार्थी परिवार योजना में अपनी बेटी का पंजीकरण करवाने के लिए पात्र माने जायेंगे। एक साल से अधिक समय होने पर लाभार्थी कन्या को यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना का कोई लाभ प्राप्त नहीं होगा।

लाड़ली लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश रजिस्ट्रेशन के बाद लाभार्थी कन्या के माता-पिता को 50 हजार रूपए का बॉन्ड राज्य सरकार के द्वारा प्रदान किया जायेगा। राज्य सरकार के द्वारा गरीब परिवार की आर्थिक मदद करने के लिए यह एक महत्वपूर्ण योजना शुरू की गयी है एक ही परिवार में जन्मी अधिकतम दो कन्याओं को UP Bhagya Laxmi Yojana का लाभ प्रदान किया जायेगा।

भाग्य लक्ष्मी योजना यूपी के लाभ

  • UP Bhagya Laxmi Yojana के माध्यम से बीपीएल परिवार में जन्मी कन्या को 50 हजार रूपए का बॉन्ड लाभार्थी कन्या के माता-पिता को प्राप्त होगा।
  • साथ ही गर्भवती महिला को पोषणयुक्त आहार के लिए 51 सौ रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • एक परिवार की अधिकतम 2 बालिकाओं को भाग्य लक्ष्मी योजना यूपी का लाभ प्राप्त होगा।
  • बालिकाओं को एक अच्छी शिक्षा की प्राप्ति के लिए उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर उन्हें अलग-अलग रूप में एक निर्धारित राशि के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • बेटियों की 21 वर्ष की अवस्था पूर्ण होने के बाद उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से लाभार्थी कन्या के माता-पिता को 2 लाख रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • UP Bhagya Laxmi Yojana के माध्यम से बेटा-बेटी में हो रहे भेदभाव को कम किया जायेगा और साथ ही कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराधों में रोकथाम किया जायेगा।

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ऑनलाइन

योजना उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना
योजना शुरू की गयीयोगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
लाभार्थीआर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की बालिकाएं
उद्देश्यकन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराधों में रोकथाम करना
लाभयोजना के तहत वित्तीय धनराशि की प्राप्ति
विभागमहिला एवं बाल विकास मंत्रालय
कन्या के जन्म के समय वित्तीय राशि50 हजार रूपए
आधिकारिक वेबसाइटmahilakalyan.up.nic.in
उत्तर-प्रदेश-भाग्य-लक्ष्मी-योजना


लाड़ली लक्ष्मी योजना फॉर्म

UP Bhagya Laxmi Yojana के अंतर्गत राज्य में उन सभी लाभार्थी कन्याओं का बैंक में अकाउंट होना अनिवार्य है। योजना के तहत शिक्षा हेतु मिलने वाली वित्तीय धनराशि को लाभार्थी कन्या के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से भेजा जायेगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

यह धनराशि कन्या को अलग-अलग रूप में भेजी जाएगी। यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत लाभार्थी बालिका को शिक्षा के लिए दी जाने वाली धनराशि का समस्त विवरण नीचे सूची में दर्शाया गया है।

क्र संख्या कक्षावित्तीय धनराशि
16th claas3 हजार रूपए
28th classपांच हजार रूपए
310th classसात हजार रूपए
4 12th classआठ हजार रूपए

यह भी पढ़ें : यूपी शादी अनुदान योजना

UP भाग्य लक्ष्मी योजना आवश्यक दस्तावेज
  • girl child Aadhar card (बच्ची का आधार कार्ड )
  • Aadhar card of parents ( माता पिता का आधार कार्ड)
  • Birth certificate of girl child (जन्म प्रमाण पत्र )
  • Income Certificate (आय का प्रमाण पत्र )
  • Caste Certificate (जाति प्रमाण पत्र)
  • Bank Passbook (बैंक पासबुक)
  • Mobile Number (मोबाइल नंबर)
  • Pass Port Size Photo (पासपोर्ट साइज फोटो)

UP Bhagya Laxmi Yojana पात्रता एवं मानदंड

  • UP Bhagya Laxmi Yojana Registration करने के लिए राज्य के स्थायी निवासी बालिकाएं ही पात्र होगी।
  • बीपीएल परिवार की 2 बालिकाओं को ही योजना में आवेदन करने के लिए शामिल किया जायेगा।
  • 31 मार्च 2006 के बाद गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों में जन्मी सभी लड़कियां यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत लाभ लेने के लिए पात्र मानी जाएगी।
  • बालिका की परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के अंतर्गत लाभार्थी कन्या की शादी 18 वर्ष से पहले नहीं होनी चाहिए।
  • बच्चे के जन्म के एक साल तक यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना में जन्म नामांकन किया जाना आवश्यक है।
  • इस स्कीम का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी परिवार को स्वास्थ्य विभाग से बच्चे का टीकाकरण करना आवश्यक है।
  • लाभार्थी कन्या के माता-पिता को योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए बेटी का एडमिशन सरकारी स्कूल में ही करवाना होगा।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म ऐसे भरें ?

राज्य के जो बीपीएल परिवार के लाभार्थी यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना में आवेदन करना चाहते है वह नीचे दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करें।

यूपी-भाग्य-लक्ष्मी-योजना
  • आवेदक को यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना पंजीकरण करने के लिए आवेदन फॉर्म को डाउनलोड करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म को आवेदक नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से डाउनलोड कर सकते है।
  • यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना पीडीएफ फॉर्म फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद इसका प्रिंट आउट लें
  • अब फॉर्म में पूछी गयी सभी प्रकार की जानकारी को दर्ज करें।
  • फॉर्म में सभी प्रकार की डिटेल्स दर्ज करने के बाद आवेदक को फॉर्म के साथ फोटो और आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को फॉर्म के साथ अटैच करके फॉर्म को अपने क्षेत्र के नजदीकी आगनबाड़ी केंद्र या फिर महिला एवं बाल विकास कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इस तरह से यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना में आवेदन करने प्रक्रिया आवेदक की पूर्ण हो जाएगी।


लाड़ली लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश
से संबंधित सवाल और जवाब

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना को क्यों जारी किया गया है ?

राज्य की बीपीएल परिवारों में जन्मी बालिकाओं के उज्जवल भविष्य के लिए एवं उनकी आर्थिक सहायता करने के यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना को जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से राज्य के बीपीएल परिवारों को क्या लाभ प्राप्त होगा ?

राज्य के बीपीएल परिवारों को उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता का लाभ प्राप्त होगा बेटी के जन्म के समय में योजना में पंजीकरण करने के पश्चात 50 हजार रूपए की सहायता लाभार्थी परिवारों को प्रदान की जाएगी।

UP Bhagya Laxmi Yojana में राज्य के बीपीएल परिवारों की अधिकतम कितनी बालिकाओं को आवेदन करने के लिए पात्र माना जायेगा ?

राज्य के बीपीएल परिवारों की अधिकतम 2 कन्याओं को ही UP Bhagya Laxmi Yojana में आवेदन करने के लिए पात्र माना जायेगा।

क्या राज्य में भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ गर्भवती महिलाओं को भी प्रदान किया जायेगा ?

हाँ भाग्य लक्ष्मी योजना में गर्भवती महिलाओं को वित्तीय सहायता के लिए शामिल किया गया है जिसमे महिलाओं को अपने और अपने बच्चे के लिए बेहतर पोषणयुक्त आहार की पूर्ति करने के लिए 51 सौ रूपए की आर्थिक मदद की जाएगी।

भाग्य लक्ष्मी योजना के अंतर्गत निर्धारित की गयी राशि को लाभार्थी कन्या को कैसे प्रदान किया जायेगा ?

लाभार्थी कन्याओं को यह राशि भाग्य लक्ष्मी योजना के अंतर्गत बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जायेगा जिसका पूरा लाभ लाभार्थी कन्या के माता-पिता प्राप्त कर सकते है।

क्या UP Bhagya Laxmi Yojana का लाभ राज्य के अन्य लोग भी प्राप्त कर सकते है ?

नहीं राज्य के सभी लोगो को योजना के अंतर्गत शामिल नहीं किया गया है आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिकों को ही यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत लाभान्वित किया जायेगा।

भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से क्या फायदे होंगे ?

उत्तर प्रदेश के निवासियों को भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से कई सारे फायदे प्राप्त होंगे। बेटी के जन्म के समय में ही 50 हजार रूपए की राशि कन्या के माता पिता को प्रदान की जाएगी। तथा शिक्षा हेतु बेटियों को प्रेरित करने के लिए उन्हें अलग-अलग कक्षाओं हेतु सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य की बालिकाओं का विकास होगा।

ऐसे ही अन्य लेखों को पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट Hindi NVSHQ से जुड़ सकते हैं।

Diupmsme – उत्तर प्रदेश ई-सेवा पोर्टल Registration and Login, @diupmsme.upsdc.gov.in

Diupmsme: उत्तर प्रदेश ई-सेवा पोर्टल Registration and Login, @diupmsme.upsdc.gov.in

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें