कौन हैं पाकिस्तान की ‘फर्स्ट लेडी’ आसिफा भुट्टो जरदारी, जानें सबकुछ

Photo of author

Reported by Saloni Uniyal

Published on

इतिहास में पहली बार किसी राष्ट्रपति की बेटी को फर्स्ट लेडी का ख़िताब दिया जा रहा है, यह कोई और देश नहीं बल्कि पाकिस्तान है। यह इस देश का एक नया रिकॉर्ड बनने जा रहा है। पाकिस्तान के वर्तमान राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने हाल ही में कहा है कि वे अपनी सबसे छोटी बेटी आसिफा को फर्स्ट लेडी का दर्जा प्रदान करने के लिए चुन रहें हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस बात का एलान औपचारिक रूप से किया जाएगा।

Who is the first lady of Pakistan
Who is the first lady of Pakistan

क्या है फर्स्ट लेडी का मतलब?

फर्स्ट लेडी का मतलब राष्ट्रपति की पत्नी होता है और यह एक अनौपचारिक पद होता है। इस पद से प्रथम महिला को राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण कार्य मिलता है। अकसर प्रथम महिला किसी भी देश के राष्ट्रपति की पत्नी को कहा जाता है। अतः फर्स्ट लेडी का दर्जा राष्ट्रपति की पत्नी को दिया जाता है। परन्तु इतिहास में यह पहली बार हो रहा है कि पाकिस्तान के राष्ट्रपति अपनी बेटी की फर्स्ट लेडी का ख़िताब दे रहें हैं।

पाकिस्तान के अखबार “डॉन” में बताया गया कि पाकिस्तान की जो फर्स्ट लेडी होती है वह पारम्परिक रूप से विदेशी मेहमानों के आने पर दिन होस्टिंग का कार्य संभालती है। इसके साथ ही पाकिस्तान की प्रथम महिला वहां के पीएम की पत्नी के बराबर कार्य करती है।

क्या है खबर?

68 साल के जरदारी ने पाकिस्तान के 14वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण की। इस्लामाबाद स्थित राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह किया गया। इसी समारोह में जरदारी के साथ उनकी सबसे छोटी बेटी आसिफा भी उपस्थित थी। एआरवाई न्यूज़ रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रपति जरदारी ने आसिफा भुट्टो को फर्स्ट लेडी बनाने का निर्णय लिया है। आसिफा की सबसे बड़ी बेटी ने बख्तावर भुट्टो ने रविवार को यह न्यूज़ सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट की हैं जिसमें उन्होंने यह पोस्ट आसिफा को टैग किया।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पोस्ट में कहा गया है कि राष्ट्रपति आसिफ जरदारी की सभी अदालती सुनवाई में उनका साथ देने से लेकर जेल से उनकी रिहाई के लिए संघर्ष तक अब पाकिस्तान की फर्स्ट लेडी के रूप में उनके साथ हैं। बख्तावर भुट्टो ने लास्ट में आसिफा को टैग करते होते आसिफा भुट्टो का नाम लिखा।

बेटी को मिलेगा पहली बार फर्स्ट लेडी का दर्जा

पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार एक राष्ट्रपति की पत्नी को फर्स्ट लेडी की उपाधि देने के बजाय ऑफिसियल रूप से बेटी को दी जा रही है और यह फैसला वहां के राष्ट्रपति द्वारा ही किया गया है। इस फर्स्ट लेडी का नाम आसिफा भुट्टो है जो कि 31 साल की है। इनकी माता पाकिस्तान की पहली प्रधानमंत्री थी जिनका नाम बेनजीर भुट्टों था जिनकी वर्ष 2007 में हत्या की गई थी। तथा पिता आसिफ अली जरदारी हैं जो कि पकिस्तान देश के दो बार राष्ट्रपति बन गए हैं।

पाकिस्तान में बनेगा एक नया रिकॉर्ड

पाकिस्तान में प्रथम महिला की बात करें तो अभी तक राष्ट्रपति की बेटी को फर्स्ट लेडी की उपाधि नहीं दी गई है। हम आपको अमेरिका का एक उदहारण देते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति थॉमस जेफरसन के शासन काल में फर्स्ट लेडी की उपाधि बेटी मार्था जेफरसन दी गई थी उन्हें उस समय एक्टिंग फर्स्ट लेडी का दर्जा दिया था। इसके अलावा अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति चेस्टर आर्थर तथा ग्रोवर क्लेवलैंड ने अपनी बहनों को फर्स्ट लेडी का ख़िताब प्रदान किया था।

आसिफा भुट्टो कौन है?

आसिफा भुट्टो जरदारी पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री तथा आसिफ अली जरदारी, जो कि पाकिस्तान के राष्ट्रपति हैं, की सबसे छोटी बेटी हैं। आसिफा का जन्म फरवरी 1993 में पाकिस्तान में हुआ था। इनका एक बड़ा भाई है जिसका नाम बिलावन भुट्टो जरदारी तथा बख्तावर भुट्टो जरदारी इनकी बड़ी बहन है।

आसिफा ने अपनी स्कूली शिक्षा ऑक्सफोर्ड ब्रूक्स यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी कॉलेज लन्दन तथा एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की है। इन्होंने वर्ष 2020 में पकिस्तान पीपुल्स पार्टी की रैली में अपने राजनीतिक जीवन को स्टार्ट किया। ये पकिस्तान की राजदूत भी हैं जो कि पोलियो उन्मूलन करती हैं।

पहले कार्यकाल में फर्स्ट लेडी का पद था खाली

राष्ट्रपति के कार्यकाल में वर्ष 2008 से 2013 तक पकिस्तान में प्रथम महिला का पद खाली था। हालाँकि इस बार इस पद के लिए आवेदक का चुनाव भी हो गया है जिसका ऐलान भी कर दिया गया है। आसिफा इससे पहले आठ फरवरी को चुनाव में शामिल हुई थी। इसके साथ ही यह अपने भाई बिलावन भुट्टो का समर्थन के लिए रैलियों में शामिल हुई।

राजनीति में सक्रिय है आसिफा

आसिफा ने पकिस्तान में पीपल्स पार्टी की रैली में 30 नवंबर 2020 में अपनी राजनीतिक की शुरुआत की थी। साथ ही ये मदार-ए-मिल्ल्त फातिमा जिन्ना के कार्यक्रमों में शामिल होती थी। इसके साथ ये पीपीपी पक्ष के लिए दर्जनों बार समर्थन करते हुए दिखी हैं।

हर कदम पर पिता के साथ रहती है आसिफा भुट्टो

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

आसिफा का अपने पिता से बहुत ही लगाव है वे हमेशा अपने पिता के साथ रहती है। वर्ष 2012 में आसिफ अली जरदारी बर्मिघम में सामाजिक अधिकार कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई से मिलने गए थे तो उस समय आसिफा भी अपने पिता के साथ गई थी। उस समय मलाला बीमार थी और इनका इलाज हो रहा था जिसमें वह दोनों उनकी तबियत देखने गए थे। इसके अलावा आसिफा को उनके पिता के साथ कई कार्यक्रमों तथा बैठकों में भी देखा गया है। इससे यह पता चलता है कि आसिफा अपने पिता का साथ हर कदम पर देती है।

पकिस्तान में पोलियो उन्मूलन में भी किया है कार्य

आसिफा सामाजिक कार्य करते हुए भी दिखती हैं, इन्होंने पाकिस्तान में पोलियो उन्मूलन का भी कार्य किया है। यह राजदूत बनकर आम जनता के बीच भी कार्य कर चुकी है इसलिए जनता इनसे अच्छे से परिचित है। जब ये पोलियो उन्मूलन में राजदूत के पद पर नियुक्त थी तो उस दौरान इन्होंने कई अभियान शुरू किए और उनका नेतृत्व किया ताकि वे बीमारी के खिलाफ लड़ सके। उस समय इन्होंने कई पीड़ित परिवारों का भी दौरा किया।

मां के जैसे ही है बेटी

आसिफा भुट्टो को उनकी मां की तरह ही बताया गया है। इनकी माता दिवंगत प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो है जिनका जन्म पाकिस्तान के एक राजनीतिक राजवंश परिवार में ही हुआ ठीक इसी प्रकार आसिफा का जन्म भी हुआ है।

बेनजीर भुट्टो ने पाकिस्तान के सबसे बड़े और सम्मानित पद पर कार्य किया है तथा दुनिया में भी उन्हें प्रसिद्धि हासिल है। इन्होने हावर्ड तथा ऑक्सफोर्ड से शिक्षा प्राप्त की है। इसके पश्चात इन्होंने पीएम पद के लिए चुनाव लड़ा और अधिक बहुमत प्राप्त कर पकिस्तान में पहली महिला प्रधानमंत्री बनकर रिकॉर्ड बना दिया। भुट्टो को यह पद प्राप्त करने के लिए कई चुनौतियों व संघर्ष करना पड़ा।

यह भी देखेंअमृतपाल सिंह कौन है ? Amritpal Singh Biography in hindi | अमृतपाल सिंह का जीवन परिचय 

अमृतपाल सिंह कौन है ? Amritpal Singh Biography in hindi | अमृतपाल सिंह का जीवन परिचय 

‘फर्स्ट लेडी’ आसिफा भुट्टो जरदारी से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

First Lady किसी कहते हैं?

First Lady पॉलिटिक्स वर्कर को कहते हैं जो समिट तथा कन्फ्रेंस का सम्बोधन करती है।

आसिफा भुट्टो कौन है?

आसिफा भुट्टो पकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की सबसे छोटी बेटी है जो इतिहास में पाकिस्तान की पहली प्रथम महिला बनने जा रही है।

पकिस्तान में प्रथम महिला का क्या कार्य होता है?

पकिस्तान के न्यूज़ पेपर डॉन की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान की प्रथम महिला पारम्परिक रूप से विदेशी मेहमानों के आने पर डिनर होस्ट करती है।

दुनिया में जितने भी देश हैं वहां First Lady का दर्जा किसे दिया जाता है?

दुनिया में जितने भी देश हैं वहां First Lady का दर्जा राष्ट्रपति की पत्नी को दिया जाता है।

अमेरिका में फर्स्ट लेडी क्या कार्य करती है?

अमेरिका में फर्स्ट लेडी वाइट हाउस में परिचारिका का कार्य करती है और सामाजिक तथा औपचारिक कार्यक्रमों की प्रभारी होती है।

आसिफा भुट्टो के पिता का क्या नाम है?

इनके पिता का नाम आसिफ अली जरदारी है जो कि पाकिस्तान के राष्ट्रपति हैं।

क्या आसिफा ने पोलियो उन्मूलन में भी कार्य किया है?

जी हाँ, आसिफा ने कई सामाजिक कार्य किए हैं जैसा कि पोलियो उन्मूलन, इसमें उन्हें राजदूत बनाया गया था।

यह भी देखेंअश्विनी वैष्णव का जीवन परिचय - Ashwini Vaishnav Biography In Hindi

अश्विनी वैष्णव का जीवन परिचय - Ashwini Vaishnav Biography In Hindi

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें