क्या आपको मालूम है ? Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai

Photo of author

Reported by Pankaj Bhatt

Published on


Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai
ये हम आज अपने आर्टिकल के जरिये आपको बता दे रहे हैं ? आप सब देखते होंगे की बहुत से होटल, गेस्ट हाउस में OYO का बोर्ड देखा होगा क्या आपने सोचा है की ये क्यों लगाया जाता है इसका मालिक कौन है ? रितेश अग्रवाल Oyo Rooms का ओनर है। इन्होने बहुत ही कम उम्र में OYO की शुरुआत की। जिसमें इन्हे आज काफी सफलता मिली है। आज Oyo Rooms आपको कहीं भी आसानी से मिल जाते है। ओयो का पूरा नाम On Your Own है। 2013 से रितेश अग्रवाल के द्वारा ओयो का स्टार्टअप किया गया था।हालांकि उन्होंने अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। लेकिन आज बहुत सी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कम्पनी उनके बिजनेस में इन्वेस्ट करना चाहते हैं। आज लोग बहुत ही आसानी से अपने ठहरने के लिए काफी कम बजट और अच्छी सुविधाओं को लेकर OYO में बुकिंग करते हैं।

क्या आपको मालूम है ? Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai
क्या आपको मालूम है ? Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai

यह भी पढ़िए :- एलन मस्क जीवनी – Biography of Elon Musk in Hindi Jivani

Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai ?

ओयो की शुरुआत एक बहुत ही छोटे लेवल से स्टार्ट किया गया था लेकिन अब ये विदेशों में भी काफी चर्चित है और वहां भी इनकी शुरुआत की गयी है जैसे अमेरिका, भारत, जापान, फिलीपींस, इंडोनेशिया, वियतनाम, श्रीलंका, सऊदी अरब देशों में भी ओयो रूम्स अवेलबल किये गए है। इसके साथ ही आप ओयो रूम्स के पहले ही बुक करा सकते हैं इसके लिए ऑफिसियल वेबसाइट भी बनाई गयी है जिस पर आप पहले ही बुकिंग करा सकते हैं। ओयो ने भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अच्छा नाम हासिल किया है। 2013 में रितेश अग्रवाल द्वारा जब वे 21 वर्ष के थे गुड़गांव हरियाणा से की थी। आज ओयो में लगभग 17000 कर्मचारी काम करते हैं।

ओयो रूम्स का ओनर कौन है ?

रितेश अग्रवाल आईआईटी की तैयारी कर रहे थे लेकिन उन्हें अपना खुद का बिजनेस करना था जिसके लिए उन्हें इन्तजार नहीं करना था और उन्होंने आईआईटी की पढ़ाई छोड़ कर बिजनेस की तैयारी में लग गए। उन्होंने एक वेबसाइट बनाई जिसका नाम था ओरावल। जिस पर वे सस्ते और किफायती रूम के बारे में जानकारी देते थे लेकिन उन्हें लगा की वेबसाइट के नाम की वजह से लोगों को समझने में काफी दिक्कत आ रही है। जिससे की उन्होंने 2013 में वेबसाइट का नाम बदलकर OYO कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रितेश पहले सिम बेचने का काम करते थे। उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में इस बात की भी चर्चा की कि जब उन्हें शुरूआती दिनों में जब उनके पास किराए के लिए पैसे नहीं होते थे वे कई रातों में सीढ़ियों पर सोते थे।

Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai
Oyo Rooms Ka Owner Kaun Hai

भारत की कई बड़ी कंपनियां ऐसी है जिन्होंने OYO रूम्स में निवेश किया है जैसे सेक्‍यूइया कैपिटल, सॉफ्टबैंक ग्रुप, ग्रीनओक्‍स, और लाइटस्‍प्रेड इंडिया। जापान के एक सॉफ्टबैंक ने भी ओयो में दो सौ पचास मिलियन डॉलर का निवेश किया है, सॉफ्टबैंक का भारत में फ्लिपकार्ट के बाद दूसरे नंबर पर सबसे बड़ा निवेश होगा। वर्ष 2013 में रितेश को थील फैलोशिप 20 UNDER 20 के लिए भी चुना गया। जिनमे उन्हें $100,000 मिले थे। जिससे की उन्होंने अपनी कंपनी को आगे बढ़ाया और आज ओयो की वेल्यू लगभग 6 से 7 हजार करोड़ है। ये सोचना बहुत ही मुश्किल है की एक 17 वर्ष के लड़के ने इसकी शुरुआत की। और कुछ ही सालों में हजार करोड़ का OWNER बना है। इसके साथ ही ओयो रूम्स की बुकिंग हर 3 महीने में 30 % की वृद्धि से बढ़ रहा है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

कैसे आया ओयो का आईडिया

2009 में रितेश मसूरी घूमने आये थे जहां उन्होंने इस बिजनेस के बारे में अंदाजा लगाया और ऑनलाइन एक सोशल वेबसाइट बनाने का सोचा जहां एक ही जगह मालिकों को ग्राहकों को, पर्यटकों को रहने खाने जैसी सुविधा आसानी से मिल सके और सभी चीजों के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके। वर्ष 2011 में एक वेबसाइट बनाई गयी जिसका नाम ओरोवल रखा गया, और उन्ही के इस आइडिया को समझते हुए गुड़गांव के रहने वाले मनीष सिन्हा ने ओरोवल में निवेश किया और इसके फाउंडर बन गए और कुछ समय बाद ओरोवल को पहुंच गयी लेकिन इतनी नहीं मिली जितना उन्होंने सोचा था ऐसे में रितेश का सोचना था की लोगों को ओरोवल को समझ नहीं पा रहे हैं लेकिन उन्होंने फिर वेबसाइट का नाम बदल दिया। आज 8 वर्षों में ओयो के लगभग सारी दुनिया में 8,500 होटल है जिनमें 70 हजार से भी अधिक कमरे हैं। फोर्ब्स इंडिया ने रितेश अग्रवाल को ‘Tycoons of tomorrow’ की लिस्ट में जगह दी है।

जैसे की आप सब जानते हैं की भारतीय कंपनी को चीन में पहुंचाना बहुत बड़ी बात है और यही काम रितेश के द्वारा किया जा रहा है जहां उन्होंने ओयो की सेवाएं देनी शुरू कर दी है। चीन के लगभग 25 शहरों में सेवाएं दी जाएँगी। जिनमें लगभग उसमें काम करने वाले स्टाफ की संख्या 1 हजार से अधिक होगी।

ओयो को शुरू करने के लिए मार्केटिंग, प्रॉपर्टी, निवेशक तक डील करने के लिए उनके सामने कई दिक्क़ते आयी। लेकिन वे अपनी टीम को लीड करते गए और सही गाइडेंस के साथ कम्पनी को आगे बढ़ाया। ओयो ने निवेशक और हीरो एंटरप्राइज से 25 करोड़ की फंडिग की शुरुआत की। ओयो की कम्पनी इस फंड का इस्तेमाल भारत के दक्षिण पूर्व एशिया में अपने कम्पनी को बढ़ाने के लिए कर रही है।

OYO Product

  • OYO Townhouse
  • OYO home
  • OYO home vacation
  • Silver key
  • Capital o
  • Pallete
  • Collection O
  • OYO LIFE
  • YO HELP

Oyo Rooms Owner से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

ओयो रूम्स कंपनी का मालिक कौन है ?

Oyo Rooms कंपनी का मालिक रितेश अग्रवाल है।

यह भी देखेंभारत के रक्षा मंत्री वर्तमान में कौन हैं? Defence Minister of India

भारत के रक्षा मंत्री वर्तमान में कौन हैं? Defence Minister of India

Oyo Rooms क्या है?

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

Oyo Rooms एक ऑनलाइन होटल बुकिंग कंपनी है।

ओयो रूम्स कंपनी का हेड ऑफिस कहाँ है ?

ओयो रूम्स कंपनी का मुख्य ऑफिस गुरुग्राम में है।

ओयो कंपनी की स्थापना कब हुयी ?

ओयो कम्पनी की स्थापना 2013 में हुयी।

ओयो कंपनी के मालिक की कितनी उम्र है ?

ओयो कम्पनी के मालिक की उम्र 26 साल है।

यह भी देखेंइंडियन आर्मी में पद और रैंक | Indian Army Rank List in Hindi

इंडियन आर्मी में पद और रैंक | Indian Army Rank List in Hindi

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें