गोल्डी बराड़ कौन है । Goldy Brar Biography in Hindi

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

नमस्कार दोस्तों, दोस्तों आज के अपने इस आर्टिकल में हम आपको गोल्डी बरार उर्फ़ लॉरेंस बिश्नोई की बायोग्राफी के बारे में बताने जा रहे हैं। दोस्तों जैसा की आप सभी जानते ही होंगे की हाल ही में हुए पंजाबी सिंगर सिद्धू मुसेवाला मर्डर केस में जिस व्यक्ति का नाम सामने आया है वो है गोल्डी बरार उर्फ़ लॉरेंस बिश्नोई। गोल्डी या लॉरेंस बिश्नोई भारत से भागा हुआ एक गैंगस्टर और अपराधी है। जैसा की आपने न्यूज़ और समाचार पत्रों में पढ़ा होगा की रविवार को दिन के समय पंजाब राज्य के मनसा जिले में पंजाबी संगीतकार, सिंगर सिद्धू मुसेवाला की उनकी महिंद्रा SUV पर गोलियों से हमला कर हत्या कर दी गई। हत्या के कुछ समय बाद ही कनाडा का कुख्यात अपराधी लॉरेंस बिश्नोई ने अपने सोशल मीडिया फेसबुक अकाउंट के जरिये इस हत्या की जिम्मेदारी ली।

Goldy Brar Biography In Hindi
कौन है लॉरेंस उर्फ़ गोल्डी बरार , Goldy Brar Biography In Hindi

गोल्डी बरार ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा की सिद्धू मुसेवाला को मारकर हमने अपने भाई की मौत का बदला ले लिया है। पुलिस के द्वारा हत्या का कारण आपसी रंजिश को बताया जा रहा है। फिलहाल अभी भी पंजाब पुलिस गोल्डी बरार की तलाश कर रही है। पंजाब पुलिस का कहना है की जल्द ही लॉरेंस उर्फ़ गोल्डी को गिरफ्तार कर भारत लाया जाएगा।

Goldy Brar Biography :-

गोल्डी बरार एक गैंगस्टर और कुख्यात अपराधी है। जो सोशल मीडिया फेसबुक पर लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर अपना आपराधिक ग्रुप भी चलाता है। आपको यहां हम बता दें की गोल्डी बरार उर्फ़ बिश्नोई ने वर्ष 2018 में राजस्थान में काले हिरण को मारने के आरोपी सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी थी जिसके बाद मुंबई पुलिस के द्वारा धमकी का संज्ञान लेकर सलमान की सुरक्षा बढ़ा दी गयी।

नामसतेंद्रजीत सिंह / गोल्डी बरार / लॉरेंस बिश्नोई
जन्म 1988
उम्र34 वर्ष
स्थानकोटकपूरा, फरीदकोट, पंजाब
वर्तमान निवास स्थानकनाडा
हाइट5 फुट 8 इंच
वजन80 किलोग्राम
बालों का रंगकाला
आंखों का रंगकाला
शारीरिक मापछाती 42″, कमर 34″, बाइसेप्स 14″

गोल्डी बरार की फैमिली :-

पंजाब पुलिस के आपराधिक रिकॉर्ड के अनुसार गोल्डी बरार के पिता “शमशेर सिंह” पंजाब राज्य के पुलिस विभाग में सब-इंस्पेक्टर ऑफिसर (SI) के पद पर कार्यरत थे। शमशेर सिंह को अपने बेटे गोल्डी के कथित तौर पर मर्डर केस में नाम शामिल होने के कारण पंजाब पुलिस विभाग के SI पद से समय से पूर्व ही सेवानिवृत्त होना पड़ा। गोल्डी का एक चचेरा भाई था गुरलाल बरार

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

जिसकी 11 अक्टूबर 2020 को चंडीगढ़ के सिटी एम्पोरियम मॉल, इंडस्ट्रियल एरिया में गुरलाल बरार अज्ञात हमलावरों के द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इसके बाद विक्रमजीत सिंह मिड्दुखेड़ा उर्फ़ विक्की मिड्दुखेड़ा अगस्त 2021 में मोहाली, सेक्टर 71 में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार विक्की की हत्या के मामले में गैंगस्टर अमित डागर और भूप्पी राणा का नाम सामने आया था।

विक्रमजीत सिंह मिड्दुखेड़ा उर्फ़ विक्की मिड्दुखेड़ा कौन था ?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विक्रमजीत सिंह मिड्दुखेड़ा पंजाब युवा कांग्रेस अकाली दल के नेता थे। मिड्दुखेड़ा का परिवार पंजाब के मुक्तसर साहिब जिले का रहने वाला है। ऐसा कहा जाता रहा है की विक्की मिड्दुखेड़ा के अच्छे संबंध अकाली दल के बादल परिवार के साथ थे। विक्की ने अपनी शुरूआती पढ़ाई शिवालिक स्कूल से की थी और ग्रेजुएशन चंडीगढ़ के DAV कॉलेज से किया था। जिसके बाद वर्ष 2009 में The Student Organisation of Panjab University (SOPU) के अध्यक्ष बने।

यह भी पढ़े ;- मन्या सुर्वे जीवनी – Biography of Manya Surve Jivani in Hindi

क्यों ली गोल्डी बरार ने सिद्धू मुसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी :-

दोस्तों सिद्धू मुसेवाला की हत्या गोल्डी बरार के द्वारा करवाई गयी। लेकिन गोल्डी ने यह हत्या क्यों करवाई उसके बारे में पंजाब पुलिस का कहना है की गोल्डी के चचेरे भाई गुरलाल बरार और उसके सहयोगी विक्की मिद्दुखेड़ा की हत्या के आरोप में कथित तौर पर सिद्धू मुसेवाला का नाम शामिल था। और गुरलाल की हत्या के बाद से ही गोल्डी अपने भाई की मौत का बदला लेना चाहता था। जिस कारण उसने AK-94 से सिद्धू के ऊपर कई सारी गोलियां राउंड फायर कर उसकी हत्या की।

गोल्डी उर्फ़ लॉरेंस बिश्नोई पर चल रहे आपराधिक मांमले

यहां हम आपको गोल्डी उर्फ़ लॉरेंस बिश्नोई के ऊपर पुलिस के द्वारा चलाये जा रहे कुछ आपराधिक मामलों के बारे में बता रहे हैं –

1 परमजीत और सुरजीत हत्या मर्डर केस :- पंजाब पुलिस के आपराधिक रिकॉर्ड के अनुसार गुड़गांव अब गुरुग्राम में गोल्डी बरार ने अपने सहयोगी नरेश सेठी गिरोह के साथ मिलकर परमजीत सिंह और सुरजीत सिंह दो भाइयों की हत्या की थी। यह हत्या शराब के अवैध कारोबार के झगड़े और दुश्मनी को लेकर की गयी थी।

2 एक व्यापारी से रंगदारी वसूलने पर रंगदारी ना दिए जाने पर व्यापारी के ऊपर हमला :- पंजाब के भठिंडा से पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (AGTF) ​​के द्वारा 2 मई को गोल्डी बरार और उसके सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया। पंजाब पुलिस ने बताया की व्यापारी से रंगदारी वसूलने पर जब व्यापारी ने रंगदारी देने से मना कर दिया तो गोल्डी बरार और उसके सहयोगी व्यापारी के हत्या की योजना बना रहे थे।

3 अवैध हथियारों के व्यापार और खरीद पर गिरफ्तारी :- आपको बताते चलें की पंजाब पुलिस ने 8 अप्रैल को गोल्डी बरार और उसके सहयोगियों को अवैध हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था। जिसमें बरार का सहयोगी गुरप्रीत सिंह भी शामिल था। इन अवैध हथियारों में पुलिस को 30 बोर, 32 बोर और 315 बोर की तीन पिस्तौल प्राप्त हुई थीं।

यह भी देखेंचैतन्य महाप्रभु जीवनी - Biography of Chaitanya Mahaprabhu in Hindi Jivani

चैतन्य महाप्रभु जीवनी - Biography of Chaitanya Mahaprabhu in Hindi Jivani

Goldy Brar से संबंधित FAQs

गोल्डी बरार फेसबुक पर कौन सा आपराधिक ग्रुप चलाता है ?

गोल्डी बरार फेसबुक पर लॉरेंस बिश्नोई नाम का आपराधिक ग्रुप चलाता है।

गोल्डी बरार कौन है ?

मीडिया सूत्रों के मुताबिक़ गोल्डी बरार पंजाब राज्य का भगोड़ा गैंगस्टर और अपराधी है जो नाम बदलकर कनाडा में रह रहा है

लॉरेंस बिश्नोई ने सिंगर सिद्धू मुसेवाला की हत्या क्यों की ?

लॉरेंस बिश्नोई ने अपने चचेरे भाई गुरनाल बरार की मौत का बदला लेने के लिए सिद्धू मुसेवाला की हत्या करवाई।

सिद्धू मुसेवाला का जन्म कब और कहाँ हुआ था ?

Sidhu Moose Wala का जन्म 11 जून 1993 को पंजाब के मनसा जिले में हुआ था।

गोल्डी बरार पर अब तक कितने आपराधिक मामले दर्ज हैं

पंजाब पुलिस के मुताबिक कनाडा के गोल्डी बरार पर दर्जनों आपराधिक मांमले दर्ज हैं।

यह भी देखें51 Shakti Peeth | देवी माँ सती के प्रमुख 51 शक्ति पीठ अंगो के नाम सहित जानकारी

51 Shakti Peeth | देवी माँ सती के प्रमुख 51 शक्ति पीठ अंगो के नाम सहित जानकारी

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें