संज्ञा (Sangya) – परिभाषा, भेद और उदाहरण: Sangya in Hindi

संज्ञा वह शब्द होता है जो किसी व्यक्ति, स्थान, वस्तु, भाव, गुण, आदि की जानकारी प्रदान करता है। संज्ञा (Sangya ki paribhasha in Hindi) भाषा के संरचनात्मक अंग के रूप में भी जाना जाता है और भाषा के बोधात्मक पहलुओं को सुनिश्चित करने में मदद करता है।

Photo of author

Reported by Rohit Kumar

Published on

आपने विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के हिंदी प्रश्न पत्रों में अकसर देखा होगा की हिंदी व्याकरण से संबंधित संज्ञा, सर्वनाम, क्रिया, विशेषण आदि से जुड़ें प्रश्न पूछे जाते हैं। आप तो जानते हैं की परीक्षा में अधिक से अधिक अंक लाने हेतु हिंदी विषय को अच्छा माना जाता है। यदि आप भी किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए हमारा यह आर्टिकल उपयोगी साबित हो सकता है। इस आर्टिकल में हम आपको संज्ञा किसे कहते हैं? संज्ञा के कितने भेद होते हैं ? संज्ञा से संबंधित उदाहरण इन सब के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करने वाले हैं।

हम आपसे यह अनुरोध करेंगे यदि आप हिंदी व्याकरण में उपयोग होने वाले संज्ञा शब्दों के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं तो आप हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें।

संज्ञा (Noun) किसे कहते हैं ?

  • संज्ञा: हिंदी भाषा में हम जब भी हम किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, गुण, भाव, क्रिया आदि के नाम के सम्बोधन में जिन शब्दों का उपयोग करते हैं उनको को संज्ञा कहा जाता है। संज्ञा को अंग्रेजी भाषा में Noun कहा जाता है।
  • उदाहरण:
    • वस्तु के नाम: कलम, चारपाई, मेज, कुर्सी, बाल्टी आदि
    • गुण के नाम: ईमानदारी, धोखेबाजी, शांत, सुंदरता आदि
    • भाव के नाम: क्रोध, प्रेम, आश्चर्य, दया आदि
    • स्थान के नाम: चेन्नई, कोलकाता, दिल्ली, आगरा आदि
    • व्यक्ति के नाम: राकेश, अभिमन्यु, कृष्णा, सुमित आदि

यह भी देखें: वचन क्या होते है और इसके कितने भेद होते है?

संज्ञा की परिभाषा (Definition) अंग्रेजी (English)भाषा में:

  • Noun: A noun is a word that represents a person, ideas, thing, concept, or place. Most sentences contain at least one noun or pronoun in English Grammer.
  • Examples:
    • Places: Delhi, Bangalore, Basketball court, Agra, Rome, etc.
    • Persons / People: Savita, Dinesh, Deepak, Rahul, Mariya, Man, Women, Girl, Boy etc.
    • Animals/Birds/Aquatic Animals/Reptiles: Snake, Lion, Flamingo, Fish, Crocodile, Shark etc.
    • Ideas: Extinction, Argument, Destruction etc.
    • Objects/Things: Car, Bicycle, Bus, Train, Bag, Cupboard etc.
संज्ञा किसे कहते हैं, Noun Definition types and Examples
संज्ञा किसे कहते हैं

यह भी पढ़ें : विलोम शब्द | Vilom Shabd in Hindi

हिंदी भाषा में संज्ञा के भेद या प्रकार:

दोस्तों आपको हम बता दें की हिंदी व्याकरण में संज्ञा के पांच प्रकार होते हैं जिनके बारे में हमने आपको उदाहरण सहित आगे आर्टिकल में बताया है –

1. व्यक्तिवाचक संज्ञा:

हिंदी भाषा में जब भी किसी वाक्य (Sentence) में किसी विशेष व्यक्ति, वस्तु, स्थान के नाम का बोध होता है तो उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहा जाता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • उदाहरण:
    • जैसे: अमेरिका, राम, महाभारत, कुर्सी आदि।

व्यक्तिवाचक संज्ञा से संबंधित वाक्य उदाहरण:

  • वाक्य: लियोन मेसी फुटबॉल के एक महान खिलाड़ी हैं।

व्याख्या: उपरोक्त वाक्य में महान फुटबॉल खिलाड़ी लियोन मेसी के बारे में बात की जा रही है। इस वाक्य में व्यक्ति के नाम का बोध हो रहा है अतः यह वाक्य व्यक्तिवाचक संज्ञा उदाहरण माना जाएगा।

  • वाक्य: आज कल मैं जापानी भाषा सीख रहा हूँ।

व्याख्या: दोस्तों उपरोक्त हिंदी वाक्य में भाषा के सीखने की बात की जा रही है और वाक्य में भाषा के नाम जापानी (Japanese) का बोध मिलता है।

  • वाक्य: दिल्ली भारत का सबसे अधिक जनसंख्या वाला शहर है।

व्याख्या: ऊपर दिए गए वाक्य में एक स्थान का बोध हो रहा है जिसे दिल्ली के नाम से जाना जाता है। यहाँ दिल्ली शब्द व्यक्तिवाचक संज्ञा को प्रदर्शित करता है।

  • वाक्य: शीशम की लकड़ियों से बनी यह मेज बहुत भारी है।

व्याख्या: उपरोक्त वाक्य में एक वस्तु का बोध हो रहा है। यह वस्तु एक मेज है। इस वाक्य में मेज शब्द एक व्यक्तिवाचक संज्ञा शब्द का उदाहरण है।

2. जातिवाचक संज्ञा

हिंदी भाषा में जब भी किसी वाक्य (Sentence) में किसी प्राणी या वस्तु की सम्पूर्ण जाति का बोध होता है तो उसे जातिवाचक संज्ञा कहा जाता है।

तत्सम-तद्भव (Tatsam-Tadbhav) शब्द, परिभाषा, पहचानने के नियम और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण

तत्सम-तद्भव (Tatsam-Tadbhav) शब्द, परिभाषा, पहचानने के नियम और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण

  • उदाहरण:
    • जैसे: मानव, पशु, वृक्ष, पक्षी, लकड़ी, पुरुष आदि।

जातिवाचक संज्ञा से संबंधित वाक्य उदाहरण:

  • वाक्य: पेड़ पर बहुत से पक्षी बैठे हैं।

व्याख्या: उपरोक्त वाक्य में उपयोग होने वाला शब्द पक्षी दुनिया की सम्पूर्ण पक्षी जाति का बोध करा रहा है। अतः यह वाक्य एक जाति वाचक संज्ञा का उदाहरण है।

  • वाक्य: मानव पृथ्वी से सबसे विकसित प्रजाति है।
व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

व्याख्या: दोस्तों ऊपर दिए गए वाक्य में जाति वाचक संज्ञा के रूप में मानव शब्द का उपयोग किया गया है।

  • वाक्य: पशुओं में कुत्ता सबसे अधिक वफादार जानवर होता है।

व्याख्या: आप देख सकते हैं की ऊपर दिए गए वाक्य में पशुओं, कुत्ता और जानवर तीनों ही शब्द हमें जातिवाचक संज्ञा शब्द का बोध कराते हैं इसलिए यह वाक्य जातिवाचक संज्ञा का उदाहरण है।

3. समूह वाचक संज्ञा:

जब भी किसी वाक्य में किसी व्यक्ति या वस्तु के समूह का बोध होता है। तो वाक्य समूह वाचक संज्ञा कहलाता है।

  • उदाहरण:
    • जैसे: सेना, कक्षा, पुलिस आदि।

समूहवाचक संज्ञा से संबंधित वाक्य उदाहरण:

  • वाक्य: भारतीय सेना हमारे देश की सुरक्षा करती है।

व्याख्या: ऊपर दिए गए वाक्य में सेना शब्द समूह वाचक संज्ञा का बोध कराता है। वाक्य में हम यहाँ भारत की तीनों सेनाओं (जल, थल और वायु) की बात कर रहे हैं।

  • वाक्य: आज कक्षा में बच्चों की उपस्थिति बहुत कम है।

व्याख्या: उपरोक्त वाक्य में कक्षा शब्द किसी स्कूल की कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों के समूह को प्रदर्शित करता है। वाक्य में कक्षा शब्द समूह वाचक संज्ञा का बोध कराता है।

  • वाक्य: पुलिस ने भागने वाले चोरों को पकड़ लिया है।

व्याख्या: दोस्तों उपरोक्त Sentence में पुलिस शब्द समूह वाचक संज्ञा शब्द को निरूपित कर रही है। इसका अर्थ यह हुआ की उपरोक्त वाक्य एक समूहवाचक संज्ञा का उदाहरण है।

4. द्रव्य वाचक संज्ञा:

जब भी किसी हिंदी वाक्य में उपयोग होने वाले संज्ञा शब्द से किसी द्रव्य या वस्तु का बोध हो रहा हो तो उसे द्रव्य वाचक संज्ञा कहा जाता है।

  • उदाहरण:
    • जैसे: तेल, पानी, घी, जूस, दाल, लोहा, दूध आदि।

द्रव्य वाचक संज्ञा से संबंधित वाक्य उदाहरण:

  • वाक्य: सब्ज़ी में आज तेल की मात्रा बहुत ज्यादा है।

व्याख्या: ऊपर दिए गए वाक्य में तेल शब्द हमें वस्तु अर्थात द्रव्य का बोध करा रहा है जो की एक द्रव्य वाचक संज्ञा शब्द है।

  • वाक्य: लोहा एक मजबूत एवं कठोर पदार्थ है।

व्याख्या: उपरोक्त वाक्य में लोहा शब्द एक द्रव्य वाचक संज्ञा शब्द है। वाक्य में लोहे की विशेषताओं को बताया गया है।

  • वाक्य: रोज दूध पीना स्वास्थ के लिए लाभदायक होता है।

व्याख्या: दोस्तों वाक्य में दूध पीने से होने वाले लाभ के बारे में बताया गया है। वाक्य में प्रयुक्त दूध शब्द एक द्रव्य वाचक संज्ञा शब्द है।

5. भाववाचक संज्ञा:

वाक्य में जिन शब्दों से किसी व्यक्ति, पदार्थ या वस्तु की अवस्था, भाव, दशा, धर्म एवं गुण-दोष का बोध होता हो उसे भाववाचक संज्ञा कहा जाता है।

  • उदाहरण:
    • जैसे: बुढ़ापा बचपन, मिठास, क्रोध, प्रसन्नता, थकावट आदि

भाव वाचक संज्ञा से संबंधित वाक्य उदाहरण:

  • वाक्य: जवानी के बाद बुढ़ापा आना जीवन की एक कड़वी सच्चाई है।

व्याख्या: आप देख सकते हैं की ऊपर दिए गए वाक्य में दो शब्द जवानी और बुढ़ापा जीवन की दो अवस्थाओं के बारे में बता रहे हैं। इन शब्दों से हमें जीवन की अवस्था का बोध हो रहा है अतः ऊपर लिखा गया वाक्य एक भाववाचक संज्ञा का उदाहरण है।

  • वाक्य: क्रोध बुद्धि का सबसे बड़ा शत्रु है।

व्याख्या: ऊपर लिखा गए वाक्य में मानव या किसी भी जीव जंतु की मनोदशा को प्रदर्शित करता है। वाक्य में क्रोध शब्द एक भाव है। अतः वाक्य का प्रकार एक भाववाचक संज्ञा का है।

जातिवाचक संज्ञा शब्द से भाववाचक संज्ञा शब्द कैसे बनाएं ?

जातिवाचक संज्ञा शब्दों से भाववाचक संज्ञा शब्द बनाने हेतु आपको जाति वाचक संज्ञा शब्द को प्रत्यय से जोड़कर भाव वाचक संज्ञा शब्द बनाना होगा। हमने आपको नीचे टेबल में उदाहरण देकर जाति वाचक संज्ञा से भाव वाचक संज्ञा शब्द बनाने के बारे में बताया है।

क्रमांकजातिवाचक संज्ञा शब्द + प्रत्ययभाववाचक संज्ञा शब्द
1बच्चा + पनबचपन
2युवा + अनयौवन
3बालक + पनबालकपन
4मित्र + तामित्रता
5पुरुष + अपौरुष
6स्त्री + त्वस्त्रीत्व

सर्वनाम शब्दों से भाव वाचक संज्ञा शब्द कैसे बनाएं ?

सर्वनाम शब्द से भाववाचक संज्ञा शब्द बनाने हेतु आपको सर्वनाम शब्दों के साथ प्रत्यय शब्द जोड़कर भाव वाचक संज्ञा शब्द बनाने होते हैं आप टेबल में शब्दों के उदाहरण से समझ सकते हैं की सर्वनाम शब्दों से भाव वाचक संज्ञा शब्द कैसे बनते हैं इसके उदाहरण देख सकते हैं।

क्रमांकसर्वनाम शब्द + प्रत्ययभाववाचक संज्ञा शब्द
1अपना + पनअपनापन
2मम + ताममता
3मम + त्वममत्व
4अहम + कारअहंकार
5सर्व + स्वसर्वस्व

विशेषण शब्दों से भाव वाचक संज्ञा शब्द कैसे बनाएं ?

विशेषण शब्द से भाव वाचक शब्द बनाने के लिए आपको विशेषण शब्द के साथ प्रत्यय जोड़कर भाव वाचक संज्ञा शब्द बनाने होते हैं नीचे दी गई टेबल में आप विशेषण शब्दों से भाव वाचक संज्ञा शब्द कैसे बनाये जाते हैं इसके उदाहरण देख सकते हैं –

क्रमांक विशेषण शब्द + प्रत्ययभाववाचक संज्ञा शब्द
1छोटा + पनछुटपन
2बड़ा + पनबड़प्पन
3सुंदर + तासुंदरता
4अच्छा + आईअच्छाई
5मीठा + आसमिठास
क्रिया शब्द से भाव वाचक संज्ञा शब्द कैसे बनाएं ?

हिंदी व्याकरण (Grammer) के अनुसार क्रिया शब्द से भाव वाचक संज्ञा शब्द बनाने के लिए आपको हिंदी के क्रिया शब्द को भाव वाचक संज्ञा शब्द के साथ प्रत्यय को जोड़ना होता है। आप टेबल में क्रिया शब्द से बने भाव वाचक संज्ञा शब्द के उदाहरण देख सकते हैं –

क्रमांक क्रिया शब्द + प्रत्ययभाववाचक संज्ञा शब्द
1काट + आईकटाई
2लिख + आवटलिखावट
3मिल + आवटमिलावट
4घबरा + आहटघबराहट
5मिल + आपमिलाप

स्वतंत्र भाव वाचक संज्ञा शब्द किसे कहते हैं ?

हिंदी भाषा में स्वतंत्र भाव वाचक संज्ञा वह शब्द होते हैं जो बिना किसी प्रत्यय के साथ जुड़कर शब्द का विशेष भाव प्रकट करते हैं। यदि स्वतंत्र भाव वाचक संज्ञा शब्द के साथ कोई प्रत्यय जोड़ा जाता है तो बनने वाले शब्द विशेषण शब्द कहलाते हैं आप नीचे दी गए टेबल में इससे संबंधित उदाहरण देख कर समझ सकते हैं –

क्रमांकस्वतंत्र भाव वाचक संज्ञा शब्द + प्रत्यय विशेषण शब्द
1सुख + ईसुखी
2दुःख + ईदुःखी
3संसार + इकसांसारिक
4प्यार + आप्यारा
5प्रेम + ईप्रेमी

संज्ञा किसे कहते हैं से जुड़े प्रश्न एवं उत्तर

हिंदी भाषा में संज्ञा के कितने प्रकार हैं ?

हिंदी भाषा में संज्ञा के पांच प्रकार होते हैं
व्यक्तिवाचक संज्ञा
जाति वाचक संज्ञा
समूह वाचक संज्ञा
भाव वाचक संज्ञा
द्रव्य वाचक संज्ञा

संज्ञा किसे कहते हैं ?

किसी भी वाक्य में उपयोग होने वाले ऐसे शब्द जो किसी व्यक्ति, वस्तु, भाव, जाति आदि का बोध कराते हों उन शब्दों को संज्ञा कहा जाता है।

अंग्रेजी भाषा में संज्ञा (Noun) के कितने प्रकार होते हैं ?

अंग्रेजी भाषा में संज्ञा (Noun) के 8 प्रकार हैं जिनके नाम निम्नलिखित हैं –
1 Proper Noun
2 Common Noun
3 Collective Noun
4 Concrete Noun
5 Abstract Noun
6 Material Noun
7 Countable Noun
8 Uncountable Noun

व्यक्तिवाचक संज्ञा के 10 वाक्य उदाहरण बताइये ?

1 रवीन्द्रनाथ टैगोर ने राष्ट्र गान लिखा है।
2 विकास को हिंदी बोलनी नहीं आती है।
3 जयपुर को गुलाबी नगर भी कहा जाता है।
4 कुतुबमीनार एक अच्छी जगह है।
5 गंगा भारत की सबसे लंबी नदी है।
6 भारत रत्न अवार्ड मिलना एक गौरव की बात होती है।
7 भारत का संविधान बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर ने लिखा था।
8 मुझे पंजाबी में बात करना बहुत पसंद है।
9 कोहिनूर हीरा भारत की शान था।
10 ताजमहल की खूबसूरती का कोई जवाब नहीं है।

प्रत्यय क्या होते हैं ?

प्रत्यय जिसे अंग्रेजी में suffix और affix कहा जाता है। हिंदी व्याकरण के अनुसार प्रत्यय दो शब्दों से मिलकर बना है प्रति + अय जिसमें प्रति का मतलब साथ में या बाद में और अय का अर्थ है चलने वाला जिसका मतलब हुआ जो शब्द के साथ में या पहले जुड़ा हुआ हो और शब्द एक साथ चलने वाला हो। प्रत्यय को शब्दों के साथ लगाने से शब्द के अर्थ में परिवर्तन हो जाता है।

यह भी जानें:

प्रत्यय की परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Pratyay in Hindi Grammar

प्रत्यय – परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Pratyay in Hindi Grammar

Photo of author

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें