महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प : नया बिजनेस खोलने या मौजूदा बिजनेस को बढ़ाने के लिए महिला उद्यमियों को कैसे मिलेगा बिजनेस लोन? जानिए

हमारी अर्थव्यवस्था लगातार बढती जा रही है। आज भारत विश्व की पांचवी सबसे बडी अर्थव्यवस्था बन चुका है। इसके लिये हमारे देश में लगातार बढ रहे व्यापार और बिजनेस उत्तरदायी हैं। इनके साथ ही नया बिजनेस शुरू करने वाले और नये स्टार्ट अप्स में भी लगातार निवेश में बढोत्तरी देखी गयी है। आज हम आपको ... Read more

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

हमारी अर्थव्यवस्था लगातार बढती जा रही है। आज भारत विश्व की पांचवी सबसे बडी अर्थव्यवस्था बन चुका है। इसके लिये हमारे देश में लगातार बढ रहे व्यापार और बिजनेस उत्तरदायी हैं। इनके साथ ही नया बिजनेस शुरू करने वाले और नये स्टार्ट अप्स में भी लगातार निवेश में बढोत्तरी देखी गयी है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे की नया बिजनेस खोलने या मौजूदा बिजनेस को बढ़ाने के लिए महिला उद्यमियों को कैसे मिलेगा बिजनेस लोन? महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प के रूप में क्या उपलब्ध है सभी जानकारियों के बारे में यहां विस्तार से आपको पुकरि जानकारी मिलेगी।

महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प
महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प

सामान्यत यह देखा गया है कि नया बिजनेस स्टार्ट करने वाले लोगों में महिलाओं की संख्या पुरूषों की संख्या से काफी कम है। इसी अंतर को कम करने के लिये और महिलाओं को स्टार्ट अप के लिये प्रोत्साहित करने के लिये सरकार के द्वारा कई नई योजनायें और लोन स्कीम्स चलायी जा रही हैं।

यदि आप भी अपना नया बिजनेस या स्टार्ट अप शुरू करने की योजना बना रही हैं तो ये स्कीम्स आपके बहुत काम की हैं। इस लेख में हम आपको महिलाओं को उनके बिजनेस में मदद करने वाली सरकारी योजनाओं के बारे में बतायेंगे। पूरी जानकारी के लिये लेख को पूरा अवश्य पढें।

यह भी पढ़े ;- [Top 50] Business Ideas in Hindi in 2023

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

सेंट कल्याणी लोन योजना

सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया के द्वारा सेंट कल्याणी योजना के माध्यम से बिजनेस करने की इच्छुक महिलाओं को उनकी जरूरतों के अनुसार लोन उपलब्ध करवाया जाता है।

उद्देश्य

सेंट कल्याणी लोन योजना का उद्देश्य सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया के माध्यम से महिलाओं के सशक्तीकरण और उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है। यह योजना मुख्य रूप से उत्पादन, सेवाओं और लघु उघोगों से जुडने वाली महिलाओं को ध्यान में रखते हुये तैयार की गयी है। इस योजना को बैंक के द्वारा वर्ष 2006 में शुरू किया गया था। बिजनेस में रूचि रखने वाली सभी महिलाओं के लिये यह योजना लाभकारी है। चाहे वह अपना बिजनेस शुरू कर चुकी हों अथवा शुरू करने की योजना बना रही हो। सूक्ष्म, लघु और कुटीर व्यवसाय के अंतर्गत आने वाले सभी व्यवसाय इसमें सम्मिलित हैं।

लोन धनराशि

  • सेंट कल्याणी योजना के तहत महिलाओं को अधिकतम 1 करोड रूपये तक की धनराशि बतौर लोन प्रदान की जाती है। इस लोन धनराशि में बैंक के द्वारा ब्याज की दरों में छूट भी प्रदान की जाती है। जैसे –
  • 10 लाख रूपये तक का लोन लेने पर मूल लोन राशि पर 0.25 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाती है।
  • 10 लाख रूपये से 1 करोड रूपये तक की लोन राशि पर महिलाओं को 0.50 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाती है।
  • यदि आप प्रस्तावित लोन की धनराशि से कोई मशीन, उपकरण या अन्य संयत्र स्थापित करना चाहती हैं तो बैंक के द्वारा सभी एसेट और उपकरणों का बीमा सुनिश्चित किया जाता है।
  • सेंट कल्याणी योजना में लोन प्राप्त करने के लिये महिलाओं से कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाती है।

आवश्यक दस्तावेज

  • लोन लेने वाली महिला का सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया में बैंक खाता होना अनिवार्य है।
  • यदि लोन लेने वाली महिला का विवाह हो चुका है तो महिला के दस्तावेजों में नाम बदला जाना अनिवार्य होगा।
  • यदि महिला पहले से व्यवसाय शुरू कर चुकी है तो कम से कम पिछले दो वर्षों की बैलेंस शीट और अन्य वित्तीय रिकार्ड बैंक के समक्ष प्रस्तुत करने होंगे।
  • भारतीय व्यापारिक संघ का पंजीकरण प्रमाण पत्र बैंक के समक्ष प्रस्तुत करना होगा।
  • लोन प्राप्त करने के लिये बैंक को बॉण्ड पेपर देना होगा।
  • बैंक से मिलने वाला आवेदन पत्र।

कैसे करें अप्लाई

सेंट कल्याणी योजना के अन्तर्गत लोन प्राप्त करने के लिये आपको अपने नजदीकी सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया की शाखा में सम्पर्क करना होगा। आप सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया की आधिकारिक वेबसाईट पर जाकर भी आप आवेदन पत्र को डाउनलोड कर सकते हैं। इस आवेदन पत्र के साथ जरूरी दस्तावेजों को लेकर आपको अपनी नजदीकी शाखा से सम्पर्क करना होगा।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना को भारत सरकार के द्वारा सूक्ष्म, लघु और कुटीर उघोगों को प्रोत्साहन देने के लिये शुरू किया गया है। महिलाओं के लिये यह एक आदर्श लोन योजना है। साथ ही इस योजना का लाभ महिलाओं क साथ साथ पुरूष भी उठा सकते हैं।

NRI क्या होता है

NRI क्या होता है? NRI किसे कहते है? जानिए NRI बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

Business Loans For women
Business Loans For women

लोन के प्रकार

महिला सशक्तीकरण को बढावा देने के लिये प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत अलग अलग कैटेगिरी और लोन की प्रस्तावित राशि के आधार पर अलग अलग तरह के लोन महिलाओं को उपलब्ध करवाये जाते हैं।

माइक्रो क्रेडिट योजना

लघु एवं कुटीर उघोग के अन्तर्गत आने वाली सहकारिताओं, स्वयं सहायता समूहों को इस स्कीम के अन्तर्गत अधिकतम 1 लाख रूपये की धनराशि तक का लोन उपलब्ध करवाया जाता है। महिला उघम कार्यक्रम में महिलाओं को ली गयी लोन धनराशि पर 0.25 प्रतिशत तात्कालिक छूट भी ब्याज दरों में प्रदान की जाती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना को लोन की धनराशि के अनुसार तीन भागों में बांटा जाता है।
शिशु लोन- शिशु लोन के अन्तर्गत 50000 तक की धनराशि का लोन कम ब्याज दरों पर बैंको के द्वारा प्रदान किया जाता है। शिशु लोन में 10 से 12 प्रतिशत तक की दर से ब्याज लिया जाता है।
किशोर लोन- किशोर लोन के तहत पचास हजार से पांच लाख तक की धनराशि बतौर लोन प्रदान की जाती है। किशोर लोन में 14 से 17 प्रतिशत तक की दर से ब्याज लिया जाता है।
तरूण लोन- तरूण लोन के तहत पांच लाख रूपये से दस लाख रूपये तक का लोन कम ब्याज दरों पर मुहैया कराया जाता है। तरूण लोन में लगभग 16 प्रतिशत की दर से ब्याज लिया जाता है।

आवश्यक दस्तावेज

  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का आवेदन पत्र प्रारूप
  • कम से कम पिछले 2 वर्षों का आयकर विवरण
  • पिछले 2 वर्षाें की प्रमाणित बैलेंस शीट
  • आपके व्यावसायिक भवन अथवा कार्यालय के स्वामित्व से संबंधित दस्तावेज
  • व्यक्तिगत पहचान से संबंधित प्रमाण जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र आदि
  • निवास से सम्बन्धित प्रमाण जैसे मतदाता पहचान पत्र आधार कार्ड राशन कार्ड आदि
  • आय का प्रमाण नवीनतम आय प्रमाण पत्र अथवा पिछले 6 महीने की बैंक की स्टेटमेंट।

कहां आवेदन करें

आप भारत सरकार के द्वारा अधिकृत किसी भी बैंक से प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। मुद्रा योजना का लाभ लेने के लिये आप आनलाईन तथा आफलाईन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते हैं।आफलाईन आवेदन करने के लिये आप अपने नजदीकी किसी भी अधिकृत बैंक की शाखा में सम्पर्क कर सकते हैं। बैंक के द्वारा आपको एक आवेदन पत्र दिया जायेगा। इस आवेदन पत्र को अपेक्षित रूप से भरकर आप जरूरी दस्तावेजों के साथ शाखा में जमा कर सकते हैं। आपके आवेदन की पुष्टि हो जाने के बाद निर्धारित लोन राशि आपके खाते में प्राप्त हो जायेगी।

आनलाईन आवेदन

  • आनलाईन आवेदन करने के लिये आप ई मुद्रा पोर्टल अथवा मुद्रा मित्र पोर्टल के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं
  • आनलाईन आवेदन करने के लिये आपको पहले आधिकारिक पोर्टल (https://www.mudra.org.in/) पर अपना पंजीकरण कराना होगा।
  • पंजीकरण करने के लिये आपको अपना सम्पूर्ण विवरण जैसे व्यक्तिगत विवरण, व्यावसायिक विवरण और प्रस्तावित लोन धनराशि का विवरण दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको निर्धारित दस्तावेज पोर्टल पर अपलोड करने होंगे।
  • इसके बाद आप जिस बैंक से मुद्रा योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उसका चयन कर सकते हैं।
  • एक बाद आपके आवेदन और दस्तावेजों की बैंक के द्वारा पुष्टि हो जाने पर निर्धारित लोन धनराशि आपके दिये गये बैंक खाते में जमा कर दी जायेगी।

इसके अतिरिक्त बैंको के द्वारा भी आनलाईन माध्यम से मुद्रा लोन के लिये आवेदन स्वीकार किये जाते हैं। आप सम्बन्धित बैंक की आधिकारिक वेबसाईट पर अधिक जानकारी के लिये विजिट कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अन्तर्गत लोन उपलब्ध करवाने वाले बैंक

सामान्यत सरकार के द्वारा अधिकृत बैंको के द्वारा मुद्रा लोन की सुविधा प्रदान की जाती है। ये बैंक हैं-

स्टेट बैंक ऑफ इंडियायूनियन बैंक ऑफ इंडिया
कर्नाटक बैंकफेडरल बैंक
देना बैंककेनरा बैंक
एचडीएफसी बैंकसेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
एक्सिस बैंकइंडियन ओवरसीज बैंक
कोटक महिंद्रा बैंकओरिएंटल बैंक
यूको बैंकबैंक ऑफ महाराष्ट्र
कॉरपोरेशन बैंककॉरपोरेशन बैंक
सिंडिकेट बैंकयूनियन बैंक ऑफ इंडिया
जम्मू एण्ड कश्मीर बैंकआंध्र बैंक
इलाहबाद बैंकबैंक ऑफ इंडिया

महिला उद्यम निधि योजना

महिला उद्यम निधि योजना भी भारत सरकार के द्वारा महिलाओं को बिजनेस की शुरूआत करने के प्रोत्साहित करने लिये चलायी जा रही एक महत्वपूर्ण योजना है। इसके तहत महिलाओं को उत्पादन, फूड चेन और सेवाओं के सम्बन्ध में कार्य करने वाले लघु उघोग शामिल हैं। इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को सशक्त करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है।

योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत अपना व्यवसाय करने वाली महिलाओं को सरकार के द्वारा 10 लाख तक की लोन धनराशि प्रदान की जाती है।
  • सरकार के द्वारा अधिकृत चुनिंदा बैंको के द्वारा इस योजना के तहत ऋण प्रदान किया जाता है।
  • अलग अलग बैंको के द्वारा तय की गयी ब्याज दर अलग अलग हो सकती है।
  • पहले से अपना व्यवसाय चला रही महिलायें भी इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।
  • इस योजना में सरकार के द्वारा ऋण को चुकाने की सीमा 10 वर्ष रखी गयी है।
  • लोन देने वाले बैंको के द्वारा सामान्यत ऋण धनराशि का 1 प्रतिशत भाग प्रतिवर्ष प्रोसेसिंग फीस के रूप में लिया जाता है। हालांकि यह राशि सेवा प्रदाता बैंको के उपर निर्भर करती है।

इस उद्यम के तहत महिलाओं को सूक्ष्म और लघु उद्योगों में निवेश करने के लिये सरकार के द्वारा प्रेरित किया जा रहा है। कुछ मुख्य उद्यम इस प्रकार से हैं-

इलैक्ट्रानिक रिपेयरिंग सेंटरडेयरी उद्योग
फोटो कॉपी सेंटर और साइबर कैफेमोबाईल रिपेयरिंग सेंटर
सिलाई सेंटरभोजनालय और कैफे
शिक्षा एवं प्रशिक्षण केन्द्रमोटर सर्विस सेंटर
लॉन्ड्री क्लीनिंग सर्विस आदिब्यूटी पार्लर

महिला उद्यम निधि योजना के लिये पात्रता

  • यह योजना सिर्फ महिलाओं के लिये है। नया बिजनेस शुरू करने वाली महिलाओं के साथ साथ पहले से अपना व्यवसाय कर रही महिलायें भी इस योजना का लाभ उठा सकती है।
  • यदि किसी बिजनेस में एक से अधिक पार्टनर हैं तो पार्टनरशिप में महिलाओं की हिस्सेदारी 51 प्रतिशत से अधिक होनी चाहिये तभी वह उद्यम इस योजना के तहत ऋण पाने का पात्र होगा।
  • व्यवसाय उत्पादन, प्रशिक्षण और सेवा के क्षेत्र में ही होना चाहिये।
  • बिजनेस में महिला के द्वारा किया जाने वाला निवेश कम से कम 5 लाख रूपये होना चाहिये।

आवश्यक दस्तावेज

  • पहचान का प्रमाण जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान प्रमाण पत्र आदि
  • निवास का प्रमाण जैसे राशन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, बिजली का बिल आदि
  • आय का प्रमाण- नवीनतम आय प्रमाण पत्र और व्यक्तिगत बैंक खाते की पिछले 9 महीने की स्टेटमेंट।
  • व्यवसाय का प्रमाण जैसे वार्षिक बिजनेस रिपोर्ट और व्यवसाय का सम्पूर्ण विवरण
  • व्यवसाय की पिछले 2 सालों की बैलेंस शीट और अन्य वित्तीय दस्तावेज।

अप्लाई कैसे करें ?

आप अपने नजदीकी अधिकृत बैंक की शाखा में अपने सभी जरूरी दस्तावेजों को ले जाकर इस योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही आप सम्बन्धित बैंक की आधिकारिक वेबसाईट पर विजिट करके भी योजना की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करके आवेदन कर सकते हैं।

योजना के प्रारंभिक चरण में सिर्फ पंजाब नेशनल बैंक के द्वारा ही महिला उद्यम निधि के तहत ऋण उपलब्ध करवाया जाता था। किन्तु वर्तमान में सभी अधिकृत बैंको के द्वारा महिलाओं को यह सुविधा उपलब्ध करवायी जाती है। अधिक जानकारी के लिये आप पंजाब नेशनल बैंक की आधिकारिक वेबसाईट (https://www.pnbindia.in/) पर भी विजिट कर सकते हैं।

अन्य ऋण योजनायें

इन योजनाओं के अतिरिक्त लगभग सभी बैंको के द्वारा भी महिला केन्द्रित बिजनेस आधारित लोन प्रदान किये जाते हैं। जिनमें मुख्य हैं-

योजना का नामबैंक का नाम
स्टैंड अप इंडिया स्कीमसरकार के द्वारा अधिकृत सभी बैंक
देना शक्ति लोन योजनादेना बैंक
स्त्री शक्ति पैकेजस्टेट बैंक ऑफ इण्डिया
लघु व्यवसाय ऋणस्टेट बैंक ऑफ इण्डिया
कर्नाटक बैंक महिला उघोग योजनाकर्नाटक बैंक लिमिटेड
महिला समृद्वि योजनासरकार के द्वारा अधिकृत सभी बैंक
महिला शक्ति लोन योजनाकेनरा बैंक
ओरिऐंट महिला विकास योजनाओरिऐंटल बैंक ऑफ कामर्स
यूनाईटेड महिला उद्यमी योजनायूनाईटेड बैंक ऑफ इण्डिया

क्या मुद्रा लोन केवल महिलाओं के लिये है?

मुद्रा लोन की सुविधा का लाभ महिलाओं के साथ साथ पुरूष आवेदक भी प्राप्त कर सकते हैं।

मुद्रा लोन कौन कौन से हैं?

लोन की राशि के अनुसार मुद्रा लोन को तीन भागों में बांटा गया है। पचास हजार तक की धनराशि का लोन शिशु लोन के माध्यम से, पांच लाख तक की धनराशि का लोन किशोर लोन के माध्यम से तथा पांच लाख से अधिक राशि का लोन तरूण लोन के माध्यम से दिया जाता है।

क्या किसी महिला को बिना नौकरी के लोन मिल सकता है?

यदि महिला के पास रोजगार नहीं है और वह अपना व्यवसाय शुरू करना चाहती है तो सरकार के द्वारा महिलाओं को बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है।

मुद्रा लोन मिलने में कितना समय लगता है?

यदि आपके आवेदन की पुष्टि बैंक के द्वारा कर ली गयी है तो सामान्यत 10 से 15 में निर्धारित लोन की राशि आपके द्वारा दिये गये बैंक अकाउंट में भेज दी जाती है

banking history in india in hindi

भारत में बैंकिंग का इतिहास - History of Banking in India

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें