चीन के सामने क्या है भारत की पॉवर, कितनी है सैन्य ताकत

China Army Power: दुनिया में रूस और अमेरिका ऐसे देश हैं जो ताकतवर के मामले में देश में सबसे पहले नंबर पर आते हैं। यह इतने ताकतवर देश हैं कि दूसरा देश भी इनसे युद्ध करने में डरता है, यदि इनसे युद्ध हुआ तो उस देश का बर्बाद होना पक्का है। ठीक इसी प्रकार चीन ... Read more

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

चीन के सामने क्या है भारत की पॉवर, कितनी है सैन्य ताकत
चीन के सामने क्या है भारत की पॉवर, कितनी है सैन्य ताकत

China Army Power: दुनिया में रूस और अमेरिका ऐसे देश हैं जो ताकतवर के मामले में देश में सबसे पहले नंबर पर आते हैं। यह इतने ताकतवर देश हैं कि दूसरा देश भी इनसे युद्ध करने में डरता है, यदि इनसे युद्ध हुआ तो उस देश का बर्बाद होना पक्का है। ठीक इसी प्रकार चीन देश की भी बात आती है जिसमें-दुनिया की सबसे बड़ी सेना मौजूद है और उसे इसी बात का गुरूर है। चीन विश्व में क्षेत्रफल के हिसाब से चौथा सबसे बड़ा देश है वहीं जनसंख्या के मामले में पूरे विश्व में दूसरे नंबर पर आता है। आर्मी में सेना संख्या की जानकारी दें तो चीन सभी देशों को मात दे रहा है, क्योंकि इस समय चीन के पास लाखों में सैनिक जवान मौजूद है। परमाणु हथियारों में भारत भी चाइना से पीछे है। तो चलिए जानते हैं चीन के सामने क्या है भारत की पॉवर।

दुनिया की सबसे बड़ी सेना

अगर दुनिया में सबसे बड़ी सेना की बात करें तो चीन देश का नाम पहले आता है। जी हाँ चीन की सेना दुनिया की सबसे बड़ी सेना है। इस सेना को पीपुल्स लिबरेशन आर्मी भी कहते हैं, इसके अतिरिक्त इसे रेड आर्मी भी कहा जाता है। चीन दुनिया के टॉप 10 सेनाओं में शामिल है जो कि बहुत ताकतवर हैं। वर्तमान में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी में करीबन 20 लाख से भी अधिक जवान है। चाइना की सेना के पास लगभग 4,950 टैंक हैं तथा इसमने 2,800 सेल्फ प्रोपेल्ड आर्टिलरी भी आते हैं। चीन के पूरे बजट का 6.6 प्रतिशत हिस्सा वर्ष 2020 में रक्षा बजट में लगाया गया था। वहीं 2021 में बढ़ोतरी हु और 6.8 प्रतिशत हो गया तथा वर्ष 2022 में 7.1 प्रतिशत बढ़ गया। अर्थात चीन देश के रक्षा बजट में हर साल बढ़ोतरी होती रहती है। लेकिन अमेरिका के बजट को बताया जाए तो यह उसका एक तिहाई ही है तथा भारत के रक्षा बजट से करीब तीन गुना अधिक है।

मौजूद है यह खतरनाक हथियार

आपको बता दें चीन के पास दुनिया के सबसे खतरनाक हथियार मौजूद है जिनमें बहुत ही बेहतरीन और आधुनिक हथियार आते हैं। इनमे ही मिसाइल और बम वर्षक आते हैं। चाइना के पास मिसाइलों में सबसे अधिक शक्तिशाली परमाणु ICBN मिसाइल DF-5 है, इसकी क्षमता की बात करें तो वह लगभग 15,000 किलोमीटर है। इसके साथ ही हाइपरसोनिक ग्लाइड व्हीकल डोंगफेंग-ZF हथियार भी है। चीन के पास कम दूरी की भी बहुत मिसाइल है जैसे- DF-15C, DF-15B, Df-15A, DF-11A, M20, BP-12A, P-12 तथा B0611M जैसे एसआरबीएम मिसाइलें हैं। इसके अलावा चीनी सेना के पास H-20 स्टेल्थ बॉम्बर भी शामिल है जिसकी उड़ाने की रेंज लगभग 8500 किलोमीटर है।

500 है परमाणु हथियारों की संख्या

दुनिया में परमाणु बम की बात की जाए तो, हर देश इसी के दम पर अपनी सैन्य ताकत का प्रदर्शन कर रहें हैं। दुनिया में रूस ही ऐसा देश है जिसमें सबसे अधिक परमाणु बम है जिनकी संख्या करीबन 4,489 है। इसके बाद अमेरिका आता है जिसके पास 3708 परमाणु हथियार हैं। परमाणु शक्ति के कार्य में चीन अभी इन दोनों देश से बहुत नीचे है। चीन देश के पास अभी 410 से अधिक परमाणु हथियार हैं। तथा भारत में अभी करीबन 160 परमाणु हथियार है इस मामले में भारत देश के पांचवें नंबर पर आता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

भारत भी कम नहीं है टैंकों के मामले में

सैन्य विमानों की तुलना की जाए तो भारत के पास 2,296 सैन्य विमान, पाकिस्तान के पास 1,434 तथा चीन में 3,304 विमान हैं। इसके अतिरिक्त भारत के पास लगभग 4,614 टैंक उपस्थित हैं तो पाकिस्तान के पास 3,742 टैंक एवं चीन के पास 5,000 टैंक मौजूद है। थल सेना में अपनी मजबूती बनाए रखने के साथ वायुसेना में भारत के पास 3,10,575 वायुसैनिक हैं एवं जलसेना में 142,252 सैनिक देश की सुरक्षा में लगे हुए हैं। दुनिया में सबसे ताकतवर वायुसेना की लिस्ट में इंडिया का नंबर तीसरे नंबर पर आता है तथा जलसेना में चौथा नंबर प्राप्त है। वहीं चाइना देश की बात की जाए, तो यहाँ वायु सेना में 400,000 सैनिक एवं जलसेना में 380,000 सैनिक हैं

ग्लोबल फायर पॉवर के मुताबिक

ग्लोबल फायर पॉवर द्वारा बताया गया है कि सैन्य शक्ति 2024 रिपोर्ट को तैयार किया गया है। इस रिपोर्ट में देशों की भौगोलिक स्थिति, उनकी तकनीक, देश का विस्तार समेत कई महत्वपूर्ण विषयों को ध्यान में रखकर बनाया जाता है। एक आदर्श पॉवर का जो इंडेक्स है वह 0.0000 होता है। आज के समय में दुनिया में किसी भी देश का पॉवर इंडेक्स 0.0000 नहीं है। इस फॉर्मूले का अर्थ समझाएं, जिसकी संख्या कम होती है वह सबसे शक्तिशाली देश माना जाता है। इसके मुताबिक बताएं तो अमेरिका देश की पॉवर का इंडेक्स सबसे कम 0.0699 है, जिससे ज्ञात होता है कि दुनिया में अमेरिका देश सबसे मजबूत और ताकतवर देश है।

दुनिया के टॉप 10 सैन्य ताकत वाले देश

ग्लोबल फायर के अनुसार, रूस देश का जो इंडेक्स है वह 00702, चीन का 00706 तथा भारत का पॉवर इंडेक्स 01023 है। इस आधार पर बताया जाए तो विश्व में चीन देश के बाद शक्तिशाली देश भारत है। इसके अतिरिक्त, पाकिस्तान, जापान, दक्षिण कोरिया, इटली, तुर्किए तथा यूनाइटेड किंगडम ये सभी देश दुनिया की टॉप 10 शक्तियों में शामिल किए गए हैं। फ़्रांस देश का स्थान इस मामले में 11वे नंबर पर है। दक्षिण कोरिया, जापान एवं तुर्किए की सैन्य शक्ति में हर साल बढ़ावा हो रहा लेकिन पाकिस्तान देश की सैन्य शक्ति घटती जा रही है।

चीन की सैन्य शक्ति का इस्तेमाल

चीन की सैन्य शक्ति आज दुनिया में सबसे मजबूत शक्तियों में से एक मानी जाती है। यहाँ पर जानते हैं यह अपनी सैन्य शक्ति का इस्तेमाल कैसे करता है।

  • अपनी सैन्य शक्ति का उपयोग चीन क्षेत्रीय विवादों को प्रभावित करने के लिए करता है, तथा अपनी आर्थिक हितों की रक्षा करने एवं अपने वैश्विक प्रभाव में बढ़ोतरी करता है।
  • क्षेत्रीय तनाव पैदा करने के लिए चीन ने दक्षिण चीन सागर में अपनी सैन्य गतिविधियों में बढ़ोतरी की है।
  • ताइवान देश के विरुद्ध चीन ने अपनी तरफ से उग्र बाते कही है।
Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें