राजस्थान की जमाबंदी कैसे देखे ऑनलाइन – Bhulekh Bhunaksha: apnakhata.rajasthan.gov.in

जैसा कि आप सभी जानते हैं, अब भारत के सभी राज्यों में भूलेख, यानी भूमि से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध है। राजस्थान सरकार ने भी अपने राज्य के नागरिकों की सुविधा के लिए अपना खाता पोर्टल लांच किया है। यह पोर्टल ई-धरती पोर्टल (E-Dharti Portal) और अपना खाता (Apna khata Portal) के नाम से ... Read more

Photo of author

Reported by Dhruv Gotra

Published on

जैसा कि आप सभी जानते हैं, अब भारत के सभी राज्यों में भूलेख, यानी भूमि से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध है। राजस्थान सरकार ने भी अपने राज्य के नागरिकों की सुविधा के लिए अपना खाता पोर्टल लांच किया है। यह पोर्टल ई-धरती पोर्टल (E-Dharti Portal) और अपना खाता (Apna khata Portal) के नाम से भी जाना जाता है।

यदि आप भी अपने जमीन का विवरण ऑनलाइन देखना चाहते हैं, तो आप अपना खाता पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं। इससे आपको अपने जमीन से जुड़े किसी भी छोटे से छोटे काम के लिए तहसील या पटवारी के दफ्तर के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। आप आसानी से अपने राजस्थान भूलेख जमाबंदी की जानकारी घर पर बैठे-बैठे देख सकते हैं।

(E Dharti) अपना खाता राजस्थान: apnakhata.rajasthan.gov.in जमाबंदी, नकल भूलेख
(E Dharti) अपना खाता राजस्थान

राजस्थान अपना खाता पोर्टल शुरू करने के कारण?

राजस्थान सरकार ने अपने नागरिकों को सुविधा प्रदान करने और जमीन से संबंधित विवादों को कम करने के लिए अपना खाता पोर्टल लांच किया है। इस पोर्टल के माध्यम से, राजस्थान के नागरिक अपनी भूमि से संबंधित सभी जानकारी ऑनलाइन देख सकते हैं।

पहले, भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिकों को पटवारी या राजस्व विभाग के कार्यालयों में जाना पड़ता था। इससे उन्हें समय और धन दोनों का नुकसान होता था। अपना खाता पोर्टल के माध्यम से, नागरिक घर बैठे ही अपनी भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

अपना खाता पोर्टल पर आप निम्नलिखित जानकारी देख सकते हैं:

  • खसरा संख्या
  • खाता संख्या
  • भूमि का प्रकार
  • भूमि का क्षेत्रफल
  • भूमि का मूल्य
  • भूमि पर लगाए गए बंधक
  • भूमि से संबंधित विवाद

यह भी देखें
जन सूचना पोर्टल राजस्थान
राजस्थान कर्ज माफी किसान योजना
राजस्थान रोजगार मेला ऑनलाइन आवेदन

Apna Khata Rajasthan (भूलेख राजस्थान)

आर्टिकल अपना खाता राजस्थान ऑनलाइन जमाबंदी
विभागराजस्थान राजस्व विभाग
लाभार्थीराज्य के नागरिक
उद्देश्यराजस्व अभिलेखों का डिजिटलीकरण
संचालनराज्य सरकार
राजस्थान
माध्यमऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटapnakhata.rajasthan.gov.in

अपना खाता जमाबंदी की नकल राजस्थान ऑनलाइन कैसे देखे ?

राजस्थान की जमाबंदी ऑनलाइन देखने के लिए हमने यहाँ पर कुछ स्टेप्स दिए हुए है। अगर आप भी अपनी जमाबंदी ऑनलाइन देखना चाहते है। तो कृपया कर दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले उम्मीदवार अपना खाता राजस्थान ऑनलाइन की ऑफिसियल वेबसाइट apnakhata.rajasthan.gov.in पर जाएँ। Apna Khata Rajasthan
  • उसके बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा।
RAJSTHAN-APNA-KHAATA-PORTEL
  • होम पेज में आपको जिला चुने का लिंक दिखाई देगा आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • जिले का चयन करते ही आपके सामने एक और पृष्ठ खुल जायेगा आपको अपने तहसील का चुनाव करना होगा।
राजस्थान-अपना-खाता-जमाबंदी
  • तहसील का चुनाव करने के बाद फिर से एक नया पृष्ठ खुल जाता है इस पर आप अपने गांव के नाम शुरू होने वाले शब्द को चुन ले तथा उस अक्षर का प्रथम शब्द को चुनकर उस पर क्लिक करना होगा।
RAJSTHAN-APNA-KHAATA-ONLINE-PORTEL
  • उसके बाद आपके सामने उस शब्द के नाम के गांव के नाम की सूची आ जायेगी और साथ ही उनके पिन कोड संख्या आ जायेगी।
  • आपको अपने गांव के नाम का चयन करना होगा। उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जायेगा।
RAJSTHAN-BHULEKH
  • फॉर्म में आपको आवेदक का नाम, आवेदक का पता, आवेदक का शहर, आवेदक का पिन कोड को दर्ज करना होगा। नीचे फॉर्म में आपको विकल्प दिए होंगे आपको किसी एक विकल्प का चयन करना होगा। उसके बाद आप अपनी खाता संख्या चुने।
  • आपके सामने जमाबंदी का पूरा विवरण आपकी स्क्रीन पर आ जायेगा।
RAJSTHAN-JMABANDI-ONLINE

भू नक्शा राजस्थान ऑनलाइन कैसे डाउनलोड करें

यदि आप अपने जमीन का नक्शा (Bhunaksha Rajasthan Online Download) डाउनलोड करना चाहते हो तो आप बहुत ही आसानी से डाउनलोड कर सकते हो। हम आपको कुछ स्टेप्स बता रहे है। आप हमारे दिए हुए स्टेप्स फॉलो कर सकते है।

  • सबसे पहले उम्मीदवार को भू नक्शा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा।
  • अब दिये गये विकल्पों में से जिला, तहसील, हलका और गांव आदि का चयन करें।
BHU-NAKSHA-ONLINE
  • इसके बाद अपने खसरा नंबर पर क्लिक करे जो नक़्शे में दिखाए गए है।
  • इसके बाद आपका नक्शा स्क्रीन पर आ जायेगा।Bhunaksha Rajasthan
  • आप अपना नक्शा डाउनलोड कर सकते है और उसके बाद आपको प्रिंट का विकल्प दिखाई देगा
  • आप प्रिंट के बटन पर क्लिक करके पीडीएफ फाइल सेव कर भी कर सकते हैं।

नोट – उम्मीदवार ध्यान दे यदि आपके जमीन के विवरण खसरा, भू लेख में कुछ भी गड़बड़ी हो रखी है तो आप इसमें सुधार ऑनलाइन नहीं कर सकते। सरकार के द्वारा अभी ऐसा कोई लिंक नहीं बनाया गया है जिससे की आप अपने भू लेख में सुधार कर सको। इसके लिए आपको पटवारी या तहसील में जाना होगा और अपने दस्तावेजों में सुधार के लिए आवेदन कर सकते है।

अपना खाता ऑनलाइन राजस्थान भूलेख के उद्देश्य

अपना खाता ऑनलाइन राजस्थान भूलेख के उद्देश्य निम्नलिखित हैं:

  • भूमि के स्वामित्व और अधिकारों की जानकारी प्रदान करना: अपना खाता पोर्टल राजस्थान के नागरिकों को अपनी भूमि के स्वामित्व और अधिकारों की जानकारी प्रदान करता है। इसमें भूमि का खाता संख्या, खसरा संख्या, भूमि का प्रकार, भूमि का क्षेत्रफल, भूमि का मूल्य, भूमि पर लगाए गए बंधक आदि की जानकारी शामिल है। यह जानकारी नागरिकों को अपनी भूमि के अधिकारों को सुरक्षित रखने में मदद करती है।
  • भूमि के उपयोग और प्रबंधन में सुधार करना: अपना खाता पोर्टल भूमि के उपयोग और प्रबंधन में सुधार करने में मदद करता है। यह पोर्टल भूमि के स्वामित्व, अधिकारों और उपयोग की जानकारी को एकत्रित और व्यवस्थित करता है। यह जानकारी सरकार को भूमि के उपयोग और प्रबंधन के लिए प्रभावी नीतियों और कार्यक्रमों को विकसित करने में मदद करती है।
  • भूमि से संबंधित विवादों को कम करना: अपना खाता पोर्टल भूमि से संबंधित विवादों को कम करने में मदद करता है। यह पोर्टल भूमि के स्वामित्व और अधिकारों की जानकारी को एकत्रित और व्यवस्थित करता है। यह जानकारी भूमि से संबंधित विवादों के समाधान में मदद करती है।

अपना खाता पोर्टल राजस्थान सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है। यह पोर्टल राजस्थान के नागरिकों को अपनी भूमि के बारे में जानकारी प्राप्त करने और भूमि के उपयोग और प्रबंधन में सुधार करने में मदद करता है।

जमाबंदी राजस्थान या भूलेख की आवश्यकता

राजस्थान भूलेख की आवश्यकता निम्नलिखित मामलों में पड़ती है:

  • भूलेख नकल भूमि के स्वामित्व और अधिकारों को साबित करने का एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। यह दस्तावेज यह साबित करता है कि आप किसी भूमि के मालिक हैं या उस पर आपके कोई अधिकार हैं।
  • कई सरकार द्वारा मिलने वाली योजनाओं में भूलेख नकल की आवश्यकता होती है। उदाहरण के लिए, यदि आप प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको अपनी भूमि का भूलेख दिखाना होगा।
  • कई कृषि से संबंधित योजनाओं में भी भूलेख नकल की आवश्यकता होती है। उदाहरण के लिए, यदि आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको अपनी भूमि का भूलेख दिखाना होगा।
  • किसी भी प्रकार का लोन लेने के लिए आपको अपनी भूमि का भूलेख दिखाना होगा। बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता होती है कि आपके पास अपनी भूमि पर पर्याप्त अधिकार हैं।
  • यदि आप किसी भूमि से संबंधित विवाद में शामिल हैं, तो आपको अपनी भूमि का भूलेख दिखाना होगा। भूलेख नकल, विवाद को सुलझाने में मदद कर सकता है।
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इसके अलावा, भूलेख नकल अन्य कई मामलों में भी उपयोगी हो सकता है। उदाहरण के लिए, यदि आप अपनी भूमि का बेचना या खरीदना चाहते हैं, तो आपको अपनी भूमि का भूलेख दिखाना होगा। राजस्थान में भूलेख नकल प्राप्त करने के लिए, आप अपने जिले के राजस्व विभाग के कार्यालय में जा सकते हैं। या फिर आप अपना भूलेख ऑनलाइन भी प्राप्त कर सकते हैं।

अपना खाता Jamabandi Rajasthan के लाभ

अपना खाता राजस्थान के लाभ निम्नलिखित हैं:

  • अपना खाता जमाबंदी पोर्टल के माध्यम से नागरिकों को अपनी भूमि के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए किसी सरकारी कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं होती है। इससे नागरिकों का समय और धन दोनों की बचत होती है।
  • अपना खाता जमाबंदी पोर्टल 24 घंटे और 7 दिन उपलब्ध है। इससे नागरिक किसी भी समय और किसी भी स्थान से अपनी भूमि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • अपना खाता जमाबंदी पोर्टल पर संग्रहित जानकारी सुरक्षित है। यह जानकारी केवल संबंधित अधिकारियों द्वारा ही एक्सेस की जा सकती है।
  • अपना खाता जमाबंदी पोर्टल के माध्यम से भूमि से संबंधित कार्यों में पारदर्शिता और जवाबदेही बढ़ी है। इससे भ्रष्टाचार में कमी आई है।

इन लाभों के अलावा, अपना खाता जमाबंदी पोर्टल भूमि से संबंधित विवादों को कम करने में भी मदद करता है। यह पोर्टल भूमि के स्वामित्व और अधिकारों की जानकारी को एकत्रित और व्यवस्थित करता है। यह जानकारी भूमि से संबंधित विवादों के समाधान में मदद करती है।

Apna Khata Jamabandi Nakal से जुडे कुछ प्रश्न और उनके जवाब-FAQ

अपना खाता राजस्थान से जुडी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

अपना खाता राजस्थान से जुडी आधिकारिक वेबसाइट- http://apnakhata.rajasthan.gov.in है।

राजस्थान भू नक्शा को डाउनलोड करने की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

राजस्थान भू नक्शा को डाउनलोड करने की आधिकारिक वेबसाइट- http://bhunaksha.raj.nic.in है।

अपना खाता राजस्थान या ई धरती क्या है ?

अपना खाता राजस्थान या ई धरती राजस्थान भूलेख से सम्बंधित जानकारी को देखने के लिए जारी की गयी ऑनलाइन पोर्टल है। जिसकी मदद से आप घर बैठे ही अपनी जमीन से जुड़ी सारी जानकारी देख सकते हैं।

ई -धरती राजस्थान ऑनलाइन से राज्य के नागरिको को क्या लाभ होगा ?

खसरा खतौनी एक सरकारी दस्तावेज है जिसमे आपके जमीन का पूरा विवरण होता है।

भू लेख क्या है ?

भू लेख का उपयोग निश्चित तौर पर भूमि अभिलेखों को निर्दिष्ट करने के लिए किया जाता है। और भूमि के रिकॉर्ड संबंध में किया जाता है।

अपना खाता जमाबंदी नकल ऑनलाइन कैसे देख सकते है ?

हमने आपको अपने लेख में जमाबंदी नकल ऑनलाइन देखने की पूरी प्रक्रिया साझा कर रखी है आप दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करके अपना जमाबंदी का विवरण देख सकते है।

राज्य सरकार द्वारा अपना खाता पोर्टल क्यों लांच किया गया ?

ताकि राज्य के नागरिको को किसी भी कार्यालय के चक्कर ना लगाने पड़ें। और घर बैठे ही आप ऑनलाइन सुविधा का लाभ उठा सकते है।

क्या व्यक्ति के नाम से भी भूलेख जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं ?

हाँ, आप व्यक्ति के नाम से भी भूलेख जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्थान भूलेख से सम्बंधित समस्या के लिए क्या करें ?

यदि आपको भूलेख से सम्बंधित किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो आप अपने तहसील के राजस्व विभाग में जा कर संपर्क कर सकते हैं।

क्या सभी जनपदों के भूलेख को ऑनलाइन पोर्टल पर जारी किया गया है ?

हाँ, राजस्थान राज्य के सभी जनपदों के नागरिकों के भूलेख को ऑनलाइन पोर्टल पर जारी किये गए हैं।

तो जैसे की आज हमने अपने लेख के माध्यम से बताया है किस प्रकार आप घर बैठे अपने जमीन का विवरण देख सकते है। अगर आपको अपना खाता राजस्थान ऑनलाइन से जुडी कोई भी अन्य जानकारी चाहिए होगी या कोई भी समस्या है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में मेसज कर सकते है।

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें